मुख्य समाचार
 

उपमुख्यमंत्री ने किया दावा, फूलपुर में फिर खिलेगा कमल


SHUBHENDU SHUKLA 27/02/2018 10:49:24
466 Views

27-02-2018110225DeputyChiefM1
 

Lucknow. उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने गोरखपुर और फूलपुर उपचुनाव में एक बार फिर जीत का दावा करते हुए कहा कि भाजपा उपचुनाव विकास के मुद्दे पर लड़ रही है। मौर्य ने दावा किया कि गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा उपचुनाव में दोनों ही सीटों पर कमल खिलेगा। इसमें कोई संदेह नहीं है। लोग भाजपा के जीत के अंतर के बारे में ही बात कर रहे हैं। यह स्पष्ट संकेत है कि दोनों सीटों पर भाजपा की जीत पक्की है। 

यह भी पढ़ें...मण्डलायुक्त ने जैविक खेती का किया निरीक्षण, 70 वर्ष के जेपी सिंह के कार्यों को सराहा

उधर, इलाहाबाद में पार्टी के मीडिया सेंटर का उद्घाटन करने के बाद संवाददाताओं से मौर्य ने कहा कि समाजवादी पार्टी और कांग्रेस को जनता ने 2014 और 2017 के चुनाव में नकार दिया था। फूलपुर की जनता गुंडागर्दी, भ्रष्टाचार और जातिवाद को बर्दाश्त नहीं करेगी। यहां की जनता 2018 में भी विकास के लिए वोट देगी।

यह भी पढ़ें... सामूहिक विवाह बैठक सम्पन्न, सीएम की मौजूदगी में 114 जोड़े डालेंगे वरमाला

योगी सरकार में भयमुक्त वातावरण

उन्होंने दावा किया कि लगातार दो दिनों के भ्रमण के दौरान जनता में 2014 के आम चुनाव और 2017 के विधानसभा चुनाव से अधिक उत्साह है। फूलपुर लोकसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी कौशलेंद्र सिंह पटेल के लिए प्रचार कर रहे मौर्य ने कहा कि जब से केंद्र में मोदी और राज्य में योगी के नेतृत्व में सरकार बनी है, तब से लोगों को भयमुक्त वातावरण मिला है और यह हमारी सरकार की सबसे बड़ी सफलता है।

उन्होंने दावा किया कि कुल वोट का 60 प्रतिशत हिस्सा भाजपा के पास है। शेष में बाकी पार्टियां हैं। इन उपचुनाव में भाजपा को मिलने वाली जीत अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव में भाजपा के लिए मजबूत नींव रखेगी।

यह भी पढ़ें...यूपी की आरती ने किया देश का नाम रोशन, सौंदर्य प्रतियोगिता 2018 के खिताब पर कब्जा

दिया था इस्तीफा

मालूम हो कि उपमुख्यमंत्री बनने के बाद मौर्य ने फूलपुर लोकसभा सीट से इस्तीफा दे दिया था। वहीं, गोरखपुर सीट मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के त्यागपत्र देने के बाद रिक्त हुई है। एक सवाल पर मौर्य ने कहा कि मेरे प्रति पार्टी कार्यकर्ताओं का स्नेह ही है कि किसी ने यह विचार पेश किया कि मेरे परिवार के किसी सदस्य को उपचुनाव में उतारना चाहिए। हालांकि, मैं कार्यकर्तावादी हूं, परिवारवादी नहीं। मैं भाजपा के बड़े परिवार का सदस्य हूं।

यह भी पढ़ें...Priya Prakash को सुप्रीम कोर्ट से मिली बड़ी राहत

गौरतलब है कि गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा उपचुनाव में भाजपा, समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के बीच त्रिकोणीय मुकाबला होने की सम्भावना है। भाजपा ने फूलपुर से कौशलेन्द्र सिंह पटेल और गोरखपुर से उपेन्द्र दत्त शुक्ल को मैदान में उतारा है। वहीं, कांग्रेस ने गोरखपुर और फूलपुर से क्रमशः सुरहिता करीम और मनीष मिश्र को, जबकि सपा ने क्रमशः प्रवीण निषाद और नागेन्द्र प्रताप सिंह पटेल को उम्मीदवार बनाया है। गोरखपुर लोकसभा क्षेत्र से योगी पांच बार सांसद रहे हैं। वहीं, फूलपुर कभी कांग्रेस का गढ़ था। देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू इसका प्रतिनिधित्व करते थे। 

यह भी पढ़ें...प्रिया प्रकाश की तारीफ में ये क्या कह गए ऋषि कपूर, फैन्स से ही मिलने लगे भद्दे कमेंट

सीएम की प्रतिष्ठा से जुड़ी है सीट

गोरखपुर लोकसभा सीट सीधे तौर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की प्रतिष्ठा से जुड़ी है। योगी यहां से वर्ष 1998 से लगातार पांच बार सांसद चुने गए हैं। इसके पहले उनके गुरु महंत अवैद्यनाथ तीन बार यहां से सांसद रहे हैं। दूसरी ओर, फूलपुर कभी कांग्रेस का गढ़ था। देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू संसद में इसका प्रतिनिधित्व करते थे। वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में केशव प्रसाद मौर्य ने कांग्रेस का दबदबा तोड़ते हुए यह सीट जीती थी। गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीट उपचुनाव के लिए मतदान 11 मार्च को होगा, जबकि नतीजे 14 मार्च को आएंगे।

Web Title: Deputy Chief Minister Keshav Maurya has claimed that Kamloops will be held in Phulpur bye election ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया