SBI के ग्राहकों के लिए बुरी खबर, जरूर पढ़ें यह खबर


HARENDRA SINGH 08/02/2018 15:27:22
213 Views

Bad news for SBI customers Read this news Newstimes

New Delhi. मिनिमम बैलेंस से राहत की उम्‍मीद लगाए SBI के ग्राहकों के लिए बुरी खबर है। SBI के ग्राहकों को तय मिनिमम बैलेंस मेंटेन नहीं करने की सूरत में पैनाल्‍टी देनी होगी।

यह भी पढ़ें.. SBI ने निकाली इन पदों पर बंपर भर्तियां, यहां करें आवेदन

देश के सबसे बड़े बैंक के कस्‍टमर्स के लिए पहले की तरह मिनिमम बैलेंस के जरूरी नियम लागू रहेंगे, हालांकि, यह नियम अलग-अलग तरह की ब्रांचों में अलग-अलग होगा। मिनिमम बैलेंस के मामले में किसके खाते में कितनी पैनल्‍टी लगेगी, यह औसत मिनिमम बैलेंस पर भी निर्भर करेगी।

यह भी पढ़ें.. SBI ने निकाली इन पदों पर बंपर भर्तियां, यहां करें आवेदन

मिनिमम बैलेंस की शर्तों के मामले में SBI ने अपनी ब्रांचों को चार तरह से बांटा है- मेट्रो, रूरल, अर्बन और सेमी-अर्बन। अर्बन या मेट्रो ब्रांचों के कस्‍टमर्स पर पहले की तरह 3000 रुपए मिनिमम औसत बैलेंस का नियम लागू रहेगा। SBI ने पिछले साल जून में मिनिमम बैलेंस को बढ़ाकर 5000 रुपए कर दिया था।

Bad news for SBI customers Read this news Newstimes

हालांकि, बाद में इसे मेट्रो शहरों में घटाकर 3000, सेमी-अर्बन में 2000 और ग्रामीण क्षेत्रों में 1000 रुपए किया गया था। नाबालिग और पेंशनर्स के लिए भी इस सीमा को कम कर दिया गया था। पैनल्टी को 25-100 रुपए से घटाकर 20-50 रुपए के रेंज में लाया गया था।

यह भी पढ़ें.. अगर लेना है रुपए तो करें यह काम, एटीएम में डालें कूड़ा और...

गौरतलब है कि SBI में मिनिमम बैलेंस की सीमा दूसरे पब्लिक सेक्टर बैंकों से अधिक और बड़े प्राइवेट बैंकों से कम है। हाल ही में SBI ने अप्रैल और नवंबर 2017 के बीच मिनिमम बैलेंस मेनटेन नहीं करने की वजह से ग्राहकों से 1,772 करोड़ रुपए जुर्मना वसूला।

Web Title: Bad news for SBI customers Read this news Newstimes ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया