अखिलेश और मायावती की ये चाल हुई कामयाब, तो 2019 में BJP को सत्ता में वापसी करना होगा मुश्किल...


SHUBHENDU SHUKLA 18/08/2018 18:39:03
2087 Views

Lucknow. लोकसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर सभी पार्टियों ने कमर कस ली है। बैठकें कर कार्यकर्ताओं को एकजुट कर रणनीति बना रहे हैं। वहीं, पार्टी केे शीर्ष नेता चुनाव में विजय पताका फहराने को लेकर कार्यकर्ताओं को निर्देश दे रहे हैं। बीजेपी को सत्ता से उखाड़ फेंकने के लिए बसपा सुप्रीमो मायावती और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने जो रणनीति बनाई है, वह अपना लक्ष्य पूरा करता दिखाई दे रहा है। अखिलेश यादव ने एक बार फिर सपा-बसपा गठबंधन की ओर संकेत किया है। उन्होंने कहा कि अंबेडकर-लाेहिया को अपने सपने पूरा करने का यह सबसे बेहतर अवसर है।

Akhilesh Yadav Gesture to alliance with BSP

यह भी पढ़ें...सगाई होते ही निक जोनस ने प्रियंका को लेकर सोशल मीडिया पर लिखी ऐसी पोस्ट...

  बीजेपी के लिए मुश्किल

यदि यूपी में मायावती और अखिलेश का गठबंधन होता है, तो 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी के लिए 2014 जैसा परिणाम दोहराना मुश्किल हो जाएगा। स्वतंत्रता दिवस के पूर्व अखिलेश यादव ने एक वीडियो जारी किया था। जिसमें इशारों इशारों में ही गठबंधन की झलक दिखाई देती है। उन्होंने बसपा से गठबंधन की इच्छा जताते हुए इशारा करते हुए कहा कि देश का भविष्य आर्थिक समानता, सामाजिक न्याय और एकता से ही मजबूत हो सकता है।  कुछ इसी तरह का सपना डॉ.आंबेडकर और राम मनाेहर लोहिया ने अपने समय में देखा था। उन्होंने कहा कि दोनों ने ही 1956 में एक दूसरे को खत लिखा था। पत्र में साथ मिलकर लड़ाई लड़ने की बात कही गई थी। लेकिन अफसोस की दिसंबर 1956 में बाबा साहब का देहांत हो गया। आज उनके सपनों को पूरा करने का मौका मिला है। 

Akhilesh Yadav Gesture to alliance with BSP

यह भी पढ़ें... खुलासा: UPA सरकार में पहुंची सबसे ज्यादा ग्रोथ रेट

  मुलायम-कांशीराम के फार्मूला

बता दें कि राममंदिर को लेकर जब आंदोलन का दौर चल रहा था, उस समय बीजेपी को रोकने के लिए 1993 में कांशीराम और मुलायम सिंह ने हाथ मिलाया था। इसका परिणाम यह रहा कि बीजेपी को कुर्सी नहीं मिली और सत्ता से बाहर हो गई। अब 25 साल बाद फिर सपा-बसपा उसी फार्मूले पर काम करेगी और गठबंधन को तैयार है। इस बार यूपी नहीं ​बल्कि केन्द्र से बीजेपी का उखाड़ फेंकना है। 

Web Title: Akhilesh Yadav Gesture to alliance with BSP ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया