मुख्य समाचार
महिलाओं से जुड़ी समस्याओं के समाधान के लिए शिक्षा जरूरी : अनुपमा जायसवाल अवैध खनन मामले में दोषी पाए गए अधिकारी का तत्काल प्रभाव से स्थानान्तरण सड़क सुरक्षा सप्ताह के दूसरे दिन परिवहन मंत्री ने बांटे हेल्मेट, लोगों को किया जागरूक डीएम की बड़ी कार्रवाई, कानूनगो व लेखपाल सहित दो सस्पेन्ड यूपी में कमजोरों और बच्चियों की हत्याओं की आ गई है बाढ़ : अखिलेश क्रिकेट के बाद अब राजनीति की पिच पर भी पाकिस्तान को लग सकता है ये तगड़ा झटका अवैध रूप से संग्रह किये मिट्टी के तेल के साथ एक युवक गिरफ्तार निर्धनों को शिक्षा प्रदान करने के लिए होना चाहिए ह्यूमन टच : राज्यपाल पिता मुलायम को व्हील चेयर पर लेकर लोकसभा पहुंचे अखिलेश यादव
 

गुजरात : दलित होने की वजह से सवर्णों ने रोक दी मां की शवयात्रा, बेटे को जमकर पीटा


GAURAV SHUKLA 06/02/2018 12:27:43
230 Views

violence during cremation of dalit lady

Lucknow. दलितों के खिलाफ अपराध के मामलों में लगातार बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। जिसके बाद गुजरात से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां दलित महिला की अंतिम यात्रा में उसके बेटे की पिटाई कर दी गयी। जिसके बाद शव यात्रा को निकलवाने के लिए पुलिस की सुरक्षा मुहैया करवानी पड़ी। 

यह भी पढ़ें... एक बार फिर सरकारी आंकड़ों ने ही खोल दी बीजेपी की पोल, जहां-जहां है शासन वहां
घटना गुजरात के पंचमहल जिले की नानी पिंगली गांव की है। जहां उच्च वर्ग के लोगों ने दलित महिला की शव यात्रा के दौरान उसके बेटे पर हमला कर दिया। विरोध करने वाले लोगों का कहना था कि दलित इस पारंपरिक रास्ते से शव को लेकर नहीं जा सकते हैं। इसी बात को लेकर हुई कहासुनी के बाद जमकर बवाल देखने को मिला। फिलहाल पुलिस ने पीड़ित की शिकायत पर 12 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। 

यह भी पढ़ें... राष्ट्रीय रक्षा महाविद्यालय के प्रतिनिधिमंडल ने की यूपी 100 और 1090 की सराहना
पंचमहल जिले के पिंगली गांव के रहने वाले दिनेश सोलंकी के अनुसार उनकी मां के निधन के बाद ऊंची जाति के लोगों द्वारा उनकी पिटाई की गयी। यह पिटाई शव यात्रा रोकने के विरोध में की गयी थी। 

Web Title: violence during cremation of dalit lady ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया