जीत के बाद भी शाह को मिली शिकस्त, मौके पर दगा दे गए भाजपाई


ANKIT RASTOGI 26/04/2018 13:14:19
2869 Views

New Delhi. गुवाहाटी में भारतीय जनता पार्टी के अरमानों को तगड़ा झटका लगा। मिजोरम के स्थानीय निकाय चुनाव में जीत मिलने के बाद भी भाजपा को शिकस्त का मुंह देखना पड़ रहा है। इस कारण पार्टी का शीर्ष नेतृत्व खासा नाराज है।

यह भी पढ़ें : अब देवरिया में अराजकतत्वों ने तोड़ी आम्बेडकर प्रतिमा

Shah defeats wins after victory

भाजपाइयों ने बदल लिया दल...

बताया जा रहा है कि ऐन वक्त पर भाजपा के उम्मीदवारों ने दल बदल कर पार्टी को निराश किया।

यह भी पढ़ें : बड़ी ख़बरः मुलायम सिंह ने दिया बड़ा बयान, सपा-बसपा की जोड़ी 2019 में...

ख़बरों के मुताबिक़ इस बार हुए चुनाव में मिजो नेशनल फ्रंट ने बहुमत हासिल किया था, लेकिन भाजपा के चुने हुए सदस्यों ने एमएनएफ को सत्ता से बाहर रखने का फैसला लिया है, जिसके बाद अमित शाह को बड़ा झटका लगा है।

बता दें कि चकमा ऑटोनोमस डिस्ट्रिक्ट काउंसिल का गठन 1972 में किया गया था, लेकिन इस महीने हुए चुनाव में किसी भी पार्टी को पूर्ण बहुमत हासिल नहीं हुआ था।

इससे पहले इस फ्रंट को बौद्ध आदिवासी चला रहे थे। गौर करने वाली बात यह है कि यहां हुए चुनाव के बाद खुद भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने ट्वीट करके मिजोरम भाजपा यूनिट को बधाई दी थी।

ट्वीट करके शाह ने कहा था कि चकमा में एमएनएफ और भाजपा मिजोरम को बहुमत हासिल करने पर बधाई।

दोनों ने मिलकर 20 में से 13 सीटों पर जीत हासिल की थी। यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पूर्वोत्तर भारत की नीति की वजह से ही संभव हो सका है। इसी के साथ मिजोरम में भी भाजपा का उदय हो रहा है। लेकिन भाजपा के चुने हुए सदस्यों ने एमएनएफ को सत्ता से बाहर रखने का फैसला लिया है और कांग्रेस के नेताओं से हाथ मिला लिया।

ऐसे में भाजपा की नाराजगी भी वाजिब बनती है। दरअसल, पूर्वोत्तर भारत में मिजोरम आखिरी ऐसा राज्य था जहां कांग्रेस की सरकार थी।

ऐसे में भाजपा इस बात की पूरी कोशिश कर रही थी कि यहां कांग्रेस सत्ता में दोबारा नहीं आने पाए।

मिजोरम की आधी से ज्यादा आबादी चकमा लोगों की ऐसे में यह कांग्रेस और भाजपा के नेताओं की बगावत भाजपा के लिए मुश्किल खड़ी कर सकती है।

इससे पहले भाजपा और एमएनएफ के नेताओं के बीच हुई डील की वजह से भाजपा के उम्मीदवार को काउंसिल के चेयरमैन का पद मिला था। लेकिन जिस तरह से इसके जीते हुए सदस्यों ने बगावत दिखाई है उसकी वजह से पार्टी के नेता सकते में हैं और काफी नाराज भी हैं।

Web Title: Shah defeats wins after victory ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया


loading...