मुख्य समाचार
नई नवेली दुल्हन को प्रेमी संग रंगे हाथ पकड़ा तो ससुरालियों ने रख दी ये शर्त एग्जिट पोल वाले ट्वीट को लेकर अनुपम खेर ने की विवेक ओबेरॉय की आलोचना, ईशा गुप्ता बोलीं... COA ने किया ऐलान, 22 अक्टूबर को होंगे बीसीसीआई के चुनाव पिता से लगाई एक शर्त के बाद इस महिला ने 15 वर्षों में किए 600 पोस्टमार्टम यहां निकली बंपर भर्ती, जल्द करें आवेदन KGMU : पल्मोनरी एंड क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग ने किया भंडारे का आयोजन  ICC World Cup 2019 : टीम इंडिया इंग्लैंड हुई रवाना, धोनी को लेकर बनी यह रणनीति डीएम-एसपी ने लिया मतगणना स्थल पर तैयारियों का जायजा, तैयारियां पूरी मध्य कमान ने केन्द्रीय विद्यालय के छात्रों को कराया सीमा दर्शन नाराज तीन विधायक दे सकते हैं राजभर को झटका  सुप्रीम कोर्ट के बाद चुनाव आयोग ने दिया विपक्ष को झटका स्पा सेंटर की आड़ में चल रहा था सेक्स रैकेट, इस तरह पुलिस ने किया पर्दाफाश मायावती का बड़ा एक्शन, इस दिग्गज नेता को पार्टी से किया बाहर मौसी के घर आयी बच्ची का तालाब में उतराता मिला शव साढ़े छह लाख की शराब के साथ एसटीएफ के हत्थे चढे़ दो तस्कर 28वीं पुण्य तिथि पर याद किए गए पूर्व पीएम राजीव गांधी BSP की जगह BJP को वोट देना महिला को पड़ा भारी, पति ने फावड़े से काटकर की हत्या पूर्व मंत्री और बसपा के कद्दावर नेता को पार्टी ने दिखाया बाहर का रास्ता पूर्व मंत्री और बसपा के कद्दावर नेता को पार्टी ने दिखाया बाहर का रास्ता  लोकसभा चुनाव खत्म होते ही बंद हुआ नमो टीवी, भाजपा ने दिए थे इतने लाख रुपए सीडीओ ने देवलान गौशाला का किया निरीक्षण बड़ा मंगल दे रहा है दस्तक, लखनऊ मेट्रो की सवारी कर बचें धूप और जाम से आजम खान के खिलाफ आचार संहिला उल्लंघन के 13 मामलों में आरोप पत्र दाखिल
 

लखनऊ पुलिस की काली करतूत, कार्यकर्ता की नग्न कर पिटाई, फर्जी केस में फंसाया


SHUBHENDU SHUKLA 23/03/2018 12:45:42
1478 Views

23-03-2018130644Lucknowpolice1
Lucknow. सीएम योगी के राज में पुलिस ही अपराधियों जैसा व्यवहार आम लोगों के साथ कर रही है। मानवाधिकार कार्यकर्ता को हजरतगंज पुलिस द्वारा नग्न कर पीटने व फर्जी केस में फंसाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। न्याय की गुहार लगा रहे पीड़ित की कहीं सुनवाई नहीं हो रही है। 1 साल से वह दर दर की ठोकरें खा रहा है। वहीं, उच्च अधिकारियों से शिकायत पर उसे धमकी भी मिल रही है। 

यह भी पढ़ें...जानें किम जोंग के सौतेले भाई को मारने के लिए किस पदार्थ का हुआ था इस्तेमाल

क्या है मामला

पीड़ित मानवाधिकार कार्यकर्ता मनोज कटियार 32 के मुताबिक बीते साल जून 28 जून को हजरतगंज थाने की चौकी व कोतवाली में पुलिस उसे उठा ले गई। इसके बाद यहां नग्न कर पीटा। इतना ही नहीं फर्जी केस दर्ज कर चालान भी कर दिया। पीड़ित की प्रताड़ना से त्रस्त कार्यकर्ता न्याय की गुहारी के लिए एक साल से दर-दर की ठोकरें खा रहा है, लेकिन उसकी कहीं सुनवाई नहीं हो रही है।

यह भी पढ़ें...बेटी से 15 साल तक बनाया अवैध संबंध, पत्नी ने भी दिया साथ, बनी दो बच्चों की...

एसएसपी से की मुता​कात

ह्यूमन राईट मानिटरिंग फोरम के कार्यकर्ता अमित मिश्रा, अजय शर्मा, रामदुलार, नाहीद अकील, पीड़ित मनोज कटियार को न्याय दिलाने के लिए एसएसपी दीपक कुमार से मिले। कार्यकर्ताओं ने पीड़ित पर फर्जी केस को रद्द कर मुआवजा दिलाने व दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ ठोस कार्रवाई करने की मांग की। साथ ही कार्यकर्ताओं ने मानवाधिकर आयोग में भी आरोपी पुलिस वालों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। 

Web Title: Lucknow police fate was written after the worker naked beating ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया