मुख्य समाचार
राम मंदिर का जल्द से जल्द निर्माण है अयोध्या आने का मकसद: उद्धव ठाकरे सीतापुर में भीषण सड़क हादसा, ट्रक की चपेट में आकर बाइक सवार दो युवकों की मौत न्यूजीलैंड में आया 7.2 तीव्रता का शक्तिशाली भूकंप भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 5-1 से हराकर FIH सीरीज़ का फाइनल जीता Air India में नौकरी का सुनहरा मौका, नहीं देनी होगी लिखित परीक्षा इस दिन जारी होंगे UP Polytechnic के परीक्षा परिणाम पति करता था परेशान, पत्नी ने प्रेमी संग मिलकर उठाया खौफनाक कदम पश्चिम बंगालः डॉक्टर्स की हड़ताल खत्म होने के आसार एक्सप्रेस वे पर भीषण सड़क हादसा, 6 लोगों की मौत पाकिस्तान ने दी पुलवामा में संभावित आतंकी हमले सूचना, घाटी में हाई अलर्ट भारत-पाक महामुकाबले पर बारिश का खतरा बरकरार मिस इंडिया 2019: सुमन राव ने जीता खिताब, शिवानी रहीं फर्स्ट रनर अप रेल यात्रियों को सफर में मसाज सेवा देने की योजना पर लगा ग्रहण, जानिए क्या रही वजह
 

संसदीय उपचुनावों में अपराधी कम, करोड़पति व पढ़े लिखों की संख्या ज्यादा


SHUBHENDU SHUKLA 05/03/2018 23:41:22
209 Views

05-03-2018235552InUttarPrade1

Lucknow. उत्तर प्रदेश की राजनीति और आगामी लोकसभा चुनावों की दृष्टि से महत्वपूर्ण समझे जा रहे फूलपुर और गोरखपुर संसदीय सीटों के उपचुनावों में इस बार लगभग चौथाई (25 फीसदी) प्रत्याशी आपराधिक प्रष्टभूमि वाले हैं। जबकि बड़ी तादाद में स्नातक स्तर या इससे ज्यादा पढ़े लिखे चुनाव मैदान में उतरे हैं।

दोनो संसदीय सीटों के उपचुनावों में उतरे ज्यादातर प्रत्याशी लगभग 78 फीसदी युवा यानी 50 साल के कम आयु के हैं। एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफार्म (एडीआर), यूपी इलेक्शन वॉच ने सोमवार को उत्तर प्रदेश के फूलपुर और गोरखपुर संसदीय सीटों के लिए हो रहे उपचुनावों को लेकर अपनी रिपोर्ट जारी की।

यह भी पढ़ें...पेट्रोल पंपों पर बने शौचालय का इस्तेमाल जनता भी कर सकेगी, नगर आयुक्त करेंगे बैठक

25 प्रतिशत पर अपराधिक मामले

 एडीआर यूपी के मुख्य समन्वयक संजय सिंह ने फूलपुर और गोरखपुर में चुनाव लड़ रहे प्रत्याशियों के आपराधिक, वित्तीय व शैक्षिक प्रष्ठभूमि का ब्यौरा देते हुए बताया कि इन चुनावों में मैदान में उतरे कुल 32 प्रत्याशियों में से आठ (25 फीसदी) ने अपने उपर आपराधिक मामले घोषित किए हैं। फूलपुर से निर्दलीय चुनाव लड़ रहे अतीक अहमद ने अपने उपर हत्या से संबंधित 8 मामले घोषित किए हैं जबकि उन पर इतने ही मामले हत्या के प्रयास के हैं।

यह भी पढ़ें...कैश समाप्त होने पर ग्राहकों ने बैंक में किया हंगामा

फूलपुर से ही एक अन्य परिर्वतन समाज पार्टी के उम्मीदवार रईस अहमद खान ने अपने उपर हत्या के प्रयास का एक मामला घोषित किया है। रिपोर्ट के मुताबिक अतीक अहमद के उपर कुल 53 आपराधिक मामले हैं। फूलपुर से भाजपा प्रत्याशी कौशलेंद्र सिंह पटेल पर दो आपराधिक मामले दर्ज हैं जिनमें पहली पत्नी के रहते हुए धोखाधड़ी कर दूसरी शादी रचाने संबंधी मामला भी है।

यह भी पढ़ें...सरकारी बिजली बकाएदारों के खिलाफ अभियान शुरू, 10 हजार करोड़ का बकाया

11 प्रत्याशी करोड़पति

उक्त दोनो निर्वाचन क्षेत्रों से मैदान में उतरे 32 में से 11 प्रत्याशी करोड़पति हैं जबकि सभी उम्मीदवारों की औसतन संपत्ति 3.15 करोड़ रुपये है। सबसे ज्यादा अमीर प्रत्याशी फूलपुर से समाजवादी पार्टी के नागेंद्र प्रताप पटेल हैं जिनकी कुल संपत्ति 33 करोड़ रुपये जबकि दूसरे नंबर पर इसी सीट के निर्दलीय प्रत्याशी अतीक अहमद 25 करोड़ रुपये के साथ हैं। गोरखपुर से सर्वोदय भारत पार्टी के प्रत्याशी गिरीश नारायण पांडे 10 करोड़ रुपये संपत्ति के साथ तीसरे सबसे अमीर प्रत्याशी हैं। 

यह भी पढ़ें...सीबीएसई बोर्ड- लंबा लेकिन आसान था अंग्रेजी का पेपर
सबसे ज्यादा कर्जदार प्रत्याशियों में गोरखपुर से कांग्रेस प्रत्याशी डॉ सुरहिता करीम तीन करोड़ रुपये के साथ पहले नंबर जबकि फूलपुर से सपा के नागेंद्र प्रताप पटेल एक करोड़ रुपये व इसी सीट से भारतीय जनता पार्टी के कौशलेंद्र सिंह पटेल 88 लाख रुपये के कर्ज के साथ तीसरे नंबर पर हैं।

यह भी पढ़ें...श्रीदेवी की बेटी जाह्नवी को किया ट्रोल, बहन ने दिया करारा जवाब, जीत लिया दिल

78 फीसदी उम्मीदवार युवा

एडीआर के संजय सिंह के मुताबिक फूलपुर और गोरखपुर में चुनाव लड़ रहे 78 फीसदी उम्मीदवार युवा हैं, जिनकी आयु 50 फीसदी से कम है। जबकि केवल 7 उम्मीदवारों की आयु 61 से 70 साल के बीच है। दोनो सीटों से महज 9 फीसदी यानी केवल तीन महिला उम्मीदवार मैदान में हैं।

Web Title: In Uttar Pradesh's parliamentary byelections, the number of criminals read less ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया