मुख्य समाचार
महिलाओं से जुड़ी समस्याओं के समाधान के लिए शिक्षा जरूरी : अनुपमा जायसवाल अवैध खनन मामले में दोषी पाए गए अधिकारी का तत्काल प्रभाव से स्थानान्तरण सड़क सुरक्षा सप्ताह के दूसरे दिन परिवहन मंत्री ने बांटे हेल्मेट, लोगों को किया जागरूक डीएम की बड़ी कार्रवाई, कानूनगो व लेखपाल सहित दो सस्पेन्ड यूपी में कमजोरों और बच्चियों की हत्याओं की आ गई है बाढ़ : अखिलेश क्रिकेट के बाद अब राजनीति की पिच पर भी पाकिस्तान को लग सकता है ये तगड़ा झटका अवैध रूप से संग्रह किये मिट्टी के तेल के साथ एक युवक गिरफ्तार निर्धनों को शिक्षा प्रदान करने के लिए होना चाहिए ह्यूमन टच : राज्यपाल पिता मुलायम को व्हील चेयर पर लेकर लोकसभा पहुंचे अखिलेश यादव
 

बहन जी के खास रह चुके इस नेता ने खोला मोर्चा, कहा - एक साथ हो जाएं सपा- बसपा फिर भी ....


GAURAV SHUKLA 07/02/2018 10:02:12
22300 Views

07-02-2018150115swamiprasadm2

Lucknow. योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री औऱ पूर्व में बसपा सुप्रीमो के खास रह चुके स्वामी प्रसाद मौर्या एक बार फिर बहनजी के खिलाफ हमलावर हुए। सपा बसपा के गठबंधन को लेकर चल रही चर्चा पर उन्होंने कहा कि मायावती जी आज पैदल हो गयी हैं। मैनें तो पूर्व में ही कह दिया था कि मायावती जी तुम्हें राजनीति करना सीखा दूंगा नहीं तो बोरिया बिस्तर बांध के यूपी के बाहर भिजवा दूंगा। 

यह भी पढ़ें... कांग्रेस के सवाल के बाद BJP में हड़कम्प, मोदी सरकार के खिलाफ छेड़ दिया यह अभियान!
फतेहपुर जिले की गांधी मैदान में श्रम विभाग की ओर से आयोजित पंजीयन शिविर कार्यक्रम में पहुंचे स्वामी प्रसाद मौर्या ने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था काफी बेहतर हो चुकी है। बावजूद इसके विपक्ष के लोग आराजकता फैलाने की साजिश रच रहे हैं। अब तो सपा और बसपा 2019 में एक साथ चुनाव लड़ने का मन बना चुके हैं। लेकिन दोनों दलों को एक भी सीट मिलने वाली नहीं है।

07-02-2018145735swamiprasadm1

स्वामी प्रसाद मौर्य ने नोएडा में हुए एनकाउंटर पर बोलते हुए कहा कि वह एनकाउंटर नहीं बल्कि आपसी रंजिश का मामला था। जिसे तूल देने का प्रयास किया गया। फिलहाल उस मामले में भी आरोपी पुलिसकर्मियों पर निलंबन की कार्रवाई के साथ केस दर्ज किया जा चुका है। वहीं स्वंय डीजीपी की ओर से यह स्पष्ट कर दिया गया है कि वह एनकाउंटर नहीं था। 

Web Title: swami prasad maurya attacks on mayawati ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया