मुख्य समाचार
रॉबर्ट वाड्रा की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, ईडी ने अग्रिम जमानत निरस्त करने की मांग मोहनलालगंज में बसपा चौथी बार दूसरे स्थान पर डॉ. ओ.पी.चौधरी ने संभाला भारतीय जीव जंतु कल्याण बोर्ड के चेयरमैन का कार्यभार अपने बयान में फंसे सिद्धू, सोशल मीडिया पर हो रही जमकर खिंचाई सेवक के रूप में करूॅगी जनता की सेवा : साध्वी संसद तक पहुंचने में सफल हुई यह 11 महिलाएं करेंगी यूपी का नेतृत्व  दोबारा चुनाव जीतकर कौशल ने रचा इतिहास बाइक की टक्कर से साइ​किल सवार महिला की मौत, बेटी घायल शाकिब-अल-हसन का विश्व कप को लेकर आया बड़ा बयान गंभीर ने की राजनीतिक करियर की शुरुआत, इतने वाटों से दर्ज की जीत ऐसा हुआ तो आज़म खान लोकसभा की सदस्यता से खुद दे देंगे इस्तीफा! पुलिस ने किया लूट की वारदात से इंकार, आपसी रंजिश का गहराया शक  आजम खान का बड़ा बयान, तो दे दूंगा लोकसभा सदस्यता से इस्तीफा भाजपा व मीडिया को लेकर आपत्तिजनक पोस्ट पर मुकदमा दर्ज, अभियुक्त भेजा गया जेल FIFA World Cup: हो गया निर्णय 2022 टूर्नामेंट में खेलेंगी 32 टीमें बुंदेलखंड की सभी 4 सीटें भाजपा के खाते में 52 सीटों पर सिमटी कांग्रेस, अपनी पारम्परिक ​सीट से हाथ धो बैठे राहुल गांधी भाजपा के सहयोगी अपना दल (एस) ने उप्र की दो सीटों विजयी सुरक्षा बलों ने आतंकी सरगना मूसा को ढेर कर दिया पीएम मोदी की जीत का तोहफा
 

विरोध के बीच बांग्लादेश में सरकारी नौकरियों से हटा आरक्षण, जाने कौन होंगे हकदार?


PRADEEP CHANDRA JOSHI 12/04/2018 14:57 PM
143 Views

Dhaka. बांग्लादेश में चल रहे विरोध प्रदर्शन के बीच आखिरकार बांग्लादेश की सरकार ने बुधवार को आरक्षण को खत्म करने का फैसला ले लिया। बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने सरकारी नौकरियों में आरक्षण को खत्म करने का फैसला किया है।

newstimes.co.in, Reservation news in hindi, Bangladesh news in hindi

बता दें कि हजारों युवाओं ने सड़कों पर उतर कर सरकारी नौकरियों में आरक्षण को हटाने की मांग की थी। जिसे सरकार ने मान लिया है।

यह भी पढ़ें... इंग्लैंड जा रहे हैं पीएम मोदी, एक क्लिक पर जानें दौरे की वजह

दिव्यांगों और पिछड़े अल्पसंख्यकों के लिए होंगे खास इंतजाम

बांग्लादेश में दिव्यांगों और पिछड़े अल्पसंख्यकों के लिए सरकारी नौकरियों में खास इंतजाम किए जाने का भी फैसला लिया गया है। बता दें कि ढाका में रविवार से शुरू हुआ यह आरक्षण के विरोध अभियान बुधवार तक चला जिसमें हजारों छात्र सड़कों पर उतर आये थे। जिसके चलते शहर की ट्रैफिक व्यवस्था अस्त-व्यस्त हो गई। पुलिस को विरोध प्रदर्शन को रोकने के लिए आंसू गैस के गोले और रबर की गोलियों का सहारा भी लेना पड़ा, जिसके चलते करीब 100 से अधिक छात्र घायल भी हुए थे। जिसके बाद बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना को आरक्षण के मामले पर फैसला लेने पर मजबूर होना पड़ा 

यह भी पढ़ें... जानें CPEC के पीओके से गुजरने पर क्यों चिंतित हैं चीनी राष्ट्रपति

शेख हसीना ने संसद में बयान जारी किया बयान

 बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने संसद में बयान जारी करते हुए कहा, "सरकारी नौकरियों से आरक्षण हटा दिया जाएगा क्योंकि छात्र ऐसा नहीं चाहते हैं। उन्होंने कहा छात्रों ने पर्याप्त प्रदर्शन कर दिया है, लिहाजा उन्हें घर भेज दिया जाए। गौरतलब है कि छात्रों ने कोटा सिस्टम खत्म करने के विरोध में रविवार से विरोध शुरू किया था। ढाका यूनिवर्सिटी में कई छात्र घायल भी हो गए थे। प्रदर्शनकारियों ने वाइस चांसलर के घर पर तोड़-फोड़ कर दिया था जिसकी वजह से वाइस चांसलर के परिवार को सुरक्षित जगह पर छुपना पड़ा था।

Web Title: Reservation removed from government jobs in Bangladesh, Who will be entitled to go? ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया