मुख्य समाचार
 

नाबालिग लड़कियों को नौकरी का देते थे झांसा, अमीर वृद्धों से करवाते थे...


SHUBHENDU SHUKLA 04/03/2018 11:46:12
481 Views

04-03-2018123726Delhipoliceg1

प्रतीकात्मक चित्र

New delhi. दिल्ली में मानव तस्करी करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ करने में पुलिस को बड़ी कामयबी मिली है। इस गिरोह में उम्रदराज भी शामिल पाए गए हैं। गिरोह नाबालिग लड़कियों को नौकरी या अन्य किसी काम को लेकर बहकाता था। इसके बाद अपने अड्डे पर ले जाता था। इसके बाद वृद्ध अमीरों के साथ शादी के लिए लड़कियों को बेच दिया जाता था। पुलिस ने इस कारनामे में संलिप्त गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए महिला समेत 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। तीन नाबालिगों को छुड़ाने में भी कामयाबी मिली है। 

04-03-2018123843Delhipoliceg3

यह भी पढ़ें......तो क्या प्रिया प्रकाश की राजनीति में हो गई एंट्री? CPI ने पोस्टरों में छपवाई वायरल तस्वीर

6 लड़कियों को बेचा

पुलिस के मुताबिक गिरोह अब तक कुल 6 लड़कियों को शादी के लिए बेच चुका है। आरोपियों की पहचान नेहा, अनुज, बाबुल और नीरज के रूप में की है। लड़कियों को बहलाने के लिए नेहा साथ देती थी। चूंकि महिला होने के कारण उससे बच्चियां जल्दी घुल मिल जाती थीं। फिलहाल गैंग का सरगना और अन्य आरोपी अभी पुलिस की चंगुल से दूर हैं। लेकिन पुलिस पूछताछ के आधार पर आरोपियों की तलाश में छापेमारी कर रही है।

यह भी पढ़ें...जब भीड़ भरी शादी के माहौल में ससुर बना बैठा असुर, नई नवेली दुल्हन को दबोचकर करने लगा...

पुलिस का मास्टर प्लान

बीते साल शाहदरा डिस्ट्रिक्ट के गीता कॉलोनी से पुलिस को 14 वर्षीय लड़की के लापता होने की शिकायत मिली थी। इसके बाद से पुलिस लड़की का पता लगाने में जुटी हुई थी। इसी बीच शिकायतकर्ता पिता के मोबाइल पर मिस कॉल आया। जब उन्होंने कॉल रिटर्न किया तो शक हुआ कि उनकी बेटी का फोन आया था। उन्होंने तत्काल इसकी सूचला पुलिस को दी। जब पुलिस ने नंबर खंगाला तो पता चला कि वह दादरी का है। इसके बाद पुलिस ने नंबर के आधार पर दादरी में छापेमारी की। यहां पुलिस ने मासूम को मुक्त कर लिया। 

04-03-2018123759Delhipoliceg2

प्रतीकात्मक चित्र

यह भी पढ़ें...एक्ट्रेस अनुष्का शर्मा को पाकिस्तान से झटका, विराट बोले मेरी पत्नी का...

मासूम ने सुनाई आपबीती

मासूम ने पुलिस को बताया कि उसकी शादी नीरज से करा दी गई थी। उसे नेहा बहकार ले गई थी। उसके साथ अनुज भी शामिल था। उनका पूरा गिरोह है। उनके कब्जे में और भी कई लड़कियां हैं। सभी को घर में बंधक बनाकर रखा है। इसके बाद पुलिस मासूम की निशानदेही पर डासना में छापेमारी की। यहां नेहा और अनुज को दबोच लिया। उनके घर से दो और लड़कियों को पुलिस ने बरामद कर लिया। पुलिस ने आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की तो जुर्म कबूल लिया। साथ ही गैंग का सच भी उगल दिया और पता बताया। 

यह भी पढ़ें...श्रीदेवी के गम में डूबीं प्रियंका चोपड़ा, निजी जिंदगी से जुड़े कई राज खोले

गैंग का मास्टर प्लान

नेहा ने पुलिस को बताया कि गैंग में राज सरगना है। वह रेलवे स्टेशन और बस अड्डों पर लड़कियों की तलाश करता है। वह ऐसी लड़कियों को निशाना बनाता है, जो किसी कारण से रूठकर या फिर घर से भागकर आई हो।  मौका मिलते ही वह लड़की को बातों में फंसा लेता है और उठा लाता है।

 वह हमेशा नाबालिग लड़कियों को ही शिकार बनाता है। लड़कियों को लाने के बाद वह उसे और अनुज को सौंप देता था। इसके बाद गिरोह का सदस्य बबलू उम्रदराज व्यक्ति की तलाश शुरू करता था। ताकि अच्छी कीमत में लड़कियों को बेचा जा सके। एक लड़की की शादी उम्रदराज से कराने के लिए 4 से 5 लाख रुपए तक लिए जाते थे। 

Web Title: Delhi police gets big success for human trafficking gang ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया