मुख्य समाचार
जानिए जातिवाद पर हरियाणा हाईकोर्ट ने क्या टिप्पणी की स्वरा भास्कर के निशाने पर आईं प्रज्ञा ठाकुर, हेमंत पर दिया था बयान वेडिंग एनिवर्सरी पर अभिषेक ने शेयर की ऐश की फोटो, लिखा हनी मून, फैंस बोले इतना गुरूर... कॉफी विद करण मामला : पांड्या और राहुल पर लगा 20-20 लाख रुपये का जुर्माना बाइक पोल से टकराई, युवक की मौत अधिकारियों को नहीं दिखाई पड़ रहा आचार संहिता का उल्लंघन मथुरा में आइसक्रीम फैक्ट्री में अमोनिया गैस का रिसाव,15 की ​बिगड़ी तबियत मोदी ने इस नेता को बताया स्पीड ब्रेकर शूट के दौरान विक्की कौशल को आई गंभीर चोटें अपने सबसे बड़े चुनावी वादे को लेकर बुरी फंसी कांग्रेस सुरवीन चावला के घर आई नन्ही परी, देखें तस्वीर खोदा पहाड़ निकली चुहिया साबित होगा नकली भतीजा-बुआ का गठबंधन : केशव मौर्य एलएचबी कोच बने सुरक्षा कवच, बची भीषण तबाही स्पाइसजेट बना जेट के कर्मचारियों का सहारा, 100 पायलटों सहित 500 लोगों को दी नौकरी जल्‍द फाइटर जेट के कॉकपिट में नजर आएंगे विंग कमांडर अभिनंदन पूर्वा एक्सप्रेस हादसे के चलते बाधित हुआ हावड़ा रूट पर ट्रेनों का संचालन कोहली की पारी ने दिखाया कमाल, 10 रन से जीती RCB नोट्रे डेम को पहले जैसा बनाना चाहते हैं मैक्रों, येलो वेस्ट प्रदर्शन से बिगड़ी छवि को सुधारने की कवायद सीएम योगी बोले- बाबा साहेब ने न किया होता यह काम, तो आज भी किसी जमींदार के यहां भैंस चरा रहे होते अखिलेश 
 

दलित आंदोलन: एडीजी ने किया खुलासा... तो इसलिए इन लोगों ने भड़काई थी हिंसा


RAJNISH KUMAR 07/04/2018 13:32 PM
2456 Views

Lucknow. द​लित आंदोलन के नाम पर भड़की हिंसा ने न केवल प्रदेश बल्कि पूरे देश के लोगों को हिला कर रख दिया। इस हिंसा में करीब दर्जन भर लोगों की जानें भी गईं। सरकार ने हिंसा की जांच के आदेश दिए थे। हालांकि अभी पुलिस जांच चल रही है। पश्चिमी यूपी की बात की जाए तो मेरठ जोन में ही शुरुआती जांच में ही करीब 500 लोगों के नाम सामने आए चुके हैं, जिन्हें अरेस्ट भी किया जा रहा है। इस बीच मेरठ जोन के एडीजी प्रशांत कुमार ने बड़ा खुलासा किया।

 Dalit movement: ADG disclosed ... so these people incited violence

राजनीतिक फायदे के लिए भड़काई हिंसा

एक न्यूज चैनल से बातचीत में मेरठ जोन के एडीजी प्रशांत कुमार ने कहा कि दलित आंदोलन के नाम पर भड़की हिंसा सुनियोजित थी। उन्होंने कहा कि बसपा नेताओं ने राजनीतिक फायदे के लिए दलित आंदोलन के नाम पर हिंसा भड़काई थी। एडीजी ने कहा कि हिंसा मामले की अभी जांच चल रही है। शुरुआती जांच में ही साजिश होेने की बात सामने आ रही है। हालांकि अभी साक्ष्यों को जुटाया जा रहा है। साक्ष्यों के विश्लेषण के आधार पर ही हम किसी नतीजे पर पहुंच सकते हैं। इसके बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

यह भी पढ़ें ... भाजपा नेताओं से भिड़ने वाली आईपीएस चारू समेत 21 अफसरों का तबादला

करीब 500 लोगों के नाम आ रहे सामने

हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि मेरठ, मुजफ्फरनगर और हापुड़ में जो हिंसा हुई उसमें एक पार्टी विशेष का संबंध है। अब यह साजिश स्थानीय स्तर से हुई पार्टी स्तर से... इसकी जांच चल रही है। इस मामले में मेरठ के पूर्व बसपा विधायक योगेश वर्मा, हापुड़ में पूर्व विधायक के पुत्र मोनू, मुजफ्फरनगर में बसपा के जिलाध्यक्ष की गिरफ्तारी की गई है। पुलिसिया जांच में मेरठ जोन से ही अब तक करीब 500 से ज्यादा लोगों के नाम सामने आ चुके हैं, जिन्हें गिरफ्तार भी कर लिया गया है।

 Dalit movement: ADG disclosed ... so these people incited violence

यह भी पढ़ें ... दलित आंदोलन के दौरान हिंसा भड़काने के आरोप में बीजेपी के सीनियर नेता गिरफ्तार , मचा हड़कंप..

  दलित संगठनों ने किया था आंदोलन

बता दें कि दो अप्रैल को एससी/एसटी एक्ट को लेकर सुप्रीम कोर्ट के ​फैसले के विरोध में दलित संगठनों ने आंदोलन किया था। इस दौरान हिंसा भड़क गई थी। इस हिंसा में करीब दर्जन भर लोगों की मौत हो गई थी जबकि सैकड़ों लोग घायल हो गए। दर्जनों सरकारी वाहनों, बसों, दुकानों को आग के हवाले कर दिया गया था। कई जगह फायरिंग की भी बात सामने आई है। इस दौरान पुलिसकर्मियों से भी झड़प हुई थी, जिससे कई पुलिसकर्मी घायल हो गए थे।

Web Title: Dalit movement: ADG disclosed ... so these people incited violence ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया