मुख्य समाचार
ममता के करीबी अधिकारी को आउटलुक नोटिस, एक साल तक नहीं जा सकेंगे​ विदेश राजौरी में पाकिस्तान की ओर से गोलीबारी, एक किशोर घायल ममता बोलीं, सांप्रदायिकता का जहर फैलाकर बंगाल में जीती भाजपा चुनाव के बाद कांग्रेस पार्टी में होने जा रहा बड़ा फेरबदल, राहुल लगाएंगे मुहर श्रमिक की संदिग्ध मौत: परिजनों ने मुआवजे को लेकर किया हंगामा जब क्रीज पर दर्शकों ने कहा, धोखेबाज भाग जाओ CWC की बैठक में राहुल का फूटा गुस्सा, हार के लिए इन दिग्गज नेताओं को ठहराया जिम्मेदार हाईस्कूल पास के लिए DRDO में नौकरी का सुनहरा मौका, आज अंतिम दिन जनसुविधा केन्द्रों पर भी आधार से जोड़े जाएंगे राशन कार्ड माध्यमिक विद्यालयों को 28 मई तक सम्मिट करना होगा यू-डायस प्रपत्र इस नेता ने दे डाली मोदी सरकार को चुनौती, जानिए क्या कहा पूर्व सैनिक की मृत्यु पर मिलेगी सहायता बड़ी खबर: ममता बनर्जी ने कहा, अब सीएम नहीं रहना चाहती सड़क हादसों में महिला समेत आधा दर्जन घायल जेट के पूर्व चेयरमैन नरेश गोयल थे पत्नी सहित देश छोड़ने की फिराक में, एयरपोर्ट से हुए अरेस्ट मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने राष्ट्रपति को सौंपी जीते सांसदों की सूची कानपुर में पांच मंजिला इमारत में लगी भीषण आग जीत के बाद जल्द काशी पहुंचेंगे पीएम मोदी, तैयारियों में जुटा प्रशासन
 

ट्रॉमा सेंटर में अब इलाज के लिए मरीजों को मिलेंगी सुविधाएं


SANDEEP PANDEY 09/01/2018 16:12:38
779 Views

09-01-2018162605Patientswill1

LUCKNOW. किसी दुर्घटना के बाद ट्रॉमा सेंटर में आने वाले मरीजों को अब इलाज के लिये इधर-उधर भटकना नहीं पड़ेगा। ऐसे मरीजों को वहां पर मौजूद चिकित्सक तुरंत आवश्यक जांच के बाद चिकित्सा शुरू कर देगा। अगर गंभीर मरीज है तो कैजुअल्टी में ही संबंधित विभाग के चिकित्सक को बुलाकर इलाज करवाया जाएगा। मरीज की हालत स्थिर होने के बाद ही वार्ड में शिफ्ट करेंगे। अभी तक ट्रॉमा सेंटर पहुंचने के बाद भी कई बार इलाज में देरी के कारण मरीज जिंदगी की जंग हार जाता था।

जांच के लिये नहीं लगानी होगी लाइन

अब ट्रॉमा सेंटर में जांचों के लिए मरीजों को लाइन नहीं लगानी पड़ेगी। इंटरकॉम नंबर से इमरजेंसी में सूचना भेजी जाएगी। उसके बाद उस नंबर का मरीज वहां पहुंचेंगे। इससे जांच कक्ष के सामने लगने वाली मरीजों की लम्बी लाइन से निजात मिलेगी ,ट्रॉमा सेंटर के प्रभारी डॉ. संदीप तिवारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इसी तरह जिस वार्ड से मरीज को जांच के लिए भेजा जाएगा पहले उसे जांच कक्ष में फोन करना होगा। उन्होंने बताया कि अब तक इमरजेंसी से वार्ड में रेफर करने पर मरीज इस वार्ड से उस वार्ड में भटकता था। अब इमरजेंसी से ही एक सहायक मरीज को लेकर वार्ड तक जाएगा।

प्रवेश और निकास द्वार अलग होंगे

उन्होंने बताया कि ट्रॉमा सेंटर में लगने वाली भीड़ को कम करने के लिए प्रवेश और निकास अलग-अलग से करने का फैसला किया गया है। प्रो. तिवारी ने कहा कि ट्रॉमा सेंटर के अंदर कोई भी पान या मसाला खाते हुए पकड़ा गया तो उसे जुर्माना भरना होगा। इसके साथ ही ट्रॉमा सेंटर के बाहर सड़क का अतिक्रमण हटाया जाएगा और दलालों पर कार्रवाई होगी।

Web Title: Patients will get treatment at the Trauma Center ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया