मुख्य समाचार
इधर मोदी ने किया एक्सप्रेस वे का उदघाटन, उधर आ गया अखिलेश यादव का बड़ा बयान, बोले... BIG News : गंभीर बीमारी के बाद UP के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य की हालत बिगड़ी, एम्स में भर्ती खुशखबरीः जल्द ही कम होंगे पेट्रोल-डीजल के दाम, इस उपाय से सरकार कम करेगी दाम ! गिरफ्तार किये गये नियमों की अनदेखी कर स्टंट कर रहे 7 युवक  अब इस नेता ने भी कह दिया कि मोदी नहीं 2019 में बहन जी बनेंगी पीएम अपने क्लब को अलविदा कह सकता है यह दिग्गज फुटबालर नहीं थम रह दलितों पर अत्याचार, सप्लायर ने पानी भेजने से किया इंकार खजूर के ये फायदे जान कर आप रह जाएंगे हैरान ZERO: ये नया चेहरा हुआ शामिल, शायद पहचानते होंगे आप नाबालिग बहन से करता था रेप, कोर्ट ने सुनाई 14 साल की सजा IPL 2018 : इस साल फ्लॉप रहे ये दिग्गज खिलाड़ी न्यायिक सुधार सोसाइटी फॉर फ़ास्ट जस्टिस का गठन BSP को लगा तगड़ा झटका, कांग्रेस में खुशी की लहर  स्ट्रीट वॉक करते सोनम-आनंद की फोटो हुई वायरल, मिला Photo of the day का खिताब गरीब और पात्र व्यक्तियों को मिली विस्तृत जानकारी IPL 2018 : क्लोजिंग सेरेमनी से पहले कृति ने शेयर किया रिहर्सल Video, इस गाने से जीतेगी लोगों का दिल डेब्यू से पहले सारा ने किया ऐसा काम, डायरेक्टर ने ठोंका मुकदमा रियाल ने जीता चैम्पियंस लीग खिताब, लगातार तीसरी बार बनी चैम्पियन कोलेस्ट्रॉल लेवल को रखना है मेंटेन, तो न खाएं ये चीजें एक ऐसा गांव जहां अनपढ़ भी बोलते हैं संस्कृत पंडित नेहरू ने रखी थी मजबूत भारत की नींव : प्रमोद तिवारी जानें, क्यों अनिल कपूर से माफ़ी मांग रहीं दीपिका पादुकोण जनिए राशिफल, ऐसे बढ़ेंगे और पाएंगे मुकाम कक्षा 2 के छात्र की RTI में खुलासा, देश में राष्ट्रीय सब्जी कोई नहीं उन्नाव गैंगरेप मामला: सीबीआई ने पूर्व एसपी पुष्पांजलि देवी से की घंटों पूछताछ अभी-अभी : कांग्रेस पार्टी में हुआ बड़ा फेरबदल, इन दिग्गजों से छिनी कुर्सी और... खूबसूरती में श्रीदेवी की बेटी से आगे है मिथुन की बेटी, देखें PHOTO बसपा के वरिष्ठ नेता के इस बड़े बयान से मचा कोहराम करीना ने पहनी ऐसी ड्रेस कि सैफ ने दे डाली ड्रेस बदलने की नसीहत रजिस्ट्रार कर्यालय में धनउगाही का खेल, घूस लेते वीडियो वायरल... हरदोई : बाल सुधार गृह में संघर्ष के बाद कई बाल कैदी घायल ऐश्वर्या राय पर इस डायरेक्टर की नीयत थी खराब, अकेले में मिलने की थी जिद माधुरी के शो पर जमकर ठुमके लगा रहे सलमान राजबब्बर समेत कई वरिष्ठ नेताओं पर दर्ज हुआ केस, आनन-फानन में हुई गिरफ्तारी कैराना उपचुनाव : कांटे की टक्कर के बीच किसकी होगी जीत #Auto : TATA की ये दो कारें हुई बंद, जानें वजह इरफान खान की सेहत को लेकर बड़ी खबर, इस खास दोस्त ने कहा... खतरों के खिलाड़ी में नज़र आएंगे बिग बॉस के दो दुश्मन भुवनेश्वर : पीएम मोदी की रैली के बाद बीजेपी दफ्तर पर देसी बम से हमला रमजान विशेष: क्या शादी के बाद भी मां-बाप की संपत्ति पर रहता है बेटी का हिस्सा, जानें यहां पद्मावत के बाद सुपर वुमेन बनेंगी दीपिका, फिर मचाएंगी धमाल #NTMobileGuru : सेल्फी फ्लैश के साथ लॉन्च हुआ Huawei का ये दमदार स्मार्टफ़ोन गठबंधन को मजबूर नहीं बसपा, इन शर्तो पर ही होगा समझौता : मायावती सलमान की रेस 3 तोड़ सकती है सारे रिकॉर्ड, ये रहा सबूत #Vacancy 2018 : सरकार ने खोला नौकरियों का पिटारा, 4 हजार पदों के लिए ऐसे करें आवेदन मायावती का बड़ा ऐलान, जीत लिया करोड़ों का दिल, गठबंधन को भी दो टूक...
 

पीएम मोदी के लौटने के बाद ऑस्ट्रेलिया सरकार ने लिया बड़ा फैसला, हजारों भारतीय हो गए बेरोजगार


admin 18/04/2017 05:11 PM
596 Views

18-04-2017172114पीएम_मोदी_के_लौ2नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ऑस्ट्रेलिया से लौटते ही ऑस्ट्रेलिया सरकार ने एक बड़ा फैसला लिया है। ऑस्ट्रेलिया सरकार का यह फैसला उन भारतीयों के लिए बुरी खबर है जो ऑस्ट्रेलिया में कार्यरत है। ऑस्ट्रेलिया ने बढ़ती बेरोजगारी को रोकने के लिए 95,000 से अधिक अस्थायी विदेशी कर्मचारियों द्वारा उपयोग किए जा रहे वीजा कार्यक्रम को समाप्त कर दिया। इनमें ज्यादातर भारतीय शामिल हैं।

इस कार्यक्रम को 457 वीजा के नाम से जाना जाता है। इसके तहत कंपनियों को उन क्षेत्रों में चार साल तक विदेशी कर्मचारियों को नियुक्त करने की अनुमति थी जहां कुशल ऑस्ट्रेलियाई कामगारो की कमी है। 

ऑस्ट्रेलियाई लोगों को मिलेगी पहली प्राथमिकता 

ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री मैलकॉम टर्नबुल ने कहा, "हम आव्रजन देश हैं लेकिन ऑस्ट्रेलियाई कामगारों को अपने देश में रोजगार में पहली प्राथमिकता मिलनी चाहिए। इसीलिए हम 457 वीजा समाप्त कर रहे हैं। इस वीजा के जरिये अस्थायी तौर पर विदेशी कर्मचारी हमारे देश में आते हैं। यह भारत के लिए दुख का विषय है क्योकि वीजा रखने वालों में ज्यादातर भारतीय हैं। उसके बाद ब्रिटेन का स्थान है। 

उन्होंने कहा, ‘‘हम 457 वीजा को रोजगार का पासपोर्ट होने की अब अनुमति नहीं देंगे और ये रोजगार आस्ट्रेलियाई के लिये होने चाहिए।’’ एबीसी की रिपोर्ट के अनुसार 30 सितंबर की स्थिति के अनुसर आस्ट्रेलिया में 95,757 कर्मचारी 457 वीजा कार्यक्रम के तहत काम कर रहे थे। अब इस कार्यक्रम की जगह दूसरा वीजा कार्यक्रम लाया जाएगा
 
टर्नबुल ने कहा कि नया कार्यक्रम यह सुनिश्चित करेगा कि विदेशी कर्मचारी उन क्षेत्रों में काम करने के लिये ऑस्ट्रेलिया आयें जहां कुशल लोगों की काफी कमी है न कि केवल इसीलिए आयें कि नियोक्ता को ऑस्ट्रेलियाई कामगारों के बजाए विदेशी कर्मचारियों को नियुक्त करना आसान है। प्रधानमंत्री ने यह घोषणा हाल ही में भारत यात्रा से लौटने के बाद की है। 

 

 

Web Title: australia-abolishes-visa-programme-popular-with-indians- world news ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया


loading...