<link>www.newstimes.co.in</link><description> delivers news and information on the latest top stories, Videsh, Desh, Cricket, Entertainment, Business, Life Style, Editors Artical and other related local news</description><copyright>© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved</copyright><language>hi</language><lastBuildDate>19-08-2019 23:56:16</lastBuildDate><item><title>टीम इंडिया की जान को खतरा, जानिये पूरा सच...https://www.newstimes.co.in/news/80648/भारत/दिल्ली/Team-India-receives-threat-mail-during-West-Indies-tour...901059Mon, 19 Aug 2019 00:00:00 GMTSUKIRTI MISHRA<img src='http://newstimes.co.in/Images/19-08-2019122311TeamIndiarec1.PNG' alt='Images/19-08-2019122311TeamIndiarec1.PNG' />वेस्ट इंडीस दौरे पर गई भारतीय क्रिकेट टीम को फर्जी धमकी मिलने की खबर सुर्खियों में है। सूत्रों के मुताबिक धमकी के बाद एंटिगा में पूरी टीम की सुरक्षा बढ़ा दी गई  है।

टीम इंडिया की जान को खतरा, जानिये पूरा सच...

New Delhi. वेस्ट इंडीज दौरे पर गई भारतीय क्रिकेट टीम को फर्जी धमकी मिलने की खबर सुर्खियों में है। सूत्रों के मुताबिक धमकी के बाद एंटिगा में पूरी टीम की सुरक्षा बढ़ा दी गई  है। गौरतलब है कि वनडे सीरीज और टी 20 के बाद भारत को वेस्ट इंडीज में टेस्ट सीरीज भी खेलनी है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) को खिलाड़ियों की जान का खतरा होने की जानकारी मिलने के बाद एंटिगा में खेल रही भारतीय टीम के लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। हालांकि बीसीसीआई के सीनियर कार्यकारी ने बातचीत में बताया कि धमकी की खबर फर्जी थी। 

Images/19-08-2019122311TeamIndiarec1.PNG

उन्होंने कहा, "यह एक फर्जी खबर थी और उसके अलावा बाकी सभी चीजें सही है। भारतीय क्रिकेट टीम के लिए एक एक्स्ट्रा ड्राइवर की व्यवस्था की गई है। इतना ही नहीं भारतीय उच्चायोग ने इस पर खास एहतियात बरतते हुए एंटीगा सरकार को भी इस बारे में सूचित दे दी है।" 

बताते चलें कि रविवार को पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) को धमकी भरा ईमेल मिला था, जिसमें इंडियन क्रिकेटर्स पर हमले की आशंका जतायी गई थी। अहम बात यह है कि धमकी की जानकारी भारतीय टीम के बजाये पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को दी गई थी। 

मामले की गंभीरता को समझते हुए पीसीबी ने ईमेल भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) और इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) को भेज दिया था, जिसके बाद बीसीसीआई ने गृह मंत्रालय को सूचित कर दिया था। 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
अर्जुन अवॉर्ड: 19 खिलाड़ी होंगे पुरस्कृतhttps://www.newstimes.co.in/news/80628/भारत/दिल्ली/19-sportspersons-to-be-felicitated-with-Arjun-Awards-901039Sun, 18 Aug 2019 00:00:00 GMTSUKIRTI MISHRA<img src='http://newstimes.co.in/Images/18-08-201916505819sportsperso2.jpg' alt='Images/18-08-201916505819sportsperso2.jpg' />महिला क्रिकेटर पूनम यादव और भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा का नाम इस साल के अर्जुन पुरस्कार पाने वाले 19 एथलीटों में शामिल हैं।

अर्जुन अवॉर्ड: 19 खिलाड़ी होंगे पुरस्कृत

New Delhi. महिला क्रिकेटर पूनम यादव और भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा का नाम इस साल के अर्जुन पुरस्कार पाने वाले 19 एथलीटों में शामिल हैं। बीसीसीआई ने इस साल अर्जुन अवॉर्ड के लिए 4 किक्रेटरों के नाम भेजे थे। जिनमें जसप्रीत बुमराह, रवींद्र जडेजा, मोहम्‍मद शमी और पूनम यादव के नाम थे। वहीं दूसरी तरफ राजीव गांधी खेल रत्न अवॉर्ड के लिए पैरा-एथलीट दीपा मलिक और रेसलर बजरंग पुनिया का नाम सुर्खियों में है। राजीव गांधी खेल रत्न देश का सर्वोच्च खेल सम्मान है जो कि खेलों में धुंआधार प्रदर्शन करने वालों को मिलता है। 

Images/18-08-201916500319sportsperso1.jpgImages/18-08-201916505819sportsperso2.jpg

नामों की सूची:

राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार
बजरंग पुनिया, दीपा मलिक

द्रोणाचार्य पुरस्कार
विमल कुमार (बैडमिंटन), संदीप गुप्ता (टेबल टेनिस), मोहिंदर सिंह ढिल्लों (एथलेटिक्स)

लाइफ टाइम अचीवमेंट पुरस्कार
मेरजबान पटेल (हॉकी), रामबीर सिंह खोखर (कबड्डी), संजय भारद्वाज (क्रिकेट)

अर्जुन पुरस्कार:
तजिंदरपाल सिंह तूर (एथलेटिक्स), मोहम्मद अनस याहिया (एथलेटिक्स), एस. भास्करन (बॉडी बिल्डिंग), सोनिया लाठेर (बॉक्सिंग), रविन्द्र जडेजा (क्रिकेट), चिंगलियाना सिंह कंगुजम (हॉकी), अजय ठाकुर (कबड्डी), गौरव सिंह गिल (मोटर स्पोर्ट्स), प्रमोद भगत (बैडमिंटन), अंजुम मौदगिल (निशानेबाजी), हरमीत राजुल देसाई (टेबल टेनिस), पूजा ढांडा (कुश्ती), फवद मिर्जा (घुड़सवारी), गुरप्रीत सिंह संधू (फुटबॉल), पूनम यादव (क्रिकेट), स्वप्ना बर्मन (एथलेटिक्स), सुंदर सिंह गुर्जर (पैरा खेल, एथलेटिक्स), भामिदपति साई प्रणीत (बैडमिंटन), सिमरन शेरगिल (पोलो)

ध्यानचंद पुरस्कार :
मैनुअल फ्रेड्रिक (हॉकी), अरूप बसाक (टेबल टेनिस), मनोज कुमार (कुश्ती), नटीन कीर्तन (टेनिस), लालरेमसंगा (तीरंदाजी)

 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार पाने वाली पहली महिला पैरा-एथलीट बनीं दीपा मलिकhttps://www.newstimes.co.in/news/80619/भारत/दिल्ली/Deepa-Malik-becomes-the-1st-women-para-athlete-to-receive-Rajeev-Gandhi-Khel-Ratna901030Sun, 18 Aug 2019 00:00:00 GMTSUKIRTI MISHRA<img src='http://newstimes.co.in/Images/18-08-2019142330DeepaMalikbe1.PNG' alt='Images/18-08-2019142330DeepaMalikbe1.PNG' />महिला पैरा-एथलीट दीपा मलिक राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार पाने वाली पहली महिला खिलाड़ी बन गयी हैं

राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार पाने वाली पहली महिला पैरा-एथलीट बनीं दीपा मलिक

New Delhi. महिला पैरा-एथलीट दीपा मलिक राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार पाने वाली पहली महिला खिलाड़ी बन गयी हैं। शनिवार को भारतीय सरकार द्वारा देश के सर्वोच्च खेल सम्मान में दीपा मलिक के नाम की घोषणा के बाद, वह इस अवॉर्ड को हासिल करने वाली दूसरी पैरा-एथलीट बन गई हैं। रियो पैरालम्पिक-2016 में शॉट पुट में रजत पदक हासिल करने के साथ ही एशियाई खेलों में भालाफेंक और शॉटपुट में कांस्य भी जीत चुकी हैं। दीपा से पहले भाला फेंक एथलीट देवेंद झाझरिया को 2017 में इस सम्मान से नवाजा जा चुका है। 

Images/18-08-2019142330DeepaMalikbe1.PNG

सैन्य अधिकारी की पत्नी और 2 बच्चों की माँ दीपा मलिक के कमर से नीचे का हिस्सा लकवाग्रस्त है। 17 साल पहले रीढ़ में ट्यूमर के कारण उनका चलना असंभव हो गया था। दीपा के 31 ऑपरेशन किए गए जिसके लिए उनकी कमर और पांव के बीच 183 टांके लगे थे।  अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में तैराकी में पदक जीतने वाली दीपा ने भाला फेंक में एशियाई रिकॉर्ड बनाया है, जबकि गोला फेंक और चक्का फेंक में उन्होंने 2011 में विश्व चैंपियनशिप में रजत पदक जीते थे। 

सामाजिक कार्यों में भी दीपा की रुचि रही है। वह गंभीर बीमारी से पीड़ित लोगों के लिए कैंपेन चलती हैं। शॉट पुटर के अलावा दीपा स्विमर, बाइकर, जेवलिन और डिस्कस थ्रोअर भी हैं। 2009 में शॉट पुट में अपना पहला पदक कांस्य पदक जीतने वाली दीपा ने इसके अगले ही साल इंग्लैंड में डिस्कस थ्रो, शॉटपुट और जेवलिन तीनों में गोल्ड मेडल हासिल किए। चाइना में पैरा एशियन गेम्स में कांस्य पदक जीतने के साथ ही ऐसा करने वाली पहली भारतीय महिला बनी। दीपा मलिक हाल ही में भाजपा में शामिल हुई हैं। 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
आज शाम, फाइनल होगा टीम इंडिया के नए कोच का नाम https://www.newstimes.co.in/news/80548/भारत/मुंबई/This-evening-the-name-of-new-coach-of-team-India-will-be-finalized900958Fri, 16 Aug 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/16-08-2019152640Thisevening,3.jpg' alt='Images/16-08-2019152640Thisevening,3.jpg' />टीम इंडिया को शुक्रवार शाम अपना नया कोच मिल जाएगा। मुख्य कोच के चयन के लिए साक्षात्कार का क्रम शुरू हो गया है। कोच के लिए आवेदन करने वालों में तीन विदेशी भी शामिल है। कपिल देव के नेतृत्व में सलाहकार समिति आवेदकों का इंटरव्यू ले रही है। मुंबई में चल रही इस प्रक्रिया में सबसे पहले इंटरव्यू देने वाले रॉबिन सिंह है जबकि टीम के मौजूदा कोच रवि शास्त्री का इंटरव्यू सबसे अंत में होगा। इसके अलावा अन्य सपोर्ट स्टाफ के नामों की भी घोषणा की जाएगी। 

आज शाम, फाइनल होगा टीम इंडिया के नए कोच का नाम 

Mumbai. टीम इंडिया को शुक्रवार शाम अपना नया कोच मिल जाएगा। मुख्य कोच के चयन के लिए साक्षात्कार का क्रम शुरू हो गया है। कोच के लिए आवेदन करने वालों में तीन विदेशी भी शामिल है। कपिल देव के नेतृत्व में सलाहकार समिति आवेदकों का इंटरव्यू ले रही है। मुंबई में चल रही इस प्रक्रिया में सबसे पहले इंटरव्यू देने वाले रॉबिन सिंह है जबकि टीम के मौजूदा कोच रवि शास्त्री का इंटरव्यू सबसे अंत में होगा। इसके अलावा अन्य सपोर्ट स्टाफ के नामों की भी घोषणा की जाएगी। 

Images/16-08-2019152530Thisevening,1.jpgImages/16-08-2019152605Thisevening,2.jpg

हलांकि माइक हेसन को इस नियम से राहत इस आधार पर दी गयी है कि उन्होंने अपनी काबिलियत के बल पर न्यूजीलैंड को कई सफलताएं दिलाई है। 

Images/16-08-2019152640Thisevening,3.jpg

यह भी पढ़ें...राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद पूर्व वित्त मंत्री ​अरुण जेटली का हालचाल जानने एम्स जाएंगे

 

 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
जल्द ही मिलेगा टीम इंडिया को नया कोच, कैसी होगी विराट की भूमिका?https://www.newstimes.co.in/news/80413/भारत/दिल्ली/Team-India-to-get-a-new-cricket-coach-soon900823Sun, 11 Aug 2019 00:00:00 GMTSUKIRTI MISHRA<img src='http://newstimes.co.in/Images/11-08-2019141425TeamIndiato1.PNG' alt='Images/11-08-2019141425TeamIndiato1.PNG' />15 अगस्त के बाद भारतीय क्रिकेट टीम को नया कोच मिलेगा। क्रिकेट सलाहकार समिति कोच पद के लिए 15 अगस्त के बाद इंटरव्यू लेने की शुरुआत करेगी। हालांकि पहले खबर थी कि कोच पद के लिए इंटरव्यू 13 या 14 अगस्त को होगा

जल्द ही मिलेगा टीम इंडिया को नया कोच, कैसी होगी विराट की भूमिका?

New Delhi. 15 अगस्त के बाद भारतीय क्रिकेट टीम को नया कोच मिलेगा। क्रिकेट सलाहकार समिति कोच पद के लिए 15 अगस्त के बाद इंटरव्यू लेने की शुरुआत करेगी। हालांकि पहले खबर थी कि कोच पद के लिए इंटरव्यू 13 या 14 अगस्त को होगा। इस मामले में आइएएनएस के एक सूत्र ने बाताया कि इंटरव्यू की प्रक्रिया में सिर्फ एक दिन का समय लगेगा। बताते चलें कि इंटरव्यू के लिए 2000 में से सिर्फ 6 उम्मीदवारों को ही शार्टलिस्ट किया गया है। 

Images/11-08-2019141425TeamIndiato1.PNG

सूत्र ने बताया की उन्हे मिली गाइडलाइंस में उन लोगों के नाम हैं जो इस प्रक्रिया में शामिल होंगे। कप्तान और सीओए दोनों की ही इसमे कोई भूमिका नहीं होगी। सलाहकार समिति बीसीसीआइ को नाम सुझाएगी, जिसके बाद BCCI कोच का चयन करेगी।  

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
इच्छानुसार खेल नहीं सीख सकते ग्रामीण स्कूलों के छात्र https://www.newstimes.co.in/news/80414/भारत/उत्तर-प्रदेश-/लखनऊ/Students-of-rural-schools-cannot-learn-sports-at-will900824Sun, 11 Aug 2019 00:00:00 GMTLEKHRAM MAURYA<img src='http://newstimes.co.in/Images/11-08-2019142150Studentsofru4.jpg' alt='Images/11-08-2019142150Studentsofru4.jpg' />बच्चों को खेलों की नियमित जानकारी देने के लिए सरकार ने कोई व्यवस्था नहीं की है। इसके साथ ही बेसिक शिक्षा विभाग में अलग से खेल अध्यापकों की नियुक्ति नहीं होती।

इच्छानुसार खेल नहीं सीख सकते ग्रामीण स्कूलों के छात्र

Images/11-08-2019142036Studentsofru3.jpg

इसलिए वे केवल बच्चों का मनोरंजन ही करवाते हैं। इसके अलावा जिन स्कूलों में खेल के मैदान नहीं हैं वहां के बच्चे चाहकर भी हर खेल नहीं सीख सकते। इसलिए उन्हे स्कूल में मैदान होने या न होने के हिसाब से खेल का सामान खरीदकर दिया जाता है। जिससे ग्रामीण क्षेत्र के काफी बच्चे खेलों से वंचित रह जाते हैं। इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्र में निजी स्तर पर भी खेलों के लिए स्टेडियम नहीं हैं, इस कारण उन छात्रों के अभिभावक अपने बच्चों को विद्यालय के अलावा खाली समय में खेलों की प्रेक्टिस करने के लिए कहीं किसी स्टेडियम में नहीं भेज सकते। इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में किसी एक विभाग के पास खेल की व्यवस्था नहीं है। इसलिए भी ग्रामीण क्षेत्र की प्रतिभाओं को खेलों में भाग लेने का मौका कम मिलता है।

इनमें गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवार अधिक होते हैं। क्योंकि जिनकी माली हालत ठीक है या नौकरी पेशा हैं वह लोग इसीलिए अपने बच्चों को शहर के स्कूलों में पढ़।ते हैं जहां सभी प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध हैं। 100 से अधिक छात्र संख्या वाले उच्च प्राथमिक विद्यालयों में कुछ साल पहले अनुदेशकों की नियुक्ति कर दी गयी थी। जिसमें काफी संख्या में ऐसे थे जिनके पास खेल से सम्बंधित ​डिग्री या​ डिप्लोमा था।

Images/11-08-2019141821Studentsofru1.jpg

राजधानी में ऐसे अनुदेशकों की संख्या 70 के आस पास बताई जा रही है। बच्चों को खेल सिखाने के लिए अलग से शिक्षकों की कोई व्यवस्था नहीं है। जो अध्यापक स्कूलों में तैनात हैं वही अध्यापक बच्चों को कहीं न कहीं से जानकारी हासिल कर खेल सिखाते हैं। वित्तीय वर्ष 2019;2020 में प्रत्येक प्राथमिक विद्यालय के लिए 5 हजार और उच्च प्राथमिक विद्यालय के लिए 10 हजार रू0 खेल सामग्री के लिए दिए गये थे। जिससे अध्यापकों ने विद्यालय में खेल के मैदान के हिसाब से सामग्री खरीद ली है।

जिन विद्यालयों के पास खेल का मैदान नहीं है उन्होने कैरम, लूडो आदि खरीद कर बच्चों को दिए हैं। जबकि जिनके पास मैदान है उन्होने क्रिकेट, वालीबाल, फुट बाल आदि सामान खरीदा है। इसके अलावा इस तरह का सामान उच्च प्राथमिक विद्यालयों में ही खरीदा गया है क्योंकि वही छात्र यह खेल आसानी से खेल सकते हैं।

इन स्कूलों में कबड्डी, खो-खो,ऊॅची कूद, लम्बी कूद, दौड़ 50,100,200,400 मीटर,रिले रेस, वालीबाल,तैराकी, क्रिकेट,लूडो, कैरम का खेल होता है। लेकिन यहां तैराकी के लिए स्वीमिंग पूल या क्रिकेट के मैदान न होने के कारण इन्हें सभी जगह के बच्चे आसानी से नहीं सीख या खेल सकते हैं। जिन गावों में खेल के मैदान मौजूद हैं या आसपास के किसी गांव में मैदान उपलब्ध होने पर बच्चे वहां जाकर खेलते हैं।

खण्ड शिखा अधिकारी मलिहाबाद संतोष कुमार मिश्रा कहते हैं कि जब से खेल का सामान स्कूलों में खरीदा गया है और बच्चों को खेलने के लिए मिलने लगा है तब से सरकारी विद्यालयों में बच्चों का स्कूल आने में मन लगने लगा है। बच्चों को एमडीएम भले देर से मिले लेकिन खेल का सामान मिल जाए तो बच्चे बहुत खुश रहते हैं। इससे स्कूलों में छात्र संख्या बढ़ाने में भी मदद मिल रही है।

विभागीय अ​धिकारियों के अनुसार स्कूलों में खेल सिखाने के बाद न्याय पंचायत स्तरीय खेलों का आयोजन अक्टूबर माह में शुरू होकर दिसम्बर तक चलता है। न्याय पंचायतों में विजयी खिलाड़ियों को ब्लाक स्तरीय खेलों में भाग ​लेने का मौका दिया जाता है। इसके बाद जिला स्तरीय खेलों का आयोजन किया जाता है। यहां से विजयी प्रतिभागियों को मंडल और उसके बाद प्रदेश स्तरीय खेलों में भाग लेने का मौका दिया जाता है। 

Images/11-08-2019142150Studentsofru4.jpg

अध्यापिका शिखा सिंह कहती हैं कि उच्च प्राथमिक विद्यालयों में खेल के अनुदेशक हैं लेकिन जो अनुदेशक या अध्यापक किसी स्कूल में तैनात भी हैं वे किसी अन्य स्कूल में कभी नहीं जाते हैं। खेलों का आयोजन होने से पहले इनमें से कोई न कोई अनुदेशक  या अध्यापक एक बार आकर विद्यालयों में बच्चों को बता देते हैं। उसके बाद बच्चों को स्वयं या अन्य अध्यापकों  की मदद से ही तैयारी करनी पड़ती है। उन्होने कहा कि एक ओर अध्यापकों की संख्या मानक के अनुरूप नहीं है।

दूसरी ओर अध्यापकों पर कितनी जिम्मेदारी है। उनके द्वारा पुस्तकालय की किताबें पढ़वानी हैं। खेल भी खिलाना है। समय से पाठ्क्रम भी पूरा करना है। बच्चों की संख्या बढ़ाना है। बच्चों की पढ़ाई गुणवत्तापरक होनी चाहिए। इतने कामों के बावजूद अन्य सरकारी कार्य भी यदा कदा करने पड़ते हैं। 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
सुरेश रैना के घुटने की हुई सफल सर्जरी, जल्द ही होगी मैदान में वापसीhttps://www.newstimes.co.in/news/80376/भारत/दिल्ली/Suresh-Raina-to-return-to-cricket-soon-after-successful-knee-surgery-900786Sat, 10 Aug 2019 00:00:00 GMTSUKIRTI MISHRA<img src='http://newstimes.co.in/Images/10-08-2019140321SureshRainat2.PNG' alt='Images/10-08-2019140321SureshRainat2.PNG' />भारतीय बल्लेबाज सुरेश रैना का नीदरलैंड्स के एम्सटर्डम में, शुक्रवार को, घुटने का ऑपरेशन हुआ। डाक्टरों ने रैना को 4 से 6 हफ्ते तक मैदान से दूर रहने की सलाह दी है

सुरेश रैना के घुटने की हुई सफल सर्जरी, जल्द ही होगी मैदान में वापसी

New Delhi. भारतीय बल्लेबाज सुरेश रैना का नीदरलैंड्स के एम्सटर्डम में शुक्रवार को घुटने का ऑपरेशन हुआ। डाक्टरों ने रैना को 4 से 6 हफ्ते तक मैदान से दूर रहने की सलाह दी है। हालांकि सुरेश रैना अभी भारतीय क्रिकेट टीम का हिस्सा नहीं हैं, लेकिन उनके उत्तर प्रदेश की तरफ से घरेलू क्रिकेट खेलने की संभावना है। 

Images/10-08-2019140241SureshRainat1.PNGImages/10-08-2019140321SureshRainat2.PNG

24 सितंबर से 25 अक्टूबर तक चलने वाले वनडे टूर्नामेंट- विजय हजारे ट्रॉफी में उत्तर प्रदेश की और से खेलने की उम्मीद है। साथ ही 8 नवंबर से 1 दिसंबर तक चलने वाले टी-20 टूर्नामेंट सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में भी रैना के खेलने की उम्मीद है। 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
जानिए, किस भारतीय बल्लेबाज ने सबसे कम उम्र में दोहरा शतक लगाने का कीर्तिमान किया हासिलhttps://www.newstimes.co.in/news/80363/भारत/दिल्ली/Which-Indian-cricketer-set-the-record-of-double-century-?-Read-details...900773Sat, 10 Aug 2019 00:00:00 GMTSUKIRTI MISHRA<img src='http://newstimes.co.in/Images/10-08-2019114516WhichIndianc2.PNG' alt='Images/10-08-2019114516WhichIndianc2.PNG' />इंडियन क्रिकेट टीम विरत कोहली की कप्तानी में वेस्ट इंडीस के दौरे पर है। टीम का अब तक का प्रदर्शन बहतरीन रहा है। साथ ही इंडिया ए टीम भी इस समय वेस्ट इंडीस के खिलाफ लाजवाब प्रदर्शन कर रही है

जानिए, किस भारतीय बल्लेबाज ने सबसे कम उम्र में दोहरा शतक लगाने का कीर्तिमान किया हासिल

New Delhi. इंडियन क्रिकेट टीम विराट कोहली की कप्तानी में वेस्ट इंडीज के दौरे पर है। टीम का अब तक का प्रदर्शन बेहतरीन रहा है। साथ ही इंडिया ए टीम भी इस समय वेस्ट इंडीज के खिलाफ लाजवाब प्रदर्शन कर रही है। वेस्ट इंडीज ए के खिलाफ हुए अंतिम अनाधिकारिक टेस्ट मैच में शुभमन गिल ने दोहरा शतक जमाया। कैरेबियाई धरती पर किसी भारतीय बल्लेबाज द्वारा स्थापित किया गया यह पहला कीर्तिमान हैं। साथ ही शुभमन ने पूर्व भारतीय ओपनर बल्लेबाज गौतम गंभीर का रिकॉर्ड भी तोड़ है।  

Images/10-08-2019114516WhichIndianc2.PNG

वेस्टइंडीज दौरे के लिए शुभमन को भारतीय टीम में मौका मिलने की चर्चा थी पर ऐसा हुआ नहीं। अपनी इस पारी के जरिए भारतीय चयनकर्ताओं को शुभमन ने करारा जवाब दिया है। वेस्टइंडीज के खिलाफ अनाधिकारिक टेस्ट मैच में 257 गेंदों पर 204 रन की पारी खेली जिसमे 19 चौके व दो छक्के जड़े।  

फर्स्ट क्लास क्रिकेट में सबसे कम उम्र में यह कीर्तिमान हासिल करने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं। इसके अलावा विदेशी जमीन पर फर्स्ट क्लास क्रिकेट में दोहरा शतक लगाने वाले सबसे कम उम्र के खिलाड़ी भी बन गए हैं। 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
जिलास्तरीय अंडर 20 एथलेटिक्स चैम्पियनशिप 2019 का हुआ उद्घाटन https://www.newstimes.co.in/news/80348/भारत/उत्तर-प्रदेश-/under-20-chapionship900758Fri, 09 Aug 2019 00:00:00 GMTGAURAV SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/09-08-2019185326under20chapi2.JPG' alt='Images/09-08-2019185326under20chapi2.JPG' />राजधानी में शुक्रवार को जिला एथलेटिक्स एसोसिएशन की ओर से जिला स्तरीय अण्डर 20 एथलेटिक्स चैम्पियनशिप 2019 का उद्धाटन किया गया। चैम्पियनशिप का उद्घाटन सुबह तकरीबन 7:00 बजे सचिव उप्र एथलेटिक्स संघ पी के श्रीवास्तव द्वारा केडी सिंह बाबू स्टेडियम में किया गया।  बता दें कि इस प्रतियोगिता में 80 बालक और 60 बालिकाओं ने प्रतिभाग किया। इस दौरान बी0के0बाजपेई उपक्रीड़ाधिकारी, सूरज श्रीवास्तव अन्तर्राष्ट्रीय खिलाड़ी, मनोज पटेल पूर्व राष्ट्रीय खिलाड़ी, दर्शक व गणमान्य नागरिक उपस्थिति रहें। चैम्पियनशिप में 800 मी. रेस में बालक वर्ग में राहुल यादव, आदित्य पाण्डेय और रोहित सिंह तथा बालिका वर्ग में निधि सिंह, संजू यादव और काजल रावत ने क्रमशः प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान हासिल किया। 400 मी. रेस में बालक वर्ग में सचिव यादव, राहुल यादव और स्पर्श गोयल तथा बालिका वर्ग में इकरा हाशमी, प्रियंका मिश्रा और कैनत खान ने क्रमशः प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान हासिल किया। 

जिलास्तरीय अंडर 20 एथलेटिक्स चैम्पियनशिप 2019 का हुआ उद्घाटन 

Lucknow. राजधानी में शुक्रवार को जिला एथलेटिक्स एसोसिएशन की ओर से जिला स्तरीय अण्डर 20 एथलेटिक्स चैम्पियनशिप 2019 का उद्धाटन किया गया। चैम्पियनशिप का उद्घाटन सुबह तकरीबन 7:00 बजे सचिव उप्र एथलेटिक्स संघ पी के श्रीवास्तव द्वारा केडी सिंह बाबू स्टेडियम में किया गया। 

Images/09-08-2019185311under20chapi1.jpgImages/09-08-2019185326under20chapi2.JPG
© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
क्रिकेट की चकाचौंध से दूर, आखिर धौनी कहां हैं मशगूल?https://www.newstimes.co.in/news/80304/भारत/जम्मू-कश्मीर/MS-Dhoni-serving-in-military-as-Lieutenant-Colonel-in-Victor-Force900713Thu, 08 Aug 2019 00:00:00 GMTSUKIRTI MISHRA<img src='http://newstimes.co.in/Images/08-08-2019121145MSDhoni.PNG' alt='Images/08-08-2019121145MSDhoni.PNG' /> भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और मानद लेफ्टिनेंट कर्नल महेंद्र सिंह धौनी क्रिकेट की चकाचौंध से दूर, दक्षिण कश्मीर में देश की रक्षक की भूमिका अदा कर रहे हैं

क्रिकेट की चकाचौंध से दूर, आखिर धौनी कहां हैं मशगूल?

Srinagar. भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और मानद लेफ्टिनेंट कर्नल महेंद्र सिंह धौनी क्रिकेट की चकाचौंध से दूर दक्षिण कश्मीर में देश की रक्षक की भूमिका अदा कर रहे हैं। सेना की 106 टीए बटालियन पैरा के मानद लेफ्टिनेंट कर्नल धौनी कभी मेस में तो कभी गश्त के दौरान गीत गुनगुनाते हुए जवानों की हौसलाफज़ाई कर रहे हैं। 

Images/08-08-2019121145MSDhoni.PNG

2011 में मानद लेफ्टिनेंट कर्नल की रैंक पाने वाले धौनी ने  कुछ समय पहले कश्मीर में सेवाएं देने की इच्छा व्यक्त की थी। रक्षा मंत्रालय ने उन्हें दक्षिण कश्मीर में तैनात 106 टीए बटालियन में ड्यूटी की अनुमति दी थी। गत शुक्रवार को उन्होंने औपचारिक रूप से अपनी ड्यूटी संभाली थी, जहां वह 15 अगस्त तक रहेंगे। 

सोने के लिए दस फुट का कमरा है। सैन्य जीवन के अपने सफर को सोशल मीडिया पर शेयर कर रहे हैं। वॉलीबॉल खेलते, बूट पालिश करते हुए धौनी के वीडियो और तस्वीरें सोशल मिटा पर ट्रेंड कर रही हैं। वरिष्ठ अधिकारियों को अपने काम की रिपोर्ट देने के साथ ही अधीनस्थ जवानों को काम आवंटित भी कर रहे हैं। 

सेना की विक्टर फोर्स के अवंतीपोर स्थित मुख्यालय में ही 106 टीए बटालियन तैनात है, जो की दक्षिण-कश्मीर में आतंकरोधी अभियानों का संचालन कर रही है। साथ ही विक्टर फोर्स मुख्यालय की सुरक्षा की जिम्मेदारी भी इसके पास है। सैन्य अधिकारियों के मुताबिक, धौनी को आतंकरोधी अभियानों की ड्यूटी नहीं सौंपी गई है। 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
जानिये, कौन है टीम इंडिया के मुख्य कोच पद का टॉप दावेदारhttps://www.newstimes.co.in/news/80088/भारत/दिल्ली/BCCI-receives-more-than-2000-applications-for-the-post-of-Indian-cricket-coach-900495Thu, 01 Aug 2019 00:00:00 GMTSUKIRTI MISHRA<img src='http://newstimes.co.in/Images/01-08-2019154837BCCIreceives2.PNG' alt='Images/01-08-2019154837BCCIreceives2.PNG' />टीम इंडिया के मुख्य कोच पद के लिए अबतक 2000 से ज्यादा आवेदन बीसीसीआई को मिल चुके हैं। आवेदन भेजने की आखिरी समय सीमा बुधवार शाम 5 बजे थी।

जानिये, कौन है टीम इंडिया के मुख्य कोच पद का टॉप दावेदार

New Delhi. टीम इंडिया के मुख्य कोच पद के लिए अब तक 2000 से ज्यादा आवेदन बीसीसीआई को मिल चुके हैं। आवेदन भेजने की आखिरी समय सीमा बुधवार शाम 5 बजे थी। टीम इंडिया के वर्तमान कोच रवि शास्त्री के अलावा कुछ और हाई प्रोफाइल दावेदार इस सूची में शामिल हैं, जिनमें ऑस्ट्रेलिया के टॉम मूडी, न्यूजीलैंड के पूर्व कोच माइक हेसन के अलावा भारत से रॉबिन सिंह और लालचंद राजपूत हैं। साथ ही कुछ नाम ऐसे भी हैं जिनका नाम रिज्यूम में न होने के बाद भी चर्चा में है। 

Images/01-08-2019154802BCCIreceives1.PNGImages/01-08-2019154837BCCIreceives2.PNG

इंटरव्यू के लिए कपिल देव की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय सीएसी का गठन किया जा चुका है। 14 और 15 अगस्त को पैनल के इंटरव्यू लेने की उम्मीद है।  

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
एशेज के साथ टेस्ट चैंपियनशिप का आगाज, इन टीमों के बीच होगा मुकाबलाhttps://www.newstimes.co.in/news/80064/भारत/ashes-to-start-today-with-this-test-championship-as-well900471Thu, 01 Aug 2019 00:00:00 GMTRAJNISH KUMAR<img src='http://newstimes.co.in/Images/01-08-2019102017ashestostart1.JPG' alt='Images/01-08-2019102017ashestostart1.JPG' />वर्ल्ड कप चैंपियन बनी इंग्लैंड टीम आज से एक और बड़ी चुनौती का इंतजार कर रही है। दरअसल, आज से एशेज सीरीज की शुरूआत हो रही है।

एशेज के साथ टेस्ट चैंपियनशिप का आगाज, इन टीमों के बीच होगा मुकाबला

New Delhi. वर्ल्ड कप चैंपियन बनी इंग्लैंड टीम आज से एक और बड़ी चुनौती का इंतजार कर रही है। दरअसल, आज से एशेज सीरीज की शुरूआत हो रही है। यह सीरीज पांच टेस्ट मैचों की श्रंखला है, इस सीरीज की शुरुआत दो बड़ी प्रतिद्वंदी टीमों के साथ होगाी। इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया के बीच मुकाबला होगा।

Images/01-08-2019102017ashestostart1.JPG

आईसीसी ने क्रिकेट के सबसे लम्बे फार्मेट की लोप्रियता को बनाए रखने के लिए वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप की वर्मिंगम से शुरुआत कर रही है। इंग्लैंड के लिए ये सबसे महत्वपूर्ण सीजन माना जा रहा है, क्योंकि इसकी शुरुआत वर्ल्ड कप के जीतने के बाद की है। ऐसे में इंग्लैंड घरेलू सीजन की इस टेस्ट सीरीज का अंत दोहरी कामयाबी के साथ करना चाहेगा। वहीं, आस्ट्रेलिया इस सीरीज को जीतकर साउथ अफ्रीका में पिछले साल बाल टेंपरिंग एपिसोड को पीछे छोड़ने की कोशिश करेगा। ऐसे में ये खेल काफी रोमांचक होने वाला है।

टीमें इस प्रकार हैं -

इंग्लैंड: रोरी बर्न्स, जेसन रॉय, जो रूट (कप्तान), जो डेनली, जोस बटलर, बेन स्टोक्स, जॉनी बेयरस्टो (विकेटकीपर), मोईन अली, क्रिस वोक्स, स्टुअर्ट ब्रॉड, जेम्स एंडरसन। 

ऑस्ट्रेलिया: टिम पेन (कप्तान), कैमरून बैंक्रॉफ्ट, पैट कमिंस, मार्कस हैरिस, जोस हेजलवुड, ट्रेविस हेड, उस्मान ख्वाजा, मार्नस लाबुशाने, नाथन लियोन, मिचेल मार्श, मिचेल नेसेर, जेम्स पैटिंसन, पीटर सीडल, स्टीव स्मिथ, मिचेल स्टार्क, मैथ्यू वेड, डेविड वॉर्नर। 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
भारत की गोल्डन गर्ल हिमा दास, जानिये खास बातेंhttps://www.newstimes.co.in/news/79754/भारत/दिल्ली/Golden-Girl-Hima-Das-Pride-of-India900153Mon, 22 Jul 2019 00:00:00 GMTSUKIRTI MISHRA<img src='http://newstimes.co.in/Images/22-07-2019141903GoldenGirlHi2.PNG' alt='Images/22-07-2019141903GoldenGirlHi2.PNG' />भारत की स्टार एथलीट हिमा दास ने 19 दिन के अंदर 5वां गोल्ड मेडल जीत कर देश को गौरवान्वित किया है। 19 साल की “गोल्डन गर्ल” हिमा दास को प्रधानमंत्री मोदी ने जीत की बधाई दी है

भारत की गोल्डन गर्ल हिमा दास, जानिये खास बातें

नई दिल्ली. भारत की स्टार एथलीट हिमा दास ने 19 दिन के अंदर 5वां गोल्ड मेडल जीत कर देश को गौरवान्वित किया है। 19 साल की “गोल्डन गर्ल” हिमा दास को प्रधानमंत्री मोदी ने जीत की बधाई दी है। 

Images/22-07-2019141745GoldenGirlHi1.PNG

पीएम मोदी ने ट्वीट किया, ''भारत को हिमा दास पर बहुत गर्व है। हिमा दास ने पिछले कुछ दिनों में शानदार उपलब्धियां हासिल की हैं। सभी बहुत खुश हैं कि उन्होंने विभिन्न टूर्नामेंटों में पांच पदक जीते हैं। उन्हें बधाई और उनके भविष्य के प्रयासों के लिए शुभकामनाएं”।

Images/22-07-2019141903GoldenGirlHi2.PNG

शनिवार को चेक रिपब्लिक में हुए 400 मी. की रेस को हिमा ने 52.09 सेकंड में पूरा करके भारत को एक और गोल्ड दे दिया। 2 जुलाई को पोलेंड में पोजनान एथलेटिक्स ग्रांड प्रिक्स में हुई 200 मी. की रेस में हिना पहला गोल्ड लेकर आई थीं। 23.65 सेकंड में रेस पूरी की थी। 

वहीं, दूसरा गोल्ड 7 जुलाई को पोलैंड में कुटनो एथलेटिक्स मीट में 200 मीटर रेस को 23.97 सेकंड में पूरा कर जीता था। तीसरा गोल्ड 13 जुलाई, को चेक रिपब्लिक में हुई क्लांदो मेमोरियल एथलेटिक्स में महिलाओं की 200 मीटर रेस को 23.43 सेकेंड में पूरा कर जीता था। चौथा गोल्ड इसी देश में 17 जुलाई को ताबोर एथलेटिक्स मीट में 200 मीटर रेस को 23.25 सेकंड में पूरा कर जीता था।

हिना दास से जुड़ी खास बातें :-

  • 9 जनवरी, 2000 को असम के नगांव जिले के धिंग गांव में जन्मी हिमा अभी 19 साल की हैं। 
  • साधारण किसान परिवार से ताल्लुक रखने वाली हिमा के पिता चावल की खेती करते हैं। 
  • स्कूल के समय हिमा लड़कों के साथ फुटबॉल खेलती थीं और एक स्ट्राइकर के तौर पर अपनी पहचान बनाना चाहती थीं। वह अपना कैरियर फुटबॉल में बनाना चाहती थीं और भारत के लिए खेलने की उम्मीद कर रही थीं। 
  • अंतर-जिला प्रतियोगिता के दौरान, हिमा के कोच निपोन ने कहा कि “हिमा ने सबसे सस्ते स्पाइक्स पहन रखे हैं और इसके बावजूद भी वह 100 मीटर और 200 मीटर की दौड़ में स्वर्ण जीत जाती हैं, वह हवा की तरह दौड़ रही थी, अपने संपूर्ण जीवन में मैंने इतनी कम उम्र में ऐसी प्रतिभा नहीं देखी।  
© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
इंडोनेशिया ओपन फाइनल: जापान की यामागुची ने पीवी सिंधु काे हरायाhttps://www.newstimes.co.in/news/79735/भारत/उत्तर-प्रदेश-/P-V-Sindhu-loses-to-Japans-Yamaguchi-in-Indonesia-Open-Finale900133Sun, 21 Jul 2019 00:00:00 GMTSUKIRTI MISHRA<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-07-2019172844PVSindhulos2.PNG' alt='Images/21-07-2019172844PVSindhulos2.PNG' />भारतीय महिला बैडमिंटन की टॉप सीड पीवी सिंधु को इंडोनेशिया ओपन बैडमिंटन सुपर 1000 के फाइनल मुकाबले में जापान की अकाने यामागुची से हार का सामना करना पड़ा

इंडोनेशिया ओपन फाइनल: जापान की यामागुची ने पीवी सिंधु काे हराया

लखनऊ. भारतीय महिला बैडमिंटन की टॉप सीड पीवी सिंधु को इंडोनेशिया ओपन बैडमिंटन सुपर 1000 के फाइनल मुकाबले में जापान की अकाने यामागुची से हार का सामना करना पड़ा। यामागुची ने सिंदु को 21-15, 21-16 से शिकस्त दी।

Images/21-07-2019172816PVSindhulos1.PNG

इसके साथ ही भारतीय शटलर के खिताब जीतने की उम्मीद को तगड़ा झटका लगा है। 2019 मेंअभी तक सिंधु एक भी खिताब अपने नाम नहीं कर सकीं हैं।

वर्ल्ड की पांचवे नंबर की खिलाड़ी और रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता, सिंधु रविवार को हुए महिला एकल के फाइनल मुकाबले में जापानी खिलाड़ी से हारीं हैं।

Images/21-07-2019172844PVSindhulos2.PNG

51 मिनट तक चले इस कड़े मुकाबले में सिंधु को रजत पदक से संतोष करना पड़ा। हालांकि पहले गेम में सिंधु की दमदार शुरुआत की वजह से स्कोर 8-8 से बराबरी पर था और 11-8 की बढ़त भी थी।

इसके बाद वर्ल्ड नंबर 4 खिलाड़ी यामागुची ने सिंधु को मौका न देते हुए 21-15 से गेम अपने नाम कर लिया। दूसरे गेम में भी सिंधु ने जापानी खिलाड़ी को टक्कर दी, लेकिन गेम नहीं जीत सकीं।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
वेस्टइंडीज दौरा: खिलाड़ियों के नाम हुए तय, इन नए चेहरों को मिली जगह, इनकी हुई वापसीhttps://www.newstimes.co.in/news/79729/भारत/मुंबई/West-Indies-tour:-The-names-of-the-players-the-place-where-these-new-faces-found-place-these-get-come-back900127Sun, 21 Jul 2019 00:00:00 GMTDEEP KRISHAN SHUKLA<img src='http://newstimes.co.in/Images/21-07-2019160206WestIndiesto4.jpg' alt='Images/21-07-2019160206WestIndiesto4.jpg' />वेस्‍टइंडीज दौरे पर जाने वाले टीम इंडिया के खिलाड़ियों के नामों की घोषणा हो गई है। कप्‍तान विराट कोहली और चयनकर्ताओं की मुंबई में हुई बैठक के बाद 3 वनडे और 3 टी20 मैचों की सीरीज के लिए खिलाड़ियों के नामों पर अंतिम मुहर लग गयी। 

वेस्टइंडीज दौरा: खिलाड़ियों के नाम हुए तय, इन नए चेहरों को मिली जगह, इनकी हुई वापसी

Mumbai. वेस्‍टइंडीज दौरे पर जाने वाले टीम इंडिया के खिलाड़ियों के नामों की घोषणा हो गई है। कप्‍तान विराट कोहली और चयनकर्ताओं की मुंबई में हुई बैठक के बाद 3 वनडे और 3 टी20 मैचों की सीरीज के लिए खिलाड़ियों के नामों पर अंतिम मुहर लग गयी। 

Images/21-07-2019160042WestIndiesto1.jpgImages/21-07-2019160105WestIndiesto2.JPGImages/21-07-2019160141WestIndiesto3.jpgImages/21-07-2019160206WestIndiesto4.jpg

यह भी पढ़ें...वेस्टइंडीज दौरे से पहले ही महेन्द्र सिंह धोनी ने किया ये बड़ा ऐलान

 

 

 

 

 

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
वेस्टइंडीज दौरे से पहले ही महेन्द्र सिंह धोनी ने किया ये बड़ा ऐलानhttps://www.newstimes.co.in/news/79701/भारत/उत्तर-प्रदेश-/mahendra-singh-dhoni-ne-kiya-bada-elan900099Sat, 20 Jul 2019 00:00:00 GMTRAJNISH KUMAR<img src='http://newstimes.co.in/Images/20-07-2019191407mahendrasingh1.JPG' alt='Images/20-07-2019191407mahendrasingh1.JPG' />भारतीय क्रिकेट टीम के विश्वकप सेमीफाइनल में हार के बाद टीम में चयन प्रक्रिया और पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी को लेकर सवाल उठने लगे थे। उनके संन्यास को लेकर भी खबरें आने लगीं थीं।

वेस्टइंडीज दौरे से पहले ही महेन्द्र सिंह धोनी ने किया ये बड़ा ऐलान

Lucknow. भारतीय क्रिकेट टीम के विश्वकप सेमीफाइनल में हार के बाद टीम में चयन प्रक्रिया और पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी को लेकर सवाल उठने लगे थे। उनके संन्यास को लेकर भी खबरें आने लगीं थीं। वहीं, अब महेन्द्र सिंह धोनी ने दो महीने की छुट्टी लेकर साफ कर दिया कि वह भारतीय टीम के वेस्टइंडीज के दौरे पर उपलब्ध नहीं रहेंगे।

Images/20-07-2019191407mahendrasingh1.JPG

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी वेस्ट इंडीज के दौरे पर नहीं जाएंगे। बीसीसीआई के एक अधिकारी ने बताया कि उन्होंने दो महीने के लिए छुट्टी ली है, वो पैरामिलिट्री रेजिमेंट के साथ अपना समय बिताएंगे। धोनी का ऐसा निर्णय तब आया जब रविवार को एमएसके प्रसाद की अध्यक्षता वाली चयन समिति मुंबई में बैठक होनी हैं, जिसमें वेस्ट इंडीज दौरे के लिए भारतीय टीम का चयन होगा। 

धोनी के छुट्टी लेने के बाद भारतीय क्रिकेट टीम के पास विकेटकीपर के भविष्य को लेकर सवाल उठने लगे हैं। अब माना जा रहा है कि ऋषभ पंत या ऋद्धिमान साहा को विकेटकीपर के तौर पर लिया जा सकता है।

© Copyright न्यूज़ टाइम्स 2016. All rights reserved
]]>
ICC के फैसले से सदमे में जिम्बाब्वे की टीमhttps://www.newstimes.co.in/news/79665/अन्तर्राष्ट्रीय/एशिया/Zimbabwe-cricket-team-shocked-by-ICC-decision900062Sat, 20 Jul 2019 00:00:00 GMTABHIMANYU VERMA <img src='http://newstimes.co.in/Images/20-07-2019105412Zimbabwecrick3.jpg' alt='Images/20-07-2019105412Zimbabwecrick3.jpg' />सरकारी हस्तक्षेप के बाद आईसीसी ने जिम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड को निलंबित कर दिया है। आईसीसी के इस फैसले से जिम्बाब्वे के क्रिकेटरों को जोरदार झटका लगा है। वह इस फैसले के बाद अपने करियर समाप्त मान चुके हैं।

ICC के फैसले से सदमे में जिम्बाब्वे की टीम

New Delhi. सरकारी हस्तक्षेप के बाद आईसीसी ने जिम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड को निलंबित कर दिया है। आईसीसी के इस फैसले से जिम्बाब्वे के क्रिकेटर सदमे में है। वह इस फैसले के बाद अपने करियर को समाप्त मान चुके हैं। यहां तक कि दो खिलाड़ियों ने क्रिकेट से संन्यास का भी ऐलान कर दिया है। 

Images/20-07-2019104924Zimbabwecrick1.jpg

आईसीसी के फैसले को लेकर हैरानी जताते हुए जिम्बाब्वे टीम के उपकप्तान पीटर मूर ने कहा कि आईसीसी के निर्णय से सभी हैरान हैं, उम्मीद है कि आईसीसी जिम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड को एक और मौका देगी। उन्होंने कहा कि वे सभी आईसीसी के फैसले से खुद को अंधेरे में भेजे जाने जैसा महसूस कर रहे हैं। 

मूर ने कहा कि वह जब छोटे थे तभी से देश के लिए खेलना चाहते थे। अब उन्हें ऐसा लग रहा है जैसे किसी ने उनके पैरों के नीचे से जमीन छीन ली हो।

Images/20-07-2019105339Zimbabwecrick2.jpg

वहीं, आईसीसी के इस फैसले के बाद जिम्बाब्वे के बल्लेबाज सिकंदर रज़ा एक भावनात्मक ट्वीट करते हुए कहा कि कैसे एक फैसले ने एक टीम को अजनबी बना दिया। कैसे एक फैसले ने इतने सारे लोगों को बेरोजगार कर दिया। कैसे एक फैसला इतने सारे परिवारों को प्रभावित करता है। कैसे एक फैसले ने इतने सारे करियर खराब कर दिये, निश्चित रूप से मैं अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को इस तरह से अलविदा नहीं करना चाहते थे। 

यह भी पढ़ें:-... बड़ी खबर: धोनी का संन्यास तय मगर इस टूर्नामेंट के बाद

Images/20-07-2019105412Zimbabwecrick3.jpg

बता दें कि आईसीसी ने गुरूवार को जिम्बाब्वे क्रिकेट को वैश्विक संस्था के संविधान के उल्लघंन के लिये तुरंत प्रभाव से निलंबित कर दिया जो किसी भी तरह के सरकारी हस्तक्षेप को बर्दाश्त नहीं करती। आईसीसी ने यह फैसला जिम्‍बाब्‍वे सरकार की ओर से जिम्‍बाब्‍वे क्रिकेट बोर्ड को निलंबित करने के बाद लिया गया। 

इस फैसले को लेकर आईसीसी ने कहा कि जिम्‍बाब्‍वे क्रिकेट लोकतांत्रिक तरीके से निष्‍पक्ष चुनाव कराने का माहौल तैयार करने और क्रिकेट के प्रशासन में सरकार के दखल को दूर रखने में नाकाम रहा है। 

]]>