मुख्य समाचार
ममता के करीबी अधिकारी को आउटलुक नोटिस, एक साल तक नहीं जा सकेंगे​ विदेश राजौरी में पाकिस्तान की ओर से गोलीबारी, एक किशोर घायल ममता बोलीं, सांप्रदायिकता का जहर फैलाकर बंगाल में जीती भाजपा चुनाव के बाद कांग्रेस पार्टी में होने जा रहा बड़ा फेरबदल, राहुल लगाएंगे मुहर श्रमिक की संदिग्ध मौत: परिजनों ने मुआवजे को लेकर किया हंगामा जब क्रीज पर दर्शकों ने कहा, धोखेबाज भाग जाओ CWC की बैठक में राहुल का फूटा गुस्सा, हार के लिए इन दिग्गज नेताओं को ठहराया जिम्मेदार हाईस्कूल पास के लिए DRDO में नौकरी का सुनहरा मौका, आज अंतिम दिन जनसुविधा केन्द्रों पर भी आधार से जोड़े जाएंगे राशन कार्ड माध्यमिक विद्यालयों को 28 मई तक सम्मिट करना होगा यू-डायस प्रपत्र इस नेता ने दे डाली मोदी सरकार को चुनौती, जानिए क्या कहा पूर्व सैनिक की मृत्यु पर मिलेगी सहायता बड़ी खबर: ममता बनर्जी ने कहा, अब सीएम नहीं रहना चाहती सड़क हादसों में महिला समेत आधा दर्जन घायल जेट के पूर्व चेयरमैन नरेश गोयल थे पत्नी सहित देश छोड़ने की फिराक में, एयरपोर्ट से हुए अरेस्ट मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने राष्ट्रपति को सौंपी जीते सांसदों की सूची
 

महाभियोग खारिज होने से तिलमिलाई कांग्रेस ने कहा, सभापति को ...


RAJNISH KUMAR 23/04/2018 12:36 PM
1343 Views

New Delhi. उपराष्ट्रपति एवं राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू ने सोमवार को मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा को हटाने से जुड़े विपक्षी दलों के महाभियोग के प्रस्ताव को विचार विमर्श के बाद खारिज कर दिया है। महाभियोग खारिज होने से तिलमिलाई कांग्रेस ने उपराष्ट्रपति को निशाने पर लिया।

congress randeep surjewala response venkaiah naidu impeachment cheif Justice dipak misra

कांग्रेस ने कहा कि राज्यसभा सभापति प्रस्ताव की मेरिट तय नहीं कर सकते हैं। अब ये लड़ाई सीधे लोकतंत्र को बचाने वाले और लोकतंत्र को खारिज करने वालों के बीच में है। कांग्रेस ने कहा कि महाभियोग लाने के लिए 50 सांसदों की जरूरत होती है, जो हमने पूरा किया।

  महाभियोग न ही उचित है और न ही अपेक्षित

कांग्रेस की अगुवाई में कांग्रेस समते सात विपक्षी पार्टियों ने राज्यसभा सभापति के सामने ये प्रस्ताव पेश किया था, लेकिन कानूनी सलाह के बाद वेंकैया नायडू ने इस प्रस्ताव को खारिज कर दिया है।

यह भी पढ़ें ... कांग्रेस को झटका: उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने महाभियोग प्रस्ताव को किया खारिज

वेंकैया नायडू ने अपना फैसला सुनाते हुए कहा कि मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा के खिलाफ लाया गया ये महाभियोग न ही उचित है और न ही अपेक्षित है। इस प्रकार का प्रस्ताव लाते हुए हर पहलू को ध्यान में रखना चाहिए। इस खत पर सभी कानूनी सलाह लेने के बाद ही मैं इस प्रस्ताव को खारिज करता हूं।

congress randeep surjewala response venkaiah naidu impeachment cheif Justice dipak misra

  ...ऐसा फैसला नहीं ले सकते

प्रस्ताव खारिज होने के बाद कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर निशाना साधा। हालांकि कांग्रेस ने अभी अपने नेताओं को बयान देने से मना किया है।

यह भी पढ़ें ... पीएम मोदी की सांसदों-विधायकों को नसीहत: बोले, गलत बयानबाजी से बचें

वहीं, सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा कि प्रस्ताव आने के कुछ ही समय में वित्त मंत्री ने इसे रिवेंज पेटीशन बताया था, जो कि राज्यसभा सभापति के फैसले को प्रभावित करने वाला बयान था।

उन्होंने कहा कि राज्यसभा सभापति प्रशासनिक शक्ति के अभाव में इस तरह का फैसला नहीं ले सकते हैं। यही नहीं, रणदीप सुरजेवाला ने एम. कृष्णा स्वामी केस का भी हवाला दिया।

उन्होंने कहा कि अगर सभी आरोप जांच से पहले ही खारिज हो जाएं तो संविधान और जज इन्क्वाएरी एक्ट का कोई मतलब नहीं है।

congress randeep surjewala response venkaiah naidu impeachment cheif Justice dipak misra

बता दें कि कांग्रेस की अगुवाई में विपक्ष में शामिल सात दलों के 64 राज्यसभा सदस्यों ने सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा को कदाचार के पांच आरोपों के अधार पर हटाने के लिए उन पर महाभियोग चलाने का प्रस्ताव सौंपा है।

यह भी पढ़ें ... जानिये, क्या है महाभियोग प्रस्ताव और इसकी पूरी प्रक्रिया

 

Web Title: congress randeep surjewala response venkaiah naidu impeachment cheif Justice dipak misra ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया