मुख्य समाचार
आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर पलटी तेज रफ्तार कार, 2 की मौत, 4 घायल अमेठी में सुरेन्द्र सिंह के हत्यारों को बख्शा नहीं जायेगा : भाजपा प्रचंड बहुमत के साथ सत्ता में मोदी सरकार की वापसी से शेयर बाजार में दिख सकती है बढ़त ममता के करीबी अधिकारी को आउटलुक नोटिस, एक साल तक नहीं जा सकेंगे​ विदेश राजौरी में पाकिस्तान की ओर से गोलीबारी, एक किशोर घायल ममता बोलीं, सांप्रदायिकता का जहर फैलाकर बंगाल में जीती भाजपा चुनाव के बाद कांग्रेस पार्टी में होने जा रहा बड़ा फेरबदल, राहुल लगाएंगे मुहर श्रमिक की संदिग्ध मौत: परिजनों ने मुआवजे को लेकर किया हंगामा जब क्रीज पर दर्शकों ने कहा, धोखेबाज भाग जाओ CWC की बैठक में राहुल का फूटा गुस्सा, हार के लिए इन दिग्गज नेताओं को ठहराया जिम्मेदार हाईस्कूल पास के लिए DRDO में नौकरी का सुनहरा मौका, आज अंतिम दिन जनसुविधा केन्द्रों पर भी आधार से जोड़े जाएंगे राशन कार्ड माध्यमिक विद्यालयों को 28 मई तक सम्मिट करना होगा यू-डायस प्रपत्र इस नेता ने दे डाली मोदी सरकार को चुनौती, जानिए क्या कहा पूर्व सैनिक की मृत्यु पर मिलेगी सहायता बड़ी खबर: ममता बनर्जी ने कहा, अब सीएम नहीं रहना चाहती सड़क हादसों में महिला समेत आधा दर्जन घायल जेट के पूर्व चेयरमैन नरेश गोयल थे पत्नी सहित देश छोड़ने की फिराक में, एयरपोर्ट से हुए अरेस्ट मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने राष्ट्रपति को सौंपी जीते सांसदों की सूची
 

सीरिया पर 105 मिसाइलें दागने के बाद अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन ने बनाया नया प्लान


RAJNISH KUMAR 15/04/2018 11:08 AM
294 Views

Washington. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के आदेश के बाद अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन की ओर से सीरिया पर करीब 105 मिसाइलें दाग कर रसायनिक हथियार वाले इलाके को निशाना बनाया गया। इसके बाद अमेरिका ने नया प्लान बनाया है। अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन ने सीरिया में हुए रसायनिक हमलों की जांच के आदेश दिए और संयुक्त राष्ट्र में संयुक्त मसौदा जारी कर निर्बाध मानवीय सहायता उपलब्ध कराने, युद्ध विराम लागू करने का आह्वान और संयुक्त राष्ट्र के नेतृत्व में शांति वार्ताओं में सीरिया के शामिल होने की मांग की र्है।

America, France and Britain created a new plan after firing 105 missiles in Syria

  संयुक्त राष्ट्र में मसौदा जारी

संयुक्त में जारी मसौदे के मुताबिक, दोषियों की पहचान के उद्देश्य से सीरिया में रासायनिक हमलों के आरोपों के संबंध में स्वतंत्र जांच सुनिश्चित करेगा। इससे पहले संयुक्त राष्ट्र के नेतृत्व में जांच के प्रस्ताव को बेअसर करने के लिए नवंबर में रूस तीन बार अपने वीटो का इस्तेमाल कर चुका है।

यह भी पढ़ें ... दलित युवती पर केरोसिन डाल जिंदा जलाया, गम्भीर

जांच में यह पता चला था कि पिछले साल अप्रैल में सीरियाई बलों ने खान शेखून पर हमलों में नर्व एजेंट सरीन के इस्तेमाल किया था। मसौदे में रासायनिक शस्त्र निषेध संगठन (ओपीसीडब्ल्यू ) को यह निर्देश दिया गया है कि वह 30 दिन के अंदर यह रिपोर्ट दे कि सीरिया ने अपने रासायनिक हथियार के जखीरे को पूरी तरह से खुलासा किया है या नहीं।

America, France and Britain created a new plan after firing 105 missiles in Syria

यह भी पढ़ें ... उन्नाव गैंगरेप केस: सीबीआई ने शशि सिंह को किया गिरफ्तार

  संयुक्त राष्ट्र ने की शांति की अपील

इस बीच, संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने संगठन के सभी सदस्यों से इस खतरनाक माहौल में धैर्य दिखाने और अंतर्राष्ट्रीय कानूनों का सम्मान करने का आग्रह किया है। गुटेरेस ने कहा कि मैं सभी सदस्य देशों से इस खतरनाक हालात में जिम्मेदारी से कदम उठाने का आग्रह करता हूं।

  नाटो का सीरिया पर हमले का समर्थन

वहीं, नाटो महासचिव ने सीरियाई शासन के रासायनिक हथियार क्षमताओं को निशाना बनाकर अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस द्वारा किए गए संयुक्त हमले का समर्थन किया है।

यह भी पढ़ें ... उन्‍नाव गैंगरेप मामला: विधायक कुलदीप सेंगर सात दिन की सीबीआई रिमांड पर

जेन्स स्टोल्टेनबर्ग ने कहा कि यह हमला सीरियाई राष्ट्रपति बशर अल-असद शासन द्वारा रासायनिक हथियारों के साथ स्थानीय आबादी पर हमले की क्षमता को कम करेगा। स्टोल्टेनबर्ग ने कहा कि नाटो सीरिया द्वारा रासायनिक हथियारों का इस्तेमाल जारी रखने के लिए इसे अंतर्राष्ट्रीय नियमों और समझौतों का स्पष्ट रूप से उल्लंघन मानकर लगातार निंदा करता है। उन्होंने कहा कि रासायनिक हथियारों का इस्तेमाल अस्वीकार्य है और जो इसके लिए जिम्मेदार है, उसकी जवाबदेही होनी चाहिए।

America, France and Britain created a new plan after firing 105 missiles in Syria

  डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा, मिशन पूरा हो गया

बता दें कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने शनिवार को अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन द्वारा सीरिया के रसायनिक ​हथियार वाले इलाके में हमले करने के कदम को क्रूरता के खिलाफ बताया था।

यह भी पढ़ें ... गोल्डन गर्ल पूनम और ​उनके पिता पर जानलेवा हमला

उन्होंने ट्वीट कर कहा था, मिशन पूरा हो गया। वहीं, चीन और रूस ने अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन के इस कदम की निंदा की। जबकि कुछ देशों ने समर्थन किया।

Web Title: America, France and Britain created a new plan after firing 105 missiles in Syria ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया