मुख्य समाचार
 

7,000 करोड़पतियों ने विदेश में बनाया अपना निवास


KAVITA JOSHI 04/02/2018 15:26:59
610 Views

7,000 करोड़पतियों ने विदेश में बनाया अपना निवास - newstimes
South Africa. देश से बाहर जाने वाले करोड़पतियों की संख्या में 2017 में 16% की वृद्धि दर्ज की गई है। इस दौरान 7,000 ऊंची नेटवर्थ वाले भारतीयों ने अपना स्थाई निवास (डोमिसाइल) बदल लिया। यह चीन के बाद विदेश चले जाने वाले करोड़पतियों की दुनिया में दूसरी सबसे बड़ी संख्या है। न्यू वर्ल्ड वेल्थ की रपट के अनुसार 2017 में 7,000 करोड़पतियों ने अपना स्थाई निवास किसी और देश को बना लिया।

यह भी पढ़ें...मेमो पर आमने सामने ट्रंप व एफबीआई, डोनाल्ड ने मेमो को कहा कंलक

क्या कहते हैंं आंकड़े

  • वर्ष 2016 में यह संख्या 6,000 और 2015 में 4,000 थी। 
  • वैश्विक स्तर पर 2017 में 10,000 चीनी करोड़पतियों ने अपना डोमिसाइल बदला था। 
  • अन्य देशों के अमीरों का अपने देश से दूसरे देश में बस जाने की संख्या में तुर्की के 6,000, ब्रिटेन के 4,000, फ्रांस के 4,000 और रुस के 3,000 करोड़पतियों ने अपना डोमिसाइल बदला है।
  • भारत के करोड़पति अमेरिका, संयुक्त अरब अमीरात, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड गए हैं जबकि चीनी करोड़पतियों का रुख अमेरिका, कनाडा और ऑस्ट्रेलिया की ओर है।
  • 2016 में यह आंकड़ा 6,000 के करीब था, इसी तरह 2015 में 4,000 धन्ना सेठों ने भारत की बजाय किसी और देश की नागरिकता को तरजीह दी।
  • दूसरे देश में बस जाने के मामले में चीन भारत से आगे हैं। 
  • 2017 में चीन के 10,000 धनी लोगों ने दूसरे देश की नागरिकता ली।
  • तुर्की से 6000, ब्रिटेन से 4000 और रूस से 3000 लोगों के वैश्विक पलायन की रिपोर्ट है।
  • भारत की बात करें तो ज्यादतर लोगों ने अमेरिका की नागरिकता को तरजीह दी है। 
  • भारतीयों की पसंद में यूएई, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड जैसे देश भी शामिल हैं।
  • चीनी धनकुबेरों का रुझान भी अमेरिका, कनाडा और ऑस्ट्रेलिया जैसे देशों की ओर ही रहा है। 
Web Title: 7,000 millionaires made their residence abroad ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया