मुख्य समाचार
रॉबर्ट वाड्रा की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, ईडी ने अग्रिम जमानत निरस्त करने की मांग मोहनलालगंज में बसपा चौथी बार दूसरे स्थान पर डॉ. ओ.पी.चौधरी ने संभाला भारतीय जीव जंतु कल्याण बोर्ड के चेयरमैन का कार्यभार अपने बयान में फंसे सिद्धू, सोशल मीडिया पर हो रही जमकर खिंचाई सेवक के रूप में करूॅगी जनता की सेवा : साध्वी संसद तक पहुंचने में सफल हुई यह 11 महिलाएं करेंगी यूपी का नेतृत्व  दोबारा चुनाव जीतकर कौशल ने रचा इतिहास बाइक की टक्कर से साइ​किल सवार महिला की मौत, बेटी घायल शाकिब-अल-हसन का विश्व कप को लेकर आया बड़ा बयान गंभीर ने की राजनीतिक करियर की शुरुआत, इतने वाटों से दर्ज की जीत ऐसा हुआ तो आज़म खान लोकसभा की सदस्यता से खुद दे देंगे इस्तीफा! पुलिस ने किया लूट की वारदात से इंकार, आपसी रंजिश का गहराया शक  आजम खान का बड़ा बयान, तो दे दूंगा लोकसभा सदस्यता से इस्तीफा भाजपा व मीडिया को लेकर आपत्तिजनक पोस्ट पर मुकदमा दर्ज, अभियुक्त भेजा गया जेल FIFA World Cup: हो गया निर्णय 2022 टूर्नामेंट में खेलेंगी 32 टीमें बुंदेलखंड की सभी 4 सीटें भाजपा के खाते में 52 सीटों पर सिमटी कांग्रेस, अपनी पारम्परिक ​सीट से हाथ धो बैठे राहुल गांधी भाजपा के सहयोगी अपना दल (एस) ने उप्र की दो सीटों विजयी सुरक्षा बलों ने आतंकी सरगना मूसा को ढेर कर दिया पीएम मोदी की जीत का तोहफा
 

पीएम मोदी ने विपक्ष को लिया आड़े हाथ, बोले-आंबेडकर को राजनीति में मत घसीटो


RAJNISH KUMAR 04/04/2018 15:48 PM
297 Views

New Delhi. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दलित संगठनों और विपक्ष दलों को आड़े हाथ लिया। उन्होंने कहा कि जो देश के संविधान निर्माता कहे जाते हैं उनके सम्मान में किसी भी सरकार ने उतना नहीं किया जितना हमने किया। उन्होंने कहा कि आंबेडकर को राजनीति में घसीटने की बजाय उनके दिखाए रास्ते पर चलना चाहिए। मोदी ने कहा कि डॉक्टर आंबेडकर के आदर्श का मूल तत्व है, शांति और भाईचारा। बता दें कि एससी-एसटी एक्ट पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ भारत बंद के दौरान हुई हिंसा के बाद पहली बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने परोक्ष रूप से अपनी बात रखी है।

pm narendra modi adress in new delhi

  आंबेडकर के नाम पर केवल राजनीति की गई

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार चार मार्च को नई दिल्ली वेस्टर्न कोर्ट एनेक्सी की नई इमारत के उद्घाटन कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे। मोदी ने कहा कि आंबेडकर के नाम पर केवल राजनीति की गई। उन्होंने कहा कि 'अटल सरकार के समय आंबेडकर से जुड़े दो भवनों के निर्माण की योजना बनाई गई। बाद की सरकारों ने केवल राजनीति की। अब जाकर हम उस योजना को पूरा करने के लिए तैयार हैं। जब मैंने शिलान्यास किया था तो कहा था कि 2018 अप्रैल में इसका लोकार्पण करूंगा। 13 अप्रैल को उसका लोकार्पण है और 14 अप्रैल को बाबा साहब आंबेडकर का जन्मदिन। दरअसल मोदी आंबेडकर इंटरनेशनल सेंटर का जिक्र कर रहे थे, जिसका उद्घाटन होने वाला है।

यह भी पढ़ें : सीबीएसई ने कहा, अब दोबारा नहीं होगी दसवीं गणित की परीक्षा

  आंबेडकर के दिखाए रास्ते पर चलने की जरूरत

मोदी ने कहा कि 'बाबा साहब आंबेडकर को शायद किसी सरकार ने इतना मान सम्मान नहीं दिया होगा, जितना इस सरकार ने दिया है। उन्होंने कहा कि आंबेडकर को राजनीति में घसीटने की बजाय उनके दिखाए रास्ते पर चलने की जरूरत है।

We are walking on the path shown by Dr. Babasaheb Ambedkar. At the core of Dr. Ambedkar's ideals is peace and togetherness. Working for the poorest of the poor is our mission: PM Modi pic.twitter.com/SOhWvQ4Eb5

— ANI (@ANI) April 4, 2018

पीएम मोदी ने कहा कि हम लोग आखिरी छोर में बैठे हुए लोगों के लिए जीने मरने वाले लोग हैं। महात्मा गांधी ने हमें यही रास्ता दिखाया है। यही सरकार की जिम्मेदारी है और सरकार इस जिम्मेदारी को निभा रही है।

 

यह भी पढ़ें : 21वें कॉमलवेल्थ गेम का आगाज आज से, जानें कहां और कब होंगे मुकाबले

  राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी पर बोला था हमला

बता दें कि दो अप्रैल को दलित संगठनों ने भारत बंद का आह्वान किया था। इस दौरान व्यापक हिंसा में 12 लोगों की मौत हो गई थी। दलित संगठन और विपक्ष केंद्र सरकार पर एससी-एसटी एक्ट को कमजोर करने की साजिश का आरोप लगा रहे हैं। हालांकि केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में एससी-एसटी एक्ट के फैसले के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दाखिल की थी, लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने याचिका को खारिज कर दिया। वहीं, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला था। उन्होंने कहा था कि वह दलितों, आदिवासियों के खिलाफ हो रहे अत्याचारों और SC-ST ऐक्ट को 'शिथिल' बनाए जाने जैसे मुद्दों पर एक भी शब्द क्यों नहीं बोल रहे हैं।

Web Title: pm narendra modi adress in new delhi ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया