बीएसएफ जवान की गर्भवती पत्नी पर भी तरस नहीं खाई थी पुलिस, अब परिवार को मिल रही जान से...


SHUBHENDU SHUKLA 25/02/2018 21:09:30
426 Views

25-02-2018222645Policetorture1
Lucknow. देश के लिए सबकुछ न्यौछावर करने वाले सहारनपुर के बीएसफ जवान के साथ पुलिस द्वारा अत्याचार करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। आरोप है कि ग्राम प्रधान मोहम्मद इकराम और पुलिस की मिली भगत ने बंग्लादेश में तैनात बीएसएफ के जवान अजय कुमार के जीवन में भूचाल ला दिया है। प्रशासनिक उच्च अधिकारियों के सामने न्याय की भीख मांगने के बाद भी उनको दरदर की ठोकरें खाने को मजबूर होना पड़ रहा है। चिंताजनक बात यह है कि जवान देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तक गुहार लगा चुका है। लेकिन उसकी कोई सुनने वाला नहीं है। यह दर्द खुद यूपी प्रेस क्लब ने पत्रकारों से बयां करते हुए जवान ने बताई। 

यह भी पढ़ें...फिर मुसीबत में फंसी सपना चौधरी, हट ता जाउ गाने को लेकर विवाद, 16 और को मिली...

जमीन पर कर लिया कब्जा 

आरोप है कि जवान के जमीन पर दबंग ग्राम प्रधान और पुलिस की मिलीभगत से उसके जमीन पर कब्जा कर कर लिया गया है। इतना ही नहीं उनकी 8 महीने की गर्भवती पत्नी को इतना पीटा गया कि वह दर्द नहीं सह सकीं और अस्पताल में भर्ती होने के दो दिन बाद बच्चे की मौत हो गई। इतना ही नहीं उल्टे उनके परिवार वालों पर ही 307 समेत कई संगीन धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया है। इतना ही नहीं सेना के अधिकारियों द्वारा भेजे गए पत्रों को भी पुलिस अधिकारियों ने ठेंगे पर रख लिया है और मनमानी लगातार जारी है। 

यह भी पढ़ें...शाहरुख ने अनुष्का-कटरीना के साथ रिक्शे में की मस्ती, देखें PHOTOS

टूट चुका है परिवार 

सहारनपुर के ग्राम तातहेड़ी के रहने वाले जवान अजय ने कहा कि उनका परिवार पुलिस और दबंग ग्राम प्रधान के कहर से टूट चुका है। डीएम, एसपी, आईजी व अन्य उच्च अधिकारियों तक वह न्याय के लिए चौखट तक जा चुके हैं, लेकिन उनको ठोकरों के सिवाय कुछ नहीं मिल रहा है। अजय ने कहा कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने मिलने के लिए समय दिया है। अब उन्हीं से न्याय की उम्मीद है। सीएम ही उनको न्याय दिलाएंगे। 

25-02-2018222717Policetorture2

यह भी पढ़ें...महिला की काली करतूत, शादी के नाम बच्चियों का करती थी...

क्या है मामला 

सहारनपुर के रहने वाले अजय कुमार बीएसएफ में हैं। उनकी तैनाती बंग्लादेश के बॉर्डर पर है। प्रशासनिक अधिकारियों, पुलिस व दबंग ग्राम प्रधान मो इकराम ने मिलीभगत कर उनके संक्रमणीय जमीन पर कब्जा कर लिया है। खड़ी फसल पर ट्रैक्टर व जेसीबी चलाकर नष्ट कर दिया गया। जबकि मामला रेवेन्यू कोर्ट इलाहाबाद में विचाराधीन हैं। जब इस बात का अजय ने विरोध किया तो उनके परिवार वालों के साथ मारपीट की गई। गर्भवती पत्नी को इतना पीटा गया कि बच्चे की मौत हो गई।

यह भी पढ़ें...आवास विकास ने दिया था 10 दिन का समय, 14 वर्ष से दौड़ रहे पीडि़त, नहीं मिल सका कब्जा

इतना ही नहीं पुलिस ने परिवार वालों पर कई गंभीर धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर जेल भेज दिया। पुलिस की करतूतों ने उनका सबकुछ उजाड़ दिया है। वह न्याय के लिए दर दर की ठोकरें खाने को मजबूर हैं। उनका परिवार पुलिस और दबंग ग्राम प्रधान से डरकर गांव छोड़कर भाग गया है। इतना ही नहीं गांव में घुसने पर प्रधान ने जवान को खुले आम जान से मारने की धमकी भी दे रखी है। बता दें कि यह जवान वही अजय कुमार हैं जिन्होंने न्याय नहीं मिलने पर सोशल मीडिया पर वीडियो भी वायरल किया था। 

25-02-2018222851Policetorture3

यह भी पढ़ें...बड़ी ख़बर: BJP को लगा बड़ा झटका, पांच दिग्गज नेताओं ने छोड़ी पार्टी

यहां लगा चुके हैं गुहार

अजय डीएम, एसपी, आईजी, डीजीपी, महिला आयोग, मानवाधिकार आयोग, मुख्यमंत्री, राज्यपाल, प्रधानमंत्री तक गुहार लगा चुके हैं। न्याय के लिए कई पत्र लिख चुके हैं। लेकिन कुछ नहीं हुआ। हालांकि, जवान ने देशवासियों पर और देश के कानून पर भरोसा जताया है कि न्याय उनको जरूर मिलेगा। 

यह भी पढ़ें...अब टाइगर ने उतार दिए कपड़े, ये 5 स्टार कर चुके हैं ऐसा काम

सरकार के बाद कोर्ट का सहारा

वहीं, जवान के समर्थन में आईं जयहिंद सेवा संस्थान की अध्यक्षा भारती यादव ने कहा कि देश का हर जवान उनका भाई है। वह अंतिम सांस तक जिस भी जवान के साथ अत्याचार हो रहा है, न्याय दिलाने के लिए लड़ाई लड़ेंगी। वह जवान के परिवार के साथ हुई घटनाओं को लेकर कोर्ट में पीआईएल दाखिल करेंगी। 

Web Title: Police torture with BSF jawan Ajay Kumar ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया