मुख्य समाचार
नई नवेली दुल्हन को प्रेमी संग रंगे हाथ पकड़ा तो ससुरालियों ने रख दी ये शर्त एग्जिट पोल वाले ट्वीट को लेकर अनुपम खेर ने की विवेक ओबेरॉय की आलोचना, ईशा गुप्ता बोलीं... COA ने किया ऐलान, 22 अक्टूबर को होंगे बीसीसीआई के चुनाव पिता से लगाई एक शर्त के बाद इस महिला ने 15 वर्षों में किए 600 पोस्टमार्टम यहां निकली बंपर भर्ती, जल्द करें आवेदन KGMU : पल्मोनरी एंड क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग ने किया भंडारे का आयोजन  ICC World Cup 2019 : टीम इंडिया इंग्लैंड हुई रवाना, धोनी को लेकर बनी यह रणनीति डीएम-एसपी ने लिया मतगणना स्थल पर तैयारियों का जायजा, तैयारियां पूरी मध्य कमान ने केन्द्रीय विद्यालय के छात्रों को कराया सीमा दर्शन नाराज तीन विधायक दे सकते हैं राजभर को झटका  सुप्रीम कोर्ट के बाद चुनाव आयोग ने दिया विपक्ष को झटका
 

अंतरिक्ष में नई उड़ान भरने के लिए तैयार भारत, ISRO एक साथ लॉन्च करेगा 31 सैटेलाइट


VINEET SINGH 10/01/2018 14:07 PM
538 Views

10-Jan-2018dzTUcXu45J1

Bengaluru. इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गनाइजेशन (इसरो) शुक्रवार को खुद का बनाया 100वां सैटेलाइट लॉन्च करेगा। इसके अलावा वह इस सिंगल मिशन से 30 और सैटेलाइट भी भेजेगा। इनमें 28 विदेशी सैटेलाइट होंगे। यह दूसरा मौका है जब वह एक साथ इतने सैटेलाइट भेज रहा है। इससे पहले, फरवरी 2017 में इसरो ने एक साथ 104 सैटेलाइट ऑर्बिट में भेजकर वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया था। जिनमें ज्यादातर सैटेलाइट विदेशी थे।

यह भी पढ़ेंअमेरिका की पाक को धमकी

इसरो इन सैटेलाइट्स को श्रीहरिकोटा के सतीश धवन स्पेस सेंटर से शुक्रवार की सुबह 9:28 बजे पीएसएलवी से लॉन्च करेगा। इसरो के डायरेक्टर एम अन्नादुरै के मुताबिक,  "जैसे ही मिशन का आखिरी सैटेलाइट पीएसएलवी-सी20 से अलग होकर अपने ऑर्बिट में जाएगा यह हमारा 100वां सैटेलाइट होगा। इसके साथ ही इसरो का शतक पूरा हो जाएगा और हम इस पल का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं।"

यह भी पढ़ेंअखिलेश यादव ने भरी हुंकार, 2012 की तरह निकालेंगे रथ यात्रा

इसरो इस मिशन के साथ कुल 31 सैटेलाइट भेज रहा है। यह मेन पे-लोड कार्टोसेट सिरीज का तीसरा सैटेलाइट है। जिनमें 3 सैटेलाइट्स भारत के हैं और बाकी 28 विदेशी सैटेलाइट्स हैं। भारत का तीसरा सैटेलाइट माइक्रो सैटेलाइट है, जिसका वजन 100 किलोग्राम है। यह सबसे अन्त में ऑर्बिट में पहुंचेगा। इसरो के इस मिशन में पीएसएलवी-सी40 कुल 1323 किलोग्राम वजन के सैटेलाइट्स ले जाएगा। इनमें कार्टोसेट-2 का वजन 710 किलोग्राम है, बाकी 30 सैटेलाइट का वजन 613 किलोग्राम है।

यह भी पढ़ेंशिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष का अवैध मदरसों पर चला हंटर

इसरो की इस योजना में कनाडा, फिनलैंड, फ्रांस, रिपब्लिक ऑफ कोरिया, यूके और यूएसए के सैटेलाइट्स शामिल हैं। साथ ही इसरो चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग इस साल के पहले क्वार्टर में करने की योजना बना रही है। इस मिशन के साथ ऑर्बिटर और लैंडर भी भेजे जाएंगे। इसका इंटीग्रेशन और टेस्टिंग फाइनल स्टेज में है। गौरतलब है कि 31 अगस्त को इसरो का लॉन्चिंग मिशन फेल हो गया था। तब उसने पीएसएलवी-सी39 के जरिए बैकअप नेवीगेशन सैटेलाइट आईआरएनएसएस-1एच सैटेलाइट लॉन्च किया था। जो कि तकनीकी खामी की वजह से आखिरी स्टेज में नाकाम हो गया था।

Web Title: isro will launch its own 100th satellite on 12th january ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया