मुख्य समाचार
 

शंखा घोष ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित


ANAMIKA PANDEY 28/04/2017 11:00 AM
136 Views

28-04-2017110242शंखा_घोष_ज्ञानप1

नई दिल्ली। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने प्रतिष्ठित बांग्ला कवि व साहित्यकार शंखा घोष को 52वां ज्ञानपीठ पुरस्कार प्रदान किया। 

साहित्य अकादेमी पुरस्कार से नवाजा 

कवि शंखा घोष को 'बाबोरेर प्रार्थना' के लिए सन् 1977 में साहित्य अकादेमी पुरस्कार तथा कन्नड़ नाटक 'तालेदांदा' का बांग्ला में 'रक्तकल्याण' के रूप में अनुवाद करने के लिए सन् 1999 में दोबारा साहित्य अकादेमी पुरस्कार से नवाजा गया।

रवींद्रनाथ टैगोर के कृतित्व पर पकड़ 

 उन्हें साल 2011 में पद्मभूषण से सम्मानित किया गया था। बांग्ला भाषा के प्रोफेसर शंखा घोष की रवींद्रनाथ टैगोर के कृतित्व पर पकड़ की कोई सानी नहीं है। उनकी प्रतिभा भारत की बहुविध साहित्यिक प्रतिभा को दर्शाती है।

यह भी पढ़ें... ग्रामीण विकास एवं गरीबी उन्मूलन के क्षेत्र में समझौता

राष्ट्रपति ने कहा, "यह सचमुच में उनकी प्रतिभा का ही एक उदाहरण है कि एक लेखक जो शैक्षणिक स्तर पर बांग्ला में पारंगत होने के साथ ही खुद को कविता की शायद सबसे कठिन शैली में व्यक्त करता है।"

Web Title: Shankha Ghosh awarded Gyanpeeth Award ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया


loading...