तो क्या अभी भी पाकिस्तान से धर्मयुद्ध चाहती है भारतीय सेना


GAURAV SHUKLA 21/07/2017 07:35:09
797 Views

21-07-2017074132XwoV8vvIZm1

Lucknow. पाकिस्तान की ओऱ से बार-बार सीमा पर सीजफायर का उल्लंघन किये जाने के बावजूद भारतीय सेना की ओर से बातचीत का सिलसिला जारी है। इन्हीं बातचीत के सिलसिलों के दौर में भारत के डीजीएमओ(डायरेक्टर जनरल ऑफ मिलिट्री ऑपरेशन्स) लेफ्टिनेंट जनरल एके भट्ट ने गुरुवार दिन में तकरीबन 3:30 बजे पाकिस्तान के डीजीएमओ से बात की।

यह भी पढ़ें.. विरोधी हुए लामबन्द, चीन कैसे पाएगा भारत पर विजय!

 इस बातचीत में उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की ओर से उन गांवों को निशाना बनाया जा रहा है जहां आम नागरिक निवास करते हैं। इसी के साथ स्कूली बच्चों को निशाना बनाए जाने की निंदा की गयी और कहा गया कि भारतीय सेना इस बात का पूरा ध्यान रखती है कि बच्चों औऱ आम नागरिकों को निशाना न बनाया जाए।

यह भी पढ़ें.. चीन की चेतावनी नजरअंदाज, सेना ने साहस दिखा तान दिये तंबू

गौरतलब है कि मंगलवार को रजौरी जिले के नौशेरा में पाकिस्तानी सेना की ओर से फायरिंग के दौरान दो स्कूलों में तकरीबन 200 बच्चे फंस गये थे। जिसके बाद भारतीय सेना ने इन बच्चों को निकालकर बुलेट प्रूफ वाहनों से सुरक्षित उनके घर तक पहुंचाया था। जाहिर तौर पर भारतीय सेना बार-बार पाकिस्तान की बचकानी हरकतों पर जवाब देने के बजाए बातचीत कर गलतियों से अवगत करवाती रहती है। इसके बाद फिर पाकिस्तान की ओऱ से सीजफायर का उल्लंघन कर निर्दोश भारतीयों को निशाना बनाया जाता है।

यह भी पढ़ें.. विधायक जी के हाथ जोड़ कैसे बचेगी विधानसभा, पहले दिन ही ठेंगे पर नियम कानून

Web Title: So do we still want a crusade from Pakistan, Indian Army ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया


loading...