मुख्य समाचार
पीएम मोदी की अध्यक्षता में नीति आयोग की बैठक आज, ममता और केसीआर नहीं होंगे शामिल एनडी टीवी के खास प्रमोटरों पर सेबी ने लगाई रोक, लगा इतने साल का प्रतिबंध एयरपोर्ट पर चंद्रबाबू नायडू की ली गई तलाशी, टीडीपी ने बदले की राजनीति का लगाया आरोप यूपी को डिजिटल उत्तर प्रदेश बनाने के लिए व्यापक और मजबूत दूरसंचार नेटवर्क की आवश्यकता : उप मुख्यमंत्री बल्लेबाजी डॉट कॉम के ब्रांड एम्बेसडर बने युवराज राज्यपाल ने केन्द्रीय गृह मंत्री से भेंट की सड़क सुरक्षा समिति की बैठक : बसों में अग्निशमन यन्त्र लगाने के निर्देश बसपा सांसद के घर कुर्की का आदेश हुआ चस्पा दान के सिक्कों को लेकर परेशानी में साईं बाबा मंदिर ट्रस्ट, जानिए क्या है वजह मीसा भारती ने चुनाव में हार का लिया ऐसे बदला संभावित आतंकी हमले को लेकर अयोध्या में हाई अलर्ट स्कूल चलो अभियान में सभी बच्चों को नजदीकी स्कूलों में शत-प्रतिशत नामांकन कराये जाने के निर्देश पाकिस्तान से वीडियो कॉल कर युवक ने कहा- भाईजान बम कहां रखना है और फिर...
 

विश्व हिन्दी दिवस पर कार्यक्रम का आयोजन 


GAURAV SHUKLA 10/01/2018 21:55:49
290 Views

10-01-2018215908programonwor1

Lucknow. विश्व हिन्दी दिवस को लेकर राजधानी लखनऊ के जानकीपुरम में न्यूजटाइम्स नेटवर्क और यूनाइट फाउंडेशन की ओर से सामूहिक मिलन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के दौरान हिन्दी भाषा के संवाद, संवर्धन, रचना धर्मिता, विश्व संपर्क को लेकर विचार विमर्श हुआ।


कार्यक्रम के दौरान कवि और सीडीआरआई के वैज्ञानिक पंकज प्रसून ने बताया कि हिन्दी भाषा में ग्राहिता की विशेष क्षमता है। इसके साथ ही यह भाषा रूढ़िवादी नहीं है। इसी के साथ उन्होंने कहा नयी हिन्दी भाषा के बारे में कहा कि इस हिन्दी में बहुत ही आसानी से किसी भी अन्य भाषा के सहज शब्दों का प्रयोग कर लिया जाता है। इस नयी हिन्दी भाषा में अंग्रेजी के शब्दों से कोई परहेज नहीं होता है। वहीं हिन्दी के प्रभाव के बारे में बताते हुए पंकज प्रसून द्वारा बताया गया कि यह भाषा इतनी अधिक महत्वपूर्ण है कि तमाम अन्य भाषाओं को जानने वाले लोगों को आखिरकार किसी दूसरे तक अपनी बात पहुंचाने के लिए इसका ज्ञान लेना ही पड़ा। 

10-01-2018215948programonwor2
शायर, कवि और मंच संचालक निर्मल दर्शन ने बताया कि हिन्दी एक मात्र वह भाषा है जो अपने दम पर विश्व फलक पर पहुंचने में सफल हुई है। इसे के साथ उन्होंने हिन्दी भाषी छात्रों के जीवन में आने वाली कठिनाईयों का जिक्र करते हुए बताया कि किस तरह बारहवीं तक हिन्दी में अध्ययन करने वाले छात्र को आगे चलकर अंग्रेजी की किताबों के अध्ययन में कठिनाई का सामना करना पड़ता है। 


फिल्म जगत से जुड़े डायरेक्टर और राइटर राजेश जी द्वारा बताया गया कि किस तरह माया नगरी मुम्बई में हिन्दी भाषी लोगों को महत्ता दी जाती है। इसी के साथ उन्होंने कहा कि हिन्दी और उर्दू को धार्मिकता से जोड़ना गलत है। इन्हें भाषा की तरह देखना, जानना और इस्तेमाल किया जाना चाहिए। अपनी रचना प्रस्तुत करते हुए उन्होंने कहा हिन्दी अपने देश की दुनिया में पहचान, हिन्दी से बुनकर बना अपना हिन्दुस्तान, कोई भाषा है नहीं जिसमें बच्चा रोये, हंसना रोना भी हिन्दी में होय।

Web Title: program on world hindi day at newstimes ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया