मुख्य समाचार
भाजपा सरकार ने जनता की सुरक्षा को अपराधियों के आगे गिरवी रख दिया है : अखिलेश जन्मदिन विशेष: शाहरुख की फिल्में हिट कराने में सुखविंदर सिंह का बड़ा योगदान हज यात्री इन्तज़ामों में कमी बतायें, दूर किया जायेगा : मोहसिन रज़ा ‘‘भूजल सप्ताह’’ के दूसरे दिन जल संरक्षण पर आधारित चित्रकला प्रतियोगिता एवं विज्ञान प्रश्नोत्तरी कार्यक्रम आयोजित जालान पैनल ने तैयार की फंड ट्रांसफर की रिपोर्ट, सरकार को मिलेगी बड़ी राहत बाढ़ राहत के कार्यों में किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाये : राहत आयुक्त राजकीय नलकूपों के यांत्रिक दोषों को 24 घंटे में दूर करें : धर्मपाल सिंह  पुलिस से परेशान व्यापारी ने खुद पर पेट्रोल छिड़क कर लगाई आग बाढ़ पीड़ितों के लिए आगे आए अक्षय, प्रियंका ने भी की अपील सोनभद्र: 90 बीघा जमीन के लिए हुआ खूनी संघर्ष, 11 की मौत
 

सीबीएसई पेपर लीक मामला: पुलिस ने शिक्षक सहित तीन आरोपियों को किया अरेस्ट


RAJNISH KUMAR 07/04/2018 15:27:36
2414 Views

Shimla. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड सीबीएसई के पेपरलीक मामले में हिमाचल प्रदेश पुलिस ने एक शिक्षक समेत तीन लोगों को अरेस्ट किया है। अरेस्ट किए गए आरोपियों पर 12वीं अर्थशास्त्र का पेपर लीक करवाने का आारोप है। हालांकि पुलिस अभी आरोपियों से पूछताछ कर रही है। बता दें कि मानव संसाधन एवं विकास मंत्रालय ने पिछले हफ्ते घोषणा की थी कि पेपर लीक होने के मद्देनजर सीबीएसई 12वीं के अर्थशास्त्र का पेपर फिर से 25 अप्रैल को कराई जाएगी।

CBSE paper leak case: Three accused including teacher arrested

  शिक्षक सहित तीन गिरफ्तार

न्यूज एजेंसी के मुताबिक, हिमाचल प्रदेश पु​लिस ने सीबीएसई 12वीं के अर्थशास्त्र के पेपरलीक मामले में शिक्षक, क्लर्क समेत तीन लोगों को अरेस्ट किया है। बताया जा रहा है कि इन लोगों ने हाथ से लिखे पेपर को लीक किया था। हालांकि अभी इसकी जांच की जा रही है।

CBSE paper leak case: Three accused including teacher arrested

यह भी पढ़ें ... दलित आंदोलन: एडीजी ने किया खुलासा... तो इसलिए इन लोगों ने भड़काई थी हिंसा

  री-एग्जाम के खिलाफ याचिका दाखिल की गई थीं

बता दें कि पेपर लीक के बाद सीबीएसई ने 12वीं अर्थशास्त्र और 10वीं गणित का पेपर दोबारा कराने का फैसला किया था। इसके बाद री-एग्जाम के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दर्ज की गई थीं। याचिका में कहा था कि बिना जांच कराए फिर से परीक्षा लेने का कोई मतलब नहीं है।

CBSE paper leak case: Three accused including teacher arrested

याचिका में कहा गया था, यह गौर किया गया कि इस वर्ष 16 लाख 38 हजार 428 छात्र 10वीं की परीक्षा और 11 लाख 86 हजार 306 छात्र 12वीं की परीक्षा (सीबीएसई) में शामिल हुए थे और इसलिए जिस घटना की जांच चल रही है उसके पूरा हुए बिना छात्र समुदाय को दंडित करना और फिर से परीक्षा का नोटिस जारी करना छात्रों के मूलभूत अधिकारों को प्रभावित करता है और यह अवैध और असंवैधानिक है।

Web Title: CBSE paper leak case: Three accused including teacher arrested ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया