मुख्य समाचार
 

15 दिन बाद भी शुरू नहीं हो पाई बीबीएयू की वेबसाइट, छात्र परेशान


SHUBHENDU SHUKLA 16/01/2018 22:50:22
275 Views

16-01-2018233228BABUwebsitef1

lucknow. बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर केन्द्रीय विश्वविद्यालय (बीबीएयू)की वेबसाइट पिछले पन्द्रह दिनों से ठप पड़ी है। इस कारण विद्यार्थियों को बहुत सारी परेशानियां उठानी पड़ रही हैं। परिणाम से लेकर विभाग सबंधी जानकारी उन्हें नहीं मिल पा रही हैं। इस संबंध में छात्रों ने परीक्षा विभाग में शिकायत भी की, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

यह भी पढ़ें...हरियाणाः देश फिर हुआ शर्मसार, पांच साल की मासूम के साथ दरिंदगी की सारी हदें पार

पोर्टल का नहीं कराया गया रिनीवल

विभाग के सूत्रों ने बताया कि रिजल्ट का पोर्टल का लाइसेंस लिया गया था, लेकिन उसका रिनीवल नहीं कराया गया। ऐसे में वो एक्सपायर हो गया। इसलिए पोर्टल पर रिजल्ट दिखना बंद हो गये। जब छात्रों ने शिकायत की तो इसका पता चला। हालांकि नियम के मुताबिक एक्सपायर होने से पहले ही उसक रिनीवल ले लेना चाहिए। विवि में दो तरह से रिजल्ट छात्रों को बताये जाते हैं। एक वेबसाइट पर ई-मार्कशीट अपलोड कर दी जाती है वहीं दूसरा विभाग में बच्चों के स्कोर नोटिस बोर्ड पर शो किये जाते हैं। वेबसाइट पर रिजल्ट दिखना बंद हो गये तो नोटिस बोर्ड पर रिजल्ट लगाना चाहिए। लेकिन अब तक किसी भी विभाग के नोटिस बोर्ड पर रिजल्ट चस्पा नहीं किया गया है।

यह भी पढ़ें...जेठ का कारनामा, नशीला चाय पिलाकर दुल्हन का बनाया अश्लील वीडियो, जब गर्भवती हुई तो...

बीएयू ने छात्रों से जमा करा ली अगले सेमेस्टर की फीस
 

विवि ने अभी छात्रों का रिजल्ट नहीं आया है लेकिन विवि ने सभी छात्रों से अगले सेमेस्टर की फीस जमा करा ली है। फीस जमा करने की अंतिम तिथि भी 12 जनवरी निर्धारित की गई थी। ऐसे में अब जो भी छात्र फीस जमा करेंगे उनसे 200 रुपये लेट फीस भी अतिरिक्त ली जायेगी। बीबीएयू प्रवक्ता रचना गंगवार के मुताबिक विवि ने सॉफ्टवेयर का लाइसेंस छह महीने के लिए बढ़ा दिया गया है, जल्द ही वेबसाइट पर रिजल्ट दिखना शुरू हो जायेगा।

Web Title: BBAU website fails to start even after 15 days student upset ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया


loading...