कानपुर मुठभेड़ का मुख्य आरोपी विकास दुबे अब भी फरार है, उसकी तलाश में लखनऊ पुलिस ने उसके भाई के घर पर छापेमारी की।
गैंगेस्टर विकास दुबे ने लूटी थी दो सरकारी अम्बेस्डर गाड़ी, दर्ज हुई एफआईआर!

Lucknow. कानपुर मुठभेड़ का मुख्य आरोपी विकास दुबे अब भी फरार है, उसकी तलाश में लखनऊ पुलिस ने उसके भाई के घर पर छापेमारी की, जहां दो सरकारी अंबेसडर कारें और एक बुलेट बरामद हुई है। दोनों सरकारी गाड़ियों और एक बुलेट का कागज नहीं मिलने पर कृष्णा नगर पुलिस ने सभी वाहनों को सीज कर दिया है। 

कृष्णा नगर पुलिस के मुताबिक, ये दोनों गाड़ियां दूसरे के नाम पर दर्ज हैं। पुलिस इसकी जांच कर रह रही है कि ये दोनों सरकारी गाड़ियां किसकी हैं? और यहां कैसे आई हैं? पुलिस इन दोनों सरकारी गाड़ियों के आधार पर विकास दुबे का सरकारी कनेक्शन पता लगाने की भी कोशिश कर रही है। 

बताया जा रहा है कि विकास दुबे के भाई ने इन दोनों गाड़ियों को नीलामी में खरीदा था, लेकिन कागज नहीं मिलने पर पुलिस इन्हें सीज कर दिया है। पुलिस ने विकास दुबे और उसके भाई पर लूट, धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है। कानपूर के आईजी मोहित अग्रवाल ने बताया कि विकास दुबे और उसके साथियों को पकड़ने के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है। जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा।