राज्य कर्मचारियों ने दी योगी सरकार को खुली चेतावनी, कहा...


RAGHVENDRA CHAURASIA 15/02/2018 19:11:39
873 Views

15-02-2018191903upgovernment1

Lucknow. राजधानी लखनऊ में सरकार से नाराज कर्मचारियों ने कहा कि योगी सरकार के कार्यकाल का एक वर्ष हो गया मगर सरकारी समस्याओं का अभी तक​ निदान नहीं हो पाया हैै। उन्होंने कहा कि इस सरकार से राज्य कर्मचारी परेशान हैं इसलिए आंदोलन करने के लिए मजबूर हैं।

  दो दिवसीय विशाल धरना

लखनऊ के इंदिरा भवन व जवाहर भवन के कर्मचारियों ने अपनी समस्याओं से तंग आकर 15 फरवरी से 16 फरवरी विशाल धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। इस धरने के माध्यम से कर्मचारी अपनी आवाज बुलंद करेगा और राज्य भर के सभी नेता इसमें शामिल होंगे। कर्मचारियों ने सरकार पर आरोप लगाया कि योगी सरकार सरकारी कर्मचारियों का अनदेखी कर रही है। कर्मचारियों ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि महासंघ द्वारा अनेकों पत्र लिखे गये मगर सरकार ने एक भी पत्र का जवाब नहीं दिया है। 

  कर्मचारियों की समस्याएं

.अल्पसंख्यक वित्त विकास निगम एवं वक्फ विकास निगम चौथे वेतनमान में जीवन यापन कर रहे हैं इन्हें सातवां वेतनमान लागू किया जाये तथा इन कर्मचारियों को समायोजित किया जाए।

.उत्तर प्रदेश राज्य कल्याण निगम का वेतन अनुदान तथा सातवां वेतनमान लागू किया जाए।

.प्रदेश में लगभग 18 लाख राज्य कर्मचारियों तथा पेंशनरों को कल्याण निगम के माध्यम से मिलने वाली वैट की छूट की भांति ही जी एस टी की छूट प्रदान की जाए।

.सातवें वेतनमान के भत्ते एवं एरियर का भुगतान किया जाए।

.लेखा एवं आडिट संवर्ग लिपिक संवर्ग तथा स्टेनोग्राफर संवर्ग की वेतन विसंगतियां दूर की जाए।

.राज्य कर्मचारियों के उपार्जित अवकाशों का आगणन व लेखांकन की प्रक्रिया हरियाणा हाईकोर्ट के निर्देशों की भांति की जाए।

.चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी की भार्तियों पर लगी रोक हटायी जाए।

.जिन विभागों में अभी तक जो कर्मचारी विनियमित नहीं हो पाये उन्हें अतिशीघ्र विनिमित किया जाए। 

.दिसंबर 2001 तक विनियमित हो चुके डेली वेजेज संविदा ​कर्मियों को पेंशन का लाभ दिया जाए। 

एलोपैथिक महिला डाक्टर की नियुक्ति की जाए

.प्रांगण मं होम्योपैथिक,एलोपैथिक तथा आयुर्वेदिक डिस्पेन्सरी के लिए स्थायी स्टाफ की स्वीकृृति प्रदान की जाए। 

.परिसर में एम्बुलेंस की व्यवस्था की जाए। 

दोनों भवनों के गेटों पर सी सी टी वी कैमरे लगाए जाए।

.कतिपय विभागाध्यक्षों द्वारा देर रात तथा छुट्टियों में भी कार्यालय खोले जाते हैं उन पर अंकुश लगाया जाए। 

.मल्टलेवल पार्किंग तथा इंदिरा भवन में चल रहे सेन्ट्रलाईज्ड ए सी के कार्यों में तेजी लायी जाए।

.विकलांग तथा वद्व कर्मचारियों के लिए प्रत्येक मंजिल पर कमोड लेटरिन का निर्माण कराया जाए।

.नेहरु वाटिका पार्क में वर्षों से पड़ी निष्प्रयोज्य वाहनों को हटाया जाए।

.दोनों भवनों में खराब पड़े वाटर कूलरों को ठीक कराया जाए।
.कर्मचारियों को बी एल ओ डयूटी से मुक्त कराया जाए।
.विभागाध्यक्ष कार्यालयों के कर्मचारियों को सचिवालय की भांति चुनाव डयूटी से मुक्त रखा जाए। 

Web Title: up government Employees Yogi angry with the government The Warning Movement ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया