आधुनिक तकनीकी से सरल होगा दिव्यांग का जीवन


SANDEEP PANDEY 19/02/2018 14:57:26
367 Views

19-02-2018150130Divyangslife2

LUCKNOW.   दिव्यांगों के विकास के लिए पिछले दो दशकों से काम कर रही माता भगवंती चड्ढा निकेतन संस्थान ने अपना वार्षिकोत्सव मनाया। इस अवसर पर संस्था ने दिव्यांगों के लिए ‘सेंटर फॉर रिसर्च, इनोवेशन एंड टेक्नोलॉजी फॉर डिसएबिलिटी की शुरुआत की। इसके जरिए दिव्यांगों का जीवन सरल बनाने व विकास परक योजनाओं से जोड़ने में मदद मिलेगी।

यह भी पढ़ेः- रेगुलर इलाज से ठीक हो सकती है यह बीमारी

दिव्यांगों की समस्याओं को दूर किया जायेगा

वेव ग्रुप के उपाध्यक्ष मनप्रीत सिंह चढ्ढा ने बताया कि अनुसंधान केंद्र सामाजिक पहलुओं पर केंद्रित होगा। इसका मकसद दिव्यांगों की समस्याओं की पहचान कर उसको दूर करना होगा। उन्होंने बताया कि पहली परियोजना 'वर्चुअल लर्निंग प्रोग्राम' होगी, जो कि नवीनतम तकनीकों का उपयोग करके जीवन कौशल को पढ़ाया जाएगा।

यह भी पढ़ेः- एनलएलएलएम योजना में वितरित हुआ स्टार्टिंग किट

दिव्यांगों को मुख्य धारा से जोड़ना

माता भगवन्ती चड्ढा निकेतन की निदेशक वंदना शर्मा ने फाउंडेशन की गतिविधियों के बारे में कहा कि संस्था का मकसद है कि दिव्यांगों को मुख्य धारा से जोड़ने की। आमतौर पर सामान्य लोग दिव्यांगों को उपेक्षित रखते हैं। इससे सामाजिक विसमता फैलती है। इसलिए अब संस्था तकनीकी के साथ दिव्यांगों को नई दिशा दिखाने में अपनी भूमिका अदा कर रही है। वंदना ने कहा कि इस तरह के प्रयास भविष्य में भी जारी रहेंगे।

Web Title: Divyang's life will be easier from modern technology ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया