मुख्य समाचार
 

अमेरिका का दावा जिबूती में लेजर से विमानों को बनाया गया निशाना, चीन का इंकार


ABHISHEK MISHRA 06/05/2018 09:05:57
491 Views

Beijing:अमेरिका और चीन के बीच एक बार फिर से तनाव बढ़ता नज़र आ रहा है। अमेरिका ने दावा किया  है की चीन ने  होर्न ऑफ अफ्रीका प्रायद्वीप में जिबूती सैन्य अड्डे पर चीनी सैनिको ने एक अमेरिकी विमान को लेसर से निशाना बनाया है जिसमे उनका पायलट घायल हो गया है। 
चीन के विदेश मंत्रालय ने भी आरोपों से इनकार किया । 

यह भी देखे :कंसास में भारतीय इंजीनियर की हत्या करने वाले पूर्व अमेरिकी नौसैनिक को उम्रकैद

CHINA ATTACK LASER  TO AMERICA FIGHTER PLAN

 

चीन के विदेश मंत्रालय ने भी आरोपों से इनकार किया:

विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने कहा, ‘सावधानीपूर्वक जांच के बाद हमने अमेरिका से स्पष्ट तौर पर कहा है कि आरोपों का तथ्यों से कोई तालमेल नहीं बैठता। जिबूती में चीन ने अपना पहला विदेशी नेवी बेस बनाया है. जिबूती सामरिक दृष्टि से काफी अहम है, लाल सागर के दक्षिण प्रवेश बिंदु पर स्थित इस देश में अमेरिकी सेना का भी बेस स्थित है। हिंद महासागर के दक्षिण-पश्चिमी मुहाने पर जिबूती में चीन की पोजीशन से भारत पहले से ही चिंतित है, क्‍योंकि यह भी चीन की 'पर्ल ऑफ स्ट्रिंग' योजना का हिस्सा है।  इस योजना के तहत महासागर के चारों ओर चीन की मिलिट्री एलायंस और बेस स्‍थापित करने की योजना है।

यह भी देखे :मौत के बाद का ये रहस्य कर देगा सोचने को मजबूर

अमेरिका ने चीन से की औपचारिक शिकायत :

वाशिंगटन पोस्ट के मुताबिक पेंटागन की प्रवक्ता डाना डब्ल्यू व्हाइट ने कहा कि अमेरिका ने चीन से हाल के हफ्ते की घटना की जांच करने का अनुरोध किया है। जिसमें अनधिकृत चीनी लेजर गतिविधि से जिबूती में अमेरिकी विमान प्रभावित हुआ। अखबार के मुताबिक लेजर वाली यह घटना चीन की ओर से 2017 में जिबूती में अपना पहला विदेशी सैन्य अड्डा खोलने के बाद पहली बड़ी झड़प के रूप में सामने आयी है।  लेजर पायलट को अस्थायी रूप से अंधा कर सकता है। 

Web Title: CHINA ATTACK LASER TO AMERICA FIGHTER PLAN ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया