आज़ाद समेत अन्य नेताओं की नाराजगी सामने आने के बाद कांग्रेस आलाकमान डैमेज कंट्रोल में जुट गया है।
डैमेज कंट्रोल में जुटी कांग्रेस, सोनिया-राहुल ने आज़ाद से की बात

New Delhi. कांग्रेस (Congress) के नेतृत्व को लेकर नेताओं का असंतोष खुलकर सामने आने लगा है। इस मुद्दे पर कांग्रेस दो गुटों में बंट गयी है पहला गुट जो अब भी गांधी परिवार (Gandhi Femily) के साथ खड़ा है। जबकि दूसरे गुट में वे नेता शामिल हैं जो नेतृत्व में बदलाव चाहते हैं। इसमें सबसे हैरान करने वाली बात यह कि लंबे समय से गांधी परिवार के वफादार रहे गुलाम नबी आज़ाद (Ghulam Nabi Azad) ही नेतृत्व को लेकर असंतुष्ट नजर आ रहे हैं। वहीं, आज़ाद समेत अन्य नेताओं की नाराजगी सामने आने के बाद कांग्रेस आलाकमान डैमेज कंट्रोल में जुट गया है।

बता दें कि हाल ही में हुई कांग्रेस कार्यसमिति (CWC) की बैठक में कांग्रेस 23 वरिष्ठ नेताओं ने पत्र जारी कर नेतृत्व के बदलाव की मांग की थी। इस पत्र में गुलाम नबी आज़ाद (Ghulam Nabi Azad) के भी हस्ताक्षर थे। वहीं, राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने पत्र जारी करने के समय को लेकर नाराजगी जाहिर की थी। यही नही उन्होंने इन नेताओं पर भाजपा से मिलीभगत के आरोप भी लगाए थे। इस पर आहत होकर गुलाम नबी आज़ाद ने कहा था कि आरोप साबित होते हैं तो वह इस्तीफा दे देंगे।

सूत्रों की माने तो कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक के बाद सोनिया गांधी ने खुद गुलाम नबी आजाद से फोन पर बात की। इस बातचीत में मतभेदों को दूर करने पर जोर दिया गया। इसके अलावा राहुल गांधी ने भी गुलाम नबी आजाद को फोन किया था।

वहीं, पत्र लिखने वाले 23 में से ज्यादातर नेताओं ने सफाई दी है कि उन्हें विरोधी नहीं समझा जाए और उन्होंने कभी भी पार्टी नेतृत्व को चुनौती नहीं दी। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने कहा कि पत्र लिखने वाले नेताओं का इरादा देश के मौजूदा माहौल को लेकर साझा चिंताओं से नेतृत्व को अवगत कराना था और यह सब पार्टी के हित में किया गया। पार्टी सांसद विवेक तन्खा ने भी आनंद शर्मा की बात का समर्थन किया है।

कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक के बाद से कपिल सिब्बल लगातार अपनी बात रख रहे हैं। बुधवार को उन्होंने ट्वीट कर कहा कि सिद्धांतों के लिए लड़ते समय जीवन में, राजनीति में, अदालत में, सामाजिक कार्यकर्ताओं के बीच या सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर विपक्ष तो मिल ही जाता है, लेकिन समर्थन का इंतजाम करना पड़ता है।

पूरी स्टोरी पढ़िए