मुख्य समाचार
मुकुल रॉय को 6 साल के लिए पार्टी से सस्पेंड, बोले - दुर्गा पूजा के बाद दूंगा इस्तीफा जोया अख्तर की मेड इन हेवन में दिखेंगी श्वेता त्रिपाठी नई पार्टी नहीं बनाएंगे मुलायम, बोले - अखिलेश के फैसले से संतुष्ट नहीं हूँ विक्रमादित्य ने कहा, रणवीर सिंह ही निभा सकते हैं कपिल देव का किरदार BIgg Boss 11: सलमान बनें टीवी के सबसे ज्यादा फीस लेने वाले स्टार BHU में बवाल : ACM की हुई छुट्टी, 1000 लोगों पर FIR, SO लाइन हाजिर सरकार के भरोसे नहीं, अपना कार्य स्वयं करें BJP में शामिल दलित, OBC नेताओं को RSS बंधुआ मजदूर ही बनाएगा - मायावती BHU हिंसा असामाजिक तत्वों का पूर्व नियोजित षड्यंत्र : कुलपति अखिलेश से कलह के बाद मुलायम आज कर सकते हैं नई पार्टी का ऐलान Bhopal: नवंबर में बघेलखंड उत्सव संयुक्त राष्ट्र के अनुसार बांग्लादेश में 4,70,000 रोहिंग्याओं को आश्रय की जरूरत

अलविदा चार्जर: बैटरी के बिना चलने वाले फोन का हुआ आविष्कार


RAGHVENDRA CHAURASIA 07/07/2017 12:19:34
241 Views

07-07-2017123144sAWoUHZusD1वाशिंगटनः डिजिटलाइजेशन के इस दौर में स्मार्ट डिवाइस इंसान की सबसे बड़ी जरूरतों में शामिल हो चुके हैं। किसी भी डिवाइस को जिंदा रखने में बैटरी का अहम किरदार होता है। अब ज्यादा क्षमता वाली बैटरी भी हमें संतुष्ट नहीं कर पा रही हैं। इसी वजह से वैज्ञानिकों ने एक ऐसे मोबाइल फोन का निर्माण किया है, जो बिना बैटरी के चलता है। वैज्ञानिकों के इस प्रयोग से भविष्य में बिना बैटरी के संचालित होने वाले डिवाइस बनने की संभावना काफी ज्यादा हो गई है।

यह भी पढ़े...चीन को सताने लगा व्यापार में घाटे का डर,भारत से सीमा पर तनाव

शोधकर्ताओं ने एक डेमोंस्ट्रेशन वीडियो जारी किया है जिसमें इस बिना बैटरी वाले फोन से कॉलिंग करते हुए देखा जा सकता है। बैटरी की बजाय यह फोन या तो आसपास के रेडियो सिगनल या उपलब्ध प्रकाश से ऊर्जा लेता है शोध दल ने इस बिना बैटरी के फोन से स्काईप कॉल करने में भी सफलता हासिल की है।

प्रोसीडिंग ऑफ द एसोसिएशन ऑफ कंप्यूटिंग मशीनरी ऑन इंटरेक्टिवमोबाइलवेयरेबल और यूबिक्विटस टेक्नॉलजीज जर्नल में प्रकाशित रिपोर्ट में बताया गया है कि इस फोन के वाणिज्यिक प्रोटोटाइप ने बेस स्टेसन से आवास को प्राप्त करने तथा उससे कम्यूनिकेट करने में सफलता प्राप्त की है।

यह भी पढ़े...CBI ने की लालू के 12 ठिकानों पर छापेमारी, पत्नी और बेटे पर भी केस दर्ज

यूनिवर्सिटी ऑफ वाशिंगटन के एसोशिएट प्रोफेसर और शोध के सहलेखक श्याम गोलाकोटा ने बताया है कि, "हमने पहला ऐसा सेलफोन बनाया है जो जीरो ऊर्जा में काम करता है। फोन काम करे इसके लिए हमें पर्यावरण से ही ऊर्जा हासिल करनी होती है। हमें मौलिक रूप से पुनर्विचार करना होगा कि इन डिवाइसों को किस प्रकार से डिजायन किया जाए।"

एक शोधकर्ता ने बताया है कि भविष्य में सभी सेल टावर्स या वाईफाई राउटर्स में इस तरह की बेस स्टेशन तकनीक दी जा सकती है। अगर सभी घरों में वाईफाई राउटर है तो यूजर्स बिना बैटरी वाले सेलफोन का इस्तेमाल कर सकते हैंक्योंकि इसकी कवरेज पूरे घर में होगी।

न्यूजटाइम्स न्यूज पोर्टल पर देश दुनिया के साथ ही आपके पास पड़ोस की खबरों से हमेशा अपडेट रहने के लिए अपने मोबाईल फोन पर हमारा मोबाईल एप डाउनलोड करें।

Download App


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया


मना॓रंजन और पढ़ें..

loading...