मुख्य समाचार
UPTET : हाईकोर्ट के आदेश को सुप्रीम कोर्ट ने किया निरस्त, 1 लाख से ज्यादा शिक्षकों को मिली राहत अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर बोला करारा हमला, कहा- नौजवानों की जिन्दगी में ... फतेहपुर में प्रतिबंधित मांस मिलने पर बवाल, मदरसे पर पथराव साक्षी मामले पर मालिनी अवस्थी का बड़ा बयान, लड़कियां जीवन साथी चुनें लेकिन... यूपी पुलिस को मिली बड़ी सफलता, दो इनामी बदमाश किए ढेर वरिष्ठ पत्रकार बरखा दत्त ने कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल पर लगाए गम्भीर आरोप, मचा घमासान अंतिम संस्कार की चल रही थी तैयारी, अचानक युवक की खुली आंखे और फिर जो हुआ... सरकारी आवास के मोह पॉश में जकड़े दो पूर्व मंत्रियों को गहलोत सरकार ने दिया जुर्माने का झटका सलमान संग फिल्मों में डेब्यू कर सुपरस्टार बनीं कटरीना का नहीं है कोई क्राइम रिकॉर्ड 149 साल बाद बन रहा गुरू पूर्णिमा पर चंद्र दुर्लभ योग सपा नेता अखिलेश यादव की गोली मारकर हत्या, सियासत में भूचाल
 

श्रीलंका सांप्रदायिक हिंसा में 2 मौत, 46 दुकानें और 37 घर जले


PRADEEP CHANDRA JOSHI 07/03/2018 10:28:18
1838 Views

newstimes.co.in

New Delhi. श्रीलंका में जारी साम्प्रदायिक हिंसा के कारण पूरे देश में इस समय अराजकता माहौल है और सरकार को इमरजेंसी लगाने पर मजबूर होना पड़ा है। इस हिंसा के कारण अभी 2 लोगों के मारे जाने की खबर है जबकि कई स्थानों पर हिंसक लोगों द्वारा कई घर और दुकानों को भी जलाने की खबर हैं।
यह भी पढ़ें... आर्थिक मदद बंद करने के बावजूद नहीं बदला पाकिस्तानः अमेरिका

कैंडी से भड़की साम्प्रदायिक हिंसा    

सरकार ने बढ़ती हिंसा पर लगाम लगाने के लिए सोमवार को देश में इमरजेंसी लगा दी है। बता दें कि कैंडी में उस समय हिंसा भड़क उठी जब एक बौद्ध अनुयायी की मौत हो गई और मुस्लिम व्यापारी को आग लगा दी गई, इसके बाद वहां हिंसा भड़क उठी और धीरे-धीरे इसने सांप्रदायिक हिंसा का रूप ले लिया। स्थिति पर नियंत्रण के लिए वहां कर्फ्यू लगा दिया गया है। इस हिंसा के मद्देनजर सरकार ने 2 दर्जन से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया है।
यह भी पढ़ें... ट्रंप को भा गए इस्राइली पीएम, बोले- जरूर आऊंगा आपके देश

श्रीलंका में जारी हिंसा पर बोले राष्ट्रपति विक्रमसिंघे

खबर के अनुसार कैंडी में हिंसा के दौरान अब तक 4 मस्जिद, 37 घर, 46 दुकानें और 35 वाहनों को नुकसान पहुंचाया जा चुका है। श्रीलंका में जारी इस पूरे घटनाक्रम पर संसद में बोलते हुए राष्ट्रपति रानिल विक्रमसिंघे ने बताया कि ड्राइवर की मौत के बाद स्थानीय बौद्ध और मुस्लिम समुदाय के बड़े बुजुर्ग बातचीत के जरिए तनाव को कम करने में लगे हुए हैं। उन्होंने कहा कि हिंसा फैलाने में बाहरी तत्वों का हाथ है। बाहर से आए लोगों ने हिंसा भड़काई और सुनियोजित तरीके से तोड़फोड़ को अंजाम दिया गया।
यह भी पढ़ें... ओली के प्रधानमंत्री बनते ही नेपाल पहुंचे पाक पीएम, राजनीतिक खिचड़ी से भारत चिंतित

बता दें कि एक हफ्ते पहले भी ट्रैफिक रेड लाइट पर विवाद के बाद कुछ मुस्लिम युवाओं ने एक बौद्ध युवक की पिटाई की थी और इसके बाद वहां तनाव की स्थिति पैदा हो गई थी और तभी से वहां तनाव बना हुआ था। इसी तरफ श्रीलंका के पूर्वी शहर अमपारा में भी मुस्लिम विरोधी हिंसा हुई थी।

Web Title: 2 deaths in Sri Lanka communal violence, 37 houses burnt, including 46 shops ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया