मुख्य समाचार
ममता के करीबी अधिकारी को आउटलुक नोटिस, एक साल तक नहीं जा सकेंगे​ विदेश राजौरी में पाकिस्तान की ओर से गोलीबारी, एक किशोर घायल ममता बोलीं, सांप्रदायिकता का जहर फैलाकर बंगाल में जीती भाजपा चुनाव के बाद कांग्रेस पार्टी में होने जा रहा बड़ा फेरबदल, राहुल लगाएंगे मुहर श्रमिक की संदिग्ध मौत: परिजनों ने मुआवजे को लेकर किया हंगामा जब क्रीज पर दर्शकों ने कहा, धोखेबाज भाग जाओ CWC की बैठक में राहुल का फूटा गुस्सा, हार के लिए इन दिग्गज नेताओं को ठहराया जिम्मेदार हाईस्कूल पास के लिए DRDO में नौकरी का सुनहरा मौका, आज अंतिम दिन जनसुविधा केन्द्रों पर भी आधार से जोड़े जाएंगे राशन कार्ड माध्यमिक विद्यालयों को 28 मई तक सम्मिट करना होगा यू-डायस प्रपत्र इस नेता ने दे डाली मोदी सरकार को चुनौती, जानिए क्या कहा पूर्व सैनिक की मृत्यु पर मिलेगी सहायता बड़ी खबर: ममता बनर्जी ने कहा, अब सीएम नहीं रहना चाहती सड़क हादसों में महिला समेत आधा दर्जन घायल जेट के पूर्व चेयरमैन नरेश गोयल थे पत्नी सहित देश छोड़ने की फिराक में, एयरपोर्ट से हुए अरेस्ट मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने राष्ट्रपति को सौंपी जीते सांसदों की सूची
 

पाकिस्तानी मीडिया ने आतंकवाद के मुद्दे पर पाक सरकार को घेरा


PRADEEP CHANDRA JOSHI 26/02/2018 18:29 PM
185 Views

26-Feb-2018L5OlYwl4131

Islamabad. पाकिस्तान के मीडिया ने पाकिस्तानी सरकार को आतंकवाद के मुद्दे पर घेरा है। मीडिया ने पाकिस्तानी सरकार द्वारा आतंकवादी संगठनों के इस्तेमाल पर चेताते हुए कहा है कि पाकिस्तान इन संगठनों का इस्तेमाल अपनी विदेश नीति के औजार के रूप में कर रहा है। जिन्हें वैश्विक समुदाय ने आतंकवादी संगठन घोषित किया हुआ है। मीडिया ने कहा कि इस नीति से पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय रूप से अलग-थलग पड़ने की ओर अग्रसर हो चुका है।
यह भी पढ़ें... पीएम शेख हसीना ने बांग्लादेश के भविष्य पर जताई चिंता, देशवासियों से किया आग्रह    

पाकिस्तान को रखा गया है ग्रे सूची में

बता दें कि पाकिस्तान के मशहूर अखबार डोन ने अपनी संपादकीय में सरकार की नीतियों में विशेषकर सेना की आलोचना की गई है। इसमें कहा गया है कि पेरिस में हाल में हुई वित्तीय कार्रवाई कार्यबल (एफएटीएफ) की हाल में हुई बैठकों से आई खबरें बेमानी नहीं हैं। इस तथ्य पर ध्यान देना महत्वपूर्ण है कि अमरीका द्वारा पाकिस्तान को ग्रे सूची में रखे जाने का प्रस्ताव पेश किया गया और इस दौरान हमारे मित्र चीन तथा सऊदी अरब दोनों ने भी पाकिस्तान का साथ छोड़ दिया।
यह भी पढ़ें... पाकिस्तान में भी कोई है जो श्रीदेवी की मौत से आ गया सदमे में   

पाकिस्तान पर आतंकवाद के वित्तपोषण के आरोप

यहां तक कि एफएटीएफ ने अपनी रिपोर्ट के दौरान पाकिस्तान के नाम का उल्लेख नहीं किया है। जिसके बाद देश की स्थिति के बारे में भ्रम पैदा हो गया है। बता दें कि पाकिस्तान पर आतंकवाद के वित्तपोषण के आरोप लग चुके हैं और पाकिस्तान को आतंकवाद के वित्त पोषण के खिलाफ अपनी निष्क्रियता के परिणामों के बारे में गंभीरता से ध्यान देने की जरूरत है। अखबारों ने कहा है कि आतंकवाद के वित्तपोषण रोकने में विफलता एक ऐसी बात है जिसे देश आंतरिक रूप से स्वीकार करता है। 

Web Title: Pakistani media encircle the Pakistani government on the issue of terrorism ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया