मुख्य समाचार
मुकुल रॉय को 6 साल के लिए पार्टी से सस्पेंड, बोले - दुर्गा पूजा के बाद दूंगा इस्तीफा जोया अख्तर की मेड इन हेवन में दिखेंगी श्वेता त्रिपाठी नई पार्टी नहीं बनाएंगे मुलायम, बोले - अखिलेश के फैसले से संतुष्ट नहीं हूँ विक्रमादित्य ने कहा, रणवीर सिंह ही निभा सकते हैं कपिल देव का किरदार BIgg Boss 11: सलमान बनें टीवी के सबसे ज्यादा फीस लेने वाले स्टार BHU में बवाल : ACM की हुई छुट्टी, 1000 लोगों पर FIR, SO लाइन हाजिर सरकार के भरोसे नहीं, अपना कार्य स्वयं करें BJP में शामिल दलित, OBC नेताओं को RSS बंधुआ मजदूर ही बनाएगा - मायावती BHU हिंसा असामाजिक तत्वों का पूर्व नियोजित षड्यंत्र : कुलपति अखिलेश से कलह के बाद मुलायम आज कर सकते हैं नई पार्टी का ऐलान Bhopal: नवंबर में बघेलखंड उत्सव संयुक्त राष्ट्र के अनुसार बांग्लादेश में 4,70,000 रोहिंग्याओं को आश्रय की जरूरत

अतिरिक्त फीस नहीं लौटाने पर हम करेंगे स्कूलों का अधिग्रहण : अरविंद केजरीवाल


HARENDRA SINGH 19/08/2017 08:11:31
174 Views

19-08-2017081302qfl6FNQ59o1

New Delhi . दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को चेतावनी दी कि यदि 449 निजी स्कूलों ने छात्रों से लिया गए अतिरिक्त शुल्क नहीं लौटाया तो सरकार इन स्कूलों को अपने अधिकार में ले लेगी।

मुख्यमंत्री ने मीडिया से कहा कि बहुत से स्कूलों ने छठे वेतन आयोग के क्रियान्वयन के नाम पर अपना शुल्क बढ़ा दिया। दिल्ली उच्च न्यायालय ने मुद्दे पर विचार के लिए एक समिति नियुक्त कर दी।

यह भी पढ़ें..ऑक्सफोर्ड में पढ़ेंगी मलाला यूसुफजई

केजरीवाल ने कहा कि समिति ने स्कूलों से अतिरिक्त शुल्क वापस लौटाने को कहा, लेकिन बहुत से स्कूलों ने ऐसा नहीं किया। उन्होंने कहा, "उनके शुल्क नहीं लौटाए जाने पर अदालत ने दिल्ली सरकार से पूछा कि क्या किया जा रहा है। हमने कहा है कि हम रिपोर्ट का क्रियान्वयन करेंगे और यदि जरूरत हुई तो हम स्कूलों का अधिग्रहण करेंगे।"

यह भी पढ़ें..हिमाचल बोर्ड की 10वीं और 12वीं की कंपार्टमेंट का रिजल्ट जारी

उन्होंने कहा, "हम निजी स्कूलों के खिलाफ नहीं हैं। हम इन 449 स्कूलों से अपील कर रहे हैं कि समिति की सिफारिशों का क्रियान्वयन करें और अतिरिक्त शुल्क को लौटाएं।" उन्होंने कहा, "हम निजी स्कूलों की डकैती पर चुप नहीं रहेंगे।"

दिल्ली के शिक्षा मंत्री और उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि समिति ने 1,108 निजी स्कूलों की जांच की और पाया कि 544 स्कूलों ने छठें वेतन आयोग के क्रियान्वयन के नाम पर फीस बढ़ा दी।

यह भी पढ़ें..सेटेलाइट क्लास से गणित को आसान बना रहा भारती कॉन्सेप्ट

उन्होंने कहा कि बहुत से स्कूलों ने अतिरिक्त लिए गए शुल्क को लौटा दिया। 449 स्कूलों को और कारण बताओ नोटिस दिया गया है, जिन्होंने अभी भी शुल्क नहीं लौटाया है। उन्होंने कहा, "इनमें से बहुत से अच्छी गुणवत्ता की शिक्षा दे रहे हैं और हम उनका अधिग्रहण नहीं करना चाहते। हमारा आग्रह है कि वे अतिरिक्त शुल्क वापस करें।"

यह भी पढ़ें..सरकार 20 विश्वविद्यालयों को विश्वस्तरीय बनाएगी : नरेंद्र मोदी

लेकिन, सिसोदिया ने चेताया कि यदि वे समिति की रिपोर्ट का पालन नहीं करते तो सरकार स्कूलों का अधिग्रहण करने को बाध्य हो जाएगी। केजरीवाल ने उम्मीद जताई कि स्कूल नियमों का पालन करेंगे और उन्हें स्कूलों का अधिग्रहण करने को बाध्य नहीं होना पड़ेगा।

न्यूजटाइम्स न्यूज पोर्टल पर देश दुनिया के साथ ही आपके पास पड़ोस की खबरों से हमेशा अपडेट रहने के लिए अपने मोबाईल फोन पर हमारा मोबाईल एप डाउनलोड करें।

Download App


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया


मना॓रंजन और पढ़ें..

loading...