मुख्य समाचार
मुकुल रॉय को 6 साल के लिए पार्टी से सस्पेंड, बोले - दुर्गा पूजा के बाद दूंगा इस्तीफा जोया अख्तर की मेड इन हेवन में दिखेंगी श्वेता त्रिपाठी नई पार्टी नहीं बनाएंगे मुलायम, बोले - अखिलेश के फैसले से संतुष्ट नहीं हूँ विक्रमादित्य ने कहा, रणवीर सिंह ही निभा सकते हैं कपिल देव का किरदार BIgg Boss 11: सलमान बनें टीवी के सबसे ज्यादा फीस लेने वाले स्टार BHU में बवाल : ACM की हुई छुट्टी, 1000 लोगों पर FIR, SO लाइन हाजिर सरकार के भरोसे नहीं, अपना कार्य स्वयं करें BJP में शामिल दलित, OBC नेताओं को RSS बंधुआ मजदूर ही बनाएगा - मायावती BHU हिंसा असामाजिक तत्वों का पूर्व नियोजित षड्यंत्र : कुलपति अखिलेश से कलह के बाद मुलायम आज कर सकते हैं नई पार्टी का ऐलान Bhopal: नवंबर में बघेलखंड उत्सव संयुक्त राष्ट्र के अनुसार बांग्लादेश में 4,70,000 रोहिंग्याओं को आश्रय की जरूरत

पूर्व TMC नेता सुप्रिया डे ने की खुदकुशी, मौत के बाद पति ने किए कई खुलासे


SUJEET KUMAR 18/08/2017 11:02:55
2164 Views

18-08-20171115383rE88jcfGI1

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस की बागी महिला नेता ने  खुदखुशी कर ली। बताया जा रहा हैं कि उन्होंने ये कदम खुद की हार को देखर उठाया है। 38 साल की सुप्रिया डे ने निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर निकाय चुनाव लड़ा, लेकिन चंद वोटों से उन्हें हार का मुंह देखना पड़ा, जो उनकी खुदखुशी की वजह बनी। बता दें कि उन्हें कूपर्स कैंप की सीट पर महज 30 वोटों से हार मिली थी। 

13 अगस्त को हुई वोटिंग की गिनती गुरुवार को हुई। नतीजे आने के कुछ ही घंटों के अंदर सुप्रिया ने अलग-अलग तरह की दवाइयां खा कर आत्महत्या कर ली। 

यह भी पढ़ें... राहुल गांधी का कल गोरखपुर दौरा मृतक बच्चों के परिजनों...

बता दें कि सुप्रिया 10 साल तक कूपर्स कैंप के वार्ड नंबर 1 से पार्षद थीं। उन्हेंने अपनी मौत के कुछ घंटों पहले टीएमसी को ये संकेत दिए थे कि वो पार्टी में लौटना चाहती हैं। सुप्रिया के पति समीर का कहना है कि वो अब भी पार्टी के कार्यकर्ता हैं, उनका आरोप है कि उनकी कुछ पार्टी कार्यकर्ताओं द्वरा धमकाए जाने और गाली-गलौज करने के बाद से सुप्रिया डिप्रेशन में चल रही थीं।

हालांकि, उन्होंने कहा कि इस मामले में वो कोई पुलिस कंप्लेंट दर्ज नहीं करेंगे और वो पार्टी नेतृत्व पर छोड़ते हैं कि संबंधित कार्यकर्ताओं के खिलाफ क्या ऐक्शन लिया जाए। 

यह भी पढ़ें...राजनाथ सिंह ने योगी का किया बचाव कहा, वादों को पूरा करने के लिए 100 दिन का वक्त पर्याप्त नहीं

उन्होंने बताया कि सुप्रिया को 320 वोट मिले थे जबकि अशोक सरकार को 350 वोट मिले। समीर ने बताया कि वोटिंग के दिन तृणमूल के एजेंट से हुई बहस की बात उनके दिमाग पर हावी हो रही थी। रविवार को वोटिंग के दिन सुप्रिया ने एक एजेंट को थप्पड़ भी मारा था क्योंकि एजेंट ने एक शख्स द्वारा अपने बूढ़े और बीमार दादा की ओर से वोट डालने आपत्ति जताई थी। 

यह भी पढ़ें...बाढ़ग्रस्त इलाकों में सरकार के कामकाज को परखेंगे अखिलेश, प्रभावित लोगों को मदद का दिया भरोसा

समीर ने बताया कि सुबह करीब 10 बजे उनके घर के अंदर 20-25 लोग घुसे थे। इतना ही नहीं उन लोगों ने जबरन दरवाजा और ग्रिल को भी तोड़ दिया। इसी बीच सुप्रिया अंदर चली गईं और बीपी, थायरॉइड, शुगर आदि की 35 टैबलेट्स खा ली। दोपहर 1 बजे उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया और करीब 2:30 बजे डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।


     

 

न्यूजटाइम्स न्यूज पोर्टल पर देश दुनिया के साथ ही आपके पास पड़ोस की खबरों से हमेशा अपडेट रहने के लिए अपने मोबाईल फोन पर हमारा मोबाईल एप डाउनलोड करें।

Download App


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया


मना॓रंजन और पढ़ें..

loading...