मुख्य समाचार
ममता के करीबी अधिकारी को आउटलुक नोटिस, एक साल तक नहीं जा सकेंगे​ विदेश राजौरी में पाकिस्तान की ओर से गोलीबारी, एक किशोर घायल ममता बोलीं, सांप्रदायिकता का जहर फैलाकर बंगाल में जीती भाजपा चुनाव के बाद कांग्रेस पार्टी में होने जा रहा बड़ा फेरबदल, राहुल लगाएंगे मुहर श्रमिक की संदिग्ध मौत: परिजनों ने मुआवजे को लेकर किया हंगामा जब क्रीज पर दर्शकों ने कहा, धोखेबाज भाग जाओ CWC की बैठक में राहुल का फूटा गुस्सा, हार के लिए इन दिग्गज नेताओं को ठहराया जिम्मेदार हाईस्कूल पास के लिए DRDO में नौकरी का सुनहरा मौका, आज अंतिम दिन जनसुविधा केन्द्रों पर भी आधार से जोड़े जाएंगे राशन कार्ड माध्यमिक विद्यालयों को 28 मई तक सम्मिट करना होगा यू-डायस प्रपत्र इस नेता ने दे डाली मोदी सरकार को चुनौती, जानिए क्या कहा पूर्व सैनिक की मृत्यु पर मिलेगी सहायता बड़ी खबर: ममता बनर्जी ने कहा, अब सीएम नहीं रहना चाहती सड़क हादसों में महिला समेत आधा दर्जन घायल जेट के पूर्व चेयरमैन नरेश गोयल थे पत्नी सहित देश छोड़ने की फिराक में, एयरपोर्ट से हुए अरेस्ट मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने राष्ट्रपति को सौंपी जीते सांसदों की सूची
 

अलग मिजाज और तेवर वाले अभय देओल को जन्मदिन मुबारक


NAZO ALI SHEIKH 15/03/2018 15:59:26
3360 Views

15-03-2018161414HappyBirthday2

Mumbai.  अभय देओल बॉलीवुड के मशहूर देओल परिवार से हैं। लेकिन अभय अपने भाईयों से  मिजाज और तेवर में एकदम अलग हैं। 15 मार्च 1976 को जन्मे अभय 42 साल के हो गये हैं।

यह भी पढ़ें... उदित नारायण की तबीयत बिगड़ी, अस्पताल में हुए भर्ती

अभय, धर्मेंद्र के छोटे भाई अजीत सिंह देओल के बेटे हैं। उनकी मां का नाम ऊषा देओल है। अजीत भी एक्टर थे और सत्तर के दशक में कुछ फिल्मों में वो छोटे-छोटे किरदारों में नजर आते थे। अभय अपने एक्टिंग करियर का श्रेय अपने पिता को नहीं देते।

यह भी पढ़ें... Birthday Special: आलिया भट्ट ने अपने जन्मदिन पर खोला ये बड़ा राज, जानें और भी कुछ खास बातें

मुश्किल किरदार निभाने में सक्षम

एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा था कि वो स्कूल के दिनों से ही थिएटर कर रहे हैं, इसलिए एक्टर बने हैं। बॉक्स ऑफ़िस के नज़रिए से अभय का करियर बहुत कामयाब नहीं रहा है। उनकी गिनती मौजूदा दौर के बेहतरीन अभिनेताओं में की जाती है। अभय को ऐसा एक्टर माना जाता है, जो मुश्किल किरदारों को निभाने में सक्षम है।

अभय की खासियत यह है कि उनके फिल्मों के चयन बिल्कुल ही अलग रहते है। वह धर्मेंद्र और सनी देओल से भी हटकर फिल्मों के बारे में सोचते हैं। वो अपने ताऊ जी और भाई के तरह मैचो-मैन नहीं बनते। कहानी और किरदारों में यथार्थ की गहराई होती है तो अदाकारी में नाटकीयता का तड़का कम रहता है।

15-03-2018161403HappyBirthday1

अभय ने 2005 में इम्तियाज़ अली की फ़िल्म सोचा ना था हिंदी सिनेमा में बतौर अभिनेता काम करना शुरू किया था। पहली फ़िल्म से ही उन्होंने जता दिया कि अदाकारी उनके ख़ून में हैं। 2008 में दिबाकर बैनर्जी की फ़िल्म 'ओए लकी लकी ओए' को क्रिटिक्स ने पसंद किया। मगर मुंबई अटैक्स के ठीक एक दिन बाद रिलीज़ होने की वजह से ज़्यादा दर्शक नहीं मिले। अभय देओल के करियर की पहली बड़ी कामयाबी अनुराग कश्यप की 2009 की फ़िल्म देव. डी है।

Web Title: Happy Birthday to Abhay Deol with Different Moods and Different Stings ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया