मुख्य समाचार
हंगामे की भेंट चढ़ा विधानसभा के मानसून सत्र का पहला दिन  प्रियंका को लेकर चुनार पहुंची पुलिस; सैकड़ों की संख्या में कांग्रेस समर्थक मौजूद नारेबाजी जारी लखनऊ में शिवसेना का सदस्यता अभियान शुरू  जिला पंचायत सदस्य पर प्लाट कब्जाने का आरोप, एंटी भूमाफिया पोर्टल पर शिकायत  टैंपो चालकों ने किया हंगामा, भाजपा सांसद के पुत्र के करीबियों और पुलिस पर लगा वसूली का आरोप  फोरम के आदेश की नाफरमानी लखनऊ डीएम को पड़ी भारी, वेतन रोकने के आदेश अजय कुमार लल्लू बोले - जमीनी विवाद नहीं, सामूहिक नरसंहार है घोरावल कांड जमीनी विवाद नहीं, सामूहिक नरसंहार है घोरावल कांड : अजय कुमार लल्लू सुरक्षा प्रबंध सराहनीय हैं, लेकिन मेरी सुरक्षा का दायरा कम से कम रखें : प्रियंका वाड्रा भाजपा सरकार ने जनता की सुरक्षा को अपराधियों के आगे गिरवी रख दिया है : अखिलेश जन्मदिन विशेष: शाहरुख की फिल्में हिट कराने में सुखविंदर सिंह का बड़ा योगदान हज यात्री इन्तज़ामों में कमी बतायें, दूर किया जायेगा : मोहसिन रज़ा ‘‘भूजल सप्ताह’’ के दूसरे दिन जल संरक्षण पर आधारित चित्रकला प्रतियोगिता एवं विज्ञान प्रश्नोत्तरी कार्यक्रम आयोजित जालान पैनल ने तैयार की फंड ट्रांसफर की रिपोर्ट, सरकार को मिलेगी बड़ी राहत बाढ़ राहत के कार्यों में किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाये : राहत आयुक्त राजकीय नलकूपों के यांत्रिक दोषों को 24 घंटे में दूर करें : धर्मपाल सिंह  पुलिस से परेशान व्यापारी ने खुद पर पेट्रोल छिड़क कर लगाई आग बाढ़ पीड़ितों के लिए आगे आए अक्षय, प्रियंका ने भी की अपील सोनभद्र: 90 बीघा जमीन के लिए हुआ खूनी संघर्ष, 11 की मौत
 

सपा के इस बड़े नेता समेत चार के खिलाफ मुकदमा दर्ज


RAJNISH KUMAR 26/04/2018 10:46:50
3127 Views

Lucknow. समाजवादी पार्टी के विधायक और पूर्व कैबिनेट मंत्री आजम खां समेत चार लोगों के खिलाफ जल निगम भर्ती घोटाले की जांच कर रही एसआईटी ने शासन से अनुमति मिलने के बाद मुकदमा दर्ज कर लिया है, जिनके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

SP Leader azam khan ke khilaf mukadma darj

उनमें आजम के अलावा उनके निजी सचिव सैयद अफाक, पूर्व सचिव नगर विकास एसपी सिंह, एमडी पीके अशुदानी और चीफ इंजीनियर अनिल कुमार खरे शामिल हैं। इन लोगों के खिलाफ जालसाजी, धोखाधड़ी, भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत में एफआईआर दर्ज की गई है। 

  भर्ती प्रक्रिया में धाधंली

तत्कालीन सपा सरकार में मो. आजम खां नगर विकास मंत्री होने के साथ ही जल निगम के अध्यक्ष पद पर भी काबिज थे। 2017 विधानसभा चुनाव के पहले सपा सरकार में जल निगम प्रबंधन द्वारा जल निगम में एई, जेई, आशुलिपिक व नैतिक लिपिक के कुल 1300 पदों भर्ती की प्रक्रिया पूरी की गई थी।

यह भी पढ़ें ... उन्नाव गैंगरेप: विधायक समर्थक वकीलों ने पत्रकारों पर किया हमला

इन पदों पर भर्ती में व्यापक पैमाने पर धांधली होने की शिकायत हुई थी। कुछ अभ्यर्थियों ने इस संबंध में हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। हाईकोर्ट के निर्देश पर निगम के ही अधीक्षण अभियंता स्तर के एक अधिकारी से जांच कराई गई थी, जिसमें भर्ती प्रक्रिया में धाधंली की पुष्टि हुई थी।

SP Leader azam khan ke khilaf mukadma darj

इसके बाद मार्च 2017 में बनी सत्ता में आई योगी सरकार ने इस मामले की जांच एसआईटी को सौंप दी थी। अब एसआईटी की जांच रिपोर्ट के आधार पर शासन की अनुमति के बाद आजम समेत चार लोगों पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया।

यह भी पढ़ें ... आखिरकार अमित शाह को इस भाजपा नेत्री की जिद के आगे पड़ा झुकना!

Web Title: SP Leader azam khan ke khilaf mukadma darj ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया