मुख्य समाचार
कोल्ड ड्रिंक पीने से एक ही परिवार के 5 लोग पहुंचे अस्पताल, फिलहाल खतरे से बाहर इटौंजा प्रकरण : एसएसपी ने कॉस्टेबल को किया लाइन हाजिर, चौकी प्रभारी व थानाध्यक्ष पर भी कार्रवाई प्रचलित  दो पक्षों में विवाद के बाद जमकर चले लाठी डंडे, वीडियो वायरल मायावती ने फिर उठाया ये पुराना मुद्दा, कहा- भाजपा की साजिश में शामिल थे मुलायम आम उत्पादन के क्षेत्र को विस्तारित करने पर शोध करें : राज्यपाल RBI को फिर लगा बड़ा झटका, डिप्टी गवर्नर विरल आचार्य ने अचानक दिया इस्तीफा सबके विकास से ही देश का विकास होगा : राज्यपाल पूर्व सैनिकों के लिए मेरे घर के दरवाजे 24 घंटे खुले : महापौर संयुक्ता भाटिया करणी सेना को डायरेक्टर ने दिया जवाब, दोनों पक्षों में घमासान
 

श्रीलंका क्रिकेट को राजनीति से खतरा


SUJEET KUMAR 18/04/2018 15:47:41
1250 Views

Lucknow. मुथैया मुरलीधरन ने श्रीलंका क्रिकेट को लेकर बड़ा बयान दिया है। श्रीलंका टीम के खराब प्रदर्शन को मुरलीधरन ने राजनीति को जिम्मेदार ठहराया। ईटी से बातचीत के दैरान मुरलीधरन ने श्रीलंका टीम के खराब फॉर्म पर चर्चा की।  

Politicians are destroying cricket in Sri Lanka Muralitharan

यह भी पढ़ें... IPL 11 : मुंबई में हुई इस कीवी तेज गेंदबाज की एंट्री, इस गेंदबाज का लेंगे स्थान

टॉप गेंदबाजो में गिने जाने वाले मुरलीधरन के अनुसार, श्रीलंका टीम के खराब फॉर्म को ज्‍यादा दिन नहीं हुए हैं। 2011 में जहां टीम 50 ओवर क्रिकेट वर्ल्‍ड की उपविजेता थी तो 2014 में उसने टी20 का ताज अपने नाम किया था।  

मुरली के अनुसार श्रीलंका टीम की अगर खराब हालत हुई है, तो वे हाल के दिनों में हुई हैं। जब राजनीति ने क्रिकेट का बंटाधार कर दिया है। मुरली के अनुसार क्रिकेट को कम जाननेवाले लोग आजकल बोर्ड चला रहे हैं और उनकी वजह से खेल का स्‍तर गिर रहा है। 

यह भी पढ़ें...वॉशिंगटन सुंदर ने किया खुलासा, आखिर क्यों पहनते है 555 नंबर की जर्सी

मुरली के अनुसार पिछले एक साल में श्रीलंका क्र‍िकेट में 60 से ज्‍यादा ख‍िलाड़ी बदले गए हैं। ऐसे में हर ख‍िलाड़ी से कहा जाता है या तो परफॉर्म करो या बाहर बैठो। इससे ख‍िलाड़‍ियों का मनोबल गिरता है। इस तरह से श्रीलंका क्र‍िकेट की स्‍थिति और खराब होगी। 

Web Title: Politicians are destroying cricket in Sri Lanka Muralitharan ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया