मुख्य समाचार
ममता के करीबी अधिकारी को आउटलुक नोटिस, एक साल तक नहीं जा सकेंगे​ विदेश राजौरी में पाकिस्तान की ओर से गोलीबारी, एक किशोर घायल ममता बोलीं, सांप्रदायिकता का जहर फैलाकर बंगाल में जीती भाजपा चुनाव के बाद कांग्रेस पार्टी में होने जा रहा बड़ा फेरबदल, राहुल लगाएंगे मुहर श्रमिक की संदिग्ध मौत: परिजनों ने मुआवजे को लेकर किया हंगामा जब क्रीज पर दर्शकों ने कहा, धोखेबाज भाग जाओ CWC की बैठक में राहुल का फूटा गुस्सा, हार के लिए इन दिग्गज नेताओं को ठहराया जिम्मेदार हाईस्कूल पास के लिए DRDO में नौकरी का सुनहरा मौका, आज अंतिम दिन जनसुविधा केन्द्रों पर भी आधार से जोड़े जाएंगे राशन कार्ड माध्यमिक विद्यालयों को 28 मई तक सम्मिट करना होगा यू-डायस प्रपत्र इस नेता ने दे डाली मोदी सरकार को चुनौती, जानिए क्या कहा पूर्व सैनिक की मृत्यु पर मिलेगी सहायता बड़ी खबर: ममता बनर्जी ने कहा, अब सीएम नहीं रहना चाहती सड़क हादसों में महिला समेत आधा दर्जन घायल जेट के पूर्व चेयरमैन नरेश गोयल थे पत्नी सहित देश छोड़ने की फिराक में, एयरपोर्ट से हुए अरेस्ट मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने राष्ट्रपति को सौंपी जीते सांसदों की सूची
 

स्कूल को मिली स्वेटर बांटने की जिम्मेदारी


SANDEEP PANDEY 04/01/2018 16:00:41
197 Views

04-01-2018162913Schoolsgotth1

LUCKNOW. हाड़ कंपा देने वाली ठण्ड के बीच बेसिक स्कूलों में बच्चों को स्वेटर बांटने में सूबे की सरकार फेल होने के बाद अब यह जिम्मेदारी विद्यालय प्रबंध समिति को सौंपी गई। छह जनवरी से स्वेटर वितरण की प्रक्रिया शुरू की जानी है। इस संबंध में बेसिक शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव राज प्रताप ने आदेश जारी कर दिया है।

 जिलाधिकारी की अध्यक्षता में बनेगी समिति

स्वेटर वितरण के लिए गवर्नमेंट ई-पोर्टल और प्रदेश स्तर पर टेंडर के जरिए खरीद की कवायद फेल होने पर बेसिक शिक्षा विभाग परंपरागत नियम पर लौट आया है। खरीद के लिए जिलाधिकारी की अध्यक्षता में निगरानी समिति बनेगी। सांसद, विधायक या अन्य जनप्रतिनिधियों से संपर्क कर उनकी मौजूदगी में वितरण कराने के प्रयास किए जाएंगे।

बीएसए से लेकर शिक्षक तक की जवाबदेही

स्वेटर वितरण में गुणवत्ता बनाए रखने के लिए प्रधानाध्यापक से लेकर बेसिक शिक्षा अधिकारी तक की जवाबदेही तय की गई है। विकास खंड स्तर पर खरीद की सही प्रक्रिया अपनाए जाने व गुणवत्ता की जिम्मेदारी खंड शिक्षा अधिकारी की होगी।

चार साइज में होंगे स्वेटर

सूबे के 1.59 लाख सरकारी विद्यालयों में पढ़ने वाले 1.54 करोड़ छात्रों के बच्चों के लिये 200 रुपये प्रति मैरून रंग का स्वेटर चार साइजों में खरीदा जाना है।

दो माह से स्वेटर खरीद में फेल रही सरकार

राज्य सरकार बीते दो महीने से प्रदेश स्तर पर स्वेटर खरीद की कोशिश कर रही है। लेकिन लगातार असफल रही। पहली बार आई फर्मों ने स्वेटर के दाम 245 कोट किए लेकिन 5-10 जिलों में ही सप्लाई के लिए हामी भरी जबकि टेण्डर पूरे प्रदेश का था। वहीं दूसरे टेण्डर में आई फर्मों ने 345 रुपये का दाम दिया जो आकलन से कहीं ज्यादा था। इन फर्मों ने दाम कम करने में कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई तो राज्य सरकार ने इनके सामने न झुकते हुए स्कूल स्तर पर ही खरीद करने का निर्णय लिया है।

Web Title: Schools got the responsibility of distributing sweaters ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया