उपचुनाव: कैराना-नूरपुर सीट के लिए नामांकन शुरू, सुरक्षा के कड़े प्रबन्ध


RAJNISH KUMAR 03/05/2018 09:30 AM
208 Views

Lucknow. प्रदेश की कैराना लोकसभा और नूरपुर विधानसभा सीट पर उपचुनाव की प्रक्रिया गुरुवार तीन मई से शुरू हो रही है। चुनाव आयोग की ओर से जारी कार्यक्रम के मुताबिक, गुरूवार से ही नामांकन का शुरू हो जाएगा। 10 मई तक नामांकन दाखिल किए जाएंगे। 11 मई को नामांकन पत्रों की जांच होगी। 14 मई नामांकन पत्रों की वापसी की आखिरी तारीख होगी। उपचुनाव के लिए मतदान 28 मई को होगा तथा मतो की गणना 31 मई की जायेगी।

Bye-elections: Nomination starts for Karaana-Noorpur seat, tight security arrangements

डीजीपी मुख्यालय की ओर से कैराना-नूरपुर उप चुनाव में नामांकन के लिए कड़े सुरक्षा प्रबन्ध करने के निर्देश दिए हैं। इन दोनों सीटों पर होने वाले उप चुनाव में कुल 1094 मतदान केन्द्र तथा 2056 मतदान बूथ बनाए गए हैं, जो कि शामली, सहारनपुर तथा बिजनौर में स्थित है। डीजीपी मुख्यालय ने इन्हीं तीन जिलों में पुलिस प्रबंध के बारे में विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किए हैं।

  दिशा-निर्देश जारी

- नामांकन के समय नामांकन कक्ष से 100 मीटर की परिधि में मजबूत बैरिकेडिंग करा ली जाए

- किसी भी दशा में 100 मीटर की परिधि में कोई वाहन/शस्त्र अथवा आपत्तिजनक वस्तु लेकर प्रवेश कर पाए

- साथ ही उम्मीदवार सहित पांच व्यक्ति ही नामांकन कक्ष में प्रवेश करें

- बैरिकेडिंग के पास बनाए गए प्रवेश द्वार पर डीएफएमडी/एचएचएमडी की जांच से होकर ही प्रत्येक व्यक्ति को गुजारा जाए।

महिलाओं की तलाशी प्रत्येक दशा में महिला पुलिस कर्मी/महिला होमगार्ड द्वारा ही ली जाए।

- किसी भी दशा में एक साथ दो प्रत्याशियों को नामांकन के लिए निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय में न भेजा जाए।

यह भी पढ़ें ... बड़ी खबर: सपा नेता और सुरक्षाकर्मी की गोली मारकर हत्या

- नामांकन कक्ष के द्वार पर भी पुलिस कर्मी लगाये जायें।

- सम्पूर्ण नामांकन स्थल की प्रत्येक दिन एण्टी-सबोटॉज चेकिंग भी करायी जाए।

- नामांकन स्थल के आस-पास के भवनों पर सादे वस्त्रों में वाचर्स भी यथा सम्भव तैनात किये जाएं।

- डीजीपी मुख्यालय ने कहा कि उपचुनाव से 72 घंटे पहले उत्तराखंड व हरियाणा प्रदेश की सभी सीमाओं पर बार्डर पर चेकिंग की व्यवस्था की जाए, जिससे अवैध शराब या नारकोटिक्स व ड्रग्स इत्यादि की तस्करी पर प्रभावी रोक लग सके।

यह भी पढ़ें ... उन्नाव गैंगरेप मामला: हाईकोर्ट में सीबीआई आज दाखिल करेगी स्टेट्स रिपोर्ट

- बॉर्डर के आस-पास के ऐसे अपराधियों की सूची का आदान-प्रदान कर लिया जाए जो दोनों राज्यों में अपराध करते हैं।

- बार्डर के आस-पास के गांवों में गस्त व पेट्रोलिंग भी कराई जाए।

- सभी नामांकन स्थलों प्रत्येक दिन एण्टी सबोटाज चेकिंग करायी जाए।

बता दें कि शामली जिले की कैराना लोकसभा सीट भाजपा के सांसद हुकुम सिंह के बीती फरवरी में निधन होने के कारण रिक्त हुई। वहीं, इसी तरह बिजनौर जिले की नूरपुर विधानसभा सीट भाजपा विधायक लोकेन्द्र सिंह चौहान की सड़क हादसे में मृत्यु हो जाने की वजह से खाली हुई है।

यह भी पढ़ें ...   प्रदेश में आंधी तूफान ने मचाई तबाही, 34 लोगों की मौत

Web Title: Bye-elections: Nomination starts for Karaana-Noorpur seat, tight security arrangements ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया