<link>www.newstimes.co.in</link><description> delivers news and information on the latest top stories, Videsh, Desh, Cricket, Entertainment, Business, Life Style, Editors Artical and other related local news</description><copyright>© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved</copyright><language>hi</language><lastBuildDate>23-09-2019 11:06:46</lastBuildDate><item><title>अचानक चाचा से मिलने पहुंचे अखिलेश यादव, पूछा हाल-चालhttps://www.newstimes.co.in/news/81785/भारत/उत्तर-प्रदेश-/लखनऊ/Akhilesh-Yadav-arrived-to-meet-uncle-Rajpal-Singh-Yadav902205Mon, 23 Sep 2019 00:00:00 GMTABHIMANYU VERMA <img src='http://newstimes.co.in/Images/23-09-2019095432AkhileshYadav2.PNG' alt='Images/23-09-2019095432AkhileshYadav2.PNG' />समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव रविवार को मुलायम सिंह के छोटे भाई और अपने चाचा राजपाल सिंह यादव से मिलने उनके आवास पहुंचे। यहां पर अखिलेश ने राजपाल सिंह से उनका हालचाल जाना। 

अचानक चाचा से मिलने पहुंचे अखिलेश यादव, पूछा हाल-चाल

Etawah. यूपी विधानसभा उपचुनाव से पहले समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव पार्टी के साथ-साथ मुलायम परिवार को एकजुट करने में जुटे हुए हैं। पहले अखिलेश ने शिवपाल के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए उनका दिल से स्वागत किया। वहीं, रविवार को अपने परिवार के प्रति ज़िम्मेदारी निभाते हुए वह अपने चाचा से मिलने इटावा पहुंचे और उनका हाल चाल जाना। 

Images/23-09-2019095032AkhileshYadav1.jpeg

जानकारी के मुताबिक समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव रविवार को मुलायम सिंह के छोटे भाई और अपने चाचा राजपाल सिंह यादव से मिलने उनके आवास पहुंचे। यहां पर अखिलेश ने राजपाल सिंह से उनका हालचाल जाना। 

इस दौरान अखिलेश यादव के साथ जिला पंचायत अध्यक्ष अंशुल यादव, पूर्व सांसद प्रेमदास कठेरिया, पूर्व सपा जिलाध्यक्ष राजीव यादव, सपा जिलाध्यक्ष गोपाल यादव, पूर्व पालिका अध्यक्ष फुरकान अहमद मौजूद थे।

यह भी पढ़ें:-...ये है वो षड्यंत्रकारी जो नहीं चाहता एक हो जाए मुलायम परिवार!

Images/23-09-2019095432AkhileshYadav2.PNG

बता दें कि कुछ दिनों पहले राजपाल सिंह यादव घर में गिर गए थे जिससे उन्हें गंभीर चोटें आयीं थीं। जिसके बाद उन्हें गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वहीं, तबीयत में सुधार के बाद वह फ्रेंड्स कालोनी स्थित अपने आवास आ गए थे। 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
मानव जीवन में संस्कार ही संसार की अमूल्य निधि: स्वामी प्रपन्नाचार्यhttps://www.newstimes.co.in/news/81779/भारत/उत्तर-प्रदेश-/लखनऊ/Rite-in-human-life-is-the-priceless-fund-of-the-world902199Mon, 23 Sep 2019 00:00:00 GMTRAJNISH KUMAR<img src='http://newstimes.co.in/Images/23-09-2019004108Riteinhuman3.jpg' alt='Images/23-09-2019004108Riteinhuman3.jpg' />लखनऊ। खुशहाल स्वास्थ्य सेवा संस्थान, जीवन ज्योति हास्य योग लॉफिंग क्लब लखनऊ की ओर से रविवार को "मानव जीवन में संस्कारों का महत्व" विषय पर इंदिरा नगर के दयानन्द इंटर कालेज एक वैचारिक चेतना अभियान संगोष्ठी एवं सम्मान समारोह का आयोजन किया।

मानव जीवन में संस्कार ही संसार की अमूल्य निधि: स्वामी प्रपन्नाचार्य

Lucknow. खुशहाल स्वास्थ्य सेवा संस्थान, जीवन ज्योति हास्य योग लॉफिंग क्लब लखनऊ की ओर से रविवार को "मानव जीवन में संस्कारों का महत्व" विषय पर इंदिरा नगर के दयानन्द इंटर कालेज एक वैचारिक चेतना अभियान संगोष्ठी एवं सम्मान समारोह का आयोजन किया। इस कार्यक्रम का शुभारम्भ पीठाधीश्वर स्वामी डॉ. सौमित्र प्रपन्नाचार्य जी महाराज, बलरामदास महाराज (महंत हनुमान गढ़ी), बृजमोहन दास जी महराज (महंत दशरथ गद्दी) प. केसरी प्रसाद शुक्ल (आध्यात्मिक विचारक) और ज्योतिषाचार्य योगेश मिश्र ने दीप प्रज्जवलित कर किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता हास्ययोगी शिवाराम मिश्र, संयोजकत्व हास्य योग लाफिंग क्लब ने किया।

Images/23-09-2019004102Riteinhuman1.jpg

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए स्वामी डॉ. सौमित्र प्रपन्नाचार्य ने कहा कि संस्कार ही संसार की अमूल्य निधि है। उन्होंने कहा कि आत्मा के साथ ही मन को पवित्र, शुद्ध और उन्नत करना ही संस्कार है। जीवन में 16 संस्कार उत्तम विधि से करने होते हैं। इन संस्कारों का प्रभाव शरीर, मन, बुद्धि और आत्मा पर पड़ता है। उन्होंने कहा कि मनुष्य जीवन को समुन्नत करना ही संस्कारों का मुख्य उद्देश्य है। 

उन्होंने कहा कि मनुष्य का जीवन कोई सीधा-साधा मार्ग नहीं है। उसमें दु:खों और कठिनाइयों के मोड़ आते हैं। जीवन में नाना प्रकार के क्रोध, लोभ, मोह, सुख आदि आते हैं। उन्होंने कहा कि संस्कार मनुष्य और आत्मा दोनों से संबंधित हैं। इसलिए माता-पिता का नैतिक धर्म है कि वे बच्चों के प्रति अपने दायित्वों का अच्छी तरह से निर्वहन करें, जिससे संस्कारवान, परिवार, समाज और राष्ट्र का निर्माण हो सके।

Images/23-09-2019004105Riteinhuman2.jpg

योगेश मिश्र ने कहा कि सनातन धर्म में कुल 40 संस्कार पुरातन में पाए जाते थे, जो धीरे—धीरे विलुप्त होकर अब 16 ही बचे हैं। मानव जीवन ईश्वर की कृपा से ही प्राप्त होता है। हमारे बार बार पृथ्वी पर आने की वजह हमारा संस्कार है। उन्होंने कहा कि जिसके संस्कार जितने अच्छे होते हैं, उसको उतने ही उच्च कुल में जन्म मिलता है। उन्होंने कहा कि मनुष्य जीवन में संस्कारों का बड़ा महत्व है। संसार में किसी भी इंसान का आचार व व्यवहार देखकर ही उसके परिवार के संस्कारों का अनुमान लगाया जा सकता है।

उन्होंने संस्कारों के बारे में कहा कि हम कोरे कागज पर जैसा भी लिखना चाहें वैसा ही लिख सकते हैं। बच्चे का जीवन व मन भी कोरे कागज की भांति होता है। जब बच्चा छोटा होता है तभी से उसमें अच्छे संस्कार भरे जा सकते हैं। कपड़ों पर घी की चिकनाहट होने के बाद भी पूरी तरह से नहीं उतरती। ठीक इसी तरह से व्यक्ति के जीवन में संस्कारों का असर जल्दी से नहीं छूटता।

संस्कारों के महत्व पर प्रकाश डालते हुए केसरी प्रसाद शुक्ल ने कहा कि पृथ्वी पर मानव सर्वश्रेष्ठ प्राणी है, इसलिए हमें संस्कारहीन नहीं होना चाहिए, क्योंकि संस्कारहीन मानव की आने वाली नस्लें कभी उत्थान नहीं कर सकती। उन्होंने कहा कि हमें अच्छा दिखने का स्वभाव बनाना चाहिए, बुरा बनने का नहीं। उन्होंने कहा कि जिस राष्ट्र में नारी व गाय का अपमान होगा, वो राष्ट्र कभी भी उन्नति नहीं कर सकता है।   

Images/23-09-2019004112Riteinhuman4.jpg

महंत बृजमोहन दास ने संस्कार के महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि सनातन धर्म में संस्कारों का विशेष महत्व है। इनका उद्देश्य शरीर, मन और मस्तिष्क की शुद्धि और उनको बलवान करना है, जिससे मनुष्य समाज में अपनी भूमिका आदर्श रूप मे निभा सके। संस्कार का अर्थ होता है- परिमार्जन-शुद्धीकरण। हमारे कार्य-व्यवहार, आचरण के पीछे हमारे संस्कार ही तो होते हैं। ये संस्कार हमें समाज का पूर्ण सदस्य बनाते हैं।

उन्होंने कहा कि हम अपने बच्चों को जैसा संस्कार देंगे, वैसा ही वह हमारे साथ व्यवहार करेगा। अगर हम अपने बच्चों में अमेरिका, इग्लैण्ड और रूस की संस्कृति डालेंगे तो उसमें भारतीय संस्कार कहां से आएंगे। इसलिए माता—पिता को चाहिए कि अपने बच्चों को ऐसा संस्कार दें, जिससे वे समाज और राष्ट्र का पुन: निर्माण कर सके। उन्होंने कहा कि राम चरित मानस कोई नाचने गाने की चीज नहीं है, बल्कि उसे जीवन में उतारकर समाज को लाभ दें।

बलराम दास जी महराज ने कहा कि वर्तमान समय में यह महसूस किया जा रहा है कि जैसे-जैसे शिक्षित नागरिकों का प्रतिशत बढ़ रहा है, वैसे-वैसे समाज में जीवन मूल्यों में गिरावट आ रही है। हमें मूल्यों के सौंदर्य का बोध होना चाहिए। विद्यार्थी जो देश का भविष्य हैं वे तनाव, अवसाद, बाहय आकर्षण और अनुशासनहीनता के शिकार हैं। इसका कारण पाश्चात्य संस्कृति, विद्यालय या समाज ही नहीं, बल्कि संस्कारों के प्रति हमारी उदासीनता है। उन्होंने कहा कि परिवार बालक की प्रथम पाठशाला है और माता-पिता प्रथम शिक्षक। विद्यालय में हम देख रहे हैं कि जो माता-पिता अपने बच्चों में अच्छे संस्कार आरोपित करते हैं वे वाह्य वातावरण से प्रभावित हुए बिना शिक्षक द्वारा दी गई विद्या को फलीभूत करते हैं। अत: परिवार में प्रत्येक सदस्य का दायित्व है कि बच्चों में भौतिक संसाधनों के स्थान पर संस्कारों की सौगात दें।

Images/23-09-2019004108Riteinhuman3.jpg

कार्यक्रम के अन्त में शिवाराम मिश्र ने पीठाधीश्वर स्वामी डॉ. सौमित्र प्रपन्नाचार्य जी महाराज, श्री बलरामदास महाराज (महंत हनुमान गढ़ी), श्री बृजमोहन दास जी महराज, (महंत श्री दशरथ गद्दी), पं. केसरी प्रसाद शुक्ल (आध्यात्मिक विचारक), ज्योतिषाचार्य योगेश मिश्र, राम उजागिर मिश्र, ओमप्रकाश गिरी,अतुल अवस्थी, हरिनाथ और राधेश्याम दीक्षित को शॉल ओढ़ाकर और हनुमान जी का चित्र भेंट सम्मानति किया। कार्यक्रम का संचालन यूनाइट फाउण्डेशन के उपाध्यक्ष राधेश्याम दीक्षित ने किया। 

 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
हकीकत से कोसों दूर है लतीफपुर के विकास का सच https://www.newstimes.co.in/news/81775/भारत/उत्तर-प्रदेश-/लखनऊ/-माल-truth-of-the-development-of-Latifpur-is-far-from-reality902195Sun, 22 Sep 2019 00:00:00 GMTLEKHRAM MAURYA<img src='http://newstimes.co.in/Images/22-09-2019155534Thetruthoft5.jpg' alt='Images/22-09-2019155534Thetruthoft5.jpg' />लतीफपुर का नाम सुनकर बाहरी लोग जितना खुश होते हैं गांव वाले उतने ही मायूस

हकीकत से कोसों दूर है लतीफपुर के विकास का सच

LUCKNOW. केन्द्र सरकार की स्मार्ट सिटी योजना की तर्ज पर पूर्ववर्ती प्रदेश सरकार के कार्यकाल में शुरू की गई 'आई स्पर्श स्मार्ट ग्राम योजना' के अन्तर्गत राजधानी स्थित विकास खण्ड माल के लतीफपुर ग्राम का चयन किया गया था। उस समय लोगों ने इस योजना का जो स्वरूप कागजों में देखा और सुना था, उससे ग्राम वासियों की खुशी का ठिकाना नहीं रह गया था।

Images/22-09-2019155309Thetruthoft1.jpg

गांव का चयन हुए तीन साल का समय बीत चुका है। अब तक दर्जनों अधिकारी इस गांव का दौरा कर चुके हैं, लेकिन जो तस्वीर सरकार और अधिकारियों के सामने पेश की गयी वह कितनी सच है। इसी की पड़ताल के लिए न्यूज टाइम्स ने रविवार को गांव की हकीकत जानने का प्रयास किया। क्योंकि एक बार फिर सोमवार को प्रदेश सरकार के ग्राम विकास मंत्री इस गांव में आने वाले हैं। उससे पहले यहां अधिकारी दूसरे ब्लाक से सफाई कर्मियों को लगाकर सड़कों की सफाई करा रहे हैं। 

Images/22-09-2019155335Thetruthoft2.jpg

लतीफपुर का नाम सुनकर बाहरी लोग जितना खुश होते हैं, गांव वाले उतने ही मायूस

एक ओर जहां मंत्री जी को इस गांव के चमक-दमक वाले रास्तों और बहुउद्देशीय भवन तक सीमित रखने की योजना है। वहीं, गांव की हकीकत कुछ इस प्रकार है। इस गांव में घुसते ही आपको तीन साल पहले पक्का नाला बनवाने के लिए खोदे गए गन्दे नाले के दर्शन हो जाएंगे। इसके बाद अभी तक गांव के दो रास्तों पर खडंजा ही लगा है।

Images/22-09-2019155436Thetruthoft3.jpg

गांव के बाहर पहुंचते ही यहां प्राथमिक विद्यालय के शौचालय ध्वस्त पड़े हैं। हैण्डपाइप का चबूतरा नहीं बना है, स्कूल के दरवाजे पल्ले टूटे हैं, जो हमेशा खुले पड़े रहते हैं। यहां चहारदीवारी भी नहीं है। इसी इसी गांव के मजरे में दलथम्भा में स्थित पूर्व माध्यमिक विद्यालय में भी शौचालय ध्वस्त पड़ा है। यहां भी चहारदीवारी नहीं है।

लतीफपुर में ही बंजरंग बली का मंदिर है, जिसको पर्यटन के रूप में विकसित करने के लिए 46.57 लाख का स्टीमेट बना दिया गया। इसको विकसित करने के लिए 23.29 लाख की धनराशि भी अवमुक्त कर दी गयी, जिससे मंदिर की चहार दीवारी के अलावा एक कमरा है, जो बिना दरवाजे के अधूरा बना पड़ा है। इसी के पीछे शौचालय का खुला टैंक अधूरा पड़ा है, इसका शौचालय कहां है पता नहीं। इसी के पास रामपती पत्नी स्व0 रमजान, तिरपाल तानकर रह रही हैं, जिन्हे आवास की जरूरत है, लेकिन कोई पुरसाहाल नहीं  है।

Images/22-09-2019155510Thetruthoft4.jpg

इसी गांव के मजरे दलथम्भा में एक मोहल्ला है, जहां तालाब का पानी घरों में भर जाता है। रास्तों से खड़ंजा तक गायब हो गया है। लोग नारकीय जीवन जी रहे हैं। नाली के पत्थर टूटे पड़े हैं। गांव के रामसनेही, रामबिलास, राम प्रकाश संजय, विशुनदयाल, शिवपाल कल्लू, मटरू आदि ने बताया कि उनके मोहल्ले में अभी तक कोई काम नहीं हुआ है।

Images/22-09-2019155534Thetruthoft5.jpg

इस सम्बन्ध में प्रधान पति अखिलेश सिंह ने कहा कि मंदिर की आधी धनराशि मिली है, पूरी धनराशि मिलने पर काम शुरू कराएंगे। स्कूलों के संबन्ध में कहा कि प्राथमिक विद्यालय जर्जर है कि उसे गिराकर दोबारा बनवाना है। इसलिए उसमें पैसा नहीं लगाया। कल मंत्री जी उसके भवन का शिलान्यास करेंगे। 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
लखनऊ: सैलरी न मिलने पर युवक ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में बयां किया दर्दhttps://www.newstimes.co.in/news/81771/भारत/उत्तर-प्रदेश-/लखनऊ/Makewell-Hospital-Lucknow-employee-commits-suicide-due-to-non-payment-of-salary902191Sun, 22 Sep 2019 00:00:00 GMTABHIMANYU VERMA <img src='http://newstimes.co.in/Images/22-09-2019150735MakewellHospi2.PNG' alt='Images/22-09-2019150735MakewellHospi2.PNG' />यूपी की राजधानी लखनऊ में सैलरी न मिलने से परेशान एक युवक ने मौत को गले लगा लिया। मृतक नाम अंकुर था जोकि एक अस्पताल में काम करता था। अंकुर के शव के पास से सुसाइड नोट भी बरामद किया गया है जिसमें उसने ने अस्पताल प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

लखनऊ: सैलरी न मिलने पर युवक ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में बयां किया दर्द

Lucknow. यूपी की राजधानी लखनऊ में सैलरी न मिलने से परेशान एक युवक ने मौत को गले लगा लिया। मृतक नाम अंकुर था जोकि एक अस्पताल में काम करता था। अंकुर के शव के पास से सुसाइड नोट भी बरामद किया गया है जिसमें उसने ने अस्पताल प्रशासन पर गंभीर आरोप लगाए हैं। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है। 

Images/22-09-2019150528MakewellHospi1.PNG

जानकारी के मुताबिक यह मामला चिनहट थाना क्षेत्र का है। मृतक के सुसाइड नोट के मुताबिक अस्पताल के मालिक पिछले 2 महीनों से उसकी सैलरी नहीं दे रहे थे, जिसे लेकर वह काफी परेशान था और वह अस्पताल प्रशासन से सैलरी मांगने जाता था तो उसे धमकाया जाता था।

सुसाइड नोट में आरोप लगाया है कि अस्पताल प्रशासन को सिर्फ पैसों से मतलब है। उसके ही नहीं बल्कि तमाम कर्मचारियों को भी पैसे नहीं दिये जा रहे हैं। उसने लिखा है कि जब उसे पैसों की सख्त जरूरत थी तब भी अस्पताल प्रबंधन उसकी सैलरी नहीं दे रहा था। 

Images/22-09-2019150735MakewellHospi2.PNG

यह भी पढ़ें:-... वंदेभारत एक्सप्रेस पर फिर हुआ पथराव, एएसआई और एक यात्री घायल

यही नहीं अंकुर ने अपने सुसाइड में अस्पताल प्रबंधन पर मरे चुके लोगों का इलाज करने का आरोप भी लगाया है। सुसाइड नोट में मृतक ने अस्पताल के मालिक विनय सिंह व निहारिका सिंह का नाम लिया।

वहीं, इस मामले में चिनहट एसएचओ सचिन ने कहना है कि युवक ने आत्महत्या की है। उसके पास से एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है। पुलिस सुसाइड नोट के आधार पर जांच की जा रही है।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
छात्रों को सिखाने में शिक्षक फेल हो गए हैं: हाईकोर्टhttps://www.newstimes.co.in/news/81770/भारत/Teachers-have-failed-to-teach-students:-High-Court902190Sun, 22 Sep 2019 00:00:00 GMTNAZO ALI SHEIKH<img src='http://newstimes.co.in/Images/22-09-2019145404Teachershave1.jpg' alt='Images/22-09-2019145404Teachershave1.jpg' />दिल्ली सरकार के शिक्षा विभाग ने फेल होने पर छात्रों के एडमिशन पर रोक लगा दी थी। जिस पर हाईकोर्ट ने गलत करार दिया है। दिल्ली हाईकोर्ट ने मामले की सुनवाई करते हुए टिप्पणी किया कि छात्र सीखने में नहीं शिक्षक सिखाने में फेल हो गए हैं। बता दें कि यह टिप्पणी सुनवाई करते हुए जस्टिस राजीव शकधर ने की। कोर्ट ने सुनवाई करते हुए शिक्षा विभाग के उस नियम पर भी रोक लगा दी जिसमें कक्षा 9वीं से 12वीं के बीच दो साल फेल होने पर छात्र को स्कूल में दोबारा एडमिशन नहीं देने का प्रावधान किया गया है।

छात्रों को सिखाने में शिक्षक फेल हो गए हैं: हाईकोर्ट

New Delhi. दिल्ली सरकार के शिक्षा विभाग ने फेल होने पर छात्रों के एडमिशन पर रोक लगा दी थी, जिसे हाईकोर्ट ने गलत करार दिया है। दिल्ली हाईकोर्ट ने मामले की सुनवाई करते हुए कहा कि छात्र सीखने में नहीं शिक्षक सिखाने में फेल हो गए हैं। बता दें कि यह टिप्पणी सुनवाई करते हुए जस्टिस राजीव ने की। कोर्ट ने सुनवाई करते हुए शिक्षा विभाग के उस नियम पर भी रोक लगा दी जिसमें कक्षा 9वीं से 12वीं के बीच दो साल फेल होने पर छात्र को स्कूल में दोबारा एडमिशन नहीं देने का प्रावधान किया गया है।

Images/22-09-2019145404Teachershave1.jpg

बताते चलें कि गत शुक्रवार को दो बच्चों के पिता ने कोर्ट में शिक्षा विभाग के फैसले को लेकर याचिका दायर की थी। बच्चे को उसके स्कूल ने 9वीं कक्षा में फेल होने के कारण दोबारा एडमिशन देने से साफ इंकार कर दिया था। सरकार का तर्क था कि बच्चे दो बार फेल हो चुके हैं। साथ ही यह भी कहा कि दिल्ली सरकार के शिक्षा विभाग ने नियम जारी किए हैं कि जो छात्र 9वीं से 12वीं कक्षा के बीच लगातार दो साल पास होने में असफल हों, उनको दोबारा एडमिशन नहीं दिया जा सकता।

यह भी पढ़ें... चुनाव का ऐलान होते ही मायावती का बड़ा एक्शन, इस दिग्गज नेता को किया बाहर

छात्र के पिता कबाड़ में काम करते हैं। उन्होंने अपने वकील वकील अशोक अग्रवाल के माध्यम से कोर्ट में दिल्ली सरकार के इस नियम को चुनौती दी। सरकार ने इस संबंध में अप्रैल 2014 और अगस्त 2018 में जारी सर्कुलर जारी की थी। वकील अशोक ने कोर्ट में कहा कि दिल्ली सरकार का ये सर्कुलर भारतीय संविधान के अनुच्छेद 14, 21 और 21ए में दिए गए मौलिक अधिकारों का उल्लंघन करता है।

साथ ही कोर्ट को यह भी तर्क दिया कि सर्कुलर के आधार पर सरकारी स्कूलों ने सैकड़ों छात्रों को एडमिशन देने से इंकार कर दिया। यह पूरी तरह से गैरकानूनी है। हाईकोर्ट ने फैसला सुनाते हुए कहा कि इस विषय पर गंभीरता से विचार करने की आवश्यकता है। मामले की अगली सुनवाई 16 दिसंबर को होगी। अगली सुनवाई तक जारी सर्कुलर पर रोक लगी रहेगी।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
बड़ा खुलासाः कमलनाथ सरकार के 28 विधायकों और मंत्रियों को फंसाने की थी पूरी तैयारी, लेकिन...https://www.newstimes.co.in/news/81769/भारत/मध्य-प्रदेश/kamalnath-sarkar-ke-28-mla-nishane-par-the902189Sun, 22 Sep 2019 00:00:00 GMTRAJNISH KUMAR<img src='http://newstimes.co.in/Images/22-09-2019145211kamalnathsark1.jpeg' alt='Images/22-09-2019145211kamalnathsark1.jpeg' />मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। दरअसल, हाई प्रोफाइल हनीट्रैप मामले में कमलनाथ सरकार के 28 विधायक टारगेट पर थे, इसमें से कई मंत्री भी शामिल थे, लेकिन इस बीच एक वरिष्ठ आईएस अधिकारी की सीडी आने के बाद एटीएस जांच में इसका खुलासा हो गया है।

बड़ा खुलासाः कमलनाथ सरकार के 28 विधायकों और मंत्रियों को फंसाने की थी पूरी तैयारी, लेकिन...

Bhopal. मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। दरअसल, हाई प्रोफाइल हनीट्रैप मामले में कमलनाथ सरकार के 28 विधायक टारगेट पर थे, इसमें से कई मंत्री भी शामिल थे, लेकिन इस बीच एक वरिष्ठ आईएस अधिकारी की सीडी आने के बाद एटीएस जांच में इसका खुलासा हो गया है।

Images/22-09-2019145211kamalnathsark1.jpeg

सूत्रों के मुताबिक, मध्य प्रदेश में एक सीनियर आईएएस अधिकारी और मौजूदा कमलनाथ सरकार के मंत्री की सीडी आने के बाद एटीएस को पुख्ता सबूत मिले हैं कि हनी ट्रैप गिरोह के सदस्यों के निशाने पर कमलनाथ सरकार के 28 विधायक थे। इस मामले को लेकर कमलनाथ सरकार ने एमपी एटीएस को जांच के निर्देश दिये थे। एटीएस को जांच में पता चला है कि हनी ट्रैप गैग की पांच महिलाओं ने कमलनाथ सरकार के विधायकों और अफसरों को टारगेट किया था। 

हालांकि इससे पहले इंदौर नगर निगम के एक इंजीनियर की शिकायत पर पुलिस ने पांच महिलाओं और एक पुरुष को गिरफ्तार किया था, इसमें दो महिलाएं इंदौर से और तीन महिलाएं भोपाल से थीं। पुलिस ने बताया था कि ये पूरा गिरोह संगठित होकर हाई प्रोफाइल लोगों को अपने जाल में फंसाकर ब्लैकमेल करता है। वहीं, अब इस मामले की जांच एटीएस कर रही है।

एटीएस ने हनी ट्रैप गैंग के सदस्यों की डिटेल खोज रही है और उसके आधार पर आरोपियों को गिरफ्तार कर रही है। एटीएस इन आरोपियों की भी पूरी कुंडली खंगाल रही है। इस जांच में 15 सदस्यीय टीम लगाई गई है। हालांकि इस बीच एक सीनियर आईएस अधिकारी और मंत्री की सीडी आने के बाद सूबे के अन्य नेताओं को डर सताने लगा है कि कहीं उनका नाम तो नहीं है।

बताया जा रहा है कि एटीएस को तमाम नेताओं और अफसरों के वीडियो मिले हैं, जिन वीडियो के आधार पर उन्हें ब्लैकमेल किया जा रहा था। खैर जो भी हो, लेकिन सरकार और एटीएस इस मामले के पूरी तह में जाने की तैयारी में है। 

वहीं, राजनीतिक विश्लेषकों के मुताबिक, कमलनाथ सरकार के खिलाफ हनीट्रैप गिरोह पूरी तरह से साजिश करने में जुटा हुआ था। इस मामले का सही समय पर खुलासा हो गया, अन्यथा कमलनाथ सरकार बुरी तरह से फंस सकती थी और सरकार को सत्ता में बने रहने का डर बढ़ सकता था।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
महाराष्ट्र: जनता तय करेगी उसे क्या चाहिए राष्ट्रवादी या परिवारवादी- अमित शाहhttps://www.newstimes.co.in/news/81768/भारत/महाराष्ट्र/Maharashtra:-People-will-decide-what-they-want-nationalist-or-family--Amit-Shah902188Sun, 22 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/22-09-2019143436MaharashtraP2.jpg' alt='Images/22-09-2019143436MaharashtraP2.jpg' />महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव का शंखनाद होते ही भाजपा ने जबरदस्त प्रचार अभियान शुरू कर दिया है। इसी कड़ी में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने मुंबई में रैली की। इस रैली के दौरान उन्होंने जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाने का विरोध करने वालों पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि यह अच्छी बात है के प्रचार अभियान की शुरूआत अनुच्छेद 370 हटाने के परिचय से हो रही है। यह अनुच्छेद देश की एकता में बाधक थी। दूसरी बार सत्ता में आते ही हमारी सरकार ने इसे हटाने का ऐतिहासिक काम किया है। 

महाराष्ट्र: जनता तय करेगी उसे क्या चाहिए राष्ट्रवादी या परिवारवादी- अमित शाह

Mumbai. महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव का शंखनाद होते ही भाजपा ने जबरदस्त प्रचार अभियान शुरू कर दिया है। इसी कड़ी में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने मुंबई में रैली की। इस रैली के दौरान उन्होंने जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाने का विरोध करने वालों पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि यह अच्छी बात है के प्रचार अभियान की शुरूआत अनुच्छेद 370 हटाने के परिचय से हो रही है। यह अनुच्छेद देश की एकता में बाधक थी। दूसरी बार सत्ता में आते ही हमारी सरकार ने इसे हटाने का ऐतिहासिक काम किया है। 

Images/22-09-2019143421MaharashtraP1.jpgImages/22-09-2019143436MaharashtraP2.jpg

यह भी पढ़ें...बसपा सुप्रीमो मायावती की राह पर सीएम योगी, यूपी को तीन राज्यों में बांटने की तैयारी

 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
चुनाव की डेट आते ही अखिलेश की बड़ी चाल, 'खजांची' का रखेंगे खयालhttps://www.newstimes.co.in/news/81766/भारत/Akhilesh-s-big-move-as-soon-as-the-election-date-comes-will-take-care-of--treasurer-902186Sun, 22 Sep 2019 00:00:00 GMTNAZO ALI SHEIKH<img src='http://newstimes.co.in/Images/22-09-2019134347Akhileshsbig1.jpg' alt='Images/22-09-2019134347Akhileshsbig1.jpg' /> यूपी में उपचुनाव सहित कई राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में सभी पार्टियों ने अपनी अपनी रणनीति तैयार करनी शुरू कर दी है। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने महाराष्ट्र में चुनाव की डेट का ऐलान होने के बाद यूपी में रणनीति तैयार करनी शुरू कर दी है। यहां होने वाले उपचुनाव की तैयारी में अखिलेश पूरी तरह से जुट गए हैं। बता दें कि अखिलेश ने कुछ दिनों पहले पार्टी कार्यालय में प्रेस वार्ता करते कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए जोश भर था।

चुनाव की डेट आते ही अखिलेश की बड़ी चाल, 'खजांची' का रखेंगे खयाल

New Delhi.  यूपी में उपचुनाव सहित कई राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में सभी पार्टियों ने अपनी अपनी रणनीति तैयार करनी शुरू कर दी है। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने महाराष्ट्र में चुनाव की डेट का ऐलान होने के बाद यूपी में रणनीति तैयार करनी शुरू कर दी है। यहां होने वाले उपचुनाव की तैयारी में अखिलेश पूरी तरह से जुट गए हैं। बता दें कि अखिलेश ने कुछ दिनों पहले पार्टी कार्यालय में प्रेस वार्ता करते कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए जोश भर था। उन्होंने नोटेबन्दी के दौरान बैंक के बाहर पैदा हुए बच्चे खजांची का खयाल रखने की बात भी कही। उनकी इस बातों ने जनता का दिल जीत लिया। साथ ही बीजेपी पर जमकर निशाना साधा था।

Images/22-09-2019134347Akhileshsbig1.jpg

उन्होंने कहा कि अंग्रजों के जमाने में डिवाइड एंड रूल लाया गया था। अब तो यूपी में डराओ एंड रूल चल रहा। डिवाइड एंड रूल वालों को तो भगा दिया गया। अब डराने वालों को भी यहां से भगाना है। एनआरसी पर बोलते हुए कहा कि सबसे पहले मुख्यमंत्री को बाहर होना होगा। सरकार में लोकतंत्र सीबीआइ, ईडी और आयकर वालों के सहारे चल रहा।  उनके तेवर को देख सपा कार्यकर्ताओं में आगामी उपचुनाव व 2022 विधानसभा चुनाव को लेकर जोश भर गया।

यह भी पढ़ें... ट्रांजेक्शन फेल होने पर RBI का नया नियम, बैंक ग्राहकों को देगा रोजाना 100 रुपए

उन्होंने नोटबंदी के समय बैंक के बाहर ही पैदा हुए बच्चे खजांची को मीडिया के सामने पेश किया। साथ ही यह भी बताया कि बच्चे के परिजन आर्थिक तौर पर काफी कमजोर हैं। रिजर्व बैंक और पंजाब नैशनल बैंक को चाहिए कि वो खजांची को गोद लें। खजांची का घर बनवाएं और हर माह खर्च चलाने के लिए 10 हजार रुपए दें। उन्होंने कहा कि जब तक खजांची अपने पैरों पर खड़ा होकर खर्च नहीं चला पाता सपा उसका पूरा खर्चा उठाएगी।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
बसपा सुप्रीमो मायावती की राह पर सीएम योगी, यूपी को तीन राज्यों में बांटने की तैयारीhttps://www.newstimes.co.in/news/81765/भारत/उत्तर-प्रदेश-/up-ko-bantane-ki-taiyari-me-yogi-sarkar902185Sun, 22 Sep 2019 00:00:00 GMTRAJNISH KUMAR<img src='http://newstimes.co.in/Images/22-09-2019133758upkobantane2.jpg' alt='Images/22-09-2019133758upkobantane2.jpg' />बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो एवं पूर्व मुख्यमंत्री मायावती की राह में उत्तर प्रदेश की योगी सरकार चल रहा है। दरअसल, मायावती ने यूपी को चार राज्यों में बांटने का प्रस्ताव केन्द्र सरकार को दिया था, लेकिन प्रस्ताव पास नहीं हो पाया था।

बसपा सुप्रीमो मायावती की राह पर सीएम योगी, यूपी को तीन राज्यों में बांटने की तैयारी

Lucknow. बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो एवं पूर्व मुख्यमंत्री मायावती की राह में उत्तर प्रदेश की योगी सरकार चल रही है। दरअसल, मायावती ने यूपी को चार राज्यों में बांटने का प्रस्ताव केन्द्र सरकार को दिया था, लेकिन प्रस्ताव पास नहीं हो पाया था। अब सोशल मीडिया पर खबर वायरल हो रही है कि योगी सरकार सूबे को तीन राज्यों में विभाजित कर सकती है, जिसे लेकर प्रस्ताव तैयार कर लिया है। 

Images/22-09-2019133755upkobantane1.JPG

सोशाल मीडिया पर वायरल हो रही खबर में दावा किया जा रहा है कि योगी सरकार उत्तर प्रदेश को तीन राज्यों में बांटने वाली है। इसमें उत्तर प्रदेश, बुंदेलखंड और पूर्वांचल को बनाने की तैयारी की जा रही है। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ, बुंदेलखंड की राजधानी प्रयागराज और पूर्वांचल की राजधानी गोरखपुर बनाई जाएगी।

यही नहीं, वायरल खबर में ये भी दावा किया जा रहा है कि उत्तर प्रदेश में 20 जिले, बुंदेलखंड में 17 जिले और पूर्वांचल में सर्वाधिक 23 जिले होंगे। इसके अलावा शेष बचे अन्य जिलों को काटकर उत्तराखंड, दिल्ली और हरियाणा से जोड़ दिया जाएगा। इसे लेकर योगी सरकार जल्द ही घोषणा करेगी। इसके अलावा तमाम जिलों को लेकर भी दावा किया जा रहा है। 

Images/22-09-2019133758upkobantane2.jpg

हालांकि ये खबर जो वायरल हो रही है वो पूरी तरह से फर्जी है और भरोसा न करें, क्योंकि सीएम योगी के सूचना सलाहकार मृत्युंजय कुमार ने इस तरह की खबर को पूरी तरह से नकार दिया है। उन्होंने कहा कि सरकार की इस तरह की कोई योजना नहीं है। बता दें कि उत्तर प्रदेश को काटकर सन् 2000 में उत्तराखंड बनाया गया था। इसके बाद से अब तक उत्तर प्रदेश की बांटने की मांग समय-समय पर उठती रही है।

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
वंदेभारत एक्सप्रेस पर फिर हुआ पथराव, एएसआई और एक यात्री घायल https://www.newstimes.co.in/news/81764/भारत/उत्तर-प्रदेश-/Stone-pellets-on-Vande-Bharat-Express-again-ASI-and-a-passenger-injured902184Sun, 22 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/22-09-2019133758Stonepellets2.jpg' alt='Images/22-09-2019133758Stonepellets2.jpg' />वंदेभारत एक्सप्रेस एक बार फिर पत्थरबाजी का शिकार हुई। यह घटना फतेहपुर में ट्रेन के वाराणसी से नई दिल्ली जाते समय हुई जिससे कोच के शीशे टूट गए। इस घटना में एएसआई और एक यात्री घायल हुआ है। मामले की रिपोर्ट दर्ज होने के बाद आरपीएफ अराजकतत्वों की तलाश में जुट गयी है। 

वंदेभारत एक्सप्रेस पर फिर हुआ पथराव, एएसआई और एक यात्री घायल 

Kanpur. वंदेभारत एक्सप्रेस एक बार फिर पत्थरबाजी का शिकार हुई। यह घटना फतेहपुर में ट्रेन के वाराणसी से नई दिल्ली जाते समय हुई जिससे कोच के शीशे टूट गए। इस घटना में एएसआई और एक यात्री घायल हुआ है। मामले की रिपोर्ट दर्ज होने के बाद आरपीएफ अराजकतत्वों की तलाश में जुट गयी है। 

Images/22-09-2019133711Stonepellets1.jpg


शनिवार देर शाम बनारस से नई दिल्ली जा रही ट्रेन नंबर 22433 अप वंदेभारत एक्सप्रेस पर फतेहपुर के फैजुल्लापुर व रमवां के बीच पथराव किया गया। 
पथराव के कारण कोच संख्या सी-13 के शीशे टूट गए। हलांकि ड्राइवर ने ट्रेन रोकी नहीं। घटना की सूचना तत्काल दिल्ली और प्रयागराज कंट्रोल को दी गयी। 
पथराव की इस घटना में ट्रेन की स्कार्ट टीम के एएसआई कमल सिंह और हरियाणा के पंचकूला के रहने वाले यात्री सीवान सिंह चुटहिल हुए। 

Images/22-09-2019133758Stonepellets2.jpg

यह भी पढ़ें...झारखंड: एटीएस ने जमशेदपुर से मोस्टवांटेड आतंकी को किया गिरफ्तार

 


 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
अब ये होगा कांग्रेस का नया मुख्यालय, भाजपा कार्यालय को भी देगा टक्करhttps://www.newstimes.co.in/news/81767/भारत/दिल्ली/Congress-partys-new-headquarters-9-Kotla-Road-in-Central-Delhi-inaugurated902187Sun, 22 Sep 2019 00:00:00 GMTABHIMANYU VERMA <img src='http://newstimes.co.in/Images/22-09-2019134246Congressparty2.jpg' alt='Images/22-09-2019134246Congressparty2.jpg' />कांग्रेस पार्टी को उसके स्थापना दिवस यानि 28 दिसंबर को नया मुख्यालय मिल जाएगा। इसी दिन कांग्रेस के नए मुख्यालय का उद्घाटन किया जाएगा। इसका नाम पूर्व प्रधान मंत्री इंदिरा गांधी के नाम पर रखा जाएगा, जो कि 'इंदिरा गांधी भवन' कहलाएगा। सूत्रों की माने तो इसका उद्घाटन पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी करेंगी।

अब ये होगा कांग्रेस का नया मुख्यालय, भाजपा कार्यालय को भी देगा टक्कर

New Delhi. कांग्रेस पार्टी को उसके स्थापना दिवस यानि 28 दिसंबर को नया मुख्यालय मिल जाएगा। इसी दिन कांग्रेस के नए मुख्यालय का उद्घाटन किया जाएगा। इसका नाम पूर्व प्रधान मंत्री इंदिरा गांधी के नाम पर रखा जाएगा, जो कि 'इंदिरा गांधी भवन' कहलाएगा। सूत्रों की माने तो इसका उद्घाटन पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी करेंगी।

Images/22-09-2019134231Congressparty1.jpg

बता दें कि कांग्रेस का यह नया मुख्यालय सेंट्रल दिल्ली के 9 कोटला रोड में स्थित है। वहीं, अब नया पार्टी मुख्यालय सेवा दल, इंडियन यूथ कांग्रेस और NSUI का नया पता भी होगा। कोटला रोड पर कांग्रेस का छह मंजिल वाला आगामी पार्टी कार्यालय दीन दयाल उपाध्याय मार्ग स्थित भाजपा के राष्ट्रीय कार्यालय के नजदीक रहेगा।

Images/22-09-2019134246Congressparty2.jpg

यह भी पढ़ें:-...ये है वो षड्यंत्रकारी जो नहीं चाहता एक हो जाए मुलायम परिवार!

कांग्रेस के इस मुख्यालय में दो गेट बनाए गए हैं। पहला गेट कोटला रोड की तरफ रहेगा। वहीं, दूसरा गेट दीन दयाल उपाध्याय मार्ग पर खुलेगा। कोटला रोड को मेन गेट के रूप में बनाने का फैसला किया है, जो पार्टी के आधिकारिक पते के रूप में भी जाना जाएगा।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
झारखंड: एटीएस ने जमशेदपुर से मोस्टवांटेड आतंकी को किया गिरफ्तारhttps://www.newstimes.co.in/news/81763/भारत/झारखंड/Jharkhand:-ATS-arrested-most-wanted-terrorist-from-Jamshedpur902183Sun, 22 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/22-09-2019125839JharkhandATS2.jpg' alt='Images/22-09-2019125839JharkhandATS2.jpg' />जमशेदपुर में एटीएस के हाथ बड़ी सफलता लगी है। यहां एक खूंखार आतंकी को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस के मुताबिक इस आतंकी तार खूंखार आतंकी संगठन अलकायदा और आईएसआईएस से जुड़े हैं। लंबे समय से एटीएस को इस मोस्टवांटेड आतंकी तलाश थी।  

झारखंड: एटीएस ने जमशेदपुर से मोस्टवांटेड आतंकी को किया गिरफ्तार

New Delhi. जमशेदपुर में एटीएस के हाथ बड़ी सफलता लगी है। यहां एक खूंखार आतंकी को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस के मुताबिक इस आतंकी तार खूंखार आतंकी संगठन अलकायदा और आईएसआईएस से जुड़े हैं। लंबे समय से एटीएस को इस मोस्टवांटेड आतंकी तलाश थी।  

Images/22-09-2019125813JharkhandATS1.JPGImages/22-09-2019125839JharkhandATS2.jpg


पूछताछ में उसने युवाओं को जेहाद के लिए प्रेरित करने की बात स्वीकारी है। अभी उससे पूछताछ कर और जानकारी जुटाई जा रही है। 
एडीजी ने बताया कि यह मोस्टवांटेड की लिस्ट में शामिल था जिसकी तलाश एटीएस को लंबे समय से थी। इस आतंकी गिरफ्तारी को एटीएस की बड़ी सफलता माना जा रहा है।

देश भर की सुरक्षा एजेंसियों के साथ आईएनए को भी इसकी तलाश थी। झारखंड एटीएस ने जमशेदपुर के मानगो इलाके के आजादनगर थाना क्षेत्र का रहने वाला बताया गया है।

 

यह भी पढ़ें...पाकिस्तान के मुंह पर पड़ा तमाचा : ह्यूमन राइट ऐक्टिविस्ट गुलालाई इस्माइल ने मांगी अमेरिका में शरण

 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
ये है वो षड्यंत्रकारी जो नहीं चाहता एक हो जाए मुलायम परिवार!https://www.newstimes.co.in/news/81762/भारत/उत्तर-प्रदेश-/लखनऊ/Who-is-the-conspirator-in-SP-who-does-not-want-to-allow-Akhilesh-Shivpal-to-unite902182Sun, 22 Sep 2019 00:00:00 GMTABHIMANYU VERMA <img src='http://newstimes.co.in/Images/22-09-2019125017Whoisthecon1.jpg' alt='Images/22-09-2019125017Whoisthecon1.jpg' />सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और प्रसपा प्रमुख शिवपाल यादव के बीच कड़वाहट अब कम होती नजर आ रही है। दोनों ही नेताओं की ओर से दिये बयान से अब अटकलें लगाईं जा रही हैं कि मुलायम कुनबा फिर से एक होने जा रहा है।

ये है वो षड्यंत्रकारी जो नहीं चाहता एक हो जाए मुलायम परिवार!

New Delhi. सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और प्रसपा प्रमुख शिवपाल यादव के बीच कड़वाहट अब कम होती नजर आ रही है। दोनों ही नेताओं की ओर से दिये बयान से अब अटकलें लगाईं जा रही हैं कि मुलायम कुनबा फिर से एक होने जा रहा है। वहीं, शिवपाल की ओर से दिये गए बयान से सवाल ये भी उठता है कि सपा में आखिर में षड्यंत्रकारी कौन है?

Images/22-09-2019125017Whoisthecon1.jpg

दरअसल, शुक्रवार को शिवपाल यादव ने शुक्रवार को मैनपुरी में कहा था कि मेरी तरफ से पूरी गुंजाइश है, लेकिन षड्यंत्रकारी लोग इसे होने नहीं देंगे। उनके इस बयान को शर्त के तौर पर देखा जा रहा है। हालांकि अखिलेश ने भी दोनों हाथ खोलकर चाचा शिवपाल के स्वागत में देर रही की और उन्होंने शिवपाल की विधायकी को लेकर दी गयी याचिका वापस लेने की भी बात कह दी। 

ऐसे में बात बस यहां फंस जाती है कि क्या अखिलेश यादव सपा में बैठे षड्यंत्रकारियों को बाहर करेंगे या नहीं। लेकिन षड्यंत्रकारी कौन हैं? कयास यह भी लगाए जा रहे हैं कि शिवपाल का यह इशारा अपने ही परिवार के रामगोपाल यादव की तरफ तो नहीं है। 

यह भी पढ़ें:-...RJD विधायक की भतीजी से रेप की कोशिश, विफल होने पर मारी गोली

मुलायम परिवार में विवाद के शुरुआती घटनाक्रम पर नजर डालें तो शिवपाल हमेशा से ही रामगोपाल यादव पर आरोप लगाते रहे हैं। 2017 के विधानसभा चुनाव से पहले जब 'मुलायम परिवार' में कलह हुई थी तो शिवपाल ने रामगोपाल यादव का नाम लेकर कहा था कि सपा को एक नहीं होने देना चाहते हैं। 

बता दें कि शिवपाल और रामगोपाल यादव के बीच जंग तो जगजाहिर है। अखिलेश और शिवपाल यादव के बीच जब वर्चस्व की जंग हुई थी तो रामगोपाल अखिलेश के साथ खड़े नजर आए थे। वहीं, 2019 के लोकसभा चुनाव में शिवपाल ने रामगोपाल यादव के बेटे के खिलाफ फिरोजाबाद संसदीय सीट से चुनावी मैदान में उतरे और यह सीट भाजपा जीतने में कामयाब रही। 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
चुनाव का ऐलान होते ही मायावती का बड़ा एक्शन, इस दिग्गज नेता को किया बाहरhttps://www.newstimes.co.in/news/81761/भारत/Mayawati-s-big-action-as-soon-as-elections-were-announced-this-veteran-leader-was-excluded902181Sun, 22 Sep 2019 00:00:00 GMTNAZO ALI SHEIKH<img src='http://newstimes.co.in/Images/22-09-2019123955Mayawatisbig1.jpg' alt='Images/22-09-2019123955Mayawatisbig1.jpg' />लोकसभा चुनाव के बाद कई राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं। महाराष्ट्र में चुनाव आयोग ने तिथि का ऐलान भी कर दिया है। विधानसभा चुनाव की डेट का ऐलान होने के बाद बसपा सुप्रीमो ने कड़े एक्शन लेने शुरू कर दिए हैं। अनुशासन को सबसे सर्वोपरि रखने वाली मायावती ने पार्टी में लोकसभा चुनाव के दौरान बसपा में शामिल होने वाली सपा की दिग्गज नेता रही रुचि वीरा को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया है। इस फैसले के बाद पार्टी में भूचाल आ गया है।

चुनाव का ऐलान होते ही मायावती का बड़ा एक्शन, इस दिग्गज नेता को किया बाहर

Lucknow. लोकसभा चुनाव के बाद कई राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं। महाराष्ट्र में चुनाव आयोग ने तिथि का ऐलान भी कर दिया है। विधानसभा चुनाव की डेट का ऐलान होने के बाद बसपा सुप्रीमो ने कड़े एक्शन लेने शुरू कर दिए हैं। अनुशासन को सबसे सर्वोपरि रखने वाली मायावती ने पार्टी में लोकसभा चुनाव के दौरान बसपा में शामिल होने वाली सपा की दिग्गज नेता रही रुचि वीरा को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया है। इस फैसले के बाद पार्टी में भूचाल आ गया है।

Images/22-09-2019123955Mayawatisbig1.jpg

बताते चलें कि बिजनौर से पूर्व विधायक और आंवला सीट से रुचि बसपा की सीट पर लोकसभा चुनाव लड़ी थीं। रुचि को मायावती ने अनुशासनहीनता के आरोप में पार्टी से बाहर कर दिया है। गौरतलब है कि बसपा सुप्रीमो हमेशा से ही अनुशासन को पार्टी में सर्वोपरि रखती आई हैं। इससे पहले भी अनुशासनहीनता के आरोप में कई दिग्गज नेताओं को पार्टी से बाहर का दरवाजा दिखाया जा चुका है। यूपी में उपचुनाव होने हैं, इसमें जीत का रास्ता सीधे यहां 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव की रणनीति को मजबूत बनाने वाला है। ऐसे में बसपा सुप्रीमो किसी भी तरह की चूक इस बार नहीं होने देना चाहती हैं।                      

बताया जा रहा कि बसपा जिलाध्यक्ष ने राजेंद्र सिंह ने अनुशासनहीनता व पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने के कारण यह सख्त निर्णय लेते हुए कार्रवाई की। ज्ञात हो कि रुचि लोकसभा चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी छोड़कर बसपा में शामिल हुई थीं। इसके बाद बसपा से उनको आंवला लोकसभा सीट से टिकट देकर मैदान में उतारा गया था। खबरों के मुताबिक कुछ दिनों पहले एक वैश्य सम्मेलन में शिरकत करने पहुंची थी। यहां जिले के प्रभारी मंत्री कपिल देव अग्रवाल समेत कई दिग्गज नेता भी शामिल हुए थे। यह बाद बसपा सुप्रीमो का अच्छी नहीं लगी। सपा के बाद बसपा से भी बाहर का रास्ता दिखाए जाने के बाद माना जा रहा कि रुचि भाजपा में शामिल हो सकती हैं।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
योगी के मंत्रियों की पाठशाला का आज तीसरा और अंतिम दिनhttps://www.newstimes.co.in/news/81760/भारत/उत्तर-प्रदेश-/लखनऊ/Todays-third-and-final-day-of-Yogis-ministers-school902180Sun, 22 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/22-09-2019120629Todaysthird2.jpg' alt='Images/22-09-2019120629Todaysthird2.jpg' />यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ अपने मंत्रियों के साथ आईआईएम लखनऊ पहुंच गए है जहां क्लास में सभी को सुशासन का पाठ पढ़ाया जा रहा है। लीडरशिप डेवलपमेंट प्रोग्राम का आज अंतिम चरण है। बता दें कि इससे पहले मंत्रियों की क्लास दो और लग चुकी है। 

योगी के मंत्रियों की पाठशाला का आज तीसरा और अंतिम दिन

Lucknow. यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ अपने मंत्रियों के साथ आईआईएम लखनऊ पहुंच गए है जहां क्लास में सभी को सुशासन का पाठ पढ़ाया जा रहा है। लीडरशिप डेवलपमेंट प्रोग्राम का आज अंतिम चरण है। बता दें कि इससे पहले मंत्रियों की क्लास दो और लग चुकी है। 

Images/22-09-2019120603Todaysthird1.jpg

सरकारी नीतियों के उचित निर्धारण और सरकार के बेहतर क्रियान्वयन के लिए योगी सरकार अपने मंत्रियों को यह विशेष प्रशिक्षण दिला रही है। 
सरकार का मानना है कि नीतियों का बेहतर क्रियान्वयन होगा तो ज्यादा से ज्यादा लोगों को योजनाओं का लाभ मिलेगा।बीते रविवार को लगी क्लास में सीएम योगी ने कहा था कि प्रदेश सरकार सूबे समग्र विकास और सुशासन का रोडमैप तैयार करने के लिए एक टीम रूप में जमीन पर उतारना होगा। 

Images/22-09-2019120629Todaysthird2.jpg

लगातार तीन ​रविवार 8, 15 और 22 अक्टूबर को इस विशेष पाठशाला का आयोजन योगी सरकार के मंत्रियों के लिए किया गया। 
इसके आईआईएम के प्रोफेसरों ने मंत्रियों को साथ चलकर बदलाव की शुरूआत करने के गुर बताए गए।

 

यह भी पढ़ें...यूपी पुलिस कंप्यूटर ऑपरेटर परीक्षा परिणाम घोषित, यहां देखें रिजल्ट

 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
यूपी पुलिस कंप्यूटर ऑपरेटर परीक्षा परिणाम घोषित, यहां देखें रिजल्टhttps://www.newstimes.co.in/news/81759/भारत/UP-police-computer-operator-exam-result-declared-see-the-result-here902179Sun, 22 Sep 2019 00:00:00 GMTNAZO ALI SHEIKH<img src='http://newstimes.co.in/Images/22-09-2019104800UPpolicecomp1.jpg' alt='Images/22-09-2019104800UPpolicecomp1.jpg' />जिन अभ्यर्थियों ने यूपी पुलिस कंप्यूटर ऑपरेटर ग्रेड ए (बैकलॉग) भर्ती 2017 की परीक्षा दी थी, उनके लिए खुशी भरी खबर है। उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती बोर्ड ने मेरिट लिस्ट जारी कर दी है। जिन अभ्यर्थियों ने परीक्षा दी थी वहयूपीपीआरबी की आधिकारिक वेबसाइट uppbpb.gov.in पर जाकर अपना परिणाम चेक कर सकते हैं।

यूपी पुलिस कंप्यूटर ऑपरेटर परीक्षा परिणाम घोषित, यहां देखें रिजल्ट

New Delhi. जिन अभ्यर्थियों ने यूपी पुलिस कंप्यूटर ऑपरेटर ग्रेड ए (बैकलॉग) भर्ती 2017 की परीक्षा दी थी, उनके लिए खुशी भरी खबर है। उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती बोर्ड ने मेरिट लिस्ट जारी कर दी है। जिन अभ्यर्थियों ने परीक्षा दी थी वह यूपीपीआरबी की आधिकारिक वेबसाइट uppbpb.gov.in पर जाकर अपना परिणाम चेक कर सकते हैं।

Images/22-09-2019104800UPpolicecomp1.jpg

बताते चलें कि टाइपिंग टेस्ट और अभ्यर्थियों का दस्तावेज सत्यापन करने के बाद मेरिट लिस्ट शॉर्टलिस्ट कर जारी की गई है। यूपी पुलिस कंप्यूटर ऑपरेटर ग्रेड ए (बैकलॉग) भर्ती 2017 के लिए आवेदन प्रक्रिया 16 मई, 2017 से 15 जून, 2017 तक हुई थी। उम्मीदवारों की लिखित परीक्षा दिसंबर 2018 के में आयोजित कराई गई थी। वहीं, परिणाम मार्च 2019 में जारी किया गया था।

बता दें कि बोर्ड ने 666 बैकलॉग रिक्तियों का विज्ञापन जारी करते हुए आवेदन मांगे थे। जिनमें 666 अभ्यर्थियों की सूची जारी हुई थी। उनको चयन के लिए चयनित किया गया है। चयनित अभ्यर्थियों में 533 पुरुष व 133 महिला उम्मीदवार शामिल हैं। अभ्यर्थी आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर अपना परिणाम देख सकते हैं।

इसके लिए सबसे पहले वेबसाइट uppbpb.gov.in पर जाएं। यहां यूपी (बैकलॉग) सीधी भर्ती 2017 चयन परिणाम का लिंक दिया होगा। इस पर अभ्यर्थी क्लिक करें। इसके बाद परिणाम पीडीएफ में कंप्यूटर स्क्रीन पर सामने आ जाएगा। जरूरी जानकारियों को दर्ज करने के बाद परिणम सामने आ जाएगा। अभ्यर्थी परिणाम को डाउनलोड कर प्रिंट आउट प्राप्त कर लें।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
उपचुनाव की तारीख से डोला येदियुरप्पा सिंहासन, शाह से गुहार लगाने दिल्ली पहुंचेhttps://www.newstimes.co.in/news/81758/भारत/अन्य-राज्यों-से/upchunav-ki-tarikh-se-dola-Yeddyurappa-ka-singhasan-Shah-se-guhar-lagane-Delhi-pahunche902178Sun, 22 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/22-09-2019104852upchunavkita5.jpg' alt='Images/22-09-2019104852upchunavkita5.jpg' />उपचुनाव की तारीख घोषित होते ही कर्नाटक की येदियुरप्पा सरकार टेंशन में आ गयी है। यह टेंशन भाजपा और कांग्रेस जेडीएस के बागी विधायकों के चलते बढ़ी है। बता दें कि हरियाणा और महाराष्र्ट के साथ कर्नाटक की 15 सीटों पर भी उपचुनाव होने हैं जबकि बागी विधायकों की योग्यता का मामला अभी सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है। ऐसे में बागी विधायक राज्य में भाजपा के लिए मुशीबत का सबब बन सकते हैं। इस सिलसिले में येदियुरप्पा दिल्ली पहुंच गए है जहां वह राष्ट्रीय अध्यक्ष के सामने पूरी स्थिति रखेंगे। 

उपचुनाव की तारीख से डोला येदियुरप्पा सिंहासन, शाह से गुहार लगाने दिल्ली पहुंचे

New Delhi. उपचुनाव की तारीख घोषित होते ही कर्नाटक की येदियुरप्पा सरकार टेंशन में आ गयी है। यह टेंशन भाजपा और कांग्रेस जेडीएस के बागी विधायकों के चलते बढ़ी है। बता दें कि हरियाणा और महाराष्र्ट के साथ कर्नाटक की 15 सीटों पर भी उपचुनाव होने हैं जबकि बागी विधायकों की योग्यता का मामला अभी सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है। ऐसे में बागी विधायक राज्य में भाजपा के लिए मुशीबत का सबब बन सकते हैं। इस सिलसिले में येदियुरप्पा दिल्ली पहुंच गए है जहां वह राष्ट्रीय अध्यक्ष के सामने पूरी स्थिति रखेंगे। 

Images/22-09-2019104624upchunavkita1.jpgImages/22-09-2019104640upchunavkita2.jpg

बताया यह भी जा रहा है कि इन विधायकों ने भाजपा पर अपना वादा पूरा न करने का आरोप लगाया है। बता दें कि एनआर संतोष वही है जिनकी भूमिका राज्य के 'मिशन कमल' अहम रही थी। 

Images/22-09-2019104707upchunavkita3.jpgImages/22-09-2019104852upchunavkita5.jpg

यह भी पढ़ें...यूपी: विधानसभा उपचुनाव का कार्यक्रम जारी, जानिए कब, कहां और क्यों होगा चुनाव

 

 

 

 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
ट्रांजेक्शन फेल होने पर RBI का नया नियम, बैंक ग्राहकों को देगा रोजाना 100 रुपएhttps://www.newstimes.co.in/news/81756/भारत/New-RBI-rules-on-transaction-failure-bank-will-give-Rs-100-daily-to-customers902176Sun, 22 Sep 2019 00:00:00 GMTNAZO ALI SHEIKH<img src='http://newstimes.co.in/Images/22-09-2019102116NewRBIrules1.jpg' alt='Images/22-09-2019102116NewRBIrules1.jpg' />बैंक की लापरवाही व अन्य कारणों से ग्राहकों को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। जिसे ध्यान में रखते हुए आरबीआई ने सख्त नियम बनाया है। बैंकों के तमाम कोशिशों के बाद भी समस्या का हल होते नहीं दिख रहा था, इसलिए नया नियम लागू किया है।

ट्रांजेक्शन फेल होने पर RBI का नया नियम, बैंक ग्राहकों को देगा रोजाना 100 रुपए

New Delhi. बैंक की लापरवाही व अन्य कारणों से ग्राहकों को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। जिसे ध्यान में रखते हुए आरबीआई ने सख्त नियम बनाया है। बैंकों के तमाम कोशिशों के बाद भी समस्या का हल होते नहीं दिख रहा था, इसलिए नया नियम लागू किया है। बताते चलें कि कई बार ऑनलाइन ट्रांजेक्शन भी फेल हो जाते हैं। इससे ग्राहकों को परेशानियां उठानी पड़ती है।

Images/22-09-2019102116NewRBIrules1.jpg

ग्रहाकों की गलतियों पर तो बैंक बड़े मौज से नियम कानून दिखाकर रुपए वसूल लेते हैं, लेकिन ग्राहकों के साथ न्याय नहीं हो पाता। इसलिए अब भारतीय रिजर्व बैंक ने ग्राहकों की बेहतर सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए एक नया नियम बनाया है।

नियम के तहत यदि आपका ऑनलाइन ट्रांजेक्शन किसी भी कारण से फेल होता है और एक दिन के अंदर रुपए वापस नहीं मिलते तो बैंकों को रोजाना ग्राहक के खाते में 100 रुपए डालने होंगे।

आरबीआई ने सर्कुलर जारी करते हुए कहा है कि ऑनलाइन लेन-देन फेल हो जाने के बाद अगर ग्राहकों को एक दिन के भीतर पैसा वापस नहीं मिलता तो बैंक और डिजिटल वॉलिट्स को रोजाना ग्रहाकों को सौ रुपए पेनाल्टी के तौर पर भुगतान करना होगा।

यह नियम यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (UPI), इमीडिएट पेमेंट सिस्टम (IMPS), ई-वॉलिट्स, कार्ड-टू-कार्ड पेमेंट और नेशनल ऑटोमेटेड क्लियरिंग हाउस (NACH) पर लागू होगा।

बता दें कि यह नियम केवल डिजिटल ही नहीं, नॉन-डिजिटल लेन-देन को लेकर भी समय सीमा निर्धारित की गई है।ऑनलाइन पेमेंट्स, एटीएम और माइक्रो एटीएम में फेल लेन-देन के लिए खाते में पैसे पहुंचने के लिए पांच दिन की समय सीमा तय की गई है।

आरबीआई ने सख्त चेतावनी दी है कि ग्राहकों के खाते में नियम का पालन नहीं होने पर रुपए पहुंच जाने चाहिए। उनकी शिकायतों का इंतजार नहीं किया जाए।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
यूपी: विधानसभा उपचुनाव का कार्यक्रम जारी, जानिए कब, कहां और क्यों होगा चुनावhttps://www.newstimes.co.in/news/81753/भारत/उत्तर-प्रदेश-/UP:-Assembly-by-election-schedule-declared-know-when-where-and-why-elections-will-be-held902173Sun, 22 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/22-09-2019092140UPAssemblyb3.jpg' alt='Images/22-09-2019092140UPAssemblyb3.jpg' />उत्तर प्रदेश की 11 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव के लिए अधिसूचना जारी कर दी गई है। चुनाव आयोग द्वारा जारी किए गए कार्यक्रम के अनुसार इन 11 सीटों पर 21 अक्टूबर को मतदान होगा। चुनाव के बाद जीत हार के नतीजों के लिए भी ज्यादा लंबा इंतजार नहीं करना होगा क्योंकि 24 अक्टूबर को ही मतगणना हो जाएगी। 

यूपी: विधानसभा उपचुनाव का कार्यक्रम जारी, जानिए कब, कहां और क्यों होगा चुनाव

Lucknow. उत्तर प्रदेश की 11 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव के लिए अधिसूचना जारी कर दी गई है। चुनाव आयोग द्वारा जारी किए गए कार्यक्रम के अनुसार इन 11 सीटों पर 21 अक्टूबर को मतदान होगा। चुनाव के बाद जीत हार के नतीजों के लिए भी ज्यादा लंबा इंतजार नहीं करना होगा क्योंकि 24 अक्टूबर को ही मतगणना हो जाएगी। 

Images/22-09-2019092053UPAssemblyb1.jpgImages/22-09-2019092114UPAssemblyb2.jpgImages/22-09-2019092140UPAssemblyb3.jpg

यह भी पढ़ें...चुनाव आयोग ने यूपी सहित 17 राज्यों में उपचुनाव की तारीखों का किया ऐलान, जानिये कब होगा मतदान

 

 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
बड़ी खबर: HC के बाद प्रदेश सरकार का बड़ा ऐलान, बिना इंटरव्यू UP Police में भर्ती 2019 में ही...https://www.newstimes.co.in/news/81748/भारत/Big-news:-After-HC-the-state-governments-big-announcement-without-interview-in-UP-Police-recruitment-itself-in-2019-902168Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTNAZO ALI SHEIKH<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019170313BignewsAfte1.jpg' alt='Images/21-09-2019170313BignewsAfte1.jpg' />उत्तर प्रदेश पुलिस में भर्ती होने का हर किसी का सपना होता है। लेकिन पुलिस में भर्ती होना इतना आसान भी नहीं होता तो जो युवक यूपी पुलिस में जाने का सपना देख रहे थे उनके लिए एक बड़ी खबर आई है। प्रदेश सरकार ने युवाओं को बड़ा तोहफा देने का फैसला किया है। पुलिस विभाग में 5623 दारोगा भर्तियां की जाएगी। 

बड़ी खबर: HC के बाद प्रदेश सरकार का बड़ा ऐलान, बिना इंटरव्यू UP Police में भर्ती 2019 में ही...

Lucknow. उत्तर प्रदेश पुलिस में भर्ती होने का हर किसी का सपना होता है। लेकिन पुलिस में भर्ती होना इतना आसान भी नहीं होता, जो युवक यूपी पुलिस में जाने का सपना देख रहे थे उनके लिए एक बड़ी खबर आई है। प्रदेश सरकार ने युवाओं को बड़ा तोहफा देने का फैसला किया है। पुलिस विभाग में 5623 दारोगा भर्तियां की जाएगी ।

Images/21-09-2019170313BignewsAfte1.jpg

पुलिस भर्ती बोर्ड के अधिकारियों के मुताबिक, उपनिरिक्षक नागरिक पुलिस के 5623 पदों पर डायरेक्ट भर्ती के लिए अभ्यर्थियों के लिए अगले माह आवेदन मांगे जाएंगे। अक्टूबर में अभ्यर्थी दारोगा भर्ती के लिए अपने आवेदन कर सकेंगे। अक्टूबर में ही सिपाही भर्ती परीक्षा का रिजल्ट भी जारी किए जाने की तैयारी है। 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
विधानसभा चुनावों का ऐलान होते ही कांग्रेस ने एंकर से नेता बनीं इस महिला को सौंपी बड़ी जिम्मेदारीhttps://www.newstimes.co.in/news/81746/भारत/congree-ne-supriya-srinet-ko-di-badi-jimmedari-902166Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTRAJNISH KUMAR<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019163944congreenesup1.JPG' alt='Images/21-09-2019163944congreenesup1.JPG' />महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा चुनावों का ऐलान होते ही कांग्रेस पार्टी ने एंकर से नेता बनीं महिला को बड़ी जिम्मेदारी दे दी है।

विधानसभा चुनावों का ऐलान होते ही कांग्रेस ने एंकर से नेता बनीं इस महिला को सौंपी बड़ी जिम्मेदारी

New Delhi. महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा चुनावों का ऐलान होते ही कांग्रेस पार्टी ने एंकर से नेता बनीं सुप्रिया श्रीनेत को बड़ी जिम्मेदारी दे दी है। यह जानकारी पार्टी के मीडिया प्रभारी रणदीप सुरजेवाला ने दी है। 

Images/21-09-2019163944congreenesup1.JPG

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं मीडिया विभाग के प्रभारी रणदीप सुरजेवाला ने बताया कि पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सुप्रिया श्रीनेत को राष्ट्रीय प्रवक्ता के पद पर नियुक्ति को मंजूरी दी है। 

बता दें कि सुप्रिया श्रीनेता कांग्रेस के पूर्व सांसद हर्षवर्धन की पुत्री हैं। वह बीते लोकसभा चुनाव 2019 में महराजगंज लोकसभा सीट से कांग्रेस से उम्मीदवार थीं, लेकिन बीजेपी के उम्मीदवार पंकज चैधरी ने उन्हें हरा दिया था। हालांकि उनके पिता इसी सीट पर दो बार सांसद रहे हैं। 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
एक्शन में आईं बसपा सुप्रीमो, इस बड़ी नेत्री को दिखाया पार्टी से बाहर का रास्ता https://www.newstimes.co.in/news/81744/भारत/उत्तर-प्रदेश-/bsp-supremo-ne-liya-action-902164Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTGAURAV SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019161631bspsupremone2.JPG' alt='Images/21-09-2019161631bspsupremone2.JPG' />.

एक्शन में आईं बसपा सुप्रीमो, इस बड़ी नेत्री को दिखाया पार्टी से बाहर का रास्ता 

Lucknow. बिजनौर से पूर्व विधायक और आंवला सीट से बसपा के टिकट पर चुनाव लड़ने वाली रुचि वीरा को बहुजन समाज पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है। रुचि वीरा पर यह एक्शन अनुशासनहीनता और पार्टी विरोधियों गतिविधियों में संलिप्त होने के चलते लिया गया है। 

Images/21-09-2019161620bspsupremone1.jpgImages/21-09-2019161631bspsupremone2.JPG
© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
पढ़ाई के दौरान बच्चों के लिए मोबाइल प्रतिबंधित नहीं: हाईकोर्टhttps://www.newstimes.co.in/news/81743/भारत/Mobile-is-not-banned-for-children-during-studies:-High-Court902163Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTNAZO ALI SHEIKH<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019160917Mobileisnot1.jpg' alt='Images/21-09-2019160917Mobileisnot1.jpg' />छात्रों के इंटरनेट इस्तेमाल को लेकर केरल हाईकोर्ट ने निया निर्देश जारी किया है। याचिका की सुनवाई करते हुए कोर्ट ने कहा कि इंटरनेट की उपलब्धता व इसका प्रयोग शिक्षा के अधिकार (RTE) और निजता के अधिकार (Right To Privacy) का भाग है।

पढ़ाई के दौरान बच्चों के लिए मोबाइल प्रतिबंधित नहीं: हाईकोर्ट

New Delhi. छात्रों के इंटरनेट इस्तेमाल को लेकर केरल हाईकोर्ट ने नया निर्देश जारी किया है। याचिका की सुनवाई करते हुए कोर्ट ने कहा कि इंटरनेट की उपलब्धता व इसका प्रयोग शिक्षा के अधिकार (RTE) और निजता के अधिकार (Right To Privacy) का भाग है। कॉलेज या हॉस्टलों में छात्रों के मोबाइल और इंटरनेट प्रयोग को रोका नहीं जा सकता।

Images/21-09-2019160917Mobileisnot1.jpg

बता दें कि यह अहम फैसला जस्टिस पीवी आशा ने याचिका की सुनवाई करते हुए दिया। सुनवाई करते हुए कहा कि भारतीय संविधान के अनुच्छेद 21 के तहत इंटरनेट का प्रयोग का अधिकार निजता और शिक्षा के अधिकार का पार्ट है।

दरअसल, कोझिकोड स्थित श्री नारायण कॉलेज में तीसरे सेमेस्टर की छात्रा फहीमा शिरीन ने पढ़ाई के दौरान मोबाइल व इंटरनेट के प्रयोग को लेकर याचिका डाली थी। याचिका में कोर्ट को अवगत कराया गया कि हॉस्टल में पढ़ाई के दौरान (शाम 6 से रात 10 बजे तक) छात्राएं मोबाइल व इंटरनेट का यूज नहीं कर सकतीं।

कॉलेज ने यह तर्क दिया था कि अभिभावकों के कहने पर यह पाबंदी लगाई गई थी। जिससे मोबाइल फोन का छात्र दुरुपयोग नहीं कर सकें। जबकि छात्रों को लैपटॉप का प्रयोग करने की रोक नहीं लगाई गई। कोर्ट ने कहा कि छात्रों को पढ़ाई करने के लिए मोबाइल और लैपटॉप दोनों को यूज करने की जरूरत है। हर छात्र के पास मोबाइल या लैपटॉप दोनों ही हो यह भी जरूरी नहीं।

इंटरनेट का दुरुपयोग मोबाइल हो या लैपटॉप दोनों से ही किया जा सकता है। छात्रों को मोबाइल फोन का इस्तेमाल करने या न करने के लिए मजबूर नहीं किया जा सकता। छात्रों को खुद यह सुनिश्चित करना होगा कि मोबाइल फोन और इंटरनेट का यूज अपनी अच्छी शिक्षा के लिए करें।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
SJVN में नौकरी का सुनहरा मौका, जल्द करें आवेदनhttps://www.newstimes.co.in/news/81742/भारत/Golden-job-opportunity-in-SJVN-apply-soon902162Sun, 22 Sep 2019 00:00:00 GMTNAZO ALI SHEIKH<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019155903Goldenjobopp1.PNG' alt='Images/21-09-2019155903Goldenjobopp1.PNG' />एसजेवीएन (SJVN) में नौकरी का सुनहरा मौका अभ्यर्थियों के लिए है। यहां कई पदों पर आवेदन आमंत्रित करते हुए विज्ञप्ति जारी की गई है। जो भी अभ्यर्थी आवेदन करने के इच्छुक हों वह आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर फॉर्म भर सकते हैं।

SJVN में नौकरी का सुनहरा मौका, जल्द करें आवेदन

New Delhi. एसजेवीएन (SJVN) में नौकरी का सुनहरा मौका अभ्यर्थियों के लिए है। यहां कई पदों पर आवेदन आमंत्रित करते हुए विज्ञप्ति जारी की गई है। जो भी अभ्यर्थी आवेदन करने के इच्छुक हों वह आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर फॉर्म भर सकते हैं। आवेदन की अंतिम तिथि 10 अक्टूबर निर्धारित है। अधिक जानकारी के लिए अभ्यर्थी विज्ञप्ति का अवलोकन करें।

Images/21-09-2019155903Goldenjobopp1.PNG

बताते चलें कि आवेदन की प्रक्रिया 19 सितंबर निर्धारित है। आवेदन शुल्क जमा करने की अंतिम तिथ 10 अक्टूबर और ऑनलाइन आवेदन की हार्ड कॉपी जमा करने की अंतिम तिथि 21 अक्टूबर निर्धारित है। आयु सीमा अधिकतम 40 से 55 वर्ष पदों के अनुरूप निर्धारित है।

अभ्यर्थी ऑनलाइन आवेदन आवेदन करने के लिए सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं। इसके बाद आधिकारिक नोटिफिकेशन को डाउनलोड करने के बाद ध्यन पूर्वक पढ़ें। दिए गए दिशा निर्देशों का पालन करते हुए आवेदन करें। ताकि किसी भी तरह की त्रुटियां नहीं हो। अभ्यर्थियों का चयन पर्सनल साक्षात्कार के आधार पर किया जाएगा।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
चित्रकूट: मधुमक्खियों ने कालेज पर हमला, 3 छात्राएं हुई बेहोशhttps://www.newstimes.co.in/news/81741/भारत/उत्तर-प्रदेश-/Chitrakoot:-Bees-attacked-college-3-girls-fainted902161Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019154736ChitrakootBe2.JPG' alt='Images/21-09-2019154736ChitrakootBe2.JPG' />चित्रकूट जिले के एक इंटर कालेज में उस समय हड़कंप मच गया जब अचानक वहां मधुमक्खियों ने हमला बोल दिया। इस हमले में तकरीबन 50 छात्राएं घायल हुई जबकि तीन छात्राएं डंक के चलते बेहोश हो गयी। उन्हें उपचार के लिए सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 

चित्रकूट: मधुमक्खियों ने कालेज पर हमला, 3 छात्राएं हुई बेहोश

Kanpur. चित्रकूट जिले के एक इंटर कालेज में उस समय हड़कंप मच गया जब अचानक वहां मधुमक्खियों ने हमला बोल दिया। इस हमले में तकरीबन 50 छात्राएं घायल हुई जबकि तीन छात्राएं डंक के चलते बेहोश हो गयी। उन्हें उपचार के लिए सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 

Images/21-09-2019154722ChitrakootBe1.jpgImages/21-09-2019154736ChitrakootBe2.JPG

यह भी पढ़ें...मिट्टी की सुगंध के बिना कला अधूरी- डॉ उत्तम पचारणे

 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
मंत्रीजी! एक नजर हादसे के इंतजार में खड़े जर्जर आवासों पर भी डालियेhttps://www.newstimes.co.in/news/81745/भारत/उत्तर-प्रदेश-/लखनऊ/-Mr.-Minister-Have-a-look-at-the-dilapidated-houses-standing-in-wait-for-the-accident.902165Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTLEKHRAM MAURYA<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019161632Mr.Minister!1.jpg' alt='Images/21-09-2019161632Mr.Minister!1.jpg' />विकास खण्ड की स्थापना के साथ ही बने कर्मचारियों के जर्जर आवासों को गिराने और उनकी जगह नये आवास बनाने के लिए ग्राम विकास मंत्री क्या कार्रवाई करते हैं।

मंत्रीजी! एक नजर हादसे के इंतजार में खड़े जर्जर आवासों पर भी डालिये

LUCKNOW. विकास खण्ड की स्थापना के साथ ही कर्मचारियों के लिये बने आवास जर्जर हो चुके हैं, लेकिन इन आवासों को गिराने और उनकी जगह नये आवास बनाने के लिए ग्राम विकास मंत्री क्या कार्रवाई करते हैं, यह बात यहां काम करने वाले हर उस कर्मचारी के दिल में है, जो इन जर्जर आवासों में अपना कार्यालय या आवास बनाकर रह रहा है। यहां का चौकीदार रामफल इन्ही जर्जर आवासों में रह रहा है।

Images/21-09-2019161632Mr.Minister!1.jpg

रामफल ने कहा कि बीडीओ साहब हमारे लिए रहने की व्यवस्था नहीं कर रहे हैं, इसलिए यदि जर्जर आवास में रहने के कारण मेरे साथ कोई घटना हो जाती है तो उसके लिए कौन​ जिम्मेदार होगा। यही हाल बाल​ विकास पुष्टाहार कार्यालय बने जर्जर आवास का भी है। इसके अलावा कई गावों के सचिव भी इन्ही जर्जर आवासों में अपना कार्यालय बनाकर काम करते देखे जा सकते हैं।

किसी हादसे के ​इंतजार में माल विकास खण्ड के जर्जर आवास 

दूसरी ओर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कई बार अधिकारियों को तैनाती स्थल पर निवास करने के लिए मुख्य सचिव की ओर से आदेश जारी करवा चुके हैं। ऐसे में जब अधिकारी सुबह शहर से कार्यालय पहुॅचते हैं तो कर्मचारियों की बात कौन करे। 

यही नहीं जब कभी किसी मंत्री या शासन के अधिकारी के निरीक्षण का फरमान जारी होता है तो अधिकारियों में खलभली मच जाती है। क्योंकि यहां तो हमेशा हर काम लेट लतीफी से चलता है। इस विकास खण्ड को अधिकारी सजा के तौर पर मानते हैं इसी का नतीजा है कि अधिकारी हमेशा यहां सही समय पर सही तरीके से काम नहीं करते हैं।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
अब मुलायम सिंह यादव की मर्सिडीज कार वापस लेगी योगी सरकार, ये है अहम वजहhttps://www.newstimes.co.in/news/81740/भारत/उत्तर-प्रदेश-/ab-mulayam-singh-yadav-ki-car-wapas-legi-yogi-sarkar902160Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTRAJNISH KUMAR<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019154150abmulayamsin1.JPG' alt='Images/21-09-2019154150abmulayamsin1.JPG' />समाजवादी पार्टी के संरक्षक एवं पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव की मर्सिडीज कार को योगी सरकार वापस लेगी। इसकी जगह अब उन्हें टोयोटा प्राडो कार दी जा सकती है। बताया जा रहा है कि मर्सिडीज कार की सर्विस कराने के लिए राज्य सम्पत्ति विभाग के पास बजट नहीं हैं। 

अब मुलायम सिंह यादव की मर्सिडीज कार वापस लेगी योगी सरकार, ये है अहम वजह

Lucknow. समाजवादी पार्टी के संरक्षक एवं पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव की मर्सिडीज कार को योगी सरकार वापस लेगी। इसकी जगह अब उन्हें टोयोटा प्राडो कार दी जा सकती है। बताया जा रहा है कि मर्सिडीज कार की सर्विस कराने के लिए राज्य सम्पत्ति विभाग के पास बजट नहीं हैं। 

Images/21-09-2019154150abmulayamsin1.JPG

समाजवादी पार्टी के संरक्षक एवं पूर्व सीएम मुलायम सिंह यादव को योगी सरकार ने बड़ा झटका दिया है। मुलायम सिंह यादव को राज्य सम्पत्ति विभाग की ओर से लग्जरी मर्सिडीज कार मिली हुई है, इस कार में कुछ तकनीकी दिक्कतें हैं, जिसे सर्विस स्टेशन में ठीक कराने में करीब 26 लाख रुपये का खर्चा आएगा। इसलिए अब राज्य सम्पत्ति विभाग की ओर से कहा गया है कि इसके लिए उनके पास बजट नहीं है।

ऐसे में कहा जा रहा है कि अब मुलायम सिंह की मर्सिडीज कार को पास ले लिया जाएगा और उन्हें अब टोयोटा प्राडो मुहैया कराई जाएगी। हालांकि इस समय मुलायम सिंह यादव बीएमडब्लू कार का इस्तेमाल कर रहे हैं। 

बता दें कि इससे पहले योगी सरकार ने मुलायम सिंह यादव के परिवार से लोहिया ट्रस्ट बिल्डिंग छीन ली है। इसके पहले पूर्व मुख्यमंत्रियों और पूर्व मंत्रियों के टैक्स को सरकार ने देने से मना कर दिया है। ऐसे में अब उन्हें खुद से ही टैक्स भरना होगा।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
मिट्टी की सुगंध के बिना कला अधूरी- डॉ उत्तम पचारणेhttps://www.newstimes.co.in/news/81738/भारत/उत्तर-प्रदेश-/लखनऊ/-अमीनाबाद--अलीगंज--आलमबाग--आशियाना--इंटौजा--इंदिरा-नगर--ऐशबाग--कैन्ट--कृष्णा-नगर--कैसरबाग--काकोरी--गुडम्बा--गाजीपुर--गोमती-नगर--गोसाईंगंज--गौतमपल्ली--चिनहट--चौक--जानकीपुरम--ठाकुरगंज--तालकोटरा--नगराम--नाका-हिन्डोला--निगोहां--पारा--पीजीआई--बख्शी-का-तालाब--बाजारखाला--मड़ियांव--मलिहाबाद--महानगर--मानक-नगर--माल--मोहनलालगंज--वज़ीरगंज--विकास-नगर--विभूति-खण्ड--सआदतगंज--सरोजनी-नगर--हजरतगंज--हसनगंज--हुसैनगंज-Art-is-incomplete-without-the-fragrance-of-the-soil--Dr.-Uttam-Pacharane902158Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019151858Artisincompl3.jpg' alt='Images/21-09-2019151858Artisincompl3.jpg' />ललित कला अकादेमी क्षेत्रीय केन्द्र अलीगंज में अष्टलक्ष्मी राष्ट्रीय पूर्वोत्तर चित्रकार शिविर का आयोजन किया जा रहा है। इस शिविर में पूर्वोत्तर के आठ राज्यों के प्रतिभागी अपने कला कौशल का प्रदर्शन करेंगे। शिविर का शुभारम्भ कार्यक्रम के मुख्य अतिथि व संस्कार भारती की संस्थापक पद्श्री बाबा योगेन्द्र ने किया। इस दौरान विशिष्ट अतिथि के रूप में मुकेश कुमार मेश्राम (आईएएस), मंडलायुक्त लखनऊ औऱ वरिष्ठ कलाकार सुमन मजूमदार भी मौजूद थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे डॉ. उत्तम पाचारणे ने मुख्यअतिथि और विशिष्ट अतिथियों का पुष्पगुच्छ देकर स्वागत किया। राज्य ललित कला अकादमी उ.प्र. के अध्यक्ष आर.एस.पुंडीर भी इस अवसर पर उपस्थित रहे।

मिट्टी की सुगंध के बिना कला अधूरी- डॉ उत्तम पचारणे

- 25 सितंबर तक चलेगा अष्टलक्ष्मी राष्ट्रीय पूर्वोत्तर चित्रकार शिविर 
- ललित कला अकादेमी के क्षेत्रीय केंद्र में हो रहा आयोजन 

Lucknow. ललित कला अकादेमी क्षेत्रीय केन्द्र अलीगंज में अष्टलक्ष्मी राष्ट्रीय पूर्वोत्तर चित्रकार शिविर का आयोजन किया जा रहा है। इस शिविर में पूर्वोत्तर के आठ राज्यों के प्रतिभागी अपने कला कौशल का प्रदर्शन करेंगे। शिविर का शुभारम्भ कार्यक्रम के मुख्य अतिथि व संस्कार भारती की संस्थापक पद्श्री बाबा योगेन्द्र ने किया। इस दौरान विशिष्ट अतिथि के रूप में मुकेश कुमार मेश्राम (आईएएस), मंडलायुक्त लखनऊ औऱ वरिष्ठ कलाकार सुमन मजूमदार भी मौजूद थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे डॉ. उत्तम पाचारणे ने मुख्यअतिथि और विशिष्ट अतिथियों का पुष्पगुच्छ देकर स्वागत किया। राज्य ललित कला अकादमी उ.प्र. के अध्यक्ष आर.एस.पुंडीर भी इस अवसर पर उपस्थित रहे।

Images/21-09-2019151827Artisincompl2.jpgImages/21-09-2019151801Artisincompl1.jpgImages/21-09-2019151858Artisincompl3.jpg

यह भी पढ़ें...बच्चों में छिपी प्रतिभाओं को पहचानने की जरूरत: बाबा योगेन्द्र

 

    
    
    

 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
आलस ही खिलाड़ियों का सबसे बड़ा दुश्मन: मुकेश कुमार सिंहhttps://www.newstimes.co.in/news/81737/भारत/उत्तर-प्रदेश-/Laziness-is-the-biggest-enemy-of-players902157Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTRAJNISH KUMAR<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019142250Lazinessisth3.jpg' alt='Images/21-09-2019142250Lazinessisth3.jpg' />विद्या भारती की ओर से आयोजित पूर्वी उत्तर प्रदेश क्षेत्र के 49 जिलों की क्षेत्रीय वॉलीबाल प्रतियोगिता का आयोजन 20 व 21 सितम्बर 2019 को सरस्वती विद्या मंदिर वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सेक्टर-क्यू अलीगंज, लखनऊ में किया गया।

आलस ही खिलाड़ियों का सबसे बड़ा दुश्मन: मुकेश कुमार सिंह

Lucknow. विद्या भारती की ओर से आयोजित पूर्वी उत्तर प्रदेश क्षेत्र के 49 जिलों की क्षेत्रीय वॉलीबाल प्रतियोगिता का आयोजन 20 व 21 सितम्बर 2019 को सरस्वती विद्या मंदिर वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सेक्टर-क्यू अलीगंज, लखनऊ में किया गया। कार्यक्रम में विभिन्न जिलों से आए प्रतिभागियों ने प्रतिभाग किया है। कार्यक्रम का शुभारम्भ दीप प्रज्वलन से हुआ। 

Images/21-09-2019142241Lazinessisth1.jpg

कार्यक्रम में पूर्वी उत्तर प्रदेश के क्षेत्रीय संगठन मंत्री हेमचन्द्र ने कहा कि 2006 में विद्या भारती को एस.जी.एफ.आई. की अस्थायी मान्यता मिली थी और हमारे छात्र-छात्राओं के अनुशासन, व्यवहार तथा उनकी खेल भावना को देखते हुए हमें अगले ही वर्ष स्थायी मान्यता मिल गयी। हम अपने राष्ट्रीय खेलों में 72 खेलों में प्रतिभाग करते हैं। उन्होंने कहा कि 2012 में हमें एस.जी.एफ.आई. के द्वारा फेयर प्ले अवार्ड दिया गया। 

क्षेत्रीय संगठन मंत्री हेमचन्द्र ने कहा कि छात्रों के सर्वांगीण विकास में सबसे पहला विकास शारीरिक विकास ही है, स्वस्थ शरीर में स्वस्थ मन निवास करता है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इंडिया फिट के अवाह्न को हम आगे बढ़ा रहे हैं। उन्होंने छात्रों की ओर इंगित करते हुए कहा कि जीती हुयी टीम को कभी अभिमान नहीं करना चाहिए और हारी हुयी टीम को हतोत्साहित नहीं होना चाहिए, अनुशासन और खेल की भावना से ही खेलना चाहिए। 

Images/21-09-2019142246Lazinessisth2.jpg

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मुकेश कुमार सिंह (जिला विद्यालय निरीक्षक, लखनऊ) ने कहा कि हमें इंडिया को फिट बनाने का संकल्प लेना होगा। उन्होंने कहा कि सबसे ज्यादा अनुशासित अगर कोई है तो वह खिलाड़ी। खिलाड़ी सुस्त नहीं होता, खिलाड़ी कमजोर नहीं होता और खिलाड़ियों का जोश हमेशा बना रहता है। खिलाड़ी का आलस्य उसका सबसे बड़ा शत्रु है।

इससे पहले कार्यक्रम के संयोजक/विद्यालय के प्रधानाचार्य हरेराम पाण्डेय ने आए हुए अतिथियों का स्वागत पुष्पगुच्छ और श्रीफल देकर किया। इसके साथ ही उनका परिचय कराया। कार्यक्रम के अंत में विद्यालय के प्रबन्धक हरेन्द्र श्रीवास्तव ने आए हुए अतिथियों, खिलाड़ियों, व्यवस्था में लगे आचार्य एवं कर्मचारियों को धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम का संचालन प्रांतीय खेलकूद अधिकारी सोमदेव शर्मा ने किया। 

Images/21-09-2019142250Lazinessisth3.jpg

इस अवसर पर पूर्वी उत्तर प्रदेश के क्षेत्रीय मंत्री जय प्रताप सिंह, क्षेत्रीय खेल अधिकारी जगदीश सिंह, क्षेत्रीय बालिका शिक्षा प्रमुख उमाशंकर, विद्यालय प्रबंध समिति के अध्यक्ष आई.पी. शर्मा, प्रबन्धक हरेन्द्र श्रीवास्तव, सह प्रबंधिका रेनू सिंह, कोषाध्यक्ष दीपक असरानी, शिशु शिक्षा के मंत्री बाबूलाल शर्मा, लखनऊ के समस्त शिशु मंदिरों व विद्या मंदिरों के प्रधानाचार्य, विद्यालय के समस्त आचार्य/आचार्या, मीडिया प्रमुख सुशील त्रिपाठी आदि सभी लोग उपस्थित रहे। 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
महाराष्ट्र: एनसीपी सुप्रीमों का बड़ा बयान, कहा- पुलवामा जैसी घटना से ही बदल सकती है जनता का मूड https://www.newstimes.co.in/news/81736/भारत/महाराष्ट्र/Maharashtra:-Big-statement-of-NCP-supremo-said--only-Pulwama-like-incident-can-change-mood-of-public902156Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019141829MaharashtraB1.jpg' alt='Images/21-09-2019141829MaharashtraB1.jpg' />चुनाव की तारीखें घोषित होते ही महाराष्ट्र में सियासी दलों बयानबाजी शुरू हो गयी है। इसी बीच राज्य के पूर्व सीएम और एनसीपी प्रमुख शरद पवार का बड़ा बयान सामने आया है। उन्होंने कहा महाराष्ट्र की जनता देवेंद्र फडणवीस की अगुवाई वाली सरकार से नाखुश है। जनता का मूड बदलने  के लिए उन्हें पुलवामा जैसी घटना की जरूरत है। 

महाराष्ट्र: एनसीपी सुप्रीमों का बड़ा बयान, कहा- पुलवामा जैसी घटना से ही बदल सकती है जनता का मूड 

Mumbai. चुनाव की तारीखें घोषित होते ही महाराष्ट्र में सियासी दलों बयानबाजी शुरू हो गयी है। इसी बीच राज्य के पूर्व सीएम और एनसीपी प्रमुख शरद पवार का बड़ा बयान सामने आया है। उन्होंने कहा महाराष्ट्र की जनता देवेंद्र फडणवीस की अगुवाई वाली सरकार से नाखुश है। जनता का मूड बदलने  के लिए उन्हें पुलवामा जैसी घटना की जरूरत है। 

Images/21-09-2019141829MaharashtraB1.jpg

एनसीपी प्रमुख ने कहा कि हम ज्यादा से ज्यादा धर्मनिरपेक्ष ताकतों को एक जुट करने में लगे हैं। कांग्रेस हाथ मिलाने के बाद सपा व बहुजन विकास अगाड़ी समेत कई छोटे छोटे दलों को साथ लाने की कोशिश कर रहे हैं। एनसीपी सुप्रीमो ने यह भी कहा कि हमारा प्रयास है कि राज ठाकरे की महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना भी हमारे साथ आ जाए। 

यह भी पढ़ें...अखिलेश का काम बता कर सपाईयों बस अड्डे का फीता काट कर किया उद्घाटन

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
मंत्री के आने की खबर से अधिकारियों की उड़ी नींदhttps://www.newstimes.co.in/news/81739/भारत/उत्तर-प्रदेश-/लखनऊ/-माल-Officers-sleepless-due-to-news-of-ministers-arrival902159Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTLEKHRAM MAURYA<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019154103Officerssleep1.jpg' alt='Images/21-09-2019154103Officerssleep1.jpg' />विकास खण्ड माल में ग्राम विकास मंत्री के आने की खबर पहुॅचते ही कर्मचारियों और अधिकारियों की नींद उड़ गयी।

मंत्री के आने की खबर से अधिकारियों की उड़ी नींद

LUCKNOW. विकास खण्ड माल में ग्राम विकास मंत्री के आने की खबर पहुंचते ही कर्मचारियों और अधिकारियों की नींद उड़ गयी, क्योंकि कोई भी कर्मचारी समय से काम नहीं करना चाहता, इसलिए मंत्री या प्रमुख सचिव का नाम सुनते ही अधिकारियों में हड़कम्प मच जाता है। जनवरी में प्रमुख सचिव के आने की खबर मिलते ही अधिकारियों ने कार्यालयों और चिन्हित गावों की सफाई करानी शुरू कर दी थी, जिसमें करीब 20 दिन लगे थे। उसके बाद अधिकारी तथा कर्मचारी अनेकों आदेशों के बाद भी मनमाने तरीके से काम करते रहते हैं।

Images/21-09-2019154103Officerssleep1.jpg

प्रमुख सचिव के आने के समय कस्बे में पंचायत भवन क सामने सड़क पर पानी भरने को लेकर कई बार प्रयास किया, लेकिन सफलता न मिलने पर एक पुलिया का निर्माण कराया गया था। इसके अलावा नाले की सफाई भी जेसीबी से कराई गयी थी। अधिकारी के बदलते ही कर्मचारी अपने पुराने रास्ते पर चलने लगे। उस समय कस्बे में दो दर्जन से अधिक कर्मचारियों को लगाकर सफाई कराई गई थी। इसके अलावा मड़वाना में भी अभियान चलाया गया था।

इस बार ग्राम विकास मंत्री माल और आई स्मार्ट गांव लतीफपुर का निरीक्षण करेंगे। माल को बसपा सुप्रीमो मायावती ने सांसद आदर्श ग्राम योजनान्तर्गत गोद लिया था। वहीं लतीफपुर के लिए अलग से बजट जारी किया गया था, जिससे गांव में काफी काम कराने के बावजूद वहां तीन दर्जन सफाई कर्मियों से गांव को साफ कराने का काम चल रहा है। अब देखना है कि मंत्री जी क्या देखते हैं।

माल के सभी गावों में बरसात के कारण गलियों में नालियां पट गयी हैं, जिससे कई जगह सड़कों पर गंदा पानी बह रहा है। खण्ड विकास अधिकारी  ने कार्यालय के कर्मचारियों को सभी अभिलेख सही करके पूरे करने का आदेश दिया। जिसमें आवास, शौचालय, मनरेगा, राशनकार्ड आदि की जानकारी प्रमुख थी।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
अखिलेश का काम बता कर सपाईयों ने बस अड्डे का फीता काट कर किया उद्घाटनhttps://www.newstimes.co.in/news/81735/भारत/उत्तर-प्रदेश-/चित्रकूट/--पहाड़ी----कार्वी---बरगढ़----बहिलपुरवा--मऊ---मानिकपुर--मारकुण्डी----रैपुरा--राजपुर-SP-workers-Inaugurated-by-cutting-lace-of-bus-stand-telling-Akhileshs-work902155Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019132810SPworkersIna1.JPG' alt='Images/21-09-2019132810SPworkersIna1.JPG' />चित्रकूट में सपाईयों ने एक बार फिर दम दिखाते हुए लगभग बन कर तैयार हो चुके बस अड्डे का फीता काट कर लोकार्पण कर दिया। इससे पहले दो माह पूर्व रोप वे का भी शुभारम्भ सपाई कर चुके हैं। सपाईयों का कहना है कि ये काम अखिलेश सरकार के हैं जिनका लोकार्पण कर भाजपा श्रेय लूट रही है। उनका कहना है सच्चाई सभी को पता है।

अखिलेश का काम बता कर सपाईयों ने बस अड्डे का फीता काट कर किया उद्घाटन

Kanpur. चित्रकूट में सपाईयों ने एक बार फिर दम दिखाते हुए लगभग बन कर तैयार हो चुके बस अड्डे का फीता काट कर लोकार्पण कर दिया। इससे पहले दो माह पूर्व रोप वे का भी शुभारम्भ सपाई कर चुके हैं। सपाईयों का कहना है कि ये काम अखिलेश सरकार के हैं जिनका लोकार्पण कर भाजपा श्रेय लूट रही है। उनका कहना है सच्चाई सभी को पता है।   

Images/21-09-2019132852SPworkersIna2.jpgImages/21-09-2019132810SPworkersIna1.JPG

भाजपा की सरकार अखिलेश यादव के कराए गए कार्यों का फीता काट कर वाहवाही लूट रही है। सही मायनों में इसके हकदार सपाई है और जनता भी यह बात बखूबी जानती है। 
बस अड्डे के लोकार्पण की जानकारी मिलते ही पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुुंचे तब तक सपाई जा चुके थे। 
बता दें कि दो माह पहले कामदगिरी परिक्रमा पथ बनाए गए रोप वे का भी सपाईयों ने शुभारंभ कर दिया दिया था।

जिसके बाद जबरदस्त हंगामा खड़ा हुआ था। बाद में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यहां पहुंच कर इसका लोकार्पण किया था। 
बस अड्डे के लोकार्पण के दौरान निवर्तमान सपा जिलाध्यक्ष अनुज सिंह यादव व प्रयागराज के सपा नेता संदीप यादव, लाब ख़ान, भरत दिवाकर, नरेंद्र यादव, अरशद ख़ान, सुभाष पटेल, राजीव लोचन त्रिपाठी समेत तमाम सपा कार्यकर्ता मौजूद रहे। 

यह भी पढ़ें...BSP के कॉर्डिनेटर रह चुके इस दिग्गज ने थामा अखिलेश का दामन, बसपा के लिए है बड़ा झटका

 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
पाकिस्तान के मुंह पर पड़ा तमाचा : ह्यूमन राइट ऐक्टिविस्ट गुलालाई इस्माइल ने मांगी अमेरिका में शरण https://www.newstimes.co.in/news/81733/भारत/उत्तर-प्रदेश-/लखनऊ/Pakistan-Human-Rights-activist-Gulalai-Ismail-reaches-America902153Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTSUKIRTI MISHRA<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019131908PakistanHuman2.jpg' alt='Images/21-09-2019131908PakistanHuman2.jpg' />पाकिस्तान वैश्विक स्तर पर भारत के खिलाफ कश्मीर मुद्दे पर चाहे जितना हो हल्ला मचा ले लेकिन हाल ही में कुछ ऐसा हुआ है जिसने पाकिस्तान को बैक फुट पर ला कर खड़ा कर दिया है

पाकिस्तान के मुंह पर पड़ा तमाचा : ह्यूमन राइट ऐक्टिविस्ट गुलालाई इस्माइल ने मांगी अमेरिका में शरण

Lucknow. पाकिस्तान वैश्विक स्तर पर भारत के खिलाफ कश्मीर मुद्दे पर चाहे जितना हो हल्ला मचा ले, लेकिन हाल ही में कुछ ऐसा हुआ है जिसने पाकिस्तान को बैक फुट पर लाकर खड़ा कर दिया है। ह्यूमन राइट ऐक्टिविस्ट गुलालाई इस्माइल ने अमेरिका जाकर शरण मांगी है, जिसके बाद अंतर्रराष्ट्रीय स्तर पर पाकिस्तान आलोचनाओं से घिर गया है।

Images/21-09-2019131825PakistanHuman1.PNG

अब तक पाकिस्तान भारतीय सेना पर कश्मीर पर बर्बरता करने और कश्मीरियों के मानवाधिकारों का हनन करने का आरोप मढ़ता आया है। गुलालाई इस्माइल के अमेरिका जाकर शरण मांगने के बाद पाकिस्तान का जवाब देना मुश्किल हो चुका है। बता दें कि गुलालाई इस्‍माइल कई महीनों तक पाकिस्तान में छिपी थीं, लेकिन मौत के डर से वह किसी तरह बचकर अमेरिका पहुंची हैं और राजनीतिक शरण की मांग की है।

Images/21-09-2019131908PakistanHuman2.jpg

जानकारी के मुताबिक, 32 वर्षीया गुलालाई अगस्त में अमेरिका पहुंच गई थीं। लेकिन इस सप्ताह ही सामने आईं हैं और ऐसे समय पर आई हैं जब पाकिस्तान बार बार भारत पर कश्मीरियों के मानवाधिकारों के उल्लंघन का राग अलाप रहा है। वहीं भारत का कहना है कि कश्मीर में स्थितियां सामान्य हो रही हैं लेकिन पाकिस्तान घाटी में आतंकियों की घुसपैठ कराकर अशांति फैलाने की फिराक में है। 

वैश्विक समुदाय भी भारत की इस बात को स्वीकार कर चुका है कि पाकिस्तान कश्मीर में आतंकवाद फैला रहा है। अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने भारत की इस बात का समर्थन करते हुए कहा कि 'पाकिस्तान के आतंकवादी जो कश्मीर में हिंसा फैला रहे हैं, वे कश्मीरियों और पाकिस्तान के दुश्मन हैं।' 

कश्मीर मुद्दे पर हड़कंप मचा रहा पाकिस्तान अपने ही देश के मानवाधिकार कार्यकर्ता को लेकर विश्व समुदाय के निशाने पर आ गया है। वरिष्ठ अमेरिकी पत्रकार डेकल्न वॉल्श ने गुलालाई इस्माइल को लेकर ट्वीट किया, 'पाकिस्तानी मानवाधिकार कार्यकर्ता देश से बाहर भाग रहे हैं। आईएसआई के डर से वे ऐसा कर रहे हैं। यह ऐसा ही है, जैसे उत्तर कोरिया के मानवाधिकार कार्यकर्ताओं को देश छोड़ना पड़ता है।'

यह भी पढ़ें - कश्मीर से धारा 370 हटने से इमरान सरकार को हुआ ये बड़ा फायदा, पढ़ें पूरी रिपोर्ट

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
मंत्री के डर से 100 सफाई कर्मी करेंगे दो गावों की सफाईhttps://www.newstimes.co.in/news/81734/भारत/उत्तर-प्रदेश-/लखनऊ/100-sweepers-will-clean-two-villages-for-fear-of-minister902154Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTLEKHRAM MAURYA<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019132628100sweepersw1.jpg' alt='Images/21-09-2019132628100sweepersw1.jpg' />आगामी सोमवार को विकास खण्ड माल के दो गावों का निरीक्षण करने के लिए ग्राम विकास मंत्री यहां आ रहे हैं। पिछले कई दिनों से चल रही तैयारियों के बाद आज सुबह से ही अधिकारियों ने बैठकें लेनी शुरू कर दी।

मंत्री के डर से 100 सफाई कर्मी करेंगे दो गावों की सफाई

LUCKNOW. आगामी सोमवार को विकास खण्ड माल के दो गावों का निरीक्षण करने के लिए ग्राम विकास मंत्री यहां आ रहे हैं। पिछले कई दिनों से चल रही तैयारियों के बाद आज सुबह से ही अधिकारियों ने बैठकें लेनी शुरू कर दी। इसी क्रम में विकास खण्ड के सभागार में माल और मलिहाबाद के सफाई कर्मियों को बुलाकर उनको दो टीमों के साथ माल और लतीफपुर की सफाई के लिए दिशा निर्देश दिए गए।

Images/21-09-2019132628100sweepersw1.jpg

एडीओ पंचायत डी.पी. सिंह ने बताया कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत पालीथीन मुक्त अभियान चलाया जाएगा। इन सभी कर्मचारियों से गांव की गलियों में सफाई करने के साथ ही ग्रामीणों को पालीथीन का प्रयोग न करने के लिए जागरूक किया जाएगा। इसके अलावा विकास खण्ड कार्यालय की भी सफाई की जाएगी।

खण्ड विकास अधिकारी भानु प्रताप सिंह ने कहा कि सभी कर्मचारियों से कहा गया है कि वह अपने-अपने कार्यालयों की सफाई रखने पर विशेष ध्यान दें। इसके अलावा गांव वालो को अपने घरों एवं खान पान में सफाई रखने के लिए ग्राम वासियों को प्रेरित करें। 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
प्रदेश के आंगनबाड़ी केन्द्रों पर बच्चों का कराया अन्नप्राशन संस्कारhttps://www.newstimes.co.in/news/81732/भारत/उत्तर-प्रदेश-/लखनऊ/Childrens-ceremonies-were-performed-at-Anganwadi-centers-of-the-state902152Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTLEKHRAM MAURYA<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019124619Childrenscer1.jpg' alt='Images/21-09-2019124619Childrenscer1.jpg' />राष्ट्रीय पोषण माह सितम्बर 2019 केअन्तर्गत शनिवार को प्रदेश के समस्त आंगनबाडी केन्द्रो पर 06 माह से 08 माह तक के बच्चों को अन्नप्राशन संस्कार कराये जाने एंव बच्चों की माताओं को आंगनबाडी केन्द्र पर बुलाते हुए बच्चों को सामूहिक भोज कार्यक्रम किया गया।

प्रदेश के आंगनबाड़ी केन्द्रों पर बच्चों का कराया अन्नप्राशन संस्कार

LUCKNOW. राष्ट्रीय पोषण माह सितम्बर 2019 केअन्तर्गत शनिवार को प्रदेश के समस्त आंगनबाडी केन्द्रों पर 06 माह से 08 माह तक के बच्चों को अन्नप्राशन संस्कार कराये जाने एंव बच्चों की माताओं को आंगनबाडी केन्द्र पर बुलाते हुए बच्चों को सामूहिक भोज कार्यक्रम किया गया। आंगनबाडी केन्द्रों पर उपस्थित अभिभावकों एंव माताओं के साथ 06 माह से 08 माह तक की आयु के बच्चों को ऊपरी आहार शुरूआत किये जाने पर विशेष रूप से चर्चा की गयी।

Images/21-09-2019124619Childrenscer1.jpg

निदेशक बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार शत्रुघ्न सिंह ने यह जानकारी देते हुए बताया कि राष्ट्रीय पोषण माह के अन्तर्गत आज प्रदेश में संचालित सभी आंगनबाडी केन्द्रों पर सर्वप्रथम 06 माह से 08 माह तक की आयु के बच्चों को अन्नप्राशन संस्कार कराया गया एवं अन्नप्राशन संस्कार के उपरान्त बाल सुपोषण उत्सव के अन्तर्गत आंगनबाडी केन्द्रों पर पंजीकृत 06 माह से 06 वर्ष तक की आयु के बच्चों को समूह में बैठाकर सामूहिक भोज कराया गया। 

उन्होंने बताया कि आंगनबाडी केन्द्रों पर 06 माह से 06 वर्ष तक की आयु के बच्चों को सामूहिक भोज कराये जाने हेतु बच्चों की माताओं द्वारा घर से भोजन तैयार कर आंगनबाडी केन्द्र पर लाया गया था, तथा बच्चों को सामूहिक रूप से खिलाया गया सक्रियता के साथ ऊपरी आहार दिये जाने एंव खिलाये जाने की तकनीक, स्वादानुसार व्यंजन तैयार किये जाने तथा बीमारी के दौरान भी ऊपरी आहार जारी रखने आदि के बारे में व्यापक रूप से जागरूक किया गया।

श्री सिंह ने बताया कि आंगनबाडी केन्द्रों पर अन्नप्राशन संस्कार एवंं बाल सुपोषण उत्सव के आयोजन का मुख्य उददेश्य महिलाओं को ऊपरी आहार की सही समय पर शुरूआत किये जाने, महिलाओं में समूह की भावना जागृत करना एवं कुपोषण के प्रति जागरूक करना था ताकि महिलाएं अपने बच्चो का कुपोषण से बचाव कर सके। उन्होंने कहा कि कुपोषण की दर को कम करने हेतु जनसामान्य में कुपोषण के प्रति जागरूकता होना भी अनिवार्य है। 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
किसानों का दिल्ली मार्च: यूपी गेट के पास डटे किसान, बड़ी तादात में पुलिस और सीआरपीएफ तैनातhttps://www.newstimes.co.in/news/81731/भारत/उत्तर-प्रदेश-/Farmers-Delhi-March:-Farmers-gathered-near-UP-Gate-police-and-CRPF-deployed-in-large-numbers902151Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019122545FarmersDelhi3.jpg' alt='Images/21-09-2019122545FarmersDelhi3.jpg' />अपनी विभिन्न मांगों को लेकर किसानों का दिल्ली मार्च नोएडा के सेक्टर 69 से निकल कर दिल्ली के किसान गेट की ओर कूच की। एक घंटे की पैदल यात्रा के बाद यूपी गेट तक पहुंचे किसान वहीं पर डट गए। किसानों की भारी भीड़ और उन्हें रोकने के लिए बड़ी संख्या में पुलिस और सीआरपीएफ के जवानों के चलते जाम लग गया है। 

किसानों का दिल्ली मार्च: यूपी गेट के पास डटे किसान, बड़ी तादात में पुलिस और सीआरपीएफ तैनात

New Delhi. अपनी विभिन्न मांगों को लेकर किसानों का दिल्ली मार्च नोएडा के सेक्टर 69 से निकल कर दिल्ली के किसान गेट की ओर कूच की। एक घंटे की पैदल यात्रा के बाद यूपी गेट तक पहुंचे किसान वहीं पर डट गए। किसानों की भारी भीड़ और उन्हें रोकने के लिए बड़ी संख्या में पुलिस और सीआरपीएफ के जवानों के चलते जाम लग गया है। 

Images/21-09-2019122502FarmersDelhi1.jpgImages/21-09-2019122525FarmersDelhi2.jpg

 

Images/21-09-2019122545FarmersDelhi3.jpg

1. भारत में स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू किया जाए।
2. किसानों और मजदूरों को मुफ्त शिक्षा और स्वास्थ्य सुविधाएं दी जाए। 
3. सिंचाई के लिए किसानों को बिजली मुफ्त मिले
4. 60 साल की उम्र के बाद किसानों को 5 हजार रुपए प्रति माह पेंशन मिले। 
5. किसान प्रतिनिधियों की मौजूदगी में फसलों के दाम तय हो।
6. खेती करने के दौरान किसान की मौत होने पर उन्हें शहीद का दर्जा मिले।
7. दुर्घटना बीमा से किसान के परिवार भी लाभांवित हों। 
8. पश्चिमी उत्तर प्रदेश में हाईकोर्ट और एम्स की स्थापना हो।
9. प्रत्यक गोपालक को आवारा गोवंश पालने की दशा में 300 रुपए प्रतिदिन दिया जाए।
10. गन्ना किसानों का बकाया ब्याज समेत जल्द चुकाया जाए
11. नदियों को प्रदूषण मुक्त कराया जाए। 
12. देश भर के सभी किसानों के कर्जे पूरी तरह माफ किए जाए।

यह भी पढ़ें...महाराष्ट्र-हरियाणा के चुनाव की तारीखों की घोषणा आज, 12 बजे होगी आयोग की प्रेस कांफ्रेंस

 

 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
मायावती ने चुनाव की डेट आते ही चली बड़ी चाल, विरोधियों की उड़ी नींदhttps://www.newstimes.co.in/news/81730/भारत/Mayawati-made-a-big-move-as-soon-as-the-election-date-came-opponents-lost-her-sleep902150Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTNAZO ALI SHEIKH<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019122141Mayawatimade1.jpg' alt='Images/21-09-2019122141Mayawatimade1.jpg' />विधासभा चुनाव का बिगुल बज चुका है आज चुनाव आयोग तारीख का ऐलान भी करने वाला है। ऐसे में बसपा के राष्ट्रीय महासचिव और राज्यसभा सांसद सतीशचंद्र मिश्रा ने बसपा को लेकर एक बड़ा ऐलान कर दिया है। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव को लेकर पार्टी पूरी तरह से तैयार है। प्रदेश में पार्टी को किसी भी पार्टी से गठबंधन करने की आवश्यकता नहीं है।

मायावती ने चुनाव की डेट आते ही चली बड़ी चाल, विरोधियों की उड़ी नींद

Lucknow. विधासभा चुनाव का बिगुल बज चुका है, आज चुनाव आयोग ने 21 अक्टूबर से चुनाव होने का ऐलान भी कर दिया है। ऐसे में बसपा के राष्ट्रीय महासचिव और राज्यसभा सांसद सतीशचंद्र मिश्रा ने बसपा को लेकर एक बड़ा ऐलान कर दिया है। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव को लेकर पार्टी पूरी तरह से तैयार है।

Images/21-09-2019122141Mayawatimade1.jpg

बसपा के राष्ट्रीय महासचिव और राज्यसभा सांसद सतीशचंद्र मिश्रा प्रदेश में पार्टी को किसी भी पार्टी से गठबंधन करने की आवश्यकता नहीं है। सभी सीटों पर बसपा अकेले अपने दम पर चुनाव लड़ेगी। चुनाव आयोग द्वारा चुनाव कार्यक्रम जारी करने के तुरंत बाद प्रत्याशियों के नामों का ऐलान भी कर दिया जाएगा। मिश्रा ने शुक्रवार को बजाज पैलेस में एक कर्यक्रम के दौरान यह बात कही। 

इसी के साथ उन्होंने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था का कोई नामो निशान नहीं है। आए दिन हत्या, लूटपाट की घटनाएं हो रही है। प्रदेश की महिलाएं भी सुरक्षित नहीं है। वहीं कांग्रेस का अस्तित्व ही समाप्त हो चुका है। भाजपा सरकार की नीतियों से प्रत्येक वर्ग दुखी है। 

भाजपा लोगों से झूठे वायदे करके बहकाने का कार्य कर रही है। पिछले चुनाव में जनता से जो वायदे किए, सत्ता में आने के बाद वायदे पूरे नहीं किए। इस मौके पर हरियाणा के प्रभारी सुरेश कश्यप, नरेश सारण, एडवोकेट गुरमुख, सुनील जांगड़ा, सरिता ग्रोवर, धर्मबीर प्रजापत, धर्मबीर वाल्मीकि, महीपाल, महावीर भौरिया, जिलाध्यक्ष सत्यवीर रंगा आदि उपस्थित थे।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
BiGG BOSS 13: शो के लिए इन दो कंटेस्टेंट्स का नाम हुआ फाइनल, वीडियो में देखें कौन हैं...https://www.newstimes.co.in/news/81728/भारत/BiGG-BOSS-13:-These-two-contestants-were-named-finalists-for-the-show-see-who-are-in-the-video-902148Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTNAZO ALI SHEIKH<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019115622BiGGBOSS131.jpg' alt='Images/21-09-2019115622BiGGBOSS131.jpg' />टीवी का बहुचर्चित रियलिटी शो बिग बॉस 13 की शुरुआत जल्द ही शुरु होने वाला है। शो में इस साल केवल सेलेब्स ही नजर आने वाले हैं,  इस ऐलान के बाद से कई सेलेब्स के शो में आने के कयास लगाए जा रहे हैं। अब कलर्स टीवी वालों ने फैंस का इंतजार खत्म करते हुए कंटेस्टेंट्स का प्रोमो वीडियो रिलीज करना शुरु कर दिया है। 

BiGG BOSS 13: शो के लिए इन दो कंटेस्टेंट्स का नाम हुआ फाइनल, वीडियो में देखें कौन हैं...

Mumbai. टीवी का बहुचर्चित रियलिटी शो बिग बॉस 13 की शुरुआत जल्द ही शुरु होने वाला है। शो में इस साल केवल सेलेब्स ही नजर आने वाले हैं,  इस ऐलान के बाद से कई सेलेब्स के शो में आने के कयास लगाए जा रहे हैं। अब कलर्स टीवी वालों ने फैंस का इंतजार खत्म करते हुए कंटेस्टेंट्स का प्रोमो वीडियो रिलीज करना शुरु कर दिया है। 

Images/21-09-2019115622BiGGBOSS131.jpg

हाल ही में कलर्स टीवी द्वारा एक प्रोमो वीडियो शेयर की गई है जिसमें बिग बस शो के पहले दो कंटेस्टेंट की धुंधली सी सक्ल नजर आ रही है। इस वीडियो के साथ लिखा है, ये है सबकी फेवरेट बहूरानी पर बिग बॉस के घर पर इनकी अदा लगा देगी आग, कौन है ये'।

आपको बताते चलें की बालिका वधू सीरियल से फेम हासिल करने वाले सिद्धार्थ शुक्ला वरुण धवन की फिल्म हंप्टी शर्मा की दुल्हनिया में भी अहम भूमिका निभा चुके हैं।शो का ग्रैंड मियर 29 सितम्बर को रखा गया है। इस सीज़न को पहले से ज्यादा मसालेदार बनाने के लिए केवल सेलेब्स का तड़का ही लगाया जाएगा। देखना होगा की आगे किन सेलेब्स के नामों का खुलासा होता है।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
तो क्या झूठी है एमपी पुलिस की डाकू बबुली से मुठभेड़ की कहानी!https://www.newstimes.co.in/news/81727/भारत/उत्तर-प्रदेश-/So-what-the-story-of-MP-police-encounter-with-robber-babuli-is-fake902147Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019115036Sowhat,thes4.JPG' alt='Images/21-09-2019115036Sowhat,thes4.JPG' />चित्रकूट पुलिस के हत्थे चढ़े इनामी डकैत सोहन कोल ने चौंकाने वाला खुलासा किया है। उसके रहस्योद्घाटन ने एमपी पुलिस की बोलती बंद हो गयी है। डकैत सोहन का कहना है कि उसने और उसके साथियों ने सरगना बबुली और लवकेश कोल को मारा था। मालूम हो कि मध्य प्रदेश पुलिस ने इस दस्यु सरगना और उसके साथी को मुठभेड़ में मार गिराने का दावा किया था। खास बात यह है कि एमपी में इस मुठभेड़ की मजिस्ट्रियल और सीआईडी जांच भी शुरू हो गयी है।

तो क्या झूठी है एमपी पुलिस की डाकू बबुली से मुठभेड़ की कहानी!

Kanpur. चित्रकूट पुलिस के हत्थे चढ़े इनामी डकैत सोहन कोल ने चौंकाने वाला खुलासा किया है। उसके रहस्योद्घाटन ने एमपी पुलिस की बोलती बंद हो गयी है। डकैत सोहन का कहना है कि उसने और उसके साथियों ने सरगना बबुली और लवकेश कोल को मारा था। मालूम हो कि मध्य प्रदेश पुलिस ने इस दस्यु सरगना और उसके साथी को मुठभेड़ में मार गिराने का दावा किया था। खास बात यह है कि एमपी में इस मुठभेड़ की मजिस्ट्रियल और सीआईडी जांच भी शुरू हो गयी है। 

Images/21-09-2019114937Sowhat,thes1.jpgImages/21-09-2019114957Sowhat,thes2.JPGImages/21-09-2019115015Sowhat,thes3.jpgImages/21-09-2019115036Sowhat,thes4.JPG


यह भी पढ़ें...अब आजम खान की स्वर्गवासी मां पर दर्ज हुआ मुकदमा

 

 

 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
Ind Vs Bangladesh अंडर 23 : 5 मैचों की सीरीज में 1-0 से बढ़त पर टीम इंडियाhttps://www.newstimes.co.in/news/81726/भारत/उत्तर-प्रदेश-/लखनऊ/Ind-Vs-Bangladesh-Under-23-India-leads-by-1-0-in-a-5-match-series902146Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTSUKIRTI MISHRA<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019113406IndVsBanglad2.jpg' alt='Images/21-09-2019113406IndVsBanglad2.jpg' /> टीम इंडिया ने बांग्लादेश को अंडर 23 क्रिकेट सीरीज के पहले मुकाबले में 24 रनों से पटखनी दे दी है।

Ind Vs Bangladesh अंडर 23 : 5 मैचों की सीरीज में 1-0 से बढ़त पर टीम इंडिया

Lucknow. टीम इंडिया ने बांग्लादेश को अंडर 23 क्रिकेट सीरीज के पहले मुकाबले में 24 रनों से पटखनी दे दी है। आर्यन जुयाल के अलावार शुभांग हेगड़े, रितिक शौकीन और यशस्वी जायसवाल ने दो दो विकेट लेकर विपक्षी टीम की कमर तोड़ दी। जिसके बाद 5 मैचों की हो रही सीरीज में अटल बिहारी वाजपेयी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में टीम इंडिया ने 1-0 से बढ़त हासिल कर ली है।

Images/21-09-2019113325IndVsBanglad1.jpg

मध्य क्रम में टीम इंडिया ने बल्लेबाजी करते हुए किसी तरह स्कोर को 190 तक पहुंचाया। इसके बाद अंत तक 192 रनों का स्कोर खड़ा किया। लक्ष्य का पीछा करते हुए बांग्लादेश ने 48.4 ओवर में 158 रन बनाए।

Images/21-09-2019113406IndVsBanglad2.jpg
© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
होटलों के रूम का किराया हुआ सस्ता, घटी GST दरhttps://www.newstimes.co.in/news/81725/भारत/Assembly-elections-Mayawati-Akhilesh-Yadav-coalition-BSP-SP-BSP-MP-Mithalal-by-election902145Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTNAZO ALI SHEIKH<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019112031Assemblyelect1.jpg' alt='Images/21-09-2019112031Assemblyelect1.jpg' />होटलों में रुकना आज के समय में आम लोगों के लिए आसान नहीं है। अधिक दामों में रूम मिलने के कारण सामान्य लोग तो इसके बारे में सोच भी नहीं सकते। लेकिन अब होटलों में रुकने के लिए लोगों को जेबें कम ढीली करनी होगी। सरकार ने जीएसटी काउंसिल की बैठक में  में निर्णय लेते हुए होटलों में मिलने वाले रूम पर लग रहे जीएसटी दरों को कम कर दिया है।

होटलों के रूम का किराया हुआ सस्ता, घटी GST दर

New Delhi. होटलों में रुकना आज के समय में आम लोगों के लिए आसान नहीं है। अधिक दामों में रूम मिलने के कारण सामान्य लोग तो इसके बारे में सोच भी नहीं सकते। लेकिन अब होटलों में रुकने के लिए लोगों को जेबें कम ढीली करनी होगी। सरकार ने जीएसटी काउंसिल की बैठक में  में निर्णय लेते हुए होटलों में मिलने वाले रूम पर लग रहे जीएसटी दरों को कम कर दिया है। अब 7500 रुपये से कम के होटल किराये पर 12 फीसदी जीएसटी लगेगा। वहीं, इससे अधिक किराए का रूम है, तो जीएसटी 8 फीसदी लगेगा।

Images/21-09-2019112031Assemblyelect1.jpg

बैठक में यह अहम निर्णय लिया गया कि यदि एक हजार रुपए होटलों के रुम का किराया है, तो उस पर जीएसटी नहीं देना होगा। बताते चलें कि इसके पहले 7500 रुपये से कम के होटलों में मिलने वाले रूम के किराये पर 18 फीसदी जीएसटी दिया जा रहा था। जबकि इससे अधिक दाम के रूमों के लिए 28 फीसदी जीएसटी देना होता था। यह फैसला जीएसटी काउंसिल की 37वीं बैठक में लिया गया।  

यह भी पढ़ें... BSP के कॉर्डिनेटर रह चुके इस दिग्गज ने थामा अखिलेश का दामन, बसपा के लिए है बड़ा झटका

केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि अब एरिएटेड (गैस वाले) पेय पदार्थों पर 18 फीसदी के बजाए 28 फीसदी टैक्स देना होगा। इसके अलावा 12 फीसदी का कंपनसेटरी सेस भी लगेगा। कुछ रक्षा उत्पादों को जीएसटी/आईजीएसटी से छूट देने का फैसला भी किया गया है।

उन्होंने यह भी जानकारी दी कि टैक्स को कम करने के लिए पहले ही अध्यादेश जारी हो चुका है। मेक इन इंडिया को साकार करने के लिए आईटी एक्‍ट में नए प्रावधान को जोड़ दिया गया है। अब यह तय किया जा सकेगा कि नई घरेलू कंपनी जिसका गठन 1 अक्टूबर 2019 या उसके बाद हुआ है और जो नए सिरे से निवेश कर रही वह 15 फीसदी के दर से इनकम टैक्ट देंगे।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
आपदा की स्थिति में राज्य सरकार बाढ़ पीड़ितों के साथ : मुख्यमंत्रीhttps://www.newstimes.co.in/news/81724/भारत/उत्तर-प्रदेश-/apada-ki-stihiti-me-nagriko-ke-sath-sarkar902144Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTGAURAV SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019105843apadakistihi2.jpg' alt='Images/21-09-2019105843apadakistihi2.jpg' />उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को वाराणसी के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का भ्रमण किया। इसके बाद मुख्यमंत्री ने अस्सी घाट स्थित गोयंका संस्कृत महाविद्यालय में बाढ़ पीड़ितों के लिए बनाए गए राहत शिविर का निरीक्षण किया। उन्होंने स्वयं बाढ़ पीड़ितों को राहत सामग्री वितरित की। इस अवसर पर लोगों को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि बेतवा एवं चंबल नदी से पानी छोड़े जाने के कारण गंगा, यमुना एवं गोमती में पानी का जलस्तर बेतहाशा बढ़ने के कारण बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हुई है। गत दिनों उन्होंने बाढ़ क्षेत्रों का निरीक्षण किया था। उन्होंने कहा कि बाढ़ की गम्भीरता के दृष्टिगत पुनः बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में राहत कार्यों एवं पीड़ित परिवारों को राहत सामग्री उपलब्ध कराए जाने के लिए भ्रमण किया जा रहा है।

आपदा की स्थिति में राज्य सरकार बाढ़ पीड़ितों के साथ : मुख्यमंत्री

वाराणसी। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को वाराणसी के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का भ्रमण किया। इसके बाद मुख्यमंत्री ने अस्सी घाट स्थित गोयंका संस्कृत महाविद्यालय में बाढ़ पीड़ितों के लिए बनाए गए राहत शिविर का निरीक्षण किया। उन्होंने स्वयं बाढ़ पीड़ितों को राहत सामग्री वितरित की। इस अवसर पर लोगों को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि बेतवा एवं चंबल नदी से पानी छोड़े जाने के कारण गंगा, यमुना एवं गोमती में पानी का जलस्तर बेतहाशा बढ़ने के कारण बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हुई है। गत दिनों उन्होंने बाढ़ क्षेत्रों का निरीक्षण किया था। उन्होंने कहा कि बाढ़ की गम्भीरता के दृष्टिगत पुनः बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में राहत कार्यों एवं पीड़ित परिवारों को राहत सामग्री उपलब्ध कराए जाने के लिए भ्रमण किया जा रहा है।

Images/21-09-2019105822apadakistihi1.jpgImages/21-09-2019105843apadakistihi2.jpg
© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
BSP के कॉर्डिनेटर रह चुके इस दिग्गज ने थामा अखिलेश का दामन, बसपा के लिए है बड़ा झटकाhttps://www.newstimes.co.in/news/81723/भारत/This-veteran-veteran-of-the-BSP-was-joined-by-Akhilesh-a-big-blow-for-the-BSP902143Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTNAZO ALI SHEIKH<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019105507Thisveteranv1.PNG' alt='Images/21-09-2019105507Thisveteranv1.PNG' />विधानसभा चुनाव का बिगुल बज चुका है सियासी बिसात बिछ चुकी है। यह देखना दिलचस्प होगा की किसे मिलेगी शह और किसे मिलेगी मात वहीं सभी पार्टियों के नेताओं का खेमा बदलने का भी दौर जारी है। ऐसे में सबसे ज्यादा पार्टी छोड़ने वाले नेता है बसपा पार्टी के नेता वहीं समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश की 12 विधानसभा सीटों पर जल्द होने वाले उपचुनावों से पहले मायावती को जोरदार झटका दे दिया है। 

BSP के कॉर्डिनेटर रह चुके इस दिग्गज ने थामा अखिलेश का दामन, बसपा के लिए है बड़ा झटका

Lucknow. विधानसभा चुनाव का बिगुल बज चुका है सियासी बिसात बिछ चुकी है। यह देखना दिलचस्प होगा की किसे मिलेगी शह और किसे मिलेगी मात वहीं सभी पार्टियों के नेताओं का खेमा बदलने का भी दौर जारी है। ऐसे में सबसे ज्यादा पार्टी छोड़ने वाले नेता है बसपा पार्टी के नेता वहीं समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश की 12 विधानसभा सीटों पर जल्द होने वाले उपचुनावों से पहले मायावती को जोरदार झटका दे दिया है। 

Images/21-09-2019105507Thisveteranv1.PNG

अखिलेश ने बसपा के दो बड़े नेताओं को अपने खेमे में शामिल कर लिया है। अखिलेश यादव की मौजूदगी में सपा कार्यालय में बीएसपी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष दयाराम पाल समर्थकों सहित सपा पार्टी में शामिल हो गए। वहीं बीएसपी के कोऑर्डिनेटर रह चुके मिठाई लाल ने भी सपा के खेमे का रुख कर लिया। इन नेताओं की सपा में ज्वाइनिंग बसपा सुप्रीमो मायावती के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है। 

यह भी पढ़ें... नरम पड़े चाचा शिवपाल के तेवर, अखिलेश से सुलह को लेकर दिया बड़ा बयान

पूर्व सांसद का इस्तीफा

बताते चलें कि मिठाईलाल के सपा में शामिल होने से पहले गुरुवार को बस्ती से बसपा के पूर्व लोकसभा सांसद लालमणि प्रसाद ने भी बसपा से अपना इस्तीफा दे दिया था। पूर्व सांसद ने पार्टी सुप्रीमो मायावती को भेजे गए पत्र में बीएसपी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा देने की बात कही थी। 

बसपा के लिए यह जोरदार झटका माना जा रहा है। लालमणि वर्तमान में सिद्धार्थनगर के जिला को-र्ऑर्डिनिटर थे। लालमणि प्रसाद ने आरोप लगाया कि वर्तमान बसपा की रणनीतियों से वह सहमत नहीं हैं। उन्हें लगता है कि बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर और कांशीराम का मूवमेंट पीछे की ओर जा रहा है। इसलिए बहुजन समाज में आक्रोश है लालमणि प्रसाद के इस्तीफे की पेशकश के बाद उनके समाजवादी पार्टी ज्वाइन करने की खबरें जोर पकड़ने लगी हैं। 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
पोषण माह के पहले पखवाड़े में 8405 कुपोषित बच्चों की हुई पहचान https://www.newstimes.co.in/news/81722/भारत/उत्तर-प्रदेश-/pochan-maah-ke-pahle-pakhvade-me-8405-baccho-ki-hui-pahchan-902142Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTGAURAV SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019105234pochanmaahke1.jpg' alt='Images/21-09-2019105234pochanmaahke1.jpg' />प्रदेश में पोषण माह के पहले पखवाड़े (1 से 15 सितंबर) में आरबीएसके एप के जरिये  8405 बच्चे संदर्भित किए गए हैं। इसमें अधिकांश बच्चों में विटामिन ए की कमी पाई गई है। जबकि कुछ बच्चों में विटामिन ए, खून और विटामिन डी की कमी पाई गई है। महाप्रबंधक आरबीएसके डाॅ0 मनोज शुकुल ने यह जानकारी देते हुए बताया कि राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम (आरबीएसके) एपयूपी में प्रभावी तरीके से कार्य कर रहा है। उन्होंने बताया कि सुदूर क्षेत्रों में रहने वाले बच्चों के लिए तो यह कार्यक्रम अत्यन्त लाभप्रद है। पोषण माह के पहले पखवाड़े में आरबीएसके एप के माध्यम से 1 सितम्बर से 15 सितम्बर तक पोषण संबंधी बीमारियों से ग्रसित बच्चों को संदर्भित किया गया। इसमें 4953 बच्चे विटामिन ए की कमी (बिटोट स्पॉट) से ग्रस्त मिले, जबकि 1822 बच्चों में गंभीर खून की कमी पाई गई। पूरे यूपी में 1052 बच्चे अति कुपोषित मिले, जबकि 364 बच्चे विटामिन डी की कमी रिकेट्स से ग्रस्त पाये गए। इसी तरह 183 बच्चे बहुत दुबले और 31 बच्चे मोटापे से ग्रस्त पाये गए। इन सभी बच्चों की स्क्रीनिंग कर तत्काल उन्हें संदर्भित कर दिया गया है।

पोषण माह के पहले पखवाड़े में 8405 कुपोषित बच्चों की हुई पहचान

Lucknow. प्रदेश में पोषण माह के पहले पखवाड़े (1 से 15 सितंबर) में आरबीएसके एप के जरिये  8405 बच्चे संदर्भित किए गए हैं। इसमें अधिकांश बच्चों में विटामिन ए की कमी पाई गई है। जबकि कुछ बच्चों में विटामिन ए, खून और विटामिन डी की कमी पाई गई है। महाप्रबंधक आरबीएसके डाॅ0 मनोज शुकुल ने यह जानकारी देते हुए बताया कि राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम (आरबीएसके) एपयूपी में प्रभावी तरीके से कार्य कर रहा है। उन्होंने बताया कि सुदूर क्षेत्रों में रहने वाले बच्चों के लिए तो यह कार्यक्रम अत्यन्त लाभप्रद है। पोषण माह के पहले पखवाड़े में आरबीएसके एप के माध्यम से 1 सितम्बर से 15 सितम्बर तक पोषण संबंधी बीमारियों से ग्रसित बच्चों को संदर्भित किया गया। इसमें 4953 बच्चे विटामिन ए की कमी (बिटोट स्पॉट) से ग्रस्त मिले, जबकि 1822 बच्चों में गंभीर खून की कमी पाई गई। पूरे यूपी में 1052 बच्चे अति कुपोषित मिले, जबकि 364 बच्चे विटामिन डी की कमी रिकेट्स से ग्रस्त पाये गए। इसी तरह 183 बच्चे बहुत दुबले और 31 बच्चे मोटापे से ग्रस्त पाये गए। इन सभी बच्चों की स्क्रीनिंग कर तत्काल उन्हें संदर्भित कर दिया गया है।

Images/21-09-2019105234pochanmaahke1.jpg
© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
अब आजम खान की स्वर्गवासी मां पर दर्ज हुआ मुकदमाhttps://www.newstimes.co.in/news/81721/भारत/उत्तर-प्रदेश-/Case-filed-against-Azam-Khans-late-mother902141Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019104500Casefiledaga2.jpg' alt='Images/21-09-2019104500Casefiledaga2.jpg' />सपा के कद्दावर नेता और पार्टी से रामपुर सांसद आजम खान पर हो रही कार्रवाई खूब सुर्खियां बटोर रही है। अब तक तरह तरह मुकदमों में आजम खान और उनके परिजनों का नाम लपेटा जा चुका है। ताजा मामले में पुलिस ने एक मुकदमें में आजम की स्वर्गवासी मां का भी नाम ​शामिल किया है। जिसे लेकर अब पुलिस पर सवाल उठ रहे हैं। 

अब आजम खान की स्वर्गवासी मां पर दर्ज हुआ मुकदमा

Rampur. सपा के कद्दावर नेता और पार्टी से रामपुर सांसद आजम खान पर हो रही कार्रवाई खूब सुर्खियां बटोर रही है। अब तक तरह तरह मुकदमों में आजम खान और उनके परिजनों का नाम लपेटा जा चुका है। ताजा मामले में पुलिस ने एक मुकदमें में आजम की स्वर्गवासी मां का भी नाम ​शामिल किया है। जिसे लेकर अब पुलिस पर सवाल उठ रहे हैं। 

Images/21-09-2019104444Casefiledaga1.jpgImages/21-09-2019104500Casefiledaga2.jpg

बता दें कि इससे पहले आजम खान पर रामपुर के विभिन्न थानों में मुकदमें दर्ज कराए गए हैं जिनकी संख्या 83 के पार पहुंच चुकी है। 
आजम खान की स्वर्गवासी मां के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराए जाने का मामला सुर्खियों में आने के बाद पुलिस और प्रशासन की कार्रवाई पर भी सवाल खड़े होने लगे है। 

यह भी पढ़ें...बड़ा खुलासा: एसआईटी का दावा स्वामी चिन्मयानंद ने स्वयं पर लगे आरोप स्वीकारे

 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
सपा ने आजम के विरूद्ध अन्याय किए जाने के सम्बंध में मुख्यमंत्री को सौंपा ज्ञापनhttps://www.newstimes.co.in/news/81720/भारत/उत्तर-प्रदेश-/sapa-ne-ajam-ko-ekar-mukhyamantri-ko-diya-gyapan-902140Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTGAURAV SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019102527sapaneajamk1.jpg' alt='Images/21-09-2019102527sapaneajamk1.jpg' />समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर शुक्रवार को समाजवादी पार्टी के एक प्रतिनिधिमण्डल ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता, सांसद एवं पूर्व मंत्री मोहम्मद आजम खां के विरूद्ध जिला प्रशासन द्वारा बदले की कार्रवाई और अन्याय किए जाने के सम्बंध में ज्ञापन सौंपा। इसके बाद प्रतिनिधिमण्डल ने अखिलेश को मुख्यमंत्री से हुई वार्ता के बारे में जानकारी दी।

सपा ने आजम के विरूद्ध अन्याय किए जाने के सम्बंध में मुख्यमंत्री को सौंपा ज्ञापन

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर शुक्रवार को समाजवादी पार्टी के एक प्रतिनिधिमण्डल ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता, सांसद एवं पूर्व मंत्री मोहम्मद आजम खां के विरूद्ध जिला प्रशासन द्वारा बदले की कार्रवाई और अन्याय किए जाने के सम्बंध में ज्ञापन सौंपा। इसके बाद प्रतिनिधिमण्डल ने अखिलेश को मुख्यमंत्री से हुई वार्ता के बारे में जानकारी दी।

Images/21-09-2019102527sapaneajamk1.jpg
© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
मद्रास: हाईकोर्ट की चीफ जस्टिस का इस्तीफा मंजूर, जानिए क्या थी वजहhttps://www.newstimes.co.in/news/81716/भारत/अन्य-राज्यों-से/Madras:-resignation-of-High-Court-Chief-Justice-approved-know-what-was-the-reason902136Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019100446Madrasresign2.jpg' alt='Images/21-09-2019100446Madrasresign2.jpg' />मद्रास हाईकोर्ट की मुख्य न्यायाधीश विजय कमलेश ताहिलरमानी का इस्तीफा कानून एवं न्याय मंत्रालय ने स्वीकार कर लिया है। उनके स्थान पर अब वरिष्ठतम न्यायाधीश जस्टिस विनीत कोठारी को मद्रास हाईकोर्ट का नया चीफ जस्टिस बनाया गया है। 

मद्रास: हाईकोर्ट की चीफ जस्टिस का इस्तीफा मंजूर, जानिए क्या थी वजह

Chennai. मद्रास हाईकोर्ट की मुख्य न्यायाधीश विजय कमलेश ताहिलरमानी का इस्तीफा कानून एवं न्याय मंत्रालय ने स्वीकार कर लिया है। उनके स्थान पर अब वरिष्ठतम न्यायाधीश जस्टिस विनीत कोठारी को मद्रास हाईकोर्ट का नया चीफ जस्टिस बनाया गया है। 

Images/21-09-2019100427Madrasresign1.jpgImages/21-09-2019100446Madrasresign2.jpg

यह भी पढ़ें...जीएसटी बैठकः कई चीजों से घटाई गईं जीएसटी दरें, छोटे व्यापारियों को दी बड़ी राहत

 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
एक्शन में अमेरिका, ईरान पर लगाए कड़े प्रतिबंधhttps://www.newstimes.co.in/news/81713/अन्तर्राष्ट्रीय/US-in-actionand-imposed-strict-restrictions-on-Iran 902133Sat, 21 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-09-2019093150USinactionan1.jpg' alt='Images/21-09-2019093150USinactionan1.jpg' />अमेरिका ने ईरान को सऊदी अरब के तेल ठिकानों पर हुए ड्रोन हमले का आरोपी ठहराते हुए उस पर कड़े प्रतिबंध लगाने का ऐलान किया है। इस हमले के बाद एक्शन में आए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ईरान के राष्ट्रीय बैंक पर प्रतिबंध लगा दिया है। इसके साथ ही उस इलाके में उन्होंने अमेरिकी सेना की तैनाती को भी मंजूरी दे दी है।

एक्शन में अमेरिका, ईरान पर लगाए कड़े प्रतिबंध

- सऊदी अरब में तेल ठिकानों पर ड्रोन हमले का ईरान को ठहराया जिम्मेदार
- ईरान की राष्ट्रीय बैंक पर राष्ट्रपति ट्रंप ने लगाया प्रतिबंध

New Delhi. अमेरिका ने ईरान को सऊदी अरब के तेल ठिकानों पर हुए ड्रोन हमले का आरोपी ठहराते हुए उस पर कड़े प्रतिबंध लगाने का ऐलान किया है। इस हमले के बाद एक्शन में आए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ईरान के राष्ट्रीय बैंक पर प्रतिबंध लगा दिया है। इसके साथ ही उस इलाके में उन्होंने अमेरिकी सेना की तैनाती को भी मंजूरी दे दी है।  

Images/21-09-2019093150USinactionan1.jpg

सऊदी अरब के तेेल ठिकानों पर हुए ड्रोन हमले से पूरे विश्व में हलचल मच गयी है। इन हमलों के लिए अमेरिका ने ईरान को जिम्मेदार ठहराया है। इस हमले को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार को ओवल कार्यालय में पत्रकारों से वार्ता की। जिसमें उन्होंने बताया कि ईरान पर नए और कठोर प्रतिबंध लगाए जा रहे हैं। 

इसी कार्रवाई के तहत ईरान के राष्ट्रीय बैंक ईरान सेंट्रल बैंक को प्रतिबंधित कर दिया है। ट्रंप के मुताबिक यह अब तक किसी देश पर लगाया गया सबसे कठोर प्रतिबंध है। इसके अलावा राष्ट्रपति ट्रंप ने संबंधित इलाके में अमेरिकी सेना की तैनाती को भी मंजूरी दी है। इस खबर के बाद ये कयास लगाए जा रहे थे कि अमेरिका ईरान के खिलाफ सैन्य कार्रवाई की योजना बना रहा है। 

इन अटकलों पर अपना रुख स्पष्ट करते ट्रप ने कहा कि ऐसी कोई योजना नहीं है। उन्होंने कहा कि सेना की तैनाती रक्षात्मक रूप से की जा रही है। वहां मुख्य रूप से मिसाइल रक्षा तकनीक से लैस सेना तैनात की जाएगी। अमेरिका के ट्रेजरी विभाग के मुताबिक ईरान सेंट्रल बैंक ने दो प्रतिबंधित सेनाओं को अरबों डॉलर का कर्ज दिया है। ​जिसके चलते यह प्रतिबंध लगाया गया है। 

अमेरिका के वित्त मंत्री स्टीवन एमनूचिन ने भी इस संबंध में बयान जारी करते हुए कहा कि सऊदी अरब पर हुआ हमला अस्वीकार्य है। ईरान पर जो प्रतिबंधत लगाए गए हैं उनका उद्देश्य टेरर फंडिंग तंत्र को प्रभावित करना है। उन्होंने कहा कि ईरान इस बैंक का प्रयोग Qods Force, Hezbollah और अन्य आतंकवादी संगठनों को समर्थन के लिए करता था। मालूम हो कि परमाणु कार्यक्रमों के आरोपों के चलते अमेरिका ने पहले से ही ईरान पर कई प्रतिबंध लगा रखे हैं। 

यह भी पढ़ें...यूएस रवाना होने से पहले पीएम मोदी ने कही ये बड़ी बात

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
बच्चों में छिपी प्रतिभाओं को पहचानने की जरूरत: बाबा योगेन्द्रhttps://www.newstimes.co.in/news/81709/भारत/उत्तर-प्रदेश-/Need-to-recognize-hidden-talent-in-children902129Fri, 20 Sep 2019 00:00:00 GMTRAJNISH KUMAR<img src='http://newstimes.co.in/Images/20-09-2019233313Needtorecogn4.jpg' alt='Images/20-09-2019233313Needtorecogn4.jpg' />ललित कला अकादमी क्षेत्रीय केंद्र अलीगंज लखनऊ की ओर से आयोजित अष्टलक्ष्मी राष्ट्रीय पूर्वोत्तर चित्रकारी शिविर (19 से 25 सितंबर) का उद्घाटन मुख्य अतिथि संस्कार भारती के संस्थापक पद्मश्री बाबा योगेन्द्र जी ने दीप प्रज्जवलित कर किया गया।

बच्चों में छिपी प्रतिभाओं को पहचानने की जरूरत: बाबा योगेन्द्र

Lucknow. ललित कला अकादमी क्षेत्रीय केंद्र अलीगंज लखनऊ की ओर से आयोजित अष्टलक्ष्मी राष्ट्रीय पूर्वोत्तर चित्रकारी शिविर (19 से 25 सितंबर) का उद्घाटन मुख्य अतिथि संस्कार भारती के संस्थापक पद्मश्री बाबा योगेन्द्र जी ने दीप प्रज्जवलित कर किया गया। दौरान विशिष्ट अतिथि के रूप में मुकेश कुमार मेश्राम (आईएएस), मंडलायुक्त लखनऊ औऱ वरिष्ठ कलाकार सुमन मजूमदार भी मौजूद थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे डॉ. उत्तम पाचारणे ने मुख्यअतिथि और विशिष्ट अतिथियों का पुष्पगुच्छ देकर स्वागत किया और साल ओढ़ाकर सम्मानित किया। अष्टलक्ष्मी कला में भाग लेने आए सभी 23 कलाकारों को मुख्यातिथि पद्मश्री बाबा योगेंद्र जी ने पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया।

Images/20-09-2019233254Needtorecogn1.jpg

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बाबा योगेंद्र ने कहा कि प्रत्येक बच्चे में कोई न कोई प्रतिभा छिपी होती है, जरूरत है उन प्रतिभाओं को पहचान कर आगे बढ़ाने की। उन्होंने कहा कि भारत की कला व सांस्कृतिक विरासत सदियों पुरानी है और मुझे ख़ुशी है कि अकादमी इस विरासत को सहेजने का भरसक प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि किसी भी राष्ट्र की ऐतिहासिक और सांस्कृतिक धरोहर एवं विचारों को आने वाली पीढ़ियों तक पहुंचाने का दायित्व कला का होता है और यह कहना कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी कि अपने आरम्भ से लेकर आज तक के लम्बे सफ़र में अकादमी ने अपनी इस ज़िम्मेदारी को पूरी निष्ठा से निभाने का प्रयत्न किया है और उसमें सफल भी रही है।

Images/20-09-2019233303Needtorecogn2.jpg

राष्ट्रीय ललित कला अकादमी के अध्यक्ष डा. उत्तम पाचारणे ने कहा कि अकादमी की शुरुआत 1954 में हुई थी, लेकिन 2014 में नई सरकार के गठन के बाद ललित कला अकादमी को आगे बढ़ाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कोई भी कला तब तक फलीभूत नहीं होती, जब तक वह स्वयं को समाज के सापेक्ष नहीं बनाती और यह हार्दिक प्रसन्नता की बात है कि अकादमी में इस तरह के उपक्रम हो रहे हैं जो अपने आप को समय के सापेक्ष बना रहे हैं।

उन्होंने कहा कि साधना का मार्ग ईश्वर को पाने का मार्ग है। मीरा ने गाकर तो तुलसी ने लिख कर ईश्वर को प्राप्त किया और कलाकार कृतियां सृजित करके करता है। उन्होंने कहा कि आप मन कर चलिए कि इस मार्ग में सकारात्मकता होगी, परिश्रम होगा और जिज्ञासा होगी। उन्होंने कहा कि अकादमी का कला को लेकर जो उद्देश्य है, उसकी पूर्ति के लिए हम सबको साथ मिलकर चलना होगा। इसके अलावा मंडलायुक्त मुकेश कुमार मेश्राम औऱ वरिष्ठ कलाकार सुमन मजूमदार ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया।

Images/20-09-2019233308Needtorecogn3.jpg

इस दौरान कार्यक्रम में न्यूज टाइम्स पोस्ट पत्रिका का विमोचन पद्मश्री बाबा योगेंद्र, डा. उत्तम पाचारणे, कलाकार सुमन मजूमदार, यूनाइट फाउण्डेशन के अध्यक्ष पीके त्रिपाठी, सनातन ज्ञान पीठ के संस्थाक योगेश मिश्र और न्यूज टाइम्स नेटवर्क के स्थानीय संपादक राधेश्याम दीक्षित ने किया। कार्यक्रम का संचालन यूनाइट फाउडेशन के अध्यक्ष राधेश्याम दीक्षित ने किया।

Images/20-09-2019233313Needtorecogn4.jpg

बता दें कि ललित कला अकादमी के शिविर में आठ राज्यों एवं भारत के विभिन्न हिस्सों से कुल 23 कलाकार आमंत्रित किए गए, जिससे पूर्वोत्तर के कलाकारों को लखनऊ की संस्कृति एवं विरासत को देखने और समझने का अवसर प्राप्त हो और साथ ही लखनऊ के कलाकारों को पूर्वोत्तर की संस्कृति की झलक मिलेगी। इस तरह का आयोजन लखनऊ में पहली बार हो रहा है। 

 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
टिकट न मिलने से नाराज दिग्गज नेता ने छोड़ी कांग्रेस पार्टी, बीजेपी में शामिलhttps://www.newstimes.co.in/news/81708/भारत/उत्तर-प्रदेश-/Conngress-neta-ajay-kapoor-ne-chhodi-party902128Fri, 20 Sep 2019 00:00:00 GMTRAJNISH KUMAR<img src='http://newstimes.co.in/Images/20-09-2019190714Conngressneta1.jpg' alt='Images/20-09-2019190714Conngressneta1.jpg' />यूपी में विधानसभा उपचुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है।

टिकट न मिलने से नाराज दिग्गज नेता ने छोड़ी कांग्रेस पार्टी, बीजेपी में शामिल

Lucknow. यूपी में विधानसभा उपचुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। दरअसल, कांग्रेस के दिग्गज नेता एवं पूर्व विधायक अजय कपूर अपने साथियों के साथ भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए हैं। बता दें कि कानपुर के गोविंदनगर सीट से विधानसभा उपचुनाव के लिए कांग्रेस ने करिश्मा ठाकुर को टिकट दे दिया है। माना जा रहा है कि अजय कपूर इसी को लेकर नाराज चल रहे थे।

Images/20-09-2019190714Conngressneta1.jpg

भारतीय जनता पार्टी से कन्नौज के सांसद सुब्रत पाठक ने अजय कपूर को पार्टी की सदस्यता दिलाई है। बताया जा रहा है कि भारतीय जनता पार्टी उपचुनाव में उन्हें कानपुर की गोविंद नगर सीट से टिकट दे सकती है, ऐसे में यदि उन्हें टिकट मिल गया तो उनका सीधा मुकाबला कांग्रेस प्रत्याशी करिश्मा ठाकुर से होगा। 

बता दें कि भाजपा नेता सत्यदेव पचैरी के सांसद बनने के बाद गोविंद नगर की विधानसभा सीट खाली हुई थी।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
दिग्गजों ने किया बसपा से किनारा कर कांग्रेस और सपा की ली सदस्यता, सुप्रीमो को लेकर... https://www.newstimes.co.in/news/81704/भारत/उत्तर-प्रदेश-/MAYAWATI-KO-LAGA-BADA-JHATKA-902124Fri, 20 Sep 2019 00:00:00 GMTGAURAV SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/20-09-2019162930MAYAWATIKOLA1.JPG' alt='Images/20-09-2019162930MAYAWATIKOLA1.JPG' />.

दिग्गजों ने किया बसपा से किनारा कर कांग्रेस और सपा की ली सदस्यता, सुप्रीमो को लेकर... 

LUCKNOW. बहुजन समाज पार्टी के नेताओं द्वारा लगातार दलबदल का दौर जारी है। शुक्रवार को दो बसपा नेताओं के साथ भारी संख्या में समर्थकों ने अखिलेश यादव ने समाजवादी पार्टी की सदस्यता दिलाई। सपा कार्यालय में पूर्व बीएसपी प्रदेश अध्यक्ष दयाराम पाल और बीएसपी कोऑर्डिनेटर मिठाई लाल अपने समर्थकों के साथ सपा में शामिल हुए। इन दोनों नेताओं का सपा में शामिल होना बसपा के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है। 

Images/20-09-2019162930MAYAWATIKOLA1.JPG
© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
औषधीय पौधों के उत्पादन पर किसानों को मिलेगा अनुदानhttps://www.newstimes.co.in/news/81706/भारत/उत्तर-प्रदेश-/लखनऊ/-Farmers-will-get-grant-on-production-of-medicinal-plants902126Fri, 20 Sep 2019 00:00:00 GMTLEKHRAM MAURYA<img src='http://newstimes.co.in/Images/20-09-2019164655Farmerswillg1.jpg' alt='Images/20-09-2019164655Farmerswillg1.jpg' />उत्तर प्रदेश के उद्यान विभाग द्वारा औषधीय उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए राष्ट्रीय औषधीय पौध मिशन योजना लागू की गई है।

औषधीय पौधों के उत्पादन पर किसानों को मिलेगा अनुदान

LUCKNOW. उत्तर प्रदेश के उद्यान विभाग द्वारा औषधीय उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए राष्ट्रीय औषधीय पौध मिशन योजना लागू की गई है। इसके अंतर्गत राज्य के 52 जिलों को आच्छादित किया जा रहा है, जिसमें अश्वगंधा, कालमेघ, शतावरी, तुलसी तथा ऐलोवेरा आदि फसलों की खेती होगी। योजना के तहत कृषि अभिसरण, भण्डारण, मूल्यवर्द्धन और विपणन के माध्यम से किसानों को लाभान्वित किया जायेगा, ताकि उनकी आमदनी में वृद्धि हो सके।

Images/20-09-2019164655Farmerswillg1.jpg

उद्यान निदेशक एस.बी. शर्मा ने बताया कि वर्तमान वित्तीय वर्ष में एलोवेरा, तुलसी, अश्वगंधा, कालमेघ और शतावरी जैसे औषधीय पौधों की खेती तथा इनका लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थी के पास आवश्यक सुविधाएं होना जरूरी है। इसके अंतर्गत लाभार्थी के पास राजस्व अभिलेखों में स्वयं के पास की भूमि उपलब्ध होनी चाहिए। पर्याप्त सिंचाई के साधन जरूरी हैं। इसकी खेती पर व्यय होने वाली धनराशि वहन करने में वह सक्षम हो। लाभार्थी के पास बैंक खाता तथा पहचान हेतु वोटरकार्ड/राशन कार्ड/आधार कार्ड में से कोई कार्ड होना चाहिए।

श्री शर्मा ने बताया कि योजनान्तर्गत फसल प्रबन्धन के अंतर्गत ड्राइंगशेड स्थापना हेतु कृषकों/उद्यमियों को इकाई लागत धनराशि 10 लाख प्रति इकाई के सापेक्ष 50 प्रतिशत देय अनुदान अधिकतम धनराशि 5 लाख रुपये एवं औषधीय फसल उत्पाद को भण्डारित करने हेतु स्टोरेज गोडाउन की स्थापना हेतु कृषकों को इकाई लागत धनराशि 10 लाख रुपये प्रति इकाई के सापेक्ष 50 प्रतिशत देय अनुदान, अधिकतम धनराशि 05 लाख रुपये का भुगतान किये जाने का प्रावधान किया गया है।

उद्यान निदेशक ने बताया कि लाभार्थी/उद्यमी को योजना के लाभ हेतु पंजीकरण कराना होगा। वेबसाइट पर आनलाइन आवेदन के लिए जनसुविधा केन्द्र, कृषक लोकवाणी, साइवर कैफे आदि के माध्यम से वे अपना पंजीकरण करा सकते हैं। लाभार्थी का चयन प्रथम आवक-प्रथम पावक के सिद्धान्त के आधार पर नियमानुसार किया जायेगा। विस्तृत जानकारी के लिए किसान द्वारा अपने मण्डल/जनपद के उद्यान अधिकारी तथा उद्यान निदेशालय लखनऊ के प्रभारी/नोडल अधिकारी, राष्ट्रीय औषधीय पौध मिशन, के दूरभाष 0522-2288604 से सम्पर्क किया जा सकता है।

श्री शर्मा ने बताया कि राष्ट्रीय औषधीय मिशन योजनान्तर्गत लाभार्थियों को अश्वगंधा फसल उत्पादन पर इकाई लागत धनराशि 36602.50 प्रति हेक्टेयर के सापेक्ष 30 प्रतिशत देय अनुदान अधिकतम धनराशि 10980.75 रुपये कालमेघ की खेती में इकाई लागत धनराशि 36602.50 रुपये प्रति हेक्टेयर के सापेक्ष 30 प्रतिशत देय अनुदान अधिकतम धनराशि 10980.75 रुपये, शतावरी फसल उत्पादन पर इकाई लागत धनराशि 91506.25 प्रति हे0 के सापेक्ष 30 प्रतिशत देय अनुदान अधिकतम धनराशि 27451.80 रुपये एवं तुलसी की खेती पर इकाई लागत धनराशि 43923 प्रति हे0 के सापेक्ष 30 प्रतिशत देय अनुदान अधिकतम धनराशि 13176.90 रुपये तथा एलोवेरा की खेती पर इकाई लागत धनराशि 62224.25 प्रति हे0 के सापेक्ष 30 प्रतिशत देय अनुदान अधिकतम धनराशि 18672.20 रुपये का भुगतान लाभार्थियों को किया जायेगा।

उद्यान निदेशक ने बताया कि प्रदेश की औषधीय पौध मिशन योजना- सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, मुरादाबाद, बिजनौर, सम्भल, मेरठ, बागपत, गाजियाबाद, हापुड़, बुलंदशहर, बरेली, बदायूं, शाहजहांपुर, लखनऊ, सीतापुर, हरदोई, अयोध्या, बाराबंकी, अम्बेडकर नगर, सुल्तानपुर, बस्ती, गोरखपुर, महाराजगंज, कुशीनगर, प्रयागराज, कौशाम्बी, फतेहपुर, प्रतापगढ़, कन्नौज, कानपुर देहात, इटावा, आगरा, मथुरा, एटा, अलीगढ़, हाथरस, आजमगढ़, बलिया, वाराणसी, गाजीपुर, जौनपुर, चन्दौली, मिर्जापुर, सोनभद्र, बांदा, चित्रकूट, हमीरपुर, महोबा, झांसी, जालौन, ललितपुर एवं बहराइच जनपदों को औषधीय पौध क्षेत्र विस्तार कार्यक्रम के अंतर्गत शामिल किया गया है।

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
कश्मीर से धारा 370 हटने से इमरान सरकार को हुआ ये बड़ा फायदा, पढ़ें पूरी रिपोर्टhttps://www.newstimes.co.in/news/81705/भारत/उत्तर-प्रदेश-/This-is-how-Imran-Khans-govt-benefits-from-Article-370-abrogation-from-Kashmir902125Fri, 20 Sep 2019 00:00:00 GMTSUKIRTI MISHRA<img src='http://newstimes.co.in/Images/20-09-2019163726ThisishowIm3.PNG' alt='Images/20-09-2019163726ThisishowIm3.PNG' />भारत को बार-बार परमाणु अटैक की गीदड़ भभकी देने से लेकर चीन, अमेरिका समेत संयुक्त राष्ट्र का धारा 370 को लेकर दरवाजा खटखटा चुके पाकिस्तान को हर तरफ से निराशा हाथ लगी है

कश्मीर से धारा 370 हटने से इमरान सरकार को हुआ ये बड़ा फायदा, पढ़ें पूरी रिपोर्ट

Lucknow. जम्‍मू कश्‍मीर से अनुच्‍छेद 370 हटने के बाद पाकिस्‍तान लगातार भारत को परमाणु अटैक की गीदड़ भभकी देने से लेकर चीन, अमेरिका, संयुक्त राष्ट्र सहित तमाम देशाें का दरवाजा खटखटा चुका है, लेकिन पाकिस्तान को हर जगह से मुंह की खानी पड़ी है। वहींं, भारत के इस फैसले से पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान को काफी फायदा भी हुआ है, क्‍योंं‍कि पा‍किस्‍तान में अर्थव्‍यवस्‍था बुरे दौर से गुजर रही है। भुखमरी, बेरोजगारी से जूझ रही पाकिस्‍तानी जनता को कश्‍‍‍‍मीर मुद्दे पर भटकाने में इमरान सरकार सफल हुई। बता दें कि 5 अगस्त, 2019 को मोदी सरकार ने राष्ट्रपति के आदेश से जम्मू कश्मीर से धारा 370 के प्रावधानों को हटा दिया था। राज्‍यसभा में बयान देते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने कहा था जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को अलग केंद्र शासित प्रदेश बनाया जाएगा। इस बयान के बाद से ही पाकिस्तान ने हाय तौबा मचाना शुरू कर दिया।

Images/20-09-2019163621ThisishowIm1.jpg

मोदी फोबिया

भारत को बार-बार परमाणु अटैक की गीदड़ भभकी देने से लेकर चीन, अमेरिका समेत संयुक्त राष्ट्र का दरवाजा खटखटा चुके पाकिस्तान को हर तरफ से निराशा हाथ लगी है। इमरान खान की सनक का आलम यह है कि 5 अगस्त से 12 सितंबर तक किये 95 ट्वीट में से 71 बार भारत के संदर्भ में है, 56 बार कश्मीर या कश्मीरी शब्द का प्रयोग किया, जबकि 19 बार मोदी का जिक्र है। दुनिया में भारत के बढ़ते रुतबे से इमरान खान के हौसले किस कदर पस्त हैं, इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि पाकिस्तान के स्वतंत्रता दिवस के मौके पर इमरान ने 30 मिनट सिर्फ भारत और मोदी पर ही भाषण दिया। 

कश्मीर मुद्दे पर हर तरह से अलग थलग पड़ चुके पाकिस्तान के पास तिलमिलाहट दिखाने का तरीका भी नहीं बचा है। इस मसले को द्विपक्षीय वार्ता से निपटाने की सलाह देकर अंतर्राष्‍ट्रीय समि‍तियों और दूसरे देशों ने अपना पल्ला झाड़ लिया है। आज हम आपको बताएंगे कि कश्मीर से धारा 370 हटने पर इमरान सरकार के हड़कंप मचाने की असलियत क्या है? 

Images/20-09-2019163650ThisishowIm2.PNG

धराशायी अर्थव्यवस्था

पाकिस्तान की धराशायी हो चुकी अर्थव्यवस्था का सच पूरी दुनिया जानती है। पाकिस्तानी जनता से लचर अर्थव्यवस्था (economy) सुधारने के वादे के दम पर इमरान खान ने पिछले साल जुलाई में सत्ता संभाली थी, लेकिन एक साल से ज्यादा होने के बाद भी हालात बदतर हैं। इंटरनेशनल मॉनिटरी फंड (IMF) से 6 बिलियन डॉलर का लोन लेने के अलावा चीन और सउदी अरब (Saudi Arabia) से भी पाकिस्तान ने कर्ज लिया है। 

बता दें कि यूएस डॉलर की तुलना में पाकिस्तानी रुपये की कीमत एक तिहाई कम हुई है। विदेशी मुद्रा खत्म होने के संकट से बचने के लिए 2018-19 में पाकिस्तान ने 16 बिलियन का कर्ज लिया है। जबकि उसकी लाइबिलिटी 40 ट्रिलियन रुपये तक पहुंच गई है। 

Images/20-09-2019163726ThisishowIm3.PNG

FATF ब्लैक लिस्टिंग

इसके अलावा फाइनेंशियल टास्क फोर्स (FATF) ने काले धन से निपटने की लचर कानून व्यवस्था और आतंकवाद में पैसा लगाने के चलते पाकिस्तान को ग्रे-लिस्टेड कर दिया है। देश को ब्लैक लिस्ट में आने से बचाना भी इमरान सरकार की बड़ी चुनौती है। ब्लैक लिस्टेड होने से अर्थव्यवस्था तो चरमराएगी ही साथ ही विदेशी व्यापार पर भी प्रतिबंध झेलने पड़ेंगे।  

आतंकवाद नामक रोग से पाकिस्तान हमेशा ग्रसित रहा है और इसी वजह से अमेरिकी ड्रोन हमलों का शिकार बनता रहा। कुछ समय पहले ही अमेरिका (US) ने ओसामा बिन लादेन के बेटे हमजा बिन लादेन के अफगानिस्तान-पाकिस्तान क्षेत्र में मारे जाने की पुष्टि की थी। इतनी मुसीबतें झेल रही इमरान सरकार के तरकश में सिर्फ "कश्मीर आवर" जैसे तीर बचे हैं जिससे पाकिस्तानी जनता का ध्यान आतंकवाद, भुखमरी, बेरोजगारी, इंनफ्लेशन जैसे गंभीर मुद्दों से भटका सके। 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
बड़ा खुलासा: एसआईटी का दावा स्वामी चिन्मयानंद ने स्वयं पर लगे आरोप स्वीकारेhttps://www.newstimes.co.in/news/81702/भारत/उत्तर-प्रदेश-/Big-reveal:-SIT-claims-Swami-Chinmayananda-accepts-allegations-on-himself902122Fri, 20 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/20-09-2019155745BigrevealSI2.jpg' alt='Images/20-09-2019155745BigrevealSI2.jpg' />यौन शोषण के आरोपों में गिरफ्तार हुए पूव्र केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। एसआईटी ने दावा कि है कि चिन्मयानंद ने स्वयं पर लगे आरोपों को स्वीकार किया है। इस मामले में स्वामी ने इससे ज्यादा कुछ कहने से इंकार किया है। 

बड़ा खुलासा: एसआईटी का दावा स्वामी चिन्मयानंद ने स्वयं पर लगे आरोप स्वीकारे

Lucknow. यौन शोषण के आरोपों में गिरफ्तार हुए पूव्र केंद्रीय मंत्री स्वामी चिन्मयानंद के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। एसआईटी ने दावा कि है कि चिन्मयानंद ने स्वयं पर लगे आरोपों को स्वीकार किया है। इस मामले में स्वामी ने इससे ज्यादा कुछ कहने से इंकार किया है। 

Images/20-09-2019155616BigrevealSI1.jpgImages/20-09-2019155745BigrevealSI2.jpg

यह भी पढ़ें...यौन शोषण के आरोपों से घिरे स्वामी चिन्मयानंद को गिरफ्तार कर भेजा गया जेल


 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
उन्नाव: हत्या और एक्सीडेंट के बीच फंसा पेंच, ग्रामीणों ने जाम लगा कर काटा हंगामाhttps://www.newstimes.co.in/news/81701/भारत/उत्तर-प्रदेश-/उन्नाव/-कोतवाली-Unnao:-The-case-screws-between-the-murder-and-the-accident-the-villagers-jammed-and-made-commotion902121Fri, 20 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/20-09-2019152959UnnaoThecas3.jpg' alt='Images/20-09-2019152959UnnaoThecas3.jpg' />एक्सीडेंट और हत्या के बीच फंसे पेंच में पुलिस और परिजनों के बीच टकराव इस कदर बढ़ा कि नाराज ग्रामीणों ने राष्ट्रीय राजमार्ग पर जाम लगा कर प्रदर्शन शुरू कर दिया। जाम की सूचना हड़कंप मच गया। काफी देर तक चले मान मनौव्वल के बाद आरोपी की तत्काल गिरफ्तारी के आश्वासन पर मामला शांत हुआ। घटना अजगैन कोतवाली क्षेत्र की है। 

उन्नाव: हत्या और एक्सीडेंट के बीच फंसा पेंच, ग्रामीणों ने जाम लगा कर काटा हंगामा

- कार दुकान में घुसने से हुई थी युवकी मौत
- परिजनों ने चुनावी रंजिश में हत्या का लगाया था आरोप
- पुलिस कर रही थी एक्सीडेंट की धाराओं में कार्रवाई
- आरोपी कार चालक की गिरफ्तारी के आश्वासन पर शांत हुआ मामला

Unnao. एक्सीडेंट और हत्या के बीच फंसे पेंच में पुलिस और परिजनों के बीच टकराव इस कदर बढ़ा कि नाराज ग्रामीणों ने राष्ट्रीय राजमार्ग पर जाम लगा कर प्रदर्शन शुरू कर दिया। जाम की सूचना हड़कंप मच गया। काफी देर तक चले मान मनौव्वल के बाद आरोपी की तत्काल गिरफ्तारी के आश्वासन पर मामला शांत हुआ। घटना अजगैन कोतवाली क्षेत्र की है।

Images/20-09-2019152912UnnaoThecas1.JPGImages/20-09-2019152938UnnaoThecas2.jpgImages/20-09-2019152959UnnaoThecas3.jpg

यह भी पढ़ें...लखनऊ: युवती को गोली मारने के बाद युवक ने खुद को भी गोली से उड़ाया

 

 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
शिवपाल के बाद अखिलेश ने बढ़ाया दोस्ती का हाथ, चाचा के लिए किया ये बड़ा ऐलानhttps://www.newstimes.co.in/news/81700/भारत/उत्तर-प्रदेश-/लखनऊ/Akhilesh-Yadavs-reaction-to-Shivpal-Yadavs-return-to-SP-and-Mulayam-family902120Fri, 20 Sep 2019 00:00:00 GMTABHIMANYU VERMA <img src='http://newstimes.co.in/Images/20-09-2019152636AkhileshYadav1.PNG' alt='Images/20-09-2019152636AkhileshYadav1.PNG' />शिवपाल यादव के पार्टी और परिवार में वापसी के संकेतों पर सपा अध्यक्ष अखिलेश ने भी उनकी ओर दोस्ती का हाथ बढ़ाया है। शुक्रवार को अखिलेश ने कहा कि जो अपनी विचारधारा से चलना चाहे वो वैसे चले और जो आना चाहे वह उसे अपनी पार्टी में आंख बंद करके शामिल कर लेंगे। इस दौरान उन्होंने शिवपाल की विधायकी रद्द करने की याचिका को भी वापस लेने की बात भी कही।

शिवपाल के बाद अखिलेश ने बढ़ाया दोस्ती का हाथ, चाचा के लिए किया ये बड़ा ऐलान

Lucknow. शिवपाल यादव के पार्टी और परिवार में वापसी के संकेतों पर सपा अध्यक्ष अखिलेश ने भी उनकी ओर दोस्ती का हाथ बढ़ाया है। शुक्रवार को अखिलेश ने कहा कि जो अपनी विचारधारा से चलना चाहे वो वैसे चले और जो आना चाहे वह उसे अपनी पार्टी में आंख बंद करके शामिल कर लेंगे। इस दौरान उन्होंने शिवपाल की विधायकी रद्द करने की याचिका को भी वापस लेने की बात भी कही।

Images/20-09-2019152636AkhileshYadav1.PNG

लखनऊ स्थित सपा कार्यालय में अखिलेश ने मीडिया से कहा कि उनके परिवार में परिवारवाद नहीं बल्कि लोकतंत्र है। धीरे-धीरे उनका परिवार बड़ा हो रहा है। उन्होंने कहा कि जो अपनी विचारधारा से चलना चाहे वो वैसे चले और जो आना चाहे वह उसे अपनी पार्टी में शामिल कर लेंगे आंख बंद करके। इस दौरान अखिलेश ने बसपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष दयाराम पाल के सपा में शामिल होने की जानकारी भी दी। 

बता दें कि मैनपुरी में प्रसपा अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने शुक्रवार को परिवार में सुलह के संकेत दिये हैं। उन्होंने सुलह की गुंजाइश को लेकर कहा कि उनकी तरफ से पूरी गुंजाइश है, लेकिन कुछ षड्यंत्रकारी लोग परिवार को एक नहीं होने देना चाह रहे हैं। 

यह भी पढ़ें:-...नरम पड़े चाचा शिवपाल के तेवर, अखिलेश से सुलह को लेकर दिया बड़ा बयान

वहीं, प्रदेश की योगी सरकार पर निशाना साधते हुए अखिलेश ने कहा कि यूपी सरकार का काउंटडाउन शुरू हो गया है। डॉ आंबेडकर, लोहिया जी और कांशीराम जी के सपने को पूरा करने के लिए सपा परिवर्तन का काम करेगी।

आजम खान पर दर्ज हो रहे मुकदमों पर अखिलेश ने सवाल किया कि सभी मुकदमे लोकसभा चुनाव के बाद ही क्यों दर्ज हो रहे हैं? सरकार बनने के बाद क्यों नहीं किए गए मुकदमें दर्ज। उन्होंने कहा कि लोगों को बहला फुसला कर आजम के खिलाफ मुकदमें दर्ज किए जा रहे हैं।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
बसपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सपा में शामिल, अखिलेश बोले- जो आना चाहे आ जाएhttps://www.newstimes.co.in/news/81699/भारत/उत्तर-प्रदेश-/लखनऊ/Former-BSP-state-president-Dayaram-Pal-joins-SP902119Fri, 20 Sep 2019 00:00:00 GMTABHIMANYU VERMA <img src='http://newstimes.co.in/Images/20-09-2019145901FormerBSPsta1.png' alt='Images/20-09-2019145901FormerBSPsta1.png' />बसपा सुप्रीमो मायावती को एक के बाद एक झटके लग रहे हैं। एक-एक करके उनके नेता बसपा छोड़कर दूसरे दलों में जा रहे हैं। इसी क्रम में बसपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष दयाराम पाल सपा का दामन थाम लिया है। सपा के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने प्रेस कांफ्रेंस करके इसकी जानकारी दी है। 

बसपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सपा में शामिल, अखिलेश बोले- जो आना चाहे आ जाए

Lucknow. बसपा सुप्रीमो मायावती को एक के बाद एक झटके लग रहे हैं। एक-एक करके उनके नेता बसपा छोड़कर दूसरे दलों में जा रहे हैं। इसी क्रम में बसपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष दयाराम पाल सपा का दामन थाम लिया है। सपा के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने शुक्रवार को प्रेस कांफ्रेंस करके इसकी जानकारी दी है। 

Images/20-09-2019145901FormerBSPsta1.png

अखिलेश ने खुले तौर पर कहा कि जो भी नेता उनकी पार्टी में आना चाहता, वह उसका स्वागत करते हैं। उन्होंने कहा कि धीरे-धीरे उनका परिवार बड़ा हो रहा है। वह परिवारवाद की राजनीति नहीं करते, वह लोकतंत्र में विश्वास रखते हैं। 

यह भी पढ़ें:-...पूर्व मंत्री को नहीं पसंद आया मायावती का साथ, अब थामेंगे अखिलेश का हाथ

इस दौरान प्रदेश की योगी सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि यूपी सरकार का काउंटडाउन शुरू हो गया है। डॉ आंबेडकर, लोहिया जी और कांशीराम जी के सपने को पूरा करने के लिए सपा परिवर्तन का काम करेगी।

वहीं, आजम खान पर दर्ज हो रहे मुकदमों पर अखिलेश ने सवाल किया कि सभी मुकदमे लोकसभा चुनाव के बाद ही क्यों दर्ज हो रहे हैं? सरकार बनने के बाद क्यों नहीं किए गए मुकदमें दर्ज? उन्होंने आरोप लगाया कि लोगों को बहला फुसला कर आजम के खिलाफ मुकदमें दर्ज किए जा रहे हैं।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
लखनऊ: युवती को गोली मारने के बाद युवक ने खुद को भी गोली से उड़ायाhttps://www.newstimes.co.in/news/81698/भारत/उत्तर-प्रदेश-/लखनऊ/-अमीनाबाद--अलीगंज--आलमबाग--आशियाना--इंटौजा--इंदिरा-नगर--ऐशबाग--कैन्ट--कृष्णा-नगर--कैसरबाग--काकोरी--गुडम्बा--गाजीपुर--गोमती-नगर--गोसाईंगंज--गौतमपल्ली--चिनहट--चौक--जानकीपुरम--ठाकुरगंज--तालकोटरा--नगराम--नाका-हिन्डोला--निगोहां--पारा--पीजीआई--बख्शी-का-तालाब--बाजारखाला--मड़ियांव--मलिहाबाद--महानगर--मानक-नगर--माल--मोहनलालगंज--वज़ीरगंज--विकास-नगर--विभूति-खण्ड--सआदतगंज--सरोजनी-नगर--हजरतगंज--हसनगंज--हुसैनगंज-Lucknow:-Shot-himself-after-shooting-the-woman902118Fri, 20 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/20-09-2019144523LucknowShot2.jpg' alt='Images/20-09-2019144523LucknowShot2.jpg' />राजधानी के हसनगंज थाना क्षेत्र में एक सिरफिरे आशिक ने युवती को गोली मारने के बाद खुद ही गोली मार कर जान दे दी। इस घटना से इलाके में सनसनी फैल गयी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। बताया जा रहा है कि युवक युवती पर शादी का दबाव बना रहा था जबकि वह इसके लिए राजी नहीं थी।

लखनऊ: युवती को गोली मारने के बाद युवक ने खुद को भी गोली से उड़ाया

Lucknow. राजधानी के हसनगंज थाना क्षेत्र में एक सिरफिरे आशिक ने युवती को गोली मारने के बाद खुद ही गोली मार कर जान दे दी। इस घटना से इलाके में सनसनी फैल गयी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। बताया जा रहा है कि युवक युवती पर शादी का दबाव बना रहा था जबकि वह इसके लिए राजी नहीं थी। 

Images/20-09-2019153332ruYkSDjZnO.jpg


मिली जानकारी के अनुसार हसनगंज थाना क्षेत्र के बब्बू वाली गली वंदना नाम की 22 वर्षीय युवती अपनी छोटी बहन के साथ रह रही थी। 
शुक्रवार को उसका तथाकथित प्रेमी मदन वहां पहुंचा और वंदना पर शादी करने का दवाब बनाने लगा। वंदना के इंकार करने पर तमतमाए मदन ने पहले वंदना के सीने से असलहला सटा कर गोली मार दी। 

Images/20-09-2019144523LucknowShot2.jpg


इसके बाद उसने खुद को भी गोली मार ली। इस घटना में दोनों की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गयी। दोनों मृतक बस्ती जिले के मूल निवासी बताए जा रहे हैं। घटना की सूचना पर एसएसपी ने मौके पर पहुंच कर जायजा लिया। 


यह भी पढ़ें...कानपुर: फैक्ट्री में फांसी पर झूलते मिले दो दोस्तों के शव, मचा हड़कंप

 

 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
कानपुर: फैक्ट्री में फांसी पर झूलते मिले दो दोस्तों के शव, मचा हड़कंपhttps://www.newstimes.co.in/news/81697/भारत/उत्तर-प्रदेश-/कानपुर/-BADASSA--चिल्ला----जगदीशपुरा--जगनेर--फतेहगंज---बेकन-गंज---बसई-जगनेर--सदर-बाजार-Kanpur:-Dead-bodies-of-two-friends-found-hanging-in-factory-stir902117Fri, 20 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/20-09-2019141932KanpurDeadb2.JPG' alt='Images/20-09-2019141932KanpurDeadb2.JPG' />एक फैक्ट्री के अंदर दो युवकों ने फांसी के फंदे पर झूल कर जान दे दी। दोनों ही दोस्त बताए जा रहे हैं। एक युवक के परिजनों हत्या कर शव लटकाए जाने का आरोप लगाया है। पुलिस ने दोनों के शवों को कब्जे में लेतेे हुए पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस ने बताया कि एक सुसाइड नोट मिला है जिसमें यह लिखा है कि अपनी मौत का मैं खुद जिम्मेदार हूं। मामला काकादेव थाना क्षेत्र का है। 

कानपुर: फैक्ट्री में फांसी पर झूलते मिले दो दोस्तों के शव, मचा हड़कंप

Kanpur. एक फैक्ट्री के अंदर दो युवकों ने फांसी के फंदे पर झूल कर जान दे दी। दोनों ही दोस्त बताए जा रहे हैं। एक युवक के परिजनों हत्या कर शव लटकाए जाने का आरोप लगाया है। पुलिस ने दोनों के शवों को कब्जे में लेतेे हुए पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस ने बताया कि एक सुसाइड नोट मिला है जिसमें यह लिखा है कि अपनी मौत का मैं खुद जिम्मेदार हूं। मामला काकादेव थाना क्षेत्र का है। 

Images/20-09-2019141915KanpurDeadb1.jpgImages/20-09-2019141932KanpurDeadb2.JPG

पुलिस को दीपक के पास से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है। जिसमें लिखा है कि मैं अपनी मौत का जिम्मेदार हूं। वहीं दूसरी ओर उसके परिजनों ने अज्ञात लोगों पर हत्या कर शव टांगने का आरोप लगाया है। फिलहाल पुलिस घटना की जांच में जुट गयी है। दोनों के शवों को कब्जे में लेकर पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया गया है। 

यह भी पढ़ें...बबुली कोल गैंग का एक इनामी डकैत गिरफ्तार

 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
आर्थिक मंदी से निपटने के लिए वित्त मंत्रालय ने लिए ये बड़े फैसले...https://www.newstimes.co.in/news/81696/भारत/दिल्ली/Finance-Minister-announces-key-measures-to-boost-economic-slowdown902116Fri, 20 Sep 2019 00:00:00 GMTSUKIRTI MISHRA<img src='http://newstimes.co.in/Images/20-09-2019133751FinanceMinist2.PNG' alt='Images/20-09-2019133751FinanceMinist2.PNG' />भारत में फैल रही आर्थिक मंदी से निपटने के लिए वित्त मंत्रालय ने जीएसटी काउंसिल मीट के पहले कुछ बड़े फैसले सुनाए

आर्थिक मंदी से निपटने के लिए वित्त मंत्रालय ने लिए ये बड़े फैसले...

New Delhi. भारत में फैल रही आर्थिक मंदी से निपटने के लिए वित्त मंत्रालय ने जीएसटी काउंसिल मीट के पहले कुछ बड़े फैसले सुनाए। वित्त मंत्री निर्मला सीतारामन ने कॉरपोरेट टैक्स में कटौती करके 25.17% तय किया। साथ ही कहा कि कंपनियों को कोई और टैक्स नहीं देना होगा। इसके अलावा कैपिटल गेन पर भी सरचार्ज खत्म कर दिया गया है।

Images/20-09-2019133714FinanceMinist1.PNG

कैपिटल गेन पर सरचार्ज खत्म करने से भारतीय मैन्युफैक्चरिंग कंपनियों को राहत मिली है। निर्मला सीतारामन ने बताया घरेलू मैन्युफैक्चरिंग कंपनियों के लिए कॉरपोरेट टैक्स घटेगा। बिना किसी छूट के इनका इनकम टैक्स 22% होगा। सरचार्ज और सेस के साथ ये टैक्स 25.17% रहेगा। साथ ही कहा कॉरपोरेट टैक्स घटाने के मामले में ऑर्डिनेंस पास हो गया है। 

Images/20-09-2019133751FinanceMinist2.PNG

बताते चलें कि अर्थव्यवस्था को मजबूती देने की वित्तमंत्री की घोषणा के बाद शेयर बाजार में जबरदस्त उछाल आया है। सेंसेक्स 1600 अंकों के साथ 37,300 पर पहुंच गया, वहीं, रुपया 66 पैसे उछलकर 70.68 रुपए प्रति डॉलर पर पहुंच गया है। बता दें कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में आज जीएसटी काउंसिल की बैठक होनी है। बैठक में फिटमेंट कमेटी की सिफारिशों पर आखिरी फैसला लिया जाएगा। 


बड़ी बातें-
--यदि कोई घरेलू कंपनी किसी प्रोत्साहन का लाभ न ले तो उसके पास 22% की दर से आयकर भुगतान करने का विकल्प है
--वित्त मंत्रालय ने अध्यादेश लाकर घरेलू कंपनियों, नई स्थानीय विनिर्माण कंपनियों के लिए कॉरपोरेट टैक्स कम करने का प्रस्ताव दिया
--22% की दर से आयकर भुगतान करने का विकल्प चुन रही कंपनियों को न्यूनतम वैकल्पिक कर का भुगतान नहीं करना होगा। अधिशेषों और उपकर समेत प्रभावी दर 25.17% रहेगी
--1 अक्टूबर के बाद बनी नई घरेलू विनिर्माण कंपनियां बिना किसी प्रोत्साहन के 15% की दर से आयकर भुगतान कर सकती हैं

Also Read- FM Nirmala Sitharaman announces corporate tax rate slash upto 25.17%

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
जनता और पत्रकारिता की ताकत से SIT ने चिन्मयानन्द को किया गिरफ़्तारhttps://www.newstimes.co.in/news/81695/भारत/उत्तर-प्रदेश-/लखनऊ/Priyanka-Gandhi-Vadras-reaction-to-Chinmayanands-arrest902115Fri, 20 Sep 2019 00:00:00 GMTABHIMANYU VERMA <img src='http://newstimes.co.in/Images/20-09-2019132016PriyankaGandh3.PNG' alt='Images/20-09-2019132016PriyankaGandh3.PNG' />लॉ की पढ़ाई कर रही छात्रा से यौन शोषण मामले में एसआईटी ने शुक्रवार को पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री चिन्मयानंद को गिरफ्तार कर लिया। इसके साथ ही चिन्मयानंद को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। वहीं, रेप के आरोपी चिन्मयानंद की गिरफ्तारी को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भाजपा पर निशाना साधा है। 

जनता और पत्रकारिता की ताकत से SIT ने चिन्मयानन्द को किया गिरफ़्तार

Shahjahanpur. लॉ की पढ़ाई कर रही छात्रा से यौन शोषण मामले में एसआईटी ने शुक्रवार को पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री चिन्मयानंद को गिरफ्तार कर लिया। इसके साथ ही चिन्मयानंद को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। वहीं, रेप के आरोपी चिन्मयानंद की गिरफ्तारी को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भाजपा पर निशाना साधा है। 

Images/20-09-2019131940PriyankaGandh1.jpg

प्रियंका ने ट्वीट करके कहा कि "भाजपा सरकार की चमड़ी इतनी मोटी है कि जब तक पीड़िता को ये न कहना पड़े कि मैं आत्मदाह कर लूंगी, तब तक सरकार कोई एक्शन नहीं लेती।" उन्होंने कहा कि "ये जनता, पत्रकारिता की ताकत थी कि एसआईटी को भाजपा नेता चिन्मयानन्द को गिरफ़्तार करना पड़ा।"

Images/20-09-2019132001PriyankaGandh2.PNG

कांग्रेस महासचिव ने चिन्मयानंद की गिरफ्तारी को जनता और पत्रकारिता की जीत बताया। उन्होंने अपने एक अन्य ट्वीट में कहा कि "जनता ने सुनिश्चित किया कि बेटी बचाओ केवल नारों में न रहे बल्कि धरातल पर उतरे।"

Images/20-09-2019132016PriyankaGandh3.PNG

यह भी पढ़ें:-...यौन शोषण के आरोपों से घिरे स्वामी चिन्मयानंद को गिरफ्तार कर भेजा गया जेल

बता दें कि स्वामी चिन्मयानंद के ही कालेज में पढ़ने वाली एक लॉ की छात्रा ने उन पर यौन शोषण के गंभीर आरोप लगाए थे। बीते दिन छात्रा ने चिन्मयानंद की गिरफ्तारी न होने पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि अगर उसके साथ न्याय न हुआ तो वह आत्मदाह कर लेगी। वहीं, लगातार बढ़ते दबाव के बाद आखिरकार शुक्रवार को हरकत में आई एसआईटी ने उन्हें उनके मुमुक्ष आश्रम से गिरफ्तार कर लिया है। 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
चाचा शिवपाल ने डाले हथियार, परिवार को लेकर कही यह बड़ी बातhttps://www.newstimes.co.in/news/81694/भारत/उत्तर-प्रदेश-/Uncle-Shivpal-Lay-down-arms-said-this-big-thing-about-family902114Fri, 20 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/20-09-2019131004UncleShivpal3.jpg' alt='Images/20-09-2019131004UncleShivpal3.jpg' />प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के प्रमुख शिवपाल सिंह यादव परिवार में पड़ी दरार को पाटने की मूड में नजर आ रहे हैंं। उन्होंने मैनपुरी में पत्रकारों के एक सवाल पर जो जवाब दिया उसका लब्बोलुबाब कुछ यही इशारा करता है। दरअसल परिवार की एकता की कितनी गुंजाइश बची है? इस सवाल पर उन्होंने कहा कि मेरी तरफ से पूरी गुंजाइश है लेकिन कुछ विघटनकारी ताकतें है जो परिवार को एक होता नहीं देखना चाहते।

चाचा शिवपाल ने डाले हथियार, परिवार को लेकर कही यह बड़ी बात

Mainpuri. प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के प्रमुख शिवपाल सिंह यादव परिवार में पड़ी दरार को पाटने की मूड में नजर आ रहे हैंं। उन्होंने मैनपुरी में पत्रकारों के एक सवाल पर जो जवाब दिया उसका लब्बोलुबाब कुछ यही इशारा करता है। दरअसल परिवार की एकता की कितनी गुंजाइश बची है? इस सवाल पर उन्होंने कहा कि मेरी तरफ से पूरी गुंजाइश है लेकिन कुछ विघटनकारी ताकतें है जो परिवार को एक होता नहीं देखना चाहते। 

Images/20-09-2019130906UncleShivpal1.jpg

उन्होंने कहा कि इस मामले की सीबीआई जांच कराने की मांग की जाएगी। शिवपाल यादव ने प्रदेश की कानून व्यवस्था पर कटाक्ष करते हुए कहा कि कानून व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त है। 
उन्होंने इशारों इशारों में आजम खान का जिक्र करते हुए कहा कि एक व्यक्ति पर बैक टू बैक मुकदमे दर्ज हो रही हैं। वहीं दूसरी ओर पीड़िता के वीडियो जारी करने के बाद भी चिन्मयानंद पर कार्रवाई में इतनी ढिलाई बरती जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में बेटियां असुरक्षित है। 

Images/20-09-2019131004UncleShivpal3.jpg

यह पढ़ें... यौन शोषण के आरोपों से घिरे स्वामी चिन्मयानंद को गिरफ्तार कर भेजा गया जेल

 

 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
जानिये बॉलीवुड के 5 टॉप खलनायकों के बच्चों के बारे में...https://www.newstimes.co.in/news/81693/भारत/उत्तर-प्रदेश-/लखनऊ/Meet-the-celebrity-children-of-5-top-Bollywood-villains902113Fri, 20 Sep 2019 00:00:00 GMTSUKIRTI MISHRA<img src='http://newstimes.co.in/Images/20-09-2019130147Meettheceleb5.PNG' alt='Images/20-09-2019130147Meettheceleb5.PNG' /> बॉलीवुड फिल्मों में जितना अहम किरदार हीरो का होता है उतना ही महत्व विलेन को भी मिलता है

जानिये बॉलीवुड के 5 टॉप खलनायकों के बच्चों के बारे में...

Lucknow. बॉलीवुड फिल्मों में जितना अहम किरदार हीरो का होता है उतना ही महत्व विलेन को भी मिलता है। या यूं कहें कि बड़े पर्दे पर एक हीरो की हीरोगिरी को पूरी तरह से स्थापित करने में विलेन का बड़ा रोल रहता है। यही कारण है कि फिल्मी दुनिया में विलेन्स की कभी कमी नहीं रही। क्या आप जानते हैं कि गुजरे जमाने के फेमस खलनायकों के बच्चे आखिर कहां बिजी हैं? हिन्दी फिल्मों में विलेन का किरदार निभाने वाले स्टार्स में से कुछ के बच्चे तो एक्टिव हैं और कुछ लाइमलाइट से दूर। आज आपको मिलाते हैं इन 5 फेमस बॉलीवुड विलेंस के बच्चों से। 

Images/20-09-2019125838Meettheceleb1.PNG


अमजद खान - 'शोले' में गब्बर के किरदार को निभाकर अमजद खान असल जिंदगी में ही गब्बर के नाम से मशहूर हो गए थे। अपने पिता की तरह उनके बेटे शादाब खान ने भी फिल्मों का रुख किया लेकिन बात नहीं बनी। शादाब खान ने फिल्म "राजा की आएगी बारात" से बॉलीवुड में डेब्यू किया था। 
कबीर बेदी- कबीर बेदी ने ‘खून भरी मांग’ में विलेन का किरदार निभाकर दर्शकों के बीच खासी लोकप्रियता बटोरी थी। बॉलीवुड के सबसे हैंडसम विलेन कबीर बेदी के बेटे अदम बेदी एक इंटरनेशनल मॉडल हैं। 

Images/20-09-2019130026Meettheceleb2.PNG


एम.बी. शेट्टी - अपने जमाने के बेहतरीन स्टंटमैन और विलेन एम बी शेट्टी मशहूर डायरेक्टर रोहित शेट्टी के पिता हैं। एम बी शेट्टी ने विलेन का किरदार निभाकर ऐसा कॉम्पटीशन पैदा किया कि विलेन का रोल प्ले करने वाले बाकी एक्टर भी डर गए। इन्होंने अपने करियर की शुरुआत फाइट इंस्ट्रक्टर के तौर पर की थी। इसके बाद एक्शन डायरेक्टर और फिर एक्टर बने। एम बी शेट्टी के बेटे रोहित शेट्टी बॉलीवुड के मशहूर डायरेक्टर-प्रोड्यूसर हैं। 

Images/20-09-2019130057Meettheceleb3.PNG


अमरीश पुरी - यह बॉलीवुड के सबसे सफल खलनायकों में शुमार हैं। लगभग सभी बड़े कलाकारों के साथ काम करने के बाद भी इनकी सादगी लोगों का दिल जीत लिया करती थी। अमरीश का बेटा राजीव पुरी की फिल्मों में कभी दिलचस्पी नहीं रही। वह मैरिन नेवीगेटर हैं।

Images/20-09-2019130127Meettheceleb4.PNG


मैक मोहन - शोले, सत्ते पे सत्ता और कर्ज जैसी सफल फिल्में देने वाले मैक मोहन ने अपने अभिनय की बदौलत बॉलीवुड में धाक जमा ली थी। फिल्म में जहां-जहां खलनायक सांभा आता है लोग कांप उठते हैं। मैक मोहन क्रिकेटर बनना चाहते थे लेकिन किस्मत ने उन्हें विलेन बना दिया। मैक मोहन के बेटे विक्रांत मेकीजन भी फिल्मों में काम करते हैं। 

Images/20-09-2019130147Meettheceleb5.PNG
© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
नरम पड़े चाचा शिवपाल के तेवर, अखिलेश से सुलह को लेकर दिया बड़ा बयानhttps://www.newstimes.co.in/news/81692/भारत/उत्तर-प्रदेश-/लखनऊ/Shivpal-Yadav-said-that-from-my-side-there-was-complete-scope-for-reconciliation-in-the-family902112Fri, 20 Sep 2019 00:00:00 GMTABHIMANYU VERMA <img src='http://newstimes.co.in/Images/20-09-2019121006ShivpalYadav1.jpg' alt='Images/20-09-2019121006ShivpalYadav1.jpg' />सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के छोटे भाई और प्रसपा अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने शुक्रवार को मैनपुरी में बड़ा बयान दिया। परिवार में सुलह की गुंजाइश के सवाल पर उन्होंने कहा कि मेरी तरफ से पूरी गुंजाइश है, लेकिन कुछ षड्यंत्रकारी लोग परिवार को एक नहीं होने देना चाह रहे हैं। 

नरम पड़े चाचा शिवपाल के तेवर, अखिलेश से सुलह को लेकर दिया बड़ा बयान

Mainpuri. सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के छोटे भाई और प्रसपा अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने शुक्रवार को मैनपुरी में बड़ा बयान दिया। परिवार में सुलह की गुंजाइश के सवाल पर उन्होंने कहा कि उनकी तरफ से पूरी गुंजाइश है, लेकिन कुछ षड्यंत्रकारी लोग परिवार को एक नहीं होने देना चाह रहे हैं। 

Images/20-09-2019121006ShivpalYadav1.jpg

आज़म खान पर मुकदमों की ओर इशारा करते हुए प्रसपा अध्यक्ष ने कहा कि एक व्यक्ति पर मुकदमे पर मुकदमे हो रहे हैं और जिस लड़की के वीडियो वायरल हुए चिन्मयानंद पर कोई कार्रवाई में इतनी देरी क्यों? मैनपुरी में उन्होंने कहा कि प्रदेश में बेटियां सुरक्षित नहीं है कानून व्यवस्था ध्वस्त है। 

यह भी पढ़ें:-...पूर्व मंत्री को नहीं पसंद आया मायावती का साथ, अब थामेंगे अखिलेश का हाथ

वहीं, शिवपाल ने नवोदय विद्यालय की मृतक छात्रा के घर जाकर उसके परिवार के लोगों से मिलकर उन्हें हर संभव मदद का आश्वासन दिया। 4 दिन पहले नवोदय विद्यालय की एक छात्रा की रेप के बाद हत्या कर दी गई थी। शिवपाल ने कहा कि परिवार कि इस मामले की सीबीआई जांच कराई जाए। छात्रा बहुत होनहार थी।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
मुंबई में फैल रही अज्ञात दुर्गंध, गैस रिसाव की आशंका से प्रशासन में मचा हड़कंपhttps://www.newstimes.co.in/news/81691/भारत/मुंबई/Unknown-odor-spreading-in-Mumbai-fear-of-gas-leak-created-panic-in-administration902111Fri, 20 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/20-09-2019112727Unknownodors2.jpg' alt='Images/20-09-2019112727Unknownodors2.jpg' />शहर के पश्चिमी और पूर्वी इलाकों अज्ञात दुर्गंध की शिकायतों के चलते बीएमसी में हड़कंप मचा है। नगर निगत के अधिकारी पूरे संबंधित इलाकों में दुर्गंध के श्रोत का पता चलाने के लिए अभियान चला रहे है। फिलहाल उनके हाथ कोई सफलता नहीं लगी है। आशंका जताई जा रही है कि चेम्बूर स्थित राष्ट्रीय रसायन फर्टिलाइजर संयंत्र से गैस रिस कर हवा के साथ मिल कर इन इलाकों में फैल रही है। 

मुंबई में फैल रही अज्ञात दुर्गंध, गैस रिसाव की आशंका से प्रशासन में मचा हड़कंप

Mumbai. शहर के पश्चिमी और पूर्वी इलाकों अज्ञात दुर्गंध की शिकायतों के चलते बीएमसी में हड़कंप मचा है। नगर निगत के अधिकारी पूरे संबंधित इलाकों में दुर्गंध के श्रोत का पता चलाने के लिए अभियान चला रहे है। फिलहाल उनके हाथ कोई सफलता नहीं लगी है। आशंका जताई जा रही है कि चेम्बूर स्थित राष्ट्रीय रसायन फर्टिलाइजर संयंत्र से गैस रिस कर हवा के साथ मिल कर इन इलाकों में फैल रही है। 

Images/20-09-2019112708Unknownodors1.jpgImages/20-09-2019112727Unknownodors2.jpg

यह भी पढ़ें...आखिरकार गिरफ्तार हो ही गए स्वामी चिन्मयानंद, छात्रा ने लगाए थे यौन शोषण के आरोप

 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
कोहली की तारीफ करने से खुद को रोक नहीं पाये अफरीदी, कहा- आप महान होhttps://www.newstimes.co.in/news/81690/भारत/अन्य-राज्यों-से/Shahid-Afridi-praised-Virat-Kohli-for-achieving-an-average-of-50-in-all-three-cricket-formats902110Fri, 20 Sep 2019 00:00:00 GMTABHIMANYU VERMA <img src='http://newstimes.co.in/Images/20-09-2019112131ShahidAfridi2.PNG' alt='Images/20-09-2019112131ShahidAfridi2.PNG' />साउथ अफ्रीका के खिलाफ टी-20 सीरीज के दूसरे में मैच में 72 रनों की शानदार पारी खेलने के साथ भारतीय कप्तान विराट कोहली ने एक और कीर्तिमान अपने नाम कर लिया है। कोहली ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के तीनों फार्मेट में 50 से अधिक का औसत हासिल कर लिया है।

कोहली की तारीफ करने से खुद को रोक नहीं पाये अफरीदी, कहा- आप महान हो

New Delhi. साउथ अफ्रीका के खिलाफ टी-20 सीरीज के दूसरे में मैच में 72 रनों की शानदार पारी खेलने के साथ भारतीय कप्तान विराट कोहली ने एक और कीर्तिमान अपने नाम कर लिया है। कोहली ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के तीनों फार्मेट में 50 से अधिक का औसत हासिल कर लिया है। वहीं, कोहली की इस उपलब्धि पर पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी उनकी तारीफ करने से खुद को रोक नहीं पाये। 

Images/20-09-2019111905ShahidAfridi1.jpeg

शाहिद अफरीदी ने ट्वीट करके विराट कोहली महान बल्लेबाज बताया। उन्होंने लिखा कि बधाई विराट कोहली। आप सच में महान प्लेयर हैं। आप ऐसे ही शानदार प्रदर्शन करते रहें और पूरे विश्व के क्रिकेट फैन्स का मनोरंजन करते रहें। 

Images/20-09-2019112131ShahidAfridi2.PNG

यह भी पढ़ें:-... कौन है बेस्ट, विराट कोहली या स्टीव स्मिथ ? पढ़िये शेन वॉर्न का दिलचस्प जवाब..

बता दें कि विराट कोहली मौजूदा समय में एक मात्र ऐसे खिलाड़ी हैं जिनके अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट तीनों फार्मेट में 50 से अधिक का औसत है। इससे पहले आईसीसी ने भी ट्वीट कर बताया कि कोहली के अब वनडे, टी-20 और टेस्ट क्रिकेट में 50 से अधिक के औसत हो गए हैं। कोहली की टेस्ट क्रिकेट में 53.14, वनडे क्रिकेट में 60.31 और टी-20 में 50.85 की औसत है। 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
पीएम मोदी की सुरक्षा में तैनात सब-इंस्पेक्टर ने खुद को मारी गोली https://www.newstimes.co.in/news/81689/भारत/उत्तर-प्रदेश-/pm-ki-suraksha-me-tainaat-sipahi-ne-khud-o-mari-goli-902109Fri, 20 Sep 2019 00:00:00 GMTGAURAV SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/20-09-2019110909pmkisuraksha1.jpg' alt='Images/20-09-2019110909pmkisuraksha1.jpg' />.

पीएम मोदी की सुरक्षा में तैनात सब-इंस्पेक्टर ने खुद को मारी गोली 

Lucknow. पीएम मोदी की केवडिया यात्रा के दौरान उनकी सुरक्षा में तैनात सब इंस्पेक्टर ने मंगलवार को सहयोग की सर्विस रिवाल्वर से खुद को गोली मार ली। पुलिस उपाअधीक्षक अमरेली आरडी ओजा ने बताया कि आत्महत्या करने वाले सब इंस्पेक्टर की पहचान एनसी फिनाविया के तौर पर की गयी है। यह नवसारी जिले में स्थानीय अपराध शाखा में तैनात थे। इसी के साथ केवडिया सर्किट हाउस के बाहर उन्हें पीएम की सुरक्षा में भी तैनात किया गया था। 

Images/20-09-2019110909pmkisuraksha1.jpg
© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
खाद्य एवं रसद विभाग के आठ अधिकारी स्थानांतरितhttps://www.newstimes.co.in/news/81687/भारत/उत्तर-प्रदेश-/khadya-evem-rasad-vibhag-ke-adhikari-stanantrit902107Fri, 20 Sep 2019 00:00:00 GMTGAURAV SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/20-09-2019104158khadyaevemra1.jpg' alt='Images/20-09-2019104158khadyaevemra1.jpg' />आयुक्त खाद्य एवं रसद विभाग मनीष चैहान ने जानकारी दी है कि मेरठ में तैनात जिलापूर्ति अधिकारी विकास गौतम को जनपद मुजफ्फरनगर, मुजफ्फरनगर में तैनात जिलापूर्ति अधिकारी सुनील कुमार पुष्कर को जनपद मेरठ, खाद्य आयुक्त कार्यालय (मुख्यालय) तैनात जिलापूर्ति अधिकारी सुनील सिंह को जनपद लखनऊ, खाद्य आयुक्त कार्यालय (मुख्यालय) तैनात क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी हिमांशु प्रकाश द्विवेदी को प्रभारी जिलापूर्ति अधिकारी जनपद मऊ, हापुड़ में तैनात क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी राजेश कुमार सोनी को प्रभारी जिलापूर्ति अधिकारी कानपुर देहात, लखनऊ तैनात क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी रजनीश उपाध्याय को खाद्य आयुक्त कार्यालय (मुख्यालय), मेरठ में तैनात क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी को क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी बदायूँ, मेरठ में तैनात पूर्ति निरीक्षक सुनील कुमार को पूर्ति निरीक्षक पद पर एटा स्थानांतरित कर दिया गया है।

खाद्य एवं रसद विभाग के आठ अधिकारी स्थानांतरित

लखनऊ। खाद्य एवं रसद विभाग उ.प्र. में गुरूवार को विभिन्न जनपदों के 08 अधिकारियों को प्रशासनिक एवं जनहित में स्थानांतरित कर दिया गया है।
आयुक्त खाद्य एवं रसद विभाग मनीष चैहान ने जानकारी दी है कि मेरठ में तैनात जिलापूर्ति अधिकारी विकास गौतम को जनपद मुजफ्फरनगर, मुजफ्फरनगर में तैनात जिलापूर्ति अधिकारी सुनील कुमार पुष्कर को जनपद मेरठ, खाद्य आयुक्त कार्यालय (मुख्यालय) तैनात जिलापूर्ति अधिकारी सुनील सिंह को जनपद लखनऊ, खाद्य आयुक्त कार्यालय (मुख्यालय) तैनात क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी हिमांशु प्रकाश द्विवेदी को प्रभारी जिलापूर्ति अधिकारी जनपद मऊ, हापुड़ में तैनात क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी राजेश कुमार सोनी को प्रभारी जिलापूर्ति अधिकारी कानपुर देहात, लखनऊ तैनात क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी रजनीश उपाध्याय को खाद्य आयुक्त कार्यालय (मुख्यालय), मेरठ में तैनात क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी को क्षेत्रीय खाद्य अधिकारी बदायूँ, मेरठ में तैनात पूर्ति निरीक्षक सुनील कुमार को पूर्ति निरीक्षक पद पर एटा स्थानांतरित कर दिया गया है।

Images/20-09-2019104158khadyaevemra1.jpg
© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
संस्कृति मंत्री ने किया राज्य संग्रहालय का निरीक्षण, निर्माण कार्य पूरा न होने से हुए नाराज़https://www.newstimes.co.in/news/81686/भारत/उत्तर-प्रदेश-/mantri-ne-kiya-nirikshan-hue-naraj-902106Fri, 20 Sep 2019 00:00:00 GMTGAURAV SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/20-09-2019103825mantrinekiya1.png' alt='Images/20-09-2019103825mantrinekiya1.png' />उत्तर प्रदेश के राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) संस्कृति, पर्यटन, धर्मार्थ कार्य एवं प्रोटोकाल डा. नीलकंठ तिवारी ने गुरूवार को उत्तर प्रदेश राज्य संग्रहालय, बनारसी बाग, लखनऊ का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान मंत्री ने संग्रहालय की समस्त वीथिकाओं का भ्रमण किया एवं साथ ही साथ तेरहवें वित्त आयोग की संस्तुतियों के अन्तर्गत नवनिर्मित 03 वीथिकाओं के कार्यों की प्रगति की समीक्षा भी की। डा. तिवारी ने निरीक्षण के दौरान निर्माणाधीन वीथिकाओं के कार्य कार्यदायी संस्था द्वारा अभी तक पूर्ण न किए जाने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए तत्काल कार्य पूर्ण कर विभाग को हस्तगत किए जाने के निर्देश दिए।

संस्कृति मंत्री ने किया राज्य संग्रहालय का निरीक्षण, निर्माण कार्य पूरा न होने से हुए नाराज़

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) संस्कृति, पर्यटन, धर्मार्थ कार्य एवं प्रोटोकाल डा. नीलकंठ तिवारी ने गुरूवार को उत्तर प्रदेश राज्य संग्रहालय, बनारसी बाग, लखनऊ का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान मंत्री ने संग्रहालय की समस्त वीथिकाओं का भ्रमण किया एवं साथ ही साथ तेरहवें वित्त आयोग की संस्तुतियों के अन्तर्गत नवनिर्मित 03 वीथिकाओं के कार्यों की प्रगति की समीक्षा भी की। डा. तिवारी ने निरीक्षण के दौरान निर्माणाधीन वीथिकाओं के कार्य कार्यदायी संस्था द्वारा अभी तक पूर्ण न किए जाने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए तत्काल कार्य पूर्ण कर विभाग को हस्तगत किए जाने के निर्देश दिए।

Images/20-09-2019103825mantrinekiya1.png
© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
किसानों एवं व्यापारियों को सब्सिडी का लाभ लेना है तो 30 सितम्‍बर तक बेच लें आलूhttps://www.newstimes.co.in/news/81703/भारत/उत्तर-प्रदेश-/लखनऊ/-If-farmers-and-traders-want-to-take-advantage-of-subsidy-then-take-potatoes-till-30-September902123Fri, 20 Sep 2019 00:00:00 GMTLEKHRAM MAURYA<img src='http://newstimes.co.in/Images/20-09-2019162535Iffarmersand1.jpg' alt='Images/20-09-2019162535Iffarmersand1.jpg' />राज्य कृषि उत्पादन मंडी परिषद उत्तर प्रदेश किसानों एवं व्यापारियों को आगामी 30 सितम्बर तक आलू को बेचने के लिए ले जाने पर 50 रूपये प्रति कुन्तल या परिवहन भाड़े का 25 प्रतिशत सब्सिडी देगा।

किसानों एवं व्यापारियों को सब्सिडी का लाभ लेना है तो 30 सितम्‍बर तक बेच लें आलू

LUCKNOW. राज्य कृषि उत्पादन मंडी परिषद उत्तर प्रदेश किसानों एवं व्यापारियों को आगामी 30 सितम्बर तक आलू को बेचने के लिए ले जाने पर 50 रूपये प्रति कुन्तल या परिवहन भाड़े का 25 प्रतिशत सब्सिडी देगा। इसमें शर्त यह है कि व्यापारियों को 300 किमी0 और किसानों को 150 किमी0 दूर ले जाने पर यह सुविधा मिलेगी। इससे कम दूरी होने पर यह लाभ नहीं मिलेगा। यह जानकारी संयुक्त निदेशक उद्यान आर0के0तोमर ने दी।

Images/20-09-2019162535Iffarmersand1.jpg

उन्होंंने कहा कि इसका अधिक से अधिक लाभ किसानों एवं व्यापारियों को कैसे मिले इसके लिए मंडी परिषद आगामी 25 सितम्बर को अलीगढ़,27 को आगरा एवं 28 सितम्बर को फर्रूखाबाद में कार्यक्रम का आयोजन करेगा। जिसमें किसानों एवं व्यापारियों को आमंत्रित किया गया है। बता दें पिछले सितम्बर में आलू का रेट 1221 रू0 प्रति कुन्तल था जबकि इस साल सितम्बर में औसत मूल्य 817 रू0 है। 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
राज्यस्तरीय फुटबाल प्रतियोगिता में प्रतिभाग करेंगे केराकत के खिलाड़ीhttps://www.newstimes.co.in/news/81683/भारत/उत्तर-प्रदेश-/rajyastariy-football-pratiyogita-me-pratibhag-karenge-khiladi902103Fri, 20 Sep 2019 00:00:00 GMTGAURAV SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/20-09-2019101919rajyastariyfo1.jpg' alt='Images/20-09-2019101919rajyastariyfo1.jpg' />राज्यस्तरीय स्कूली फुटबाल प्रतियोगिता 18 सितम्बर से अलीगढ़ (उत्तर प्रदेश) में आयोजित की जा रही है। प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए केराकत स्पोर्ट्स डेवलपमेंट एकेडमी के खिलाड़ी उतर प्रदेश के अलग-अलग मंडलों की टीमों से प्रतिभाग करेंगे। प्रतियोगिता में मोहम्मद कैश खान (बरेली मंडल), प्रदुम यादव, श्याम यादव (देवी पाटन मंडल), राजन यादव, स्वतंत्र गौतम (वाराणसी मंडल) से खेलेंगे। चयनित खिलाड़ियों को केराकत स्पोर्ट्स डेवलपमेंट एकेडमी केराकत के समस्त सीनियर खिलाड़ियों व पदाधिकारियों ने बधाई दी है।

राज्यस्तरीय फुटबाल प्रतियोगिता में प्रतिभाग करेंगे केराकत के खिलाड़ी

जौनपुर। राज्यस्तरीय स्कूली फुटबाल प्रतियोगिता 18 सितम्बर से अलीगढ़ (उत्तर प्रदेश) में आयोजित की जा रही है। प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए केराकत स्पोर्ट्स डेवलपमेंट एकेडमी के खिलाड़ी उतर प्रदेश के अलग-अलग मंडलों की टीमों से प्रतिभाग करेंगे।

Images/20-09-2019101919rajyastariyfo1.jpg

प्रतियोगिता में मोहम्मद कैश खान (बरेली मंडल), प्रदुम यादव, श्याम यादव (देवी पाटन मंडल), राजन यादव, स्वतंत्र गौतम (वाराणसी मंडल) से खेलेंगे। चयनित खिलाड़ियों को केराकत स्पोर्ट्स डेवलपमेंट एकेडमी केराकत के समस्त सीनियर खिलाड़ियों व पदाधिकारियों ने बधाई दी है।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
विधानसभा चुनाव को लेकर आरजेडी नेता तेजस्वी का बड़ा बयान, बिहार की सियासत में मची खलबलीhttps://www.newstimes.co.in/news/81681/भारत/बिहार/Tejaswi-yadav-ka-bada-bayan902101Fri, 20 Sep 2019 00:00:00 GMTRAJNISH KUMAR<img src='http://newstimes.co.in/Images/20-09-2019101542Tejaswiyadav1.JPG' alt='Images/20-09-2019101542Tejaswiyadav1.JPG' />राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) नेता तेजस्वी यादव ने आगामी बिहार विधानसभा चुनाव 2020 को लेकर बड़ बयान दिया है। उनके बयान ने बिहार की राजनीति में खलबली मचा दी है। हालांकि अभी तक किसी भी राजनीतिक दल की ओर से बयान नहीं आया है। 

विधानसभा चुनाव को लेकर आरजेडी नेता तेजस्वी का बड़ा बयान, बिहार की सियासत में मची खलबली

Patna. राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) नेता तेजस्वी यादव ने आगामी बिहार विधानसभा चुनाव 2020 को लेकर बड़ बयान दिया है। उनके बयान ने बिहार की राजनीति में खलबली मचा दी है। हालांकि अभी तक किसी भी राजनीतिक दल की ओर से बयान नहीं आया है। 

Images/20-09-2019101542Tejaswiyadav1.JPG

आरजेडी नेता एवं नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव श्रीकृष्ण स्मारक भवन सभागार में सामाजिक न्याय संघर्ष मोर्चा के तत्वावधान में अति पिछडों पर हो रहे जुल्म के खिलाफ आयोजित सम्मेलन में समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने दावा किया कि उन्हें स्पष्ट सूचना है कि भाजपा ने तय किया है आगामी 2020 के विधानसभा चुनावों में नीतीश कुमार को एनडीए का चेहरा नहीं बनाएगी। तेजस्वी के इस बयान के बाद बिहार की सियासत में खलबली मच गई है। उन्होंने कहा कि जदयू से आरजेडी भी समझौता नहीं करेगा। उन्होंने नीतीश को चेतावनी भी दी कि जदयू अकेले चुनाव लड़कर दिखाये।

उन्होंने नीतीश सरकार पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि बिहार में घोटाला दर घोटाला हो रहा, ये भूत कर रहा या चूहा। उन्होंने कहा कि अति पिछड़ा समाज को राजद में 60 फीसदी भागीदारी देने और चुनावों में अधिक सीटें देने का वादा किया है। 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
कश्मीर मुद्दे पर रामगोविंद चौधरी ने दिया ये बड़ा चैलेंज, क्या पूरा कर पाएगी भाजपा!https://www.newstimes.co.in/news/81680/भारत/उत्तर-प्रदेश-/लखनऊ/Ramgovind-Chaudhary-challenges-Modi-government-to-take-back-Kailash-Parvat-and-Mansarovar902100Fri, 20 Sep 2019 00:00:00 GMTABHIMANYU VERMA <img src='http://newstimes.co.in/Images/20-09-2019101022RamgovindChau1.jpg' alt='Images/20-09-2019101022RamgovindChau1.jpg' /> भाजपा के नेताओं की ओर से पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर को हिन्दुस्तान में मिलाने वाले दावे पर सपा नेता रामगोविंद चौधरी ने तंज़ कसा है। उन्होंने कहा है कि पीकेओ को हिन्दुस्तान में मिलाने के लिए ताल ठोंक रही भाजपा सरकार में अगर दम है तो वह कैलाश पर्वत और मानसरोवर को चीन से छीनकर हिंदुस्तान में मिलाए। चौधरी का बयान बलिया में आया हैं। 

कश्मीर मुद्दे पर रामगोविंद चौधरी ने दिया ये बड़ा चैलेंज, क्या पूरा कर पाएगी भाजपा!

Ballia. भाजपा के नेताओं की ओर से पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर को हिन्दुस्तान में मिलाने वाले दावे पर सपा नेता रामगोविंद चौधरी ने तंज़ कसा है। उन्होंने कहा है कि पीकेओ को हिन्दुस्तान में मिलाने के लिए ताल ठोंक रही भाजपा सरकार में अगर दम है तो वह कैलाश पर्वत और मानसरोवर को चीन से छीनकर हिंदुस्तान में मिलाए। चौधरी का बयान बलिया में आया हैं। 

Images/20-09-2019101022RamgovindChau1.jpg

मीडिया से बातचीत करते हुए यूपी विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी ने कहा कि भाजपा सरकार पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) को हिन्दुस्तान में मिलाने की बात कर रही है। उन्होंने चुनौती देते हुए कहा कि अगर भाजपा सरकार में वाकई दम है तो वह हिन्दुओं के आदि देव महादेव की तपस्थली कैलाश पर्वत और मानसरोवर को चीन से छीनकर हिन्दुस्तान में मिलाकर दिखाए। 

यह भी पढ़ें:-...पूर्व मंत्री को नहीं पसंद आया मायावती का साथ, अब थामेंगे अखिलेश का हाथ

बता दें कि विदेश मंत्री एस. जयशंकर के 17 सितम्बर को दिल्ली में कहा था कि पाकिस्तान के कब्जे वाला कश्मीर भी भारत का है और एक दिन वह भी हिन्दुस्तान के कब्जे में होगा। चौधरी ने यह टिप्पणी उसी बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए की है। 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
समुद्री एक्वेरियम में आईं लॉयन फिश, क्लाउन फिश, डैमासिल और मूनरास फिशhttps://www.newstimes.co.in/news/81674/भारत/उत्तर-प्रदेश-/zoo-lucknow-me-aai-new-fish-902094Thu, 19 Sep 2019 00:00:00 GMTGAURAV SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/19-09-2019182541zoolucknowme1.png' alt='Images/19-09-2019182541zoolucknowme1.png' />नवाब वाजिद अली षाह प्राणि उद्यान में मछलीघर के समुद्री एक्वेरियम में 01 लॉयन फिश, 04क्लाउन फिश, 06 डैमासिल और 02 मूनरास फिश लायी गयी हैं।    क्लाउन फिश समुद्री एक्वेरियम के संसार में बहुत ही प्रसिद्ध है। भारत में इसकी कई प्रजातियाँ पायी जाती हैं। यह अकेली ऐसी मछली है जो एनीमोन के साथ रहती है, बाकी मछलियों को एनीमोन पकड़ कर खा जाती है। यह अपने काले सफेद चटक रंग की धारी के कारण बहुत ही सुन्दर लगती है। प्राणि उद्यान में लॉयन फिश भी रखी गयी है। अब इनकी कुल संख्या 02 हो गयी है। लॉयन फिश के टेंटिकल बहुत ही जहरीले होते हैं। अगर किसी के शरीर में यह टेंटिकल चुभ जायें तो उसके जहर से उसकी मौत भी हो सकती है। यह बहुत अच्छी रात्रिचर शिकारी मछली होती है। इसको प्रतिदिन 02 जिन्दा मछली खाने के लिए दी जाती है। अभी तक सबसे बड़ी चार फुट की लॉयन फिश अमेरिका में पकड़ी गयी है। इसके साथ ही 02 मूनरॉस भी लायी गयी हैं। समुद्री जल की मछलियॉं दर्शकों खासतौर पर छात्रों के लिए आकर्षण का केन्द्र होती हैं। 

समुद्री एक्वेरियम में आईं लॉयन फिश, क्लाउन फिश, डैमासिल और मूनरास फिश

Lucknow. नवाब वाजिद अली षाह प्राणि उद्यान में मछलीघर के समुद्री एक्वेरियम में 01 लॉयन फिश, 04क्लाउन फिश, 06 डैमासिल और 02 मूनरास फिश लायी गयी हैं। 

Images/19-09-2019182541zoolucknowme1.png
© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
दिल्ली पब्लिक स्कूल जानकीपुरम में संयुक्त राष्ट्रसंघ द्वारा कार्यशाला का आयोजनhttps://www.newstimes.co.in/news/81673/भारत/उत्तर-प्रदेश-/delhi-public-school-me-karyasala-ka-hua-ayojan-902093Thu, 19 Sep 2019 00:00:00 GMTGAURAV SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/19-09-2019181045delhipublics2.jpeg' alt='Images/19-09-2019181045delhipublics2.jpeg' /> दिल्ली पब्लिक स्कूल की जानकीपुरम् शाखा में 19 सितम्बर ‘2019‘ को विद्यालय परिसर में कक्षा-10, 11 और 12 के विद्यार्थियों के लिए संयुक्त राष्ट्रसंघ ने विश्वस्तरीय कार्यशाला आयोजित की। यह कार्यशाला दो खंडों मे आयोजित की गयी । प्रथम खंड में ‘‘जीवनशैली में बदलाव संतुलित दृष्टि और एकल कदम के द्वारा शुरू होता है‘‘ शीर्षक पर संयुक्त राष्ट्रसंघ की ओर से आए हुए प्रतिनिधियों एथिना लाओ और कोलिन फेफर ने अपने विचार व्यक्त किए तथा दूसरे खंड मे विदेशों में शिक्षा प्राप्ति के नए आयामों एवं उपलब्धियों की जानकारी दी।

दिल्ली पब्लिक स्कूल जानकीपुरम में संयुक्त राष्ट्रसंघ द्वारा कार्यशाला का आयोजन

Lucknow. दिल्ली पब्लिक स्कूल की जानकीपुरम् शाखा में 19 सितम्बर ‘2019‘ को विद्यालय परिसर में कक्षा-10, 11 और 12 के विद्यार्थियों के लिए संयुक्त राष्ट्रसंघ ने विश्वस्तरीय कार्यशाला आयोजित की। यह कार्यशाला दो खंडों मे आयोजित की गयी । प्रथम खंड में ‘‘जीवनशैली में बदलाव संतुलित दृष्टि और एकल कदम के द्वारा शुरू होता है‘‘ शीर्षक पर संयुक्त राष्ट्रसंघ की ओर से आए हुए प्रतिनिधियों एथिना लाओ और कोलिन फेफर ने अपने विचार व्यक्त किए तथा दूसरे खंड मे विदेशों में शिक्षा प्राप्ति के नए आयामों एवं उपलब्धियों की जानकारी दी।

Images/19-09-2019181036delhipublics1.jpegImages/19-09-2019181045delhipublics2.jpeg
© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
छात्रा नींद से उठ बेड के नीचे देखी तो उड़े होश, हॉस्टल में मचा हड़कंपhttps://www.newstimes.co.in/news/81670/भारत/When-the-girl-got-up-from-her-sleep-and-looked-under-the-bed-the-senses-flew-there-was-a-stir-in-the-hostel902090Thu, 19 Sep 2019 00:00:00 GMTNAZO ALI SHEIKH<img src='http://newstimes.co.in/Images/19-09-2019173412Whenthegirl1.jpg' alt='Images/19-09-2019173412Whenthegirl1.jpg' />पटना स्थित गर्ल्स हॉस्टल के कमरे में छात्रा रात में सो रही थी। अचानक उसकी नींद खुली तो गर्मी का मौसम होने के कारण ठंडी हवा आने के लिए दरवाजा खुला ही छोड़ दिया। सुबह नींद खुलने पर जब छात्रा ने चप्पल पहनने के लिए उठी तो बेड के नीचे देख पैरों तले जमीन खिसक गई। बेड के नीचे मेस में काम करने वाला लड़का छुपा हुआ था।

छात्रा नींद से उठ बेड के नीचे देखी तो उड़े होश, हॉस्टल में मचा हड़कंप

Patna. पटना स्थित गर्ल्स हॉस्टल के कमरे में छात्रा रात में सो रही थी। अचानक उसकी नींद खुली तो गर्मी का मौसम होने के कारण ठंडी हवा आने के लिए दरवाजा खुला ही छोड़ दिया। सुबह नींद खुलने पर जब छात्रा ने चप्पल पहनने के लिए उठी तो बेड के नीचे देख पैरों तले जमीन खिसक गई। बेड के नीचे मेस में काम करने वाला लड़का छुपा हुआ था। छात्रा लड़के को देखकर चीखने लगी। शोर सुनकर हॉस्टल में हड़कंप मच गया। लोग भागकर वहां पहुंचे और आरोपी लड़के रवि कुमार को दबोच लिया।

Images/19-09-2019173412Whenthegirl1.jpg

खबरों के मुताबिक आरोपी रवि हॉस्टल के मेस में पांच सालों से काम करता है। छात्रा की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी ने पुलिस से पूछताछ में बताया कि वह अपने गांव भागना चाहता था, इसलिए वह बेड के नीचे छुप गया था। वहीं, आशंका जताई जा रही कि आरोपी चोरी करने या छेड़खानी करने की मंशा से बेड के नीचे छुप गया था।

पीड़िता का कहना है कि वह हॉस्टल के कमरे में अकेले ही रहती है। उसे जब गर्मी अधिक लगने लगी तो उठकर दरवाजा खोल दिया। इसके बाद वह फिर से आकर सो गई। सुबह करीब सात बजे जब वह सोकर उठी तो चप्पल खोजने के लिए बेड की नीचे देखते ही होश उड़ गए। मेस में काम करने वाला लड़का रवि छुपा हुआ था। छात्रा की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
लड़कियों को स्कॉलरशिप पाने का सुनहरा मौका, यहां करें आवेदनhttps://www.newstimes.co.in/news/81668/भारत/Golden-opportunity-for-girls-to-get-scholarship-apply-here902088Thu, 19 Sep 2019 00:00:00 GMTNAZO ALI SHEIKH<img src='http://newstimes.co.in/Images/19-09-2019170026Goldenopportu1.JPG' alt='Images/19-09-2019170026Goldenopportu1.JPG' />छात्राओं के लिए स्कॉलरशिप का लाभ लेने को लेकर सुनहरा मौका आया था। यह सुविधा 9वीं और 10वीं कक्षा में पढ़ने वाली छात्राओं के लिए दी गई है। जो भी छात्राएं स्कॅलरशिप का लाभ उठाना चाहती हों, वह अंतिम तिथि 30 सितंबर तक आवेदन कर सकती हैं।

लड़कियों को स्कॉलरशिप पाने का सुनहरा मौका, यहां करें आवेदन

New Delhi. छात्राओं के लिए स्कॉलरशिप का लाभ लेने को लेकर सुनहरा मौका आया था। यह सुविधा 9वीं और 10वीं कक्षा में पढ़ने वाली छात्राओं के लिए दी गई है। जो भी छात्राएं स्कॅलरशिप का लाभ उठाना चाहती हों, वह अंतिम तिथि 30 सितंबर तक आवेदन कर सकती हैं।

Images/19-09-2019170026Goldenopportu1.JPG

बताते चलें कि स्कॉलरशिप का नाम Kind Scholarship for Meritorious Students है। यह योजना उन छात्राओं के लिए है, जो आर्थिक तौर पर कमजोर हैं। जिनके माता पिता बेटी की पढ़ाई का खर्च उठाने में समर्थ नहीं हैं।

स्कॉलरशिप का लाभ उन छात्राओं को दिया जाएगा, जो किसी अच्छे कॉलेज से प्रोफेशनल कोर्स या डिग्री कोर्स कर रही हों। साथ ही छात्राओं का मार्क्स 60 प्रतिशत तक आया हो। छात्राओं के परिवार की आय चार लाख रुपए से कम होनी चाहिए।

आवेदन करने के लिए वेबसाइट https://www.buddy4study.com/scholarship/kind-scholarship-for-meritorious-students पर जाएं। यहां 'Apply Now' पर क्लिक करें। इसके बाद स्कॉलरशिप के लिए अप्लाई करने के साथ ही जरूरी दस्तावेज अपलोड करें। दस्तावेज में परीक्षा की मार्कशीट, फैमिली इनकम सर्टिफिकेट, कोई भी सरकारी पहचान पत्र, स्कूल या कॉलेज का पहचान पत्र बोनाफाइड सर्टिफिकेट लगाना होगा।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
प्रशासन और पब्लिक के बीच में सामंजस्य जरूरी: डीपी तिवारीhttps://www.newstimes.co.in/news/81665/भारत/उत्तर-प्रदेश-/लखीमपुर/prashasan-and-public-ke-beech-samanjasya-jaruru902085Thu, 19 Sep 2019 00:00:00 GMTRAJNISH KUMAR<img src='http://newstimes.co.in/Images/19-09-2019161053prashasanand3.jpeg' alt='Images/19-09-2019161053prashasanand3.jpeg' />गोला की समस्या समाधान फेसबुक ग्रुप की ओर से कंजा स्थित हनुमान मंदिर स्थान पर चोखा बाटी का कार्यक्रम रखा गया। इस दौरान फेसबुक ग्रुप पर आयोजित तृतीय वर्षीय प्रतियोगिता के विजेता अंकित शाह पुत्र उर्मिला शाह व हरद्वारी लाल शाह को सम्मानित किया गया है।

प्रशासन और पब्लिक के बीच में सामंजस्य जरूरी: डीपी तिवारी

Lakhimpur Khiri. गोला की समस्या समाधान फेसबुक ग्रुप की ओर से कंजा स्थित हनुमान मंदिर स्थान पर चोखा बाटी का कार्यक्रम रखा गया। इस दौरान फेसबुक ग्रुप पर आयोजित तृतीय वर्षीय प्रतियोगिता के विजेता अंकित शाह पुत्र उर्मिला शाह व हरद्वारी लाल शाह को सम्मानित किया गया है। बता दें कि अंकित शाह की ओर से गड्ढे वाले बाबा भोलेनाथ का चित्र बनाया गया था, जिसे फेसबुक ग्रुप पर काफी सराहा गया है।

Images/19-09-2019161045prashasanand1.jpeg

इस मौके पर कोतवाली प्रभारी डी.पी. तिवारी ने कहा कि प्रशासन और पब्लिक के बीच में सामंजस्य होना अति आवश्यक है, क्योंकि अगर प्रशासन को पब्लिक को हो रही असुविधा का पता ही नहीं चलेगा तो आम जनमानस की मदद सरकार व कानून की मंशा अनुसार हो ही नहीं सकती, इस तरह के आयोजन से प्रशासन और पब्लिक के बीच में सामंजस्य बैठता है। उन्होंने कार्यक्रम की प्रशंसा की और समस्या समाधान परिवार के समस्त भाइयों व नारी शक्तियों का आभार व्यक्त किया।

संचालक रजनीश गुप्ता ने समस्त सहयोगियों का आभार व्यक्त करते हुए संकल्प लिया कि अपने जीवन का एक-एक क्षण नगरवासियों की सेवा के लिए समर्पित किया जाएगा, भविष्य में नगर के विकास के लिए जो भी प्रयास किए जा सकते हैं, वह सदैव किए जाएंगे। इसके उपरांत सभी लोगों ने चोखा बाटी का आनंद लिया और साथ ही साथ समस्या समाधान परिवार के महिला मंडल "गोला मेरा घर नारी शक्ति" की सदस्य निधि शुक्ला, नेहा गुप्ता के साथ-साथ एडवोकेट नरेंद्र शुक्ला व धीरज हर्ष के द्वारा कई लोकगीत प्रस्तुत किए गए। इससे पहले तृतीय वर्षीय प्रतियोगिता प्रतियोगिता के विजेता अंकित शाह व उनकी मां उर्मिला शाह, पिता हरद्वारी लाल शाह को परिवार के सदस्यों के द्वारा सम्मानित किया गया। मुख्य अतिथि कोतवाली प्रभारी डी.पी. तिवारी ने स्मृति चित्र भेंट कर अपना आशीर्वाद दिया।

Images/19-09-2019161049prashasanand2.jpeg

कार्यक्रम की शुरुआत संगठन के संरक्षक अशोक कनौजिया ने गोला कोतवाली प्रभारी डी.पी. तिवारी के स्वागत से की। इसके बाद एलआईयू सी.के. सैनी, अलीगंज चौकी इंचार्ज योगेश शंखधार, हैदराबाद थाना प्रभारी धर्मदास सिद्धार्थ, गोला कस्बा इंचार्ज लल्ला गोस्वामी, महिला सिपाही पूजा, अंजली, किरण, उमाकान्त ओझा, भानु प्रताप शुक्ला, मुलायम यादव, संजय राय, राजन तिवारी, संतोष मिश्रा आदि पुलिस विभाग की तरफ से आए हुए लोगों का परिवार के सदस्यों के द्वारा माल्यार्पण कर स्वागत किया गया।

Images/19-09-2019161053prashasanand3.jpeg

इस मौके पर गंगा देवी गुप्ता, शशि गुप्ता, रचना सक्सेना, रीना सिंह, इंदू सिंह, नरेंद्र वालिया, अंजू गुप्ता, रीना सिंह, अमिता शाह, अनुराधा बंसल , आरजू नाज, रुबी अंसारी, कोमल गुप्ता, सुनीता सिंह, अंशा गुप्ता, कृतिका गुप्ता, प्रीति गुप्ता, महिमा मिश्रा, मधु पटवारी, अशोक गुप्ता, प्रवीण गुप्ता, महेश पटवारी, चंद्रप्रकाश मौर्य, दिलीप निषाद, कृषांग गुप्ता, अमोलक सिंह जोशन, रूपेश मिश्रा, सौरभ सिंह परमार, जुनैद अहमद इराकी, आशीष गुप्ता, समीर अंसारी, अनुरुद्ध वर्मा, पंकज वर्मा, वीरेंद्र वर्मा, श्याम मुरारी गुप्ता आदि सैकड़ों लोग मौजूद रहे।

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
धुर विरोधी ममता दीदी ने पीएम मोदी के बाद अब गृहमंत्री शाह से की मुलाकातhttps://www.newstimes.co.in/news/81666/भारत/दिल्ली/Anti-socialist-Mamata-Didi-calls-on-PM-Modi-and-Home-Minister-Shah902086Thu, 19 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/19-09-2019161245Anti-socialist2.jpg' alt='Images/19-09-2019161245Anti-socialist2.jpg' />पीएम मोदी और भाजपा की धुर विरोधी कही जाने वाली ममता बनर्जी की पीएम मोदी के बाद गृहमंत्री अमित शाह से हुई बैक टू बैक मुलाकातों ने राजनैतिक गलियारों में कई सवाल खड़े कर दिए हैं। देश की राजधानी दिल्ली की सियासी तस्वीर इन मुलाकातों के चलते बदली बदली नजर आ रही है। 

धुर विरोधी ममता दीदी ने पीएम मोदी के बाद अब गृहमंत्री शाह से की मुलाकात

New Delhi. पीएम मोदी और भाजपा की धुर विरोधी कही जाने वाली ममता बनर्जी की पीएम मोदी के बाद गृहमंत्री अमित शाह से हुई बैक टू बैक मुलाकातों ने राजनैतिक गलियारों में कई सवाल खड़े कर दिए हैं। देश की राजधानी दिल्ली की सियासी तस्वीर इन मुलाकातों के चलते बदली बदली नजर आ रही है। 

Images/19-09-2019161230Anti-socialist1.jpg

लोकसभा चुनावों के दौरान एक दूसरे अपने अपने तरकश के एक से बढ कर एक शब्दों के तीर चलाने वाले इन नेताओं की मुलाकात की वजह को लेकर लोग तरह तरह के कयास लगा रहे हैं। चुनाव के दौरान ममता बनर्जी ने पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह को गुंडा, तानाशाह और बदमाश जैसे शब्दों से नवाजा था। 

बता दें कि बुधवार को ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी, इसके बाद गुरूवार को उन्होंने गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की। हलांकि इस मुलाकात के बाद मीडिया से मुखातिब होते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि उन्होंने असम में एनआरसी को लेकर अपनी चिंताएं गृहमंत्री के सामने रखी। उन्होंने यह भी कहा कि बंगाल में एनआरसी को लेकर कोई बात नहीं हुई, क्योंकि वहां इसकी कोई जरूरत नहीं है। ममता बनर्जी ने कहा कि गृहमंत्री ने मेरी बातें गौर से सुनी। 

Images/19-09-2019161245Anti-socialist2.jpg

उन्होंने कहा कि इससे पहले पूर्व गृहमंत्री राजनाथ सिंह से भी उनकी मुलाकात होती रहती थी। बता दें कि गृहमंत्री से मुलाकात से पहले ममता ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी। लोकसभा चुनाव के बाद दोनों नेताओं की यह पहली मुलाकात थी। 

इससे पहले पीएम मोदी के शपथग्रहण में न आने, नीति आयोग की बैठकों से बाहर रहने, आयुष्मान भारत व नए ट्रैफिक कानून को पश्चिम बंगाल में लागू नहीं करने, एनआरसी पर सीधे चुनौती देने जैसे अपने कामों को लेकर ममता बनर्जी सुर्खियों में रही हैं।  ऐसे में अब ममता की मोदी और शाह से मुलाकातों को लेकर सियासी पंडित गणित लगा रहे हैं। 

 राजीव कुमार को बचाने की कोशिश तो नहीं ये मुलाकातेंं

ममता बनर्जी की पीएम मोदी के बाद अब गृहमंत्री अमित शाह से हुई मुलाकात को लेकर उन्होंने चाहे जो स्पष्टीकरण दिया हो लेकिन कयासों का दौर किसी और दिशा में ही चल रहा है। इन मुलाकातों को कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार पर सीबीआई के बढ़ते शिकंजे से जोड़कर देखा जा रहा है।

एक न्यूज एजेंसी ने तो सूत्रों के हवाले से इस मुलाकात को राजीव कुमार को बचाने की कोशिश कह दिया था। इस मुलाकात पर पश्चिम बंगाल बीजेपी चीफ दिलीप घोष की प्रतिक्रिया भी सामने आयी है। उन्होंने इस कोशिश को बेकार बताते हुए कहा कि अब देर हो चुकी है। 

 राज्य के लिए मांगा 13000 करोड़ का विशेष पैकेज

राजधानी दिल्ली में तीन दिवसीय दौरे पर आई पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने पीएम मोदी ने राज्य का बांग्ला नाम रखने के लिए नाम पर सुझाव मांगा। इसके अलावा केंद्र सरकार से राज्य के लिए 13000 करोड़ के विशेष पैकेज की मांग की। साथ ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री मोदी को वीरभूम के कोयला ब्लॉक के उद्घाटन कार्यक्रम का न्योता भी दिया।

यह भी पढ़ें...कश्मीर मुद्दे पर सोनिया गांधी के विरोध पर राम माधव ने दिया ऐसा बयान, मचेगा हंगामा

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
सरकार के रिपोर्ट कार्ड पर अखिलेश का तंज, ढाई कदम भी नहीं चली डबल इंजन की सरकारhttps://www.newstimes.co.in/news/81664/भारत/उत्तर-प्रदेश-/Akhileshs-taunt-on-governments-report-card-double-engine-government-not-move-even-two-and-a-half-steps902084Thu, 19 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/19-09-2019152106Akhileshstau1.jpg' alt='Images/19-09-2019152106Akhileshstau1.jpg' />योगी सरकार के ढाई साल के रिपोर्ट कार्ड पर सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने करारा हमला किया है। शुक्रवार उन्होंने प्रेस कांफ्रेस कर कहा कि डबल इंजन वाले सरकार अपेक्षा के प्रतिकूल बैलगाड़ी की रफ्तार से चल रही है। यही वजह है कि ढाई साल में सरकार ढाई कोस भी नहीं चल पाई है। उन्होंने प्रदेश की कानून व्यवस्था पर भी योगी सरकार पर जमकर निशाना साधा। कहा कि पिछले ढाई साल में प्रदेश के अंदर सबसे ज्यादा हत्याएं हुई है। प्रदेश में पुलिस हिरासत में मौतों का आकड़ा भी बढ़ा है।  

सरकार के रिपोर्ट कार्ड पर अखिलेश का तंज, ढाई कदम भी नहीं चली डबल इंजन की सरकार

Lucknow. योगी सरकार के ढाई साल के रिपोर्ट कार्ड पर सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने करारा हमला किया है। शुक्रवार उन्होंने प्रेस कांफ्रेस कर कहा कि डबल इंजन वाले सरकार अपेक्षा के प्रतिकूल बैलगाड़ी की रफ्तार से चल रही है। यही वजह है कि ढाई साल में सरकार ढाई कोस भी नहीं चल पाई है। उन्होंने प्रदेश की कानून व्यवस्था पर भी योगी सरकार पर जमकर निशाना साधा। कहा कि पिछले ढाई साल में प्रदेश के अंदर सबसे ज्यादा हत्याएं हुई है। प्रदेश में पुलिस हिरासत में मौतों का आकड़ा भी बढ़ा है।  

Images/19-09-2019152106Akhileshstau1.jpg

उन्होंने कहा कि प्रदेश की सरकार का कहना है कि अराजकता, लूट घसोट और असुरक्षा के माहौल से प्रदेश को युक्त कराया जबकि मीडिया ने लिख दिया मुक्त कराया। 
उन्होंने कानून व्यवस्था को लेकर भी योगी सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि सरकार झूठे आंकड़े पेश कर रही है। 
होम डिपार्टमेंट के आंकड़े सरकार से इतर है। कहा कि यूपी का कोई ऐसा जिला नहीं है जहां बच्चों के साथ घटनाएं न हुई हो। 
मनवाधिकार से सरकार को सबसे अधिक नोटिस मिली है। उन्होंने कहा कि प्रदेश से अपराध जिस तरह से बढ़ा है वह जग जाहिर है। 
सरकार आंकड़े होने के बावजूद उन्हें छिपाने का काम कर रही है। प्रदेश में बीते ढाई सालों में सबसे अधिक हत्याएं हुई हैं। 

 

यह भी पढ़ें...सीएम योगी से मिलने पहुंचे सपा के ये तीन बड़े नेता, बीजेपी में हो सकते हैं शामिल

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
शिक्षक बनने का एक और सुनहरा मौका, जल्द करें आवेदनhttps://www.newstimes.co.in/news/81663/भारत/Another-golden-opportunity-to-become-a-teacher-apply-soon902083Thu, 19 Sep 2019 00:00:00 GMTNAZO ALI SHEIKH<img src='http://newstimes.co.in/Images/19-09-2019145524Anothergolden1.jpg' alt='Images/19-09-2019145524Anothergolden1.jpg' /> बिहार सरकार ने शिक्षक बनने का सपना देख रहे अभ्यर्थियों को एक और मौका देते हुए आवेदन की तिथि बढ़ा दी है। अब अभ्यर्थी 25 सितंबर तक आवेदन कर सकेंगे। पहले आवेदन की तिथि 18 सितंबर ही निर्धारित थी।

शिक्षक बनने का एक और सुनहरा मौका, जल्द करें आवेदन

New Delhi. बिहार सरकार ने शिक्षक बनने का सपना देख रहे अभ्यर्थियों को एक और मौका देते हुए आवेदन की तिथि बढ़ा दी है। अब अभ्यर्थी 25 सितंबर तक आवेदन कर सकेंगे। पहले आवेदन की तिथि 18 सितंबर ही निर्धारित थी।

Images/19-09-2019145524Anothergolden1.jpg

बताते चलें कि बिहार स्कूल एजुकेशन बोर्ड (BSEB) ने शिक्षक के कई पदों पर आवेदन आमंत्रित किए हैं। भर्तियां कुल 37,335 पदों पर होनी है। अभ्यर्थी आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन कर सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए अभ्यर्थी अधिसूचना का अवलोकन करें।

यह भी पढ़ें... IND vs SA: मोहाली में आज होगा T-20 धमाका, किसी एक का टूटेगा रिकॉर्ड

बताते चलें कि वही अभ्यर्थी उक्त पदों पर आवेदन कर सकेंगे जिनकी न्यूनतम आयु 21 और अधिकतम आयु 40 वर्ष महिलाओं के लिए और 37 वर्ष पुरूषों के लिए निर्धारित है। अभ्यर्थी आवेदन से पहले अधिसूचना का अवलोकन ध्यान पूर्वक करें। ताकि किसी भी तरह की त्रुटियां आवेदन में नहीं हो। आवेदन में किसी भी तरह की त्रुटियां होने पर मान्य नहीं होगा।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
बबुली कोल गैंग का एक इनामी डकैत गिरफ्तारhttps://www.newstimes.co.in/news/81661/भारत/उत्तर-प्रदेश-/चित्रकूट/--पहाड़ी----कार्वी---बरगढ़----बहिलपुरवा--मऊ---मानिकपुर--मारकुण्डी----रैपुरा--राजपुर-A-prize-robber-of-Babuli-coal-gang-arrested902081Thu, 19 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/19-09-2019141930Aprizerobber2.jpg' alt='Images/19-09-2019141930Aprizerobber2.jpg' />आतंक का पर्याय बने बबुली कोल के खात्मे के बाद अब पुलिस ने उसके गिरोह के बाकी बचे सदस्यों की तलाश तेज कर दी है। इसी कड़ी में गुरूवार एसटीएफ और चित्रकूट पुलिस के हाथ एक और सफलता लगी है। पाठा के जंगलों इस संयुक्त टीम कई राउंड फायरिंग के बाद गिरोह के एक इनामी डकैत और असलहे बरामद किए है। 

बबुली कोल गैंग का एक इनामी डकैत गिरफ्तार

Lucknow. आतंक का पर्याय बने बबुली कोल के खात्मे के बाद अब पुलिस ने उसके गिरोह के बाकी बचे सदस्यों की तलाश तेज कर दी है। इसी कड़ी में गुरूवार एसटीएफ और चित्रकूट पुलिस के हाथ एक और सफलता लगी है। पाठा के जंगलों इस संयुक्त टीम कई राउंड फायरिंग के बाद गिरोह के एक इनामी डकैत और असलहे बरामद किए है। 

Images/19-09-2019141909Aprizerobber1.jpgImages/19-09-2019141930Aprizerobber2.jpg

यह भी पढ़ें...उन्नाव: करंट की चपेट में आकर दम्पति की मौत

 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
कश्मीर मुद्दे पर सोनिया गांधी के विरोध पर राम माधव ने दिया ऐसा बयान, मचेगा हंगामाhttps://www.newstimes.co.in/news/81660/भारत/ram-madhav-ke-bayan-par-machega-hungama902080Thu, 19 Sep 2019 00:00:00 GMTRAJNISH KUMAR<img src='http://newstimes.co.in/Images/19-09-2019130932rammadhavke1.JPG' alt='Images/19-09-2019130932rammadhavke1.JPG' />भारतीय जनता पार्टी के महासचिव राम माधव ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर निशाना साधा। उन्होंने फेसबुक पर कहा कि कश्मीर में पुलिस की कार्रवाई पर जिस प्रकार सोनिया गांधी विरोध जता रही हैं। यह ठीक वैसा ही है जैसा हैदराबाद के विलय के समय पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने किया था।

कश्मीर मुद्दे पर सोनिया गांधी के विरोध पर राम माधव ने दिया ऐसा बयान, मचेगा हंगामा

New Delhi. भारतीय जनता पार्टी के महासचिव राम माधव ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर निशाना साधा। उन्होंने फेसबुक पर कहा कि कश्मीर में पुलिस की कार्रवाई पर जिस प्रकार सोनिया गांधी विरोध जता रही हैं। यह ठीक वैसा ही है जैसा हैदराबाद के विलय के समय पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने किया था। भाजपा नेता ने कहा कि 1948 में तत्कालीन गृहमंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल ने हैदराबाद को भारत में विलय के लिए पुलिस कार्रवाई की थी, लेकिन उस दौरान नेहरू ने इसका विरोध किया था। आज सोनिया गांधी कश्मीर के मामले में वैसा ही कर रहीं है।

Images/19-09-2019130932rammadhavke1.JPG

कांग्रेस ने अनुच्छेद 370 को खत्म करने के सरकार के कदम की कड़ी निंदा की है। हालांकि कांग्रेस के कई नेता पार्टी के इस कदम के खिलाफ भी खड़े हुए हैं। राम माधव का यह बयान तब आया है जब तेलंगाना प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष एन. उत्तम कुमार रेड्‌डी ने कहा था कि हैदराबाद के विलय में जवाहरलाल नेहरू और सरदार वल्लभभाई पटेल ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। रेड्‌डी ने आरोप लगाया था कि हैदराबाद के भारत में विलय के इतिहास को भाजपा तोड़-मरोड़ रही है। उन्होंने कहा कि वह कांग्रेस और वाम दल ही थे, जो हैदराबाद राज्य के पाकिस्तान में विलय की योजना के खिलाफ मिलकर लड़े थे।

राम माधव ने कहा कि रेड्‌डी के इस प्रकार की बेवकूफी भरे बयान के कारण ही कांग्रेस पार्टी का आंध्र प्रदेश से पूरी तरह सफाया हो गया है और तेलंगाना में भी वह सफाए की तरफ हैं। मुझे नहीं पता कि यह व्यक्ति तेलंगाना की आजादी और प्रधानमंत्री नेहरू जैसे कांग्रेस के नेता की भूमिका के बारे में कितना जानता है। मुझे उम्मीद है कि तेलंगाना के कांग्रेस अध्यक्ष यह नहीं कहेंगे कि पटेल और के एम मुन्शी गुजराती थे इसलिए वे हैदराबाद के बारे में नहीं जानते। 17 सितंबर 1948 को हैदराबाद को भारत में विलय कर लिया गया था।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
अवैध क्लीनिक सीज होने से प्रधान पति तिलमिलायाhttps://www.newstimes.co.in/news/81662/भारत/उत्तर-प्रदेश-/लखनऊ/Head-husband-stunned-due-to-illegal-clinic-seas902082Thu, 19 Sep 2019 00:00:00 GMTLEKHRAM MAURYA<img src='http://newstimes.co.in/Images/19-09-2019142356Headhusbands1.jpg' alt='Images/19-09-2019142356Headhusbands1.jpg' />माल में मीडिया और किसान यूनियन के नाम पर अवैध क्लीनिक चलाने वाले प्रधान पति का क्लीनिक सीज कर दिया गया। शंकरपुर के पति उमेश कुमार सैदापुर में अवैध रूप से क्लीनिक चलाते हैं। उनकी अनुपस्थिति में मंजीत पुत्र महेश क्लीनिक चलाता है। जहां मरीजों को भर्ती किया जाता है।

अवैध क्लीनिक सीज होने से प्रधान पति तिलमिलाया

LUCKNOW. माल में मीडिया और किसान यूनियन के नाम पर अवैध क्लीनिक चलाने वाले प्रधान पति का क्लीनिक सीज कर दिया गया। शंकरपुर के उमेश कुमार सैदापुर में अवैध रूप से क्लीनिक चलाते हैं। उनकी अनुपस्थिति में मंजीत पुत्र महेश क्लीनिक चलाता है। जहां मरीजों को भर्ती किया जाता है। इन दोनोंं लोगों के पास किसी प्रकार की मेडिकल डिग्री नहीं है।

Images/19-09-2019142356Headhusbands1.jpg

सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र माल के अधीक्षक के नेतृत्व में सैदापुर चौराहे पर पहुंची टीम को मेडिकल स्टोर के सामने मरीज दवा लेकर निकलते हुए दिखाई दिए तो अंदर जाकर देखा जहां 4 मरीजों को ड्रिप लगी हुई थी। मंजीत दरवाजा बंद कर अंदर मरीजों को दवा दे रहा था। टीम के पहुंचने पर उसने मरीजों की बोतलें शौचालय में फेंंकनी शुरू कर दी। काफी कहने के बाद उसने दरवाजा खोला और तरह-तरह की बहस करने लगा। उसके पास क्लीनिक के पंजीकरण का कोई प्रमाण नहीं था।

उसने डा0 ओझा का क्लीनिक बताया, लेकिन डा0 ओझा ने फोन पर बात नहीं की। दूसरी ओर उमेश कुमार ने अपना क्लीनिक बताते हुए डा0 ओझा के बैठने की बात कही, लेकिन उमेश डा0 ओझा का पूरा नाम नहीं बता पाए। उन्होंंने अपने को किसान यूनियन का महामंत्री बताते हुए कहा कि वह सभी क्लीनिकों के खिलाफ कार्रवाई न होने पर धरना प्रदर्शन करेंगे। 

सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मााल के अधीक्षक के0डी0 मिश्रा ने कहा कि यह क्लीनिक पंजीकृत नहीं है। उन्हें एक दिन का मौका दिया है। यदि वे कागज दिखा देंगे तो क्लीनिक की चाभी दे दी जाएगी अन्यथा एफआईआर दर्ज करा दूंगा।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
विधानसभा चुनावों से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, पूर्व अध्यक्ष ने पार्टी छोड़ 'आप' का दामन थामाhttps://www.newstimes.co.in/news/81658/भारत/congress-ko-tagda-jhatka902078Thu, 19 Sep 2019 00:00:00 GMTRAJNISH KUMAR<img src='http://newstimes.co.in/Images/19-09-2019123821congresskota2.JPG' alt='Images/19-09-2019123821congresskota2.JPG' />झारखंड और दिल्ली में विधानसभा चुनावों से ठीक पहले कांग्रेस पार्टी को बड़ा झटका लगा है। दरअसल, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष रहे अजय कुमार ने आम आदमी पार्टी का दामन थाम लिया है।

विधानसभा चुनावों से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, पूर्व अध्यक्ष ने पार्टी छोड़ 'आप' का दामन थामा

New Delhi. झारखंड और दिल्ली में विधानसभा चुनावों से ठीक पहले कांग्रेस पार्टी को बड़ा झटका लगा है। दरअसल, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष रहे अजय कुमार ने आम आदमी पार्टी का दामन थाम लिया है। बता दें के अजय कुमार झारखंड कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ही नहीं कांग्रेस कद्दावर नेता माने जाते हैं।

Images/19-09-2019123753congresskota1.jpg

कांग्रेस के कद्दावर नेता रहे अजय कुमार ने आम आदमी पार्टी के नेता एवं उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया की मौजूदगी में पार्टी का दामन थाम लिया है। उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने अजय कुमार का स्वागत करते हुए कहा कि एक बहुत ही महत्वपूर्ण साथ हमारे साथ जुड़ रहे हैं।

वहीं, अजय कुमार ने कहा कि यही सच्चे अर्थों में आम आदमी की पार्टी है, जिसमें कोई भी शामिल हो सकता है।

Images/19-09-2019123821congresskota2.JPG

बता दें झारखंड में लोकसभा चुनावों में मिली हार के बाद अजय कुमार ने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के पद से इस्तीफा दे दिया था। उन्होंने पार्टी नेताओं पर भ्रष्टाचा में लिप्त होने का भी आरोप लगाया था।

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
पाक की नापाक साजिश: जेहादियों को दे रहा परमाणु युद्ध की ट्रेनिंगhttps://www.newstimes.co.in/news/81657/अन्तर्राष्ट्रीय/पड़ोसी-देश/Pakistans-nefarious-move:-giving-nuclear-war-training-to-jihadis902077Thu, 19 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/19-09-2019123537Pakistansnef2.jpg' alt='Images/19-09-2019123537Pakistansnef2.jpg' />पाकिस्तानी सेना और खुफिया एजेंसी आईएसआई मिलकर खतरनाक साजिश रच रहे है। यह साजिश दुनिया के लिए तो खतरा है कि साथ ही पाकिस्तान के लिए भी आत्मघाती साबित हो सकती है। खुफिया एजेंसियों को मिले इनपुट की माने तो पाकिस्तान में जेहादियों को परमाणु युद्ध का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। 

पाक की नापाक साजिश: जेहादियों को दे रहा परमाणु युद्ध की ट्रेनिंग

New Delhi. पाकिस्तानी सेना और खुफिया एजेंसी आईएसआई मिलकर खतरनाक साजिश रच रहे है। यह साजिश दुनिया के लिए तो खतरा है कि साथ ही पाकिस्तान के लिए भी आत्मघाती साबित हो सकती है। खुफिया एजेंसियों को मिले इनपुट की माने तो पाकिस्तान में जेहादियों को परमाणु युद्ध का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। 

Images/19-09-2019123415Pakistansnef1.jpgImages/19-09-2019123537Pakistansnef2.jpg


पाकिस्तान में ग्वादर और बलूचिस्तान समेत तीन अन्य स्थानों ये प्रशिक्षण केंद्र बनाए गए हैं। जिन पर पाकिस्तान ने 912 मिलियन डॉलर खर्च किए हैं। 
इनके अलावा सीपीईसी में ही पाकिस्तान और चीन का संयुक्त उपक्रम अर्ली वार्निंग सिस्टम बनाने का प्रशिक्षण केंद्र भी है। 
इसके अलावा आतंक का इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार करने के लिए चीन को भरोसे में लेकर पाकिस्तान ग्वादर से तुरबत इलाके और बलूचिस्तान के खुजदर तक सड़क भी बनावा हरा है। 
सोंचने की बात यह है कि सिर्फ तबाही के बारे में सोंचने वाले आतंकियों के हाथ अगर परमाणु हथियार लग गए ​तो दुनिया का क्या होगा। 
यूं तो परमाणु शक्ति वाले देशों के तमाम अंतर्राष्ट्रीय बंदिशे है जिसके चलते परमाणु युद्ध थमे रहते हैं। पर आतंकियों के पास ऐसी कोई बंदिश नहीं है। 
खास तौर से पाकिस्तान को इस काम में मदद कर रहे चीन के लिए यह कदम आत्मघाती शाबित हो सकता है। 
ऐसा इसलिए है कि पाकिस्तान इन प्रशिक्षित जेहादियों का इस्तेमाल चीन में उइगर मुस्लिमों की मदद के लिए भी कर सकता है। 

यह भी पढ़ें...सऊदी का तेल संकट पहुंचा भारत, पेट्रोल-डीजल के दामों में तेज उछाल

 


 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
BIGG BOSS 13: में एक बार फिर शादी रचाएंगी रश्मि देसाई, इस एक्टर के सिर बंधेगा शेहराhttps://www.newstimes.co.in/news/81655/भारत/BIGG-BOSS-13:-Rashmi-Desai-will-get-married-once-again-this-actor-will-be-beheaded-by-Shehra902075Thu, 19 Sep 2019 00:00:00 GMTNAZO ALI SHEIKH<img src='http://newstimes.co.in/Images/19-09-2019113457BIGGBOSS131.jpg' alt='Images/19-09-2019113457BIGGBOSS131.jpg' />टीवी का बहुचर्चित रियलिटी शो बिग बॉस 13 में एक से बढ़कर एक सेलेब्रिटीज नजर आने वाले हैं। वहीं शो में उतरन से नाम कमाने वाली एक्ट्रेस रश्मि देसाई भी शो में बड़ा धमाका करते नजर आने वाली हैं। इस शो से जुड़ी पहले भी कई खबरें आ चुकी हैं, अब ऐसी खबरें आ रही हैं कि रश्मि देसाई इस साल बिग बॉस शो में अपने बॉयफ्रेंड संग दोबारा शादी रचाने वाली हैं। जिससे यह कहा सकता है कि टीआरपी पर गहरा असर पड़ेगा। 

BIGG BOSS 13: में एक बार फिर शादी रचाएंगी रश्मि देसाई, इस एक्टर के सिर बंधेगा शेहरा

Mumbai. टीवी का बहुचर्चित रियलिटी शो बिग बॉस 13 में एक से बढ़कर एक सेलेब्रिटीज नजर आने वाले हैं। वहीं शो में उतरन से नाम कमाने वाली एक्ट्रेस रश्मि देसाई भी शो में बड़ा धमाका करते नजर आने वाली हैं। इस शो से जुड़ी पहले भी कई खबरें आ चुकी हैं, अब ऐसी खबरें आ रही हैं कि रश्मि देसाई इस साल बिग बॉस शो में अपने बॉयफ्रेंड संग दोबारा शादी रचाने वाली हैं। जिससे यह कहा सकता है कि टीआरपी पर गहरा असर पड़ेगा। 

Images/19-09-2019113457BIGGBOSS131.jpg

बताते चलें कि कुछ दिन पहले खबरें आईं थीं कि रश्मि अपने ब्वॉयफ्रेंड अरहान खान के साथ शो में एंट्री लेंगी। अब एक मीडिया चैनल में यह खबर आई है कि रश्मि शो में अपने ब्वॉयफ्रेंड संग शादी करने वाली हैं। इससे पहले भी शो में सारा खान और मोनालिसा की शादी करवाई जा चुकी है। 

गौरतलब हो की रश्मि देसाई ने कलर्स टीवी के पॉपुलर शो उतरन से फेम हासिल किया था। उन्होंने अपने को-स्टार नंदीश संधु से 12 फरवरी 2012 में शादी कर ली थी। लेकिन किसी कारण उनके रिश्तें में खटास आ गई और दोनों ने साल 2017 में एक-दूसरे से अलग होने का फैसला किया। फिलहाल रश्मि एक साल से अरहान खान को डेट कर रही हैं। अरहान एक डायमंड व्यापारी हैं जो अप एक्टिंग की तरफ अपना रुख कर चुके हैं और बिग बॉस में नजर आने वाले हैं। 

यह भी पढ़ें... BIGG BOSS 13: इंतजार की घड़ियां खत्म, बिग बॉस करने जा रहे हैं ये बड़ा ऐलान...

इन दोनों की ऑनस्क्रीन शादी की खबर में कितनी सच्चाई है ये तो अब शो देखने के बाद ही पता चलने वाला है। इसी तरह इस सीज़न को पहले से ज्यादा मसालेदार बनाने के लिए शो में कई दिलचस्प बदलाव किए जा रहे हैं।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
नवनीत सहगल ने किया सिल्क मार्क एक्सपो 2019 का उद्घाटनhttps://www.newstimes.co.in/news/81659/भारत/उत्तर-प्रदेश-/लखनऊ/-Navneet-Sehgal-inaugurates-Silk-Mark-Expo-2019902079Thu, 19 Sep 2019 00:00:00 GMTLEKHRAM MAURYA<img src='http://newstimes.co.in/Images/19-09-2019130157NavneetSehgal1.jpg' alt='Images/19-09-2019130157NavneetSehgal1.jpg' />उत्तर प्रदेश के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम, खादी एवं ग्रामोद्योग तथा निर्यात प्रोत्साहन विभाग के प्रमुख सचिव डा0 नवनीत सहगल ने कैसरबाग स्थित ‘‘एक्सपो मार्ट’’ निर्यात प्रोत्साहन भवन में केन्द्रीय रेशम बोर्ड द्वारा आयोजित छः दिवसीय ‘‘सिल्क मार्क एक्सपो’’ का शुभारम्भ किया। इस अवसर पर उत्तर प्रदेश के निदेशक रेशम नरेन्द्र सिंह पटेल भी मौजूद थे।

नवनीत सहगल ने किया सिल्क मार्क एक्सपो 2019 का उद्घाटन

LUCKNOW. उत्तर प्रदेश के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम, खादी एवं ग्रामोद्योग तथा निर्यात प्रोत्साहन विभाग के प्रमुख सचिव डा0 नवनीत सहगल ने कैसरबाग स्थित ‘‘एक्सपो मार्ट’’ में केन्द्रीय रेशम बोर्ड द्वारा आयोजित छः दिवसीय ‘‘सिल्क मार्क एक्सपो’’ का शुभारम्भ किया। इस अवसर पर उत्तर प्रदेश के निदेशक रेशम नरेन्द्र सिंह पटेल भी मौजूद थे।

Images/19-09-2019130157NavneetSehgal1.jpg

एक्सपो के शुभारम्भ के पश्चात डा0 सहगल ने मीडिया प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि इस प्रकार की प्रदर्शनी लगाने का मुख्य उद्देश्य कारीगरों को बढ़ावा देना है। हस्तशिल्पियों एवं कारीगरों की कला को विश्वस्तर पर पहचान दिलाने और विपणन की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए राज्य सरकार कृत संकल्पित है। उन्होंने कहा कि लखनऊ सिल्क मार्क एक्सपो में पूरे देश के सिल्क उत्पादकों के 11 सिल्क क्लस्टरों द्वारा बहुत सारी विविधताओं एवं रंगों के सिल्क उत्पादों का प्रदर्शन किया गया। सभी प्रकार के सिल्क उत्पाद जैसे साड़ी, ड्रेस मैटेरियल, रूमाल, वस्त्र, बेडशीट्स, तकिया कवर व अन्य रेशम उत्पाद भारत के सभी रेशम बुनाई बहुल क्षेत्रों द्वारा निर्मित उत्पादकों को एक ही छत के नीचे प्रदर्शित किया गया। इंडियन सिल्क की शुद्वता से सभी ग्राहकों को परचित कराया जायेगा।

निदेशक रेशम नरेन्द्र सिंह पटेल ने बताया कि केन्द्रीय रेशम बोर्ड, वस्त्र मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा संचालित सिल्क मार्क आर्गनाइजेशन आफ इंडिया“ द्वारा सिल्क मार्क एक्सपो के तहत, जो ग्राहक सिल्क के प्रति रूचि रखते हैं, उनके मध्य शुद्व रेशम के प्रति जागरूकता उत्पन्न करने के लिए गम्भीर प्रयास किये जा रहे है। ऐसे एक्सपो भारतीय रेशम को ब्राण्ड इमेज प्रस्तुत करने के अलावा बुनकरों, सोेसाइटी, महिला उद्यमी एवं व्यापारियों हेतु एक बड़ा प्लेटफार्म भी उपलब्ध कराते है।

मुख्य कार्यकारी अधिकारी भारतीय रेशम मार्क संगठन के0एस0 गोपाल ने बताया कि लखनऊ में सिल्क मार्क एक्सपो 2019 के आयोजन का मुख्य उद्देश्य सिल्क मार्क जो रेशम की शुद्धता की पहचान है के द्वारा गुणवत्ता परख के साथ ग्राहकों को सौ प्रतिशत शुद्व रेशम से निर्मित उत्पाद को उपलब्ध कराना है। साथ ही एवं सम्पूर्ण भारत वर्ष में विभिन्न सिल्क क्लस्टर से निर्मित सभी चार प्रकार के रेशम (मलबरी, तसर, एरी व मूगा) को उन्नत करना है।

एक्सपो के शुभारम्भ के पश्चात डा0 सहगल ने मीडिया प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि इस प्रकार की प्रदर्शनी लगाने का मुख्य उद्देश्य कारीगरों को बढ़ावा देना है। हस्तशिल्पियों एवं कारीगरों की कला को विश्वस्तर पर पहचान दिलाने और विपणन की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए राज्य सरकार कृत संकल्पित है। उन्होंने कहा कि लखनऊ सिल्क मार्क एक्सपो में पूरे देश के सिल्क उत्पादकों के 11 सिल्क क्लस्टरों द्वारा बहुत सारी विविधताओं एवं रंगों के सिल्क उत्पादों का प्रदर्शन किया गया। सभी प्रकार के सिल्क उत्पाद जैसे साड़ी, ड्रेस मैटेरियल, रूमाल, वस्त्र, बेडशीट्स, तकिया कवर व अन्य रेशम उत्पाद भारत के सभी रेशम बुनाई बहुल क्षेत्रों द्वारा निर्मित उत्पादकों को एक ही छत के नीचे प्रदर्शित किया गया। इंडियन सिल्क की शुद्वता से सभी ग्राहकों को परचित कराया जायेगा।

निदेशक रेशम नरेन्द्र सिंह पटेल ने बताया कि केन्द्रीय रेशम बोर्ड, वस्त्र मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा संचालित सिल्क मार्क आर्गनाइजेशन आफ इंडिया“ द्वारा सिल्क मार्क एक्सपो के तहत, जो ग्राहक सिल्क के प्रति रूचि रखते हैं, उनके मध्य शुद्व रेशम के प्रति जागरूकता उत्पन्न करने के लिए गम्भीर प्रयास किये जा रहे है। ऐसे एक्सपो भारतीय रेशम को ब्राण्ड इमेज प्रस्तुत करने के अलावा बुनकरों, सोेसाइटी, महिला उद्यमी एवं व्यापारियों हेतु एक बड़ा प्लेटफार्म भी उपलब्ध कराते है।

मुख्य कार्यकारी अधिकारी भारतीय रेशम मार्क संगठन के0एस0 गोपाल ने बताया कि लखनऊ में सिल्क मार्क एक्सपो 2019 के आयोजन का मुख्य उद्देश्य सिल्क मार्क जो रेशम की शुद्धता की पहचान है के द्वारा गुणवत्ता परख के साथ ग्राहकों को सौ प्रतिशत शुद्व रेशम से निर्मित उत्पाद को उपलब्ध कराना है। साथ ही एवं सम्पूर्ण भारत वर्ष में विभिन्न सिल्क क्लस्टर से निर्मित सभी चार प्रकार के रेशम (मलबरी, तसर, एरी व मूगा) को उन्नत करना है।

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
उन्नाव: करंट की चपेट में आकर दम्पति की मौतhttps://www.newstimes.co.in/news/81656/भारत/उत्तर-प्रदेश-/उन्नाव/-कोतवाली-Unnao:-Couple-dies-due-to-electric-shock902076Thu, 19 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/19-09-2019115212Jb0BtsDilg.jpg' alt='Images/19-09-2019115212Jb0BtsDilg.jpg' />सुबह सवेरे फूल तोड़ने निकले माली दम्पति की एलटी लाइन की चपेट में आकर मौत हो गयी। घटना अजगैन कोतवाली क्षेत्र के मद्दूखेड़ा गांव की है। पुलिस ने दोनों के शवों को पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया है। 

उन्नाव: करंट की चपेट में आकर दम्पति की मौत

Unnao. सुबह सवेरे फूल तोड़ने निकले माली दम्पति की एलटी लाइन की चपेट में आकर मौत हो गयी। घटना अजगैन कोतवाली क्षेत्र के मद्दूखेड़ा गांव की है। पुलिस ने दोनों के शवों को पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया है। 
मिली जानकारी के अनुसार अजगैन कोतवाली क्षेत्र के मद्दूखेड़ा गांव में रहने नन्हक्के (40) मुन्नीलाल माली का काम करता है। 

Images/19-09-2019113810UnnaoCouple1.jpgImages/19-09-2019113842UnnaoCouple2.jpg

पति पत्नी की एक साथ हुई मौत पूरे गांव में कोहराम मच गया। लोगों ने बिजली विभाग के प्रति भी नारजगी जाहिर की है। 
परिजनों से स्वास्थ्य केंद्र में बिजली विभाग पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाते हुए हंगामा शुरू कर दिया। 
हंगामें की सूचना पर विधायक बृजेश रावत, जिलाधिकारी देवेंद्र कुमार पांडेय, पुलिस अधीक्षक एमपी वर्मा भी स्वास्थ्य केंद्र पहुंच गए। 

Images/19-09-2019115212Jb0BtsDilg.jpg

ब्लाक प्रमुख अरूण सिंह और नवाबगंज के नगर पंचायत अध्यक्ष दिलीप लश्करी ने भी परिजनों के प्रति सांत्वना व्यक्त की।

यह भी पढ़ें...चिन्मयानंद केस: न्याय न मिलने पर पीड़िता ने दी आत्मदाह की धमकी

 

 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
टीवी के दाम होंगे कम, सरकार ने हटाया आयात शुल्कhttps://www.newstimes.co.in/news/81654/भारत/TV-prices-will-be-lower-government-removed-import-duty902074Thu, 19 Sep 2019 00:00:00 GMTNAZO ALI SHEIKH<img src='http://newstimes.co.in/Images/19-09-2019111339TVpriceswill1.jpg' alt='Images/19-09-2019111339TVpriceswill1.jpg' />त्योहारों के पहले ही पीएम नरेन्द्र मोदी सरकार ने लोगों को खुश करते हुए टीवी के दामों को कम करने का फैसला किया है। सरकार ने ओपन सेल एलईडी टीवी पैनल पर आयात शुल्क समाप्त कर दिया है। इसके पहले पांच फीसदी आयात शुल्क देना पड़ता था।

टीवी के दाम होंगे कम, सरकार ने हटाया आयात शुल्क

New Delhi. त्योहारों के पहले ही पीएम नरेन्द्र मोदी सरकार ने लोगों को खुश करते हुए टीवी के दामों को कम करने का फैसला किया है। सरकार ने ओपन सेल एलईडी टीवी पैनल पर आयात शुल्क समाप्त कर दिया है। इसके पहले पांच फीसदी आयात शुल्क देना पड़ता था। बता दें कि मंगलवार को सरकार ने इसके लिए निर्देश भी जारी कर दिया है।

Images/19-09-2019111339TVpriceswill1.jpg

बताते चलें कि ओपन सेल की बात की जाए तो एलईडी टीवी पैनल टीवी उत्पादन में सबसे अहम है। टीवी प्रोडक्शन कॉस्ट में इसका हिस्सा 65 से 70 फीसदी तक होता है, लेकिन सरकार के द्वारा आयात शुल्क हटा लेने पर अब टीवी सेट सस्ते दामों में मिलेंगे। 

ज्ञात हो कि देश में टीवी बिक्री को लेकर 60 से 65 फीसदी का निर्माण किया जाता है। बता दें कि सरकार 32 इंच तक के टीवी पर 18 फीसदी तक GST भी लेती है। वहीं, इससे बड़े टीवी पर 28 फीसदी टैक्स देना होता है।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
सीएम योगी से मिलने पहुंचे सपा के ये तीन बड़े नेता, बीजेपी में हो सकते हैं शामिलhttps://www.newstimes.co.in/news/81653/भारत/उत्तर-प्रदेश-/CM-Yogi-se-mine-pahunche-ye-3-neta902073Thu, 19 Sep 2019 00:00:00 GMTRAJNISH KUMAR<img src='http://newstimes.co.in/Images/19-09-2019110001CMYogisemin2.jpg' alt='Images/19-09-2019110001CMYogisemin2.jpg' />समाजवादी पार्टी के तीन विधान परिषद सदस्यों (एमएलसी) ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की।

सीएम योगी से मिलने पहुंचे सपा के ये तीन बड़े नेता, बीजेपी में हो सकते हैं शामिल

Lucknow. समाजवादी पार्टी के तीन विधान परिषद सदस्यों (एमएलसी) ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की। मुलाकात के बाद से अटकलों का दौर जारी है। माना जा रहा है कि तीनों एमएलसी भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो सकते हैं। 

Images/19-09-2019105929CMYogisemin1.jpg

समाजवादी पार्टी नेता एवं हमीरपुर से एमएलसी रमेश मिश्र, बलिया से रविशंकर सिंह और महाराजगंज से सीपी चंद ने मुख्यमत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की। इन नेताओं की मुलाकात के बाद से अटकलों का दौर गरम है। माना जा रहा है कि ये तीनों नेता जल्द ही सपा से इस्तीफा देकर बीजेपी में शामिल हो सकते हैं। 

Images/19-09-2019110001CMYogisemin2.jpg

वहीं, बीजेपी विधान परिषद में पर्याप्त संख्या बल जुटाने की कोशिशों में लगी है, इन नेताओं की मुलाकात को एक रणनीति के तौर पर देखा जा रहा है। बता दें कि इससे पहले कई सपा नेताओं ने बीजेपी का दामन थाम लिया है। 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
चिन्मयानंद केस: न्याय न मिलने पर पीड़िता ने दी आत्मदाह की धमकीhttps://www.newstimes.co.in/news/81652/भारत/उत्तर-प्रदेश-/Chinmayanand-case:-victim-threatened-self-immolation-for-not-getting-justice902072Thu, 19 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/19-09-2019103941Chinmayanandc2.jpg' alt='Images/19-09-2019103941Chinmayanandc2.jpg' />यौन शोषण के मामले में फंसे पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री चिन्मयानंद की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। स्वामी पर गंभीर आरोप लगाने वाली छात्रा ने अब चेतावनी दी है कि अगर उसे इंसाफ नहीं मिला तो वह आत्मदाह कर लेगी। पीड़िता ने एसआईटी जांच पर भी सवाल उठाए है उसका कहना है कि आखिर चिन्मयानंद की गिरफ्तारी कब होगी। 

चिन्मयानंद केस: न्याय न मिलने पर पीड़िता ने दी आत्मदाह की धमकी

Lucknow. यौन शोषण के मामले में फंसे पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री चिन्मयानंद की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। स्वामी पर गंभीर आरोप लगाने वाली छात्रा ने अब चेतावनी दी है कि अगर उसे इंसाफ नहीं मिला तो वह आत्मदाह कर लेगी। पीड़िता ने एसआईटी जांच पर भी सवाल उठाए है उसका कहना है कि आखिर चिन्मयानंद की गिरफ्तारी कब होगी। 
पूर्व केंद्रीय मंत्री पर आरोप लगाने वाली छात्रा का कहना है कि उसे और उसके परिवार को इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी जा रही है कि कार्रवाई कहां तक बढ़ रही है।

Images/19-09-2019103922Chinmayanandc1.jpg

छात्रा ने कहा कि उसने चिन्मयानंद के खिलाफ सारे पुख्ता सबूत एसआईटी को सौंप दिए है बावजूद इसके अभी पर स्वामी की गिरफ्तारी नहीं की गयी है।

उसने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर उसके साथ सरकार ने न्याय नहीं किया तो इतनी बदनामी झेलने के बाद उसके पास आत्मदाह के अलावा कोई रास्ता नहीं होगा। 
ज्ञात हो कि शाहजहांपुर के एक लॉ कॉलेज की एलएलएम की छात्रा ने बीती 24 अगस्त को फेसबुक पर वीडियो साझा करते हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद पर यौन शोषण के गंभीर आरोप लगाए थे। 
इसके ठीक बाद छात्रा लापता हो गयी थी। परिजनों ने उसके अपहरण का मामला दर्ज कराया था। मामले को तूल पकड़ता देख हरकत में आयी यूपी पुलिस ने बीती 30 अगस्त को उसे राजस्थान के अलवर से ढूंढ निकाला था। 

Images/19-09-2019103941Chinmayanandc2.jpg

 

यह भी पढ़ें...राहुल गांधी का पीएम मोदी पर तंज, कहा Howdy इकॉनामी


 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
मायावती का ये करीबी निकला विभीषण, विधायकों के पार्टी छोड़ने का खुला राज...https://www.newstimes.co.in/news/81651/भारत/This-close-relation-of-Mayawati-turned-out-to-be-Vibhishan-open-secret-of-MLAs-leaving-the-party-902071Thu, 19 Sep 2019 00:00:00 GMTNAZO ALI SHEIKH<img src='http://newstimes.co.in/Images/19-09-2019101001Thiscloserel1.jpg' alt='Images/19-09-2019101001Thiscloserel1.jpg' />कांशीराम के बाद बहुजन समाज पार्टी की बागडोर संभालने वाली बसपा सुप्रीमों लगातार साजिश का शिकार होती रही हैं। ऐसा पहली बार नहीं हुआ है यह पिछले 16 सालों से होता आ रहा है। जब भी लगता है की बसपा पार्टी अब मजबूती से खड़ी है तभी मायावती को धोका देकर पार्टी का कोई न कोई नेता उनका साथ छोड़ जाता है या कभी पार्टी से निष्कासित कर दिया जाता है।

मायावती का ये करीबी निकला विभीषण, विधायकों के पार्टी छोड़ने का खुला राज...

Lucknow. कांशीराम के बाद बहुजन समाज पार्टी की बागडोर संभालने वाली बसपा सुप्रीमों लगातार साजिश का शिकार होती रही हैं। ऐसा पहली बार नहीं हुआ है यह पिछले 16 सालों से होता आ रहा है। जब भी लगता है की बसपा पार्टी अब मजबूती से खड़ी है तभी मायावती को धोका देकर पार्टी का कोई न कोई नेता उनका साथ छोड़ जाता है या कभी पार्टी से निष्कासित कर दिया जाता है। 

Images/19-09-2019101001Thiscloserel1.jpg

  डेढ़ महीने पहले लिखी गई थी पटकथा

राजस्थान में 6 बसपा विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने का ऐलान तो अभी हुआ है लेकिन यह कहानी तो डेढ़ महीने पहले ही लिख दी गई थी। जिसमें मायावती के करीबी नेता नदबई विधानसभा सीट के बसपा सांसद जोगिंदर अवाना ने विभीषण का काम किया है। 

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने इसमें खास भूमिका निभा। एक मीडिया चैनल में छपी खबर के अनुसार मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के घर पर एक अगस्त को रात्रिभोज के समय इस षडयंत्र की शुरुआत हुई थी और 7 सितंबर को डिप्डी सीएम सचिन पायलट की मंजूरी के बाद इस पर आखिरी मुहर लगाई गई। इसके बाद सभी 6 बसपा विधायकों ने कांग्रेस के खेमें में शामिल होने का फैसला कर लिया। 

   बसपा को नहीं लगी भनक

मुख्यमंत्र अशोक  गहलोत के अपने घर में सभी बसपा विधायकों को रात्रिभोज दिया गया, जिसमें बसपा विधायक जोगिंदर अवाना भी सपरिवार शामिल हुए थे।  यहां से शुरु बातचीत का सिलसिला पार्टी छोड़ने पर जाकर रुका। अवाना धीरे-धीरे कांग्रेस खेमे के साथ नजर आने लगे, लेकिन बसपा को इसकी भनक तक नहीं लगने दी। वहीं 19 अगस्त को पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने जब राजस्थान से राज्यसभा सदस्य पद के लिए नामांकन भरा तो जोगिंदर अवाना उनके प्रस्तावक बने। 21 अगस्त को पूर्व पीएम राजीव गांधी की 75वीं जयंती पर जयपुर में हुए कार्यक्रम में भी जोगिंदर अवाना समर्थकों संग नजर आए। फिर 7 सितंबर को सपरिवार सचिन पायलट के घर उनको जन्मदिन की बधाई देने पहुंचे। इसी दिन बसपा विधायकों के कांग्रेस में शामिल होने पर अंतिम मुहर लगी और 16 सितंबर को सभी बसपा विधायकों के कांग्रेसे में शामिल होने का ऐलान हो गया। 

  पार्टी छोड़ने की वजह

पार्टी छोड़ने के पीछे बसपा सांसदों ने यह वजह बताई है कि पार्टी हाईकमान की नीतियों के चलते बसपा विधायकों ने कांग्रेसी खेमें में जाने का मन बनाया लिया। निकाय चुनावों में चल रही लापरवाही से नाराज जोगिंदर अवाना ने कई बार बसपा सुप्रीमों से मिलने की कोशिश की, लेकि उनसे मिलने नहीं दिया गया। विधायक अवाना ने कहा कि बसपा में क्वार्डिनेटर हावी हो चुके हैं वह जनप्रतिनिधियों की भी आवाज पार्टी मुखिया तक नहीं जाने देते। 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
राहुल गांधी का पीएम मोदी पर तंज, कहा Howdy इकॉनामी https://www.newstimes.co.in/news/81649/भारत/दिल्ली/Rahul-Gandhis-taunt-on-PM-Modi-said-Howdy-economy902069Thu, 19 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/19-09-2019092915RahulGandhis1.JPG' alt='Images/19-09-2019092915RahulGandhis1.JPG' />ह्यूस्टन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रस्तावित कार्यक्रम 'हाउडी मोदी' पर कांग्रेस नेता व पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कटाक्ष किया है। उन्होंने ट्वीट के जरिए इस कार्यक्रम पर तंज कसते हुए प्रधानमंत्री मोदी से सवाल किया है कि अर्थव्यवस्था की क्या स्थिति है? इस पर भी कुछ बताएं। 

राहुल गांधी का पीएम मोदी पर तंज, कहा Howdy इकॉनामी

New Delhi. ह्यूस्टन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रस्तावित कार्यक्रम 'हाउडी मोदी' पर कांग्रेस नेता व पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कटाक्ष किया है। उन्होंने ट्वीट के जरिए इस कार्यक्रम पर तंज कसते हुए प्रधानमंत्री मोदी से सवाल किया है कि अर्थव्यवस्था की क्या स्थिति है? इस पर भी कुछ बताएं। 

Images/19-09-2019092935RahulGandhis2.jpgImages/19-09-2019093004RahulGandhis3.jpg

जिस पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कड़ा प्रहार करते हुए पीएम मोदी से ट्वीट के जरिए अर्थव्यवस्था की स्थिति पर सवाल किया है। 
अपने ट्वीट में एक खबर का हवाला देते हुए राहुल गांधी ने सवाल किया 'हाउडी' इकॉनामी डूइंग? राहुल गांधी ने अपने ट्वीट के साथ जो खबर साझा की है उसके हिसाब से अंतर्राष्ट्रीय निवेशकों का मोदी सरकार लगातार भरोसा खोती जा रही है। 

Images/19-09-2019092915RahulGandhis1.JPG


यह भी पढ़ें...दिल्ली: आज न तो टैक्सी और न आटो, जानिए क्या है वजह

 

 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
पंचायत में नकली भूत को लेकर विवाद, मचा हड़कंपhttps://www.newstimes.co.in/news/81644/भारत/Controversy-over-fake-ghost-in-Panchayat-stir902064Wed, 18 Sep 2019 00:00:00 GMTNAZO ALI SHEIKH<img src='http://newstimes.co.in/Images/18-09-2019174511Controversyov1.JPG' alt='Images/18-09-2019174511Controversyov1.JPG' />यूपी के ग्रामीण इलाकों में अंधविश्वास रुकने का नाम नहीं ले रहा है। मऊ जनपद के रतनपुरा इलाके के दक्षिणांचल में प्रवाहित होने वाली टोंस नदी के किनारे दो पटटीदारों के बीच आपस में भूत निकाला को लेकर विवाद चल रहा था।

पंचायत में नकली भूत को लेकर विवाद, मचा हड़कंप

यूपी के ग्रामीण इलाकों में अंधविश्वास रुकने का नाम नहीं ले रहा है। मऊ जनपद के रतनपुरा इलाके के दक्षिणांचल में प्रवाहित होने वाली टोंस नदी के किनारे दो पटटीदारों के बीच आपस में भूत निकाला को लेकर विवाद चल रहा था। जिसको लेकर पंचायत बुलाई गई। पंचायत में दोनों ही पक्षों के साथ ओझा और सोखा भी मौजूद थे। जब ग्रामीणों को इस बात की जानकारी मिली तो बड़ी संख्या में पहुंच गए।

Images/18-09-2019174511Controversyov1.JPG

गहमागहमी भरे माहौल में भूत निकाला को लेकर पंचयात शुरू की गई। दोनों ही पक्षों ने एक दूसरे पर भूत निकाला को लेकर आरोप प्रत्यारोप लगाए। इसके बाद पंचायत की मध्यस्थता में दोनों पक्षों ने अपना अपना भूत वापस लेने की बात मानी। जब सोखा ने दूसरे पक्ष को अपना भूत लेने को कहा तो नकली भूत की बात लेकर भिडंत हो गई।

खबरों के मुताबिक पंचायत में ही एक पक्ष के सोखा ने तंत्र मंत्र कर कुछ अपने हाथ में रखा और दूसरे पक्ष को दे दिया। उसने कहा कि यह भूत आपका है, इसे ले लो। इस पर दूसरे पक्ष ने कहा कि यह भूत तो नकली है। इसी बात को दोनों ही पक्षों में विवाद शुरू हो गया। विवाद इतना अधिक बढ़ गया कि दोनों ही पक्षों ने धमकियां देनी शुरू कर दी।

मामला गंभीर होता देख किसी ने डायल 100 को फोन कर इसकी जानकारी दे दी। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस के पहुंचते ही ओझा और सोखा भूत लेकर भाग निकले। इसके बाद भीड़ भी चलता बनी। पुलिस ने दोनों ही पक्षों को थाने में लाकर कार्रवाई शुरू कर दी।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
जानिए क्या होती है ई-सिगरेट, जिस पर सरकार ने लगाया प्रतिबंधhttps://www.newstimes.co.in/news/81642/भारत/अन्य-राज्यों-से/What-is-an-e-cigarette-ban902062Wed, 18 Sep 2019 00:00:00 GMTABHIMANYU VERMA <img src='http://newstimes.co.in/Images/18-09-2019162008Whatisane-c1.jpg' alt='Images/18-09-2019162008Whatisane-c1.jpg' />केंद्र की मोदी सरकार ने देश में ई-सिगरेट पर पाबंदी का फैसला लिया है। यह पाबंदी पीएम नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को हुई बैठक में कैबिनेट के बाद लगायी गयी है। बैठक में कैबिनेट ने भारत में ई-सिगरेट के उत्पादन, बेचने, इंपोर्ट, एक्सपोर्ट, ट्रांसपोर्ट, बिक्री, डिस्ट्रीब्यूशन, स्टोरेज और विज्ञापन पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। 

जानिए क्या होती है ई-सिगरेट, जिस पर सरकार ने लगाया प्रतिबंध

New Delhi. केंद्र की मोदी सरकार ने देश में ई-सिगरेट पर पाबंदी का फैसला लिया है। यह फैसला पीएम नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को हुई बैठक में कैबिनेट के बाद लिया गया। बैठक में भारत में ई-सिगरेट के उत्पादन, बेचने, इंपोर्ट, एक्सपोर्ट, ट्रांसपोर्ट, बिक्री, डिस्ट्रीब्यूशन, स्टोरेज और विज्ञापन पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। 

Images/18-09-2019162008Whatisane-c1.jpg

क्या होती है ई-सिगरेट?

यह एक तरह का इलेक्ट्रॉनिक इनहेलर होता है, जिसमें निकोटिन और अन्य रसायनयुक्त तरल भरे जाते हैं। इसमें लगी बैट्री की पवार से लिक्विड भाप में बदल जाता है, जिससे लोग सिगरेट की तरह पीते हैं। 

बता दें कि ऐसे उपकरणों जिनका प्रयोग किसी घोल को गर्म कर एरोसोल बनाने के लिए किया जाता है, जिसमें विभिन्न स्वाद भी होते हैं। उन्हें ईएनडीएस कहा जाता है।  

यह भी पढ़ें:-...यूपी: पोषाहार घोटाले में योगी सरकार की बड़ी कार्रवाई, 28 कर्मचारियों पर गिरी गाज

ई-सिगरेट में जिस लिक्विड का इस्तेमाल किया जाता है, वह कई बार निकोटिन होता है और कई बार उससे भी ज्यादा खतरनाक कैमिकल होते हैं। इसके अलावा कुछ ब्रांड्स ई-सिगरेट में फॉर्मलडिहाइड का इस्तेमाल करते हैं, जो बेहद खतरनाक और कैंसरकारी तत्व हैं। 

इसका सेवन करने से व्यक्ति को डिप्रेशन होने की संभावना दोगुनी हो जाती है एक रिसर्च के मुताबिक जो ई सिगरेट का इस्तेमाल करने वाले व्यक्ति में हार्ट अटैक का खतरा 56 प्रतिशत तक बढ़ जाता है। वहीं लंबे समय तक इसका सेवन करने से ब्लड क्लॉट की समस्या भी उत्पन्न हो सकती है।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
यूपी: 60 शिक्षकों के एक साथ निलंबन से मचा हड़कंप, जानिए क्या है पूरा मामलाhttps://www.newstimes.co.in/news/81640/भारत/उत्तर-प्रदेश-/UP:-simultaneous-suspension-of-60-teachers-creates-chaos-know-what-is-the-whole-matter902059Wed, 18 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/18-09-2019154622UPsimultaneo2.jpg' alt='Images/18-09-2019154622UPsimultaneo2.jpg' />यूपी के मथुरा जिले में फर्जी बीएड डिग्री के सहारे सरकारी अध्यापक की नौकरी करने वाले 60  शिक्षकों को निलंबित करने की कार्रवाई से महकमे में हड़कम्प मच गया है। बीएसए ने इन शिक्षकों के निलबंन का आदेश जारी कर उनके खिलाफ आरोप पत्र करते हुए मामलों की सुनवाई की जिम्मेदारी अधिकारियों को सौंप दी है।  

यूपी: 60 शिक्षकों के एक साथ निलंबन से मचा हड़कंप, जानिए क्या है पूरा मामला

Lucknow. यूपी के मथुरा जिले में फर्जी बीएड डिग्री के सहारे सरकारी अध्यापक की नौकरी करने वाले 60  शिक्षकों को निलंबित करने की कार्रवाई से महकमे में हड़कम्प मच गया है। बीएसए ने इन शिक्षकों के निलबंन का आदेश जारी कर उनके खिलाफ आरोप पत्र करते हुए मामलों की सुनवाई की जिम्मेदारी अधिकारियों को सौंप दी है।  

Images/18-09-2019154605UPsimultaneo1.jpg

मालूम हो कि शिक्षक भर्ती की जांच के दौरान एसआईटी को डॉ बीआर अंबेडकर विश्वविद्यालय आगरा से बीएड करने वाले 4700 डिग्रीधारकों की डिग्रियां संदिग्ध मिली थी। 
इनमें से कई कि डिग्री फर्जी थी तो कई की डिग्री में हेराफेरी की बात सामने आयी थी। इन सभी फर्जी डिग्री वालों सूची सीडी में सेव कर दो बार विभागीय माध्यम से जांच कराई गयी। 
इसके बाद बेसिक शिक्षा निदेशक की ओर से कई बार फर्जी डिग्री धारक शिक्षकों को चिन्हित कर उनकी सेवा समाप्त करने और रिपोर्ट दर्ज कराने के आदेश दिए गए। 

Images/18-09-2019154622UPsimultaneo2.jpg

लम्बे समय से इन आदेशों पर अमल नहीं हो रहा था। अब आखिरकार बेशिक शिक्षा विभाग हरकत में आ ही गया। बीएसए चन्द्रशेखर ने मंगलवार को जिले में कार्यरत फर्जी डिग्री वाले 60 शिक्षकों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। 
इस संबंध में उन्होंने विधिवत आदेश जारी कर दिया था। साथ ही इन सभी 60 शिक्षकों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल करते हुए सुनवाई के लिए अधिकारियों को जिम्मेदारी भी सौंप दी है। इनकी सुनवाई पूरी होने के बाद उनकी सेवा समाप्त करते हुए एफआईआर दर्ज कराई जाएगी। 

यह भी पढ़ें...प्रसपा प्रमुख शिवपाल का दावा, मेरे खिलाफ लड़ने वालों की जब्त होगी जमानत

 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
मोदी सरकार पर से निवेशकों का डगमगा गया है भरोसा: प्रियंका गांधीhttps://www.newstimes.co.in/news/81639/भारत/दिल्ली/Priyanka-Gandhis-statement-about-the-slowdown-of-the-countrys-economy902058Wed, 18 Sep 2019 00:00:00 GMTABHIMANYU VERMA <img src='http://newstimes.co.in/Images/18-09-2019154309PriyankaGandh3.PNG' alt='Images/18-09-2019154309PriyankaGandh3.PNG' />देश में अर्थव्यवस्था की मंदी को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा केंद्र की मोदी सरकार पर हमला जारी रखें हैं। इसी क्रम में प्रियंका ने 5 ट्रिलियन डॉलर अर्थव्यवस्था के मुद्दे पर तंज़ कसते हुए कहा है कि सरकार पर से निवेशकों का भरोसा डगमगा चुका है। आर्थिक निवेश की जमीन दरक गई है।  

मोदी सरकार पर से निवेशकों का डगमगा गया है भरोसा: प्रियंका गांधी

New Delhi. देश में अर्थव्यवस्था की मंदी को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा केंद्र की मोदी सरकार पर हमला जारी रखें हैं। इसी क्रम में प्रियंका ने 5 ट्रिलियन डॉलर अर्थव्यवस्था के मुद्दे पर तंज़ कसते हुए कहा है कि सरकार पर से निवेशकों का भरोसा डगमगा चुका है। आर्थिक निवेश की जमीन दरक गई है।  

Images/18-09-2019154234PriyankaGandh1.jpg

प्रियंका गांधी ने बुधवार को ट्वीट करके कहा कि 'चकाचौंध दिखा कर रोज 5 ट्रिलियन-5 ट्रिलियन बोलते रहने या मीडिया की हेडलाइन मैनेज करने से आर्थिक सुधार नहीं होता। विदेशों में प्रायोजित इवेंट करने से निवेशक नहीं आते। निवेशकों का भरोसा डगमगा चुका है। आर्थिक निवेश की जमीन दरक गई है।' 

Images/18-09-2019154250PriyankaGandh2.PNG

इसके बाद एक अन्य ट्वीट में प्रियंका गांधी ने कहा कि 'मगर भाजपा सरकार इस सच्चाई को स्वीकार नहीं कर रही। आर्थिक महाशक्ति बनने की दिशा में ये मंदी ‘स्पीड ब्रेकर’ है, इसको सुधारे बिना सब रंग-रोगन बेकार है। '

Images/18-09-2019154309PriyankaGandh3.PNG

यह भी पढ़ें:-...मंदी को लेकर प्रियंका ने मोदी सरकार पर साधा निशाना, कहा- लोग देख रहे हैं...

वहीं, इससे पहले मंगलवार को प्रियंका ने ट्वीट करके कहा था कि भाजपा सरकार से बस इतना ही कहना है कि आप जो इधर उधर की बात करके कारवाँ लुट जाने देने की जिम्मेदारी से बचना चाहते हो, यह मुश्किल होगा। लोग देख रहे हैं। उन्होंने कहा कि एक और कम्पनी पर पड़ी मंदी की मार और लोग होंगे बेरोजगार।'

इस ट्वीट के साथ प्रियंका ने एक खबर भी शेयर की, जिसमें देश की बड़ी ऑटो कंपनी महिंद्रा एंड महिंद्रा के संयंत्र में 17 दिन तक किसी भी तरह का विनिर्माण नहीं होगा। कंपनी ने यह फैसला ऐसे समय में किया है जब देश का ऑटो उद्योग सुस्‍ती के दौर से गुजर रहा है।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
प्रसपा प्रमुख शिवपाल का दावा, मेरे खिलाफ लड़ने वालों की जब्त होगी जमानतhttps://www.newstimes.co.in/news/81638/भारत/उत्तर-प्रदेश-/Praspa-chief-Shivpal-claims-bail-against-those-fighting-against-me902057Wed, 18 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/18-09-2019145707PraspachiefS1.jpg' alt='Images/18-09-2019145707PraspachiefS1.jpg' />प्रसपा प्रमुख शिवपाल सिंह यादव ने दावा किया है कि वह जसवंतनगर सीट से ही विधानसभा उपचुनाव लड़ेंगे। मालूम हो कि शिवपाल यादव ने समाजवादी पार्टी से अलग होकर अपनी खुद की पार्टी प्र​गतिशील पार्टी बनाई थी। बीते लोकसभा चुनाव में उन्होंने अपनी पार्टी से प्रत्याशी उतारे थे। वह जसवंतनगर सीट से ही विधायक थे। 

प्रसपा प्रमुख शिवपाल का दावा, मेरे खिलाफ लड़ने वालों की जब्त होगी जमानत

Kanpur. प्रसपा प्रमुख शिवपाल सिंह यादव ने दावा किया है कि वह जसवंतनगर सीट से ही विधानसभा उपचुनाव लड़ेंगे। मालूम हो कि शिवपाल यादव ने समाजवादी पार्टी से अलग होकर अपनी खुद की पार्टी प्र​गतिशील पार्टी बनाई थी। बीते लोकसभा चुनाव में उन्होंने अपनी पार्टी से प्रत्याशी उतारे थे। वह जसवंतनगर सीट से ही विधायक थे।

Images/18-09-2019145707PraspachiefS1.jpg

यह भी पढ़ें...प्रत्याशी घोषित होते ही इस युवा कांग्रेसी पर पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
विश्वकर्मा जयंती के अवसर पर हुआ भव्य जागरण का आयोजनhttps://www.newstimes.co.in/news/81636/भारत/उत्तर-प्रदेश-/उन्नाव/-कोतवाली-Grand-Jagran-organized-on-the-occasion-of-Vishwakarma-Jayanti902055Wed, 18 Sep 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/18-09-2019143200GrandJagrano2.jpg' alt='Images/18-09-2019143200GrandJagrano2.jpg' />विश्वकर्मा जयंती के अवसर पर अकरमपुर स्थित विश्वेश्वर महादेव मंदिर में भव्य जागरण का अयोजन किया गया। रवि नादान एंड पार्टी के कलाकारों ने एक से बढ़ कर एक भजन गाकर भक्तों को रात भर झूमने पर विवश कर दिया। कार्यक्रम के दौरान भजनों के बीच में प्रस्तुत की गयी संगीतमय झांकियों ने आयोजन में चार चांद लगा दिए। 

विश्वकर्मा जयंती के अवसर पर हुआ भव्य जागरण का आयोजन

Unnao. विश्वकर्मा जयंती के अवसर पर अकरमपुर स्थित विश्वेश्वर महादेव मंदिर में भव्य जागरण का अयोजन किया गया। रवि नादान एंड पार्टी के कलाकारों ने एक से बढ़ कर एक भजन गाकर भक्तों को रात भर झूमने पर विवश कर दिया। कार्यक्रम के दौरान भजनों के बीच में प्रस्तुत की गयी संगीतमय झांकियों ने आयोजन में चार चांद लगा दिए। 

Images/18-09-2019143144GrandJagrano1.jpg

इस बार यह तीसरा आयोजन था। मूल रूप से राजस्थान के रहने हरिचरण और उनके परिवार के सदस्यों के साथ सैकड़ों की संख्या में इलाकाई लोगों ने जागरण में मां भगवती के साथ भगवान विश्वकर्मा की पूजा अर्चना की।

विधि विधान से पूजा अर्चना के बाद रवि नादान जागरण पार्टी के कलाकारों सुरों और साजों के साथ रात भर भक्ति रस की गंगा बहाई।

Images/18-09-2019143200GrandJagrano2.jpg

हितेश दीवाना की गणेश वंदना से जागरण का शुभारम्भ हुआ। इसके बाद मंडली के बेबी प्रयांशु, प्रिया तिवारी, नेहा शर्मा, रवि नादान आदि कलाकारों ने एक से बढ़कर एक भजन प्रस्तुत कर भक्तों को रात भर झूमने पर मजबूर किया। 
देवी भजनों के बीच में कानपुर की नीरज सांवरिया नृत्य नाटिका झांकी ग्रुप ने संगीतमय झांकियों से समा बांधा। झांकियों ने राधा कृष्ण की फूलों की होली, शिव पार्वती नृत्य, गणेश जी, मां काली, भगत के वश में है भगवान, मां का दिल और श्याम चूड़ी बेचने आया विशेष आकर्षण का केंद्र रही। 
सुबह तारारानी के कथा के साथ जागरण का समापन हुआ। इसके बाद सभी भक्तों को माता रानी का प्रसाद वितरित किया गया। 

यह भी पढ़ें...वित्तीय अनियमितताओं के आरोपों में घिरे उन्नाव सीएमओ का तबादला

 

 

 

]]>