मुख्य समाचार
भाजपा के लिए बिहार में बहार गिरीराज सिंह ने कन्‍हैया कुमार को पीछे छोड़ा नेवी में जाने का सुनहरा मौका, जल्द करें आवेदन बंगाल में भाजपा की टीएमसी को तगड़ी टक्कर, फिलहाल टीएमसी बढ़त पर राजस्थान में कांग्रेस कॉन्फीडेंस को करारा झटका, भाजपा का 25 लोकसभा सीटों पर क्लीन स्वीप Lucknow Election Result Live : बड़ी बढ़त की ओर राजनाथ सिंह चुनाव नतीजे दिन अगर हुआ ये तो बंद होगा शेयर बाजार का कारोबार रायबरेली में कांग्रेस की सोनिया गांधी आगे, भाजपा को झटका Uttar Pradesh Election Result Live : यूपी की 80 सीटों में बीजेपी ने 59 पर बनाई बढ़त शुरूआती रूझानों में यूपी में गठबंधन को नहीं मिलती दिख रही आशातीत सफलता नई नवेली दुल्हन को प्रेमी संग रंगे हाथ पकड़ा तो ससुरालियों ने रख दी ये शर्त एग्जिट पोल वाले ट्वीट को लेकर अनुपम खेर ने की विवेक ओबेरॉय की आलोचना, ईशा गुप्ता बोलीं... COA ने किया ऐलान, 22 अक्टूबर को होंगे बीसीसीआई के चुनाव पिता से लगाई एक शर्त के बाद इस महिला ने 15 वर्षों में किए 600 पोस्टमार्टम यहां निकली बंपर भर्ती, जल्द करें आवेदन KGMU : पल्मोनरी एंड क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग ने किया भंडारे का आयोजन  ICC World Cup 2019 : टीम इंडिया इंग्लैंड हुई रवाना, धोनी को लेकर बनी यह रणनीति डीएम-एसपी ने लिया मतगणना स्थल पर तैयारियों का जायजा, तैयारियां पूरी मध्य कमान ने केन्द्रीय विद्यालय के छात्रों को कराया सीमा दर्शन नाराज तीन विधायक दे सकते हैं राजभर को झटका  सुप्रीम कोर्ट के बाद चुनाव आयोग ने दिया विपक्ष को झटका
 

छात्र अपहरण में शामिल बदमाश को मुठभेड़ में गिरफ्तार करने का दावा, सोशल मिडिया पर फर्जी करार


SHUBHENDU SHUKLA 20/03/2018 22:47:54
312 Views

20-03-2018230557Lucknowpolice1
Lucknow. राजधानी लखनऊ में सोमवार को मुख्यमंत्री आवास के पास स्थित ला-मार्ट कॉलेज में पढ़ने वाले 11वीं के छात्र अरनव का ड्राईवर ने अपने दो साथियों के सार्थ मिलकर अपहरण कर लिया था। अपहरण की शिकायत मिलने के बाद सक्रिय हुई पुलिस ने अधिकारियों के निर्देशन में करीब 200 पुलिसकर्मियों के सहयोग से छात्र को हाईटेक तकनीक के जरिये 8 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद सकुशल बरामद कर लिया था। पुलिस ने इस घटना में शामिल दो अभियुक्तों को गिरफ्तार किया था। जबकि एक अपहरणकर्ता फरार था, जिसकी तलाश में पुलिस लगी हुई थी।

यह भी पढ़ें...इस फेमस फिल्म के रिमेक में पहली बार साथ नजर आएगें शाहिद-ऐश्वर्या...

भैंसाकुंड के पास मुठभेड़

पुलिस का दावा है कि मंगलवार की सुबह तड़के छात्र के अपहरण में शामिल बदमाश अजय राय के लखनऊ में होने की लोकेशन मिली। पुलिस टीम ने घेराबंदी करके बदमाश को भैंसाकुंड के पास कथित मुठभेड़ शुरू की। बदमाश ने पुलिस पर गोली चलाना शुरू किया तो जबाबी कार्रवाई में पुलिस की गोली बदमाश के पैर में लग गई और वह घायल होकर गिर गया। पुलिस ने बदमाश को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया। यहां उसके इलाज के साथ ही आगे की कार्रवाई की जा रही थी।

यह भी पढ़ें...ज्वाइंट ऑपरेशन के तहत प्रेमी जोड़ा गिरफ्तार, लव जिहाद का मामला!

सोशल मीडिया पर मुठभेड़ फर्जी करार

पुलिस की ये मुठभेड़ किसी के गले नहीं उतर रही है। इस मुठभेड़ को लेकर सोशल मीडिया पर तरह तरह की चर्चा चल रही है। लोगों का कहना है कि पुलिस ने बेशक मेहनत से काम करके छात्र को अपहरणकर्ताओं के चंगुल से छुड़ाया ये वाकई काबिले तारीफ है। लेकिन पुलिस ने अपहरणकर्ताओं को भी कल ही पकड़ लिया था इनमें से दो की गिरफ्तारी दिखाई गई थी। एक बदमाश को पुलिस कस्डडी में ले रखा था जिसे आज मुठभेड़ में गिरफ्तारी दिखाई जा रही है। 

यह भी पढ़ें...पति नशे में था बेहोश, सुहागरात पर लाइट बंद कर ससुर ने दुल्हन को बना डाला...

उठाए कई सवाल

खबरों के मुताबिक, अच्छे काम के लिए पुलिस की मीडिया में खूब सराहना हुई। लेकिन वाहवाही लूटने के लिए फर्जी मुठभेड़ दिखाना किसी के गले नहीं उतर रहा है। लोग सवाल उठा रहे हैं कि क्या बदमाश अजय राय कल एक साथी की गिरफ्तारी के बाद से ही पुलिस का इंतजार कर रहा था? क्या पुलिस की धरपकड़ के बाद अजय राय लखनऊ में ही छिपा रहा, न वो भागा और न पुलिस को सूचना मिली? बदमाश लखनऊ में छिपा पुलिस का इंतजार करता रहा या वाहवाही लूटने के लिए पुलिस ने मुठभेड़बताई?

यह भी पढ़ें...नोटबंदी से था परेशान, दर्ज करा दी अपने ही अपहरण की FIR, ऐसे हुआ खुलासा

क्या है अपहरण का पूरा घटनाक्रम?

गौरतलब है कि राणा प्रताप मार्ग स्थित सर्वोदय कॉलोनी निवासी स्वास्थ्य विभाग के ठेकेदार अनूप अग्रवाल अरनव (17) का सोमवार को गणित का पेपर था। सीतापुर के कमलापुर स्थित बैकुंठपुर निवासी ड्राइवर संतोष सोमवार सुबह नौ बजे एक्सयूवी (यूपी32ईआर-1578) से अरनव को स्कूल छोड़ने के लिए निकला था। 9:30 बजे तक ड्राइवर वापस नहीं आया तो अनूप ने उसके मोबाइल पर फोन किया। मोबाइल बंद था। कॉलेज से पता चला कि अरनव स्कूल नहीं पहुंचा। घरवालों ने मामले की जानकारी पूर्व डीजीपी एके जैन को दी। उन्होंने एसएसपी दीपक कुमार को बताया। पुलिस ने छानबीन की तो 9:29:52 सेकंड पर गाड़ी की लोकेशन सीतापुर हाईवे के इटौंजा स्थित टॉल प्लाजा पर मिली। 

यह भी पढ़ें...आइसक्रीम देकर मासूम को बनाया हवस का शिकार, जंगल में छोड़कर फरार

इस पर आईजी रेंज सुजीत कुमार पांडेय सीतापुर रवाना हो गए। उन्होंने एसपी सीतापुर और मानपुर थाने के एसओ को अलर्ट किया। इधर, एसएसपी दीपक कुमार ने एसओ इटौंजा शिवशंकर सिंह को सीतापुर रवाना किया।

यह भी पढ़ें...एक्शन सीन करते समय आलिया भट्ट हुईं घायल, क्या रुक जाएगी फिल्म की शूटिंग

सीओ हजरतगंज अभय कुमार मिश्र और कोतवाली प्रभारी कृष्णानगर इंस्पेक्टर अंजनी कुमार पांडे की टीम भी मानपुर पहुंच गई। एसटीएफ ने भी घेराबंदी शुरू की। शाम 4:12 बजे सीतापुर में मानपुर के जंगल से गाड़ी बरामद हो गई। उसके बाद 5:30 बजे पुलिस ने गन्ने के खेत से अरनव को मुक्त करा लिया और संतोष को गिरफ्तार कर लिया।

Web Title: Lucknow police claimed to have arrested a badass in the abduction of student ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया