मुख्य समाचार
लोन लेने से पहले जान लें ये खास बातें, ईएमआई भरने में नहीं होगी परेशानी सपा के पूर्व जिलाध्यक्ष सहित 5 लोगों को फर्जीवाड़े में सात साल की सजा राबड़ी का केन्द्र पर गंभीर आरोप, लालू को जहर देकर मारना चाहती है सरकार सलमान ने शादी न करने की बताई यह खास वजह, जानकर रह जाएंगे हैरान कांग्रेस प्रत्याशी आचार्य प्रमोद कृष्णम् पहुचे कैथेड्रल चर्च #IPL2019 : पंजाब को पांच विकेट से हराकर दिल्ली के दिलवालों की जीत झोपड़ी में लगी आग, वृद्ध जिन्दा जला यूपी में सपा को लगा बड़ा झटका, दिग्गज नेता और उसके समर्थक कांग्रेस में शामिल स्मृति ईरानी के खिलाफ डिग्री मामले में कांग्रेस नेता ने की चुनाव आयोग में शिकायत विदेश सचिव दो दिवसीय चीन के दौरे पर लखनऊ के 37 उम्मीदवारों के चुनाव लड़ने के मंसूबों पर फिरा पानी जानिए जातिवाद पर हरियाणा हाईकोर्ट ने क्या टिप्पणी की स्वरा भास्कर के निशाने पर आईं प्रज्ञा ठाकुर, हेमंत पर दिया था बयान वेडिंग एनिवर्सरी पर अभिषेक ने शेयर की ऐश की फोटो, लिखा हनी मून, फैंस बोले इतना गुरूर... कॉफी विद करण मामला : पांड्या और राहुल पर लगा 20-20 लाख रुपये का जुर्माना बाइक पोल से टकराई, युवक की मौत अधिकारियों को नहीं दिखाई पड़ रहा आचार संहिता का उल्लंघन मथुरा में आइसक्रीम फैक्ट्री में अमोनिया गैस का रिसाव,15 की ​बिगड़ी तबियत मोदी ने इस नेता को बताया स्पीड ब्रेकर शूट के दौरान विक्की कौशल को आई गंभीर चोटें अपने सबसे बड़े चुनावी वादे को लेकर बुरी फंसी कांग्रेस सुरवीन चावला के घर आई नन्ही परी, देखें तस्वीर खोदा पहाड़ निकली चुहिया साबित होगा नकली भतीजा-बुआ का गठबंधन : केशव मौर्य एलएचबी कोच बने सुरक्षा कवच, बची भीषण तबाही स्पाइसजेट बना जेट के कर्मचारियों का सहारा, 100 पायलटों सहित 500 लोगों को दी नौकरी जल्‍द फाइटर जेट के कॉकपिट में नजर आएंगे विंग कमांडर अभिनंदन पूर्वा एक्सप्रेस हादसे के चलते बाधित हुआ हावड़ा रूट पर ट्रेनों का संचालन कोहली की पारी ने दिखाया कमाल, 10 रन से जीती RCB नोट्रे डेम को पहले जैसा बनाना चाहते हैं मैक्रों, येलो वेस्ट प्रदर्शन से बिगड़ी छवि को सुधारने की कवायद सीएम योगी बोले- बाबा साहेब ने न किया होता यह काम, तो आज भी किसी जमींदार के यहां भैंस चरा रहे होते अखिलेश 
 

योगी सरकार के खिलाफ ही बोल गए मंत्री, कहा-सरकार निभा रही औपचारिकता


SHUBHENDU SHUKLA 07/05/2018 22:09:53
308 Views

LUCKNOW. कृषि राज्यमंत्री रणवेंद्र प्रताप सिंह उर्फ धुन्नी सिंह ने सोमवार को किसानों की एक गोष्ठी में अपनी ही सरकार को कठघरे में खड़ा कर दिया। अपने कैबिनेट मंत्री और प्रदेश के शीर्ष अधिकारियों के सामने उन्होंने कहा कि प्रदेश में मृदा परीक्षण के नाम पर केवल औपचारिकताएं निभाई जा रही हैं। फील्ड में तैनात जिले स्तर के अधिकारी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ के इस ड्रीम प्रोजेक्ट को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। प्रदेश स्तर के अधिकारियों को इसे गंभीरता से देखना होगा।

Minister of State for Agriculture Shifting Targets Against Yogi Sarkar

यह भी पढ़ें... मां ने किया रिश्ते को शर्मसार, बेटी ने खोल डाली पोल

  दवाओं की गुणवत्ता पर सवाल 

श्री सिंह ने फसलों की सुरक्षा एवं बचाव के लिए इस्तेमाल होने वाली दवाओं की गुणवत्ता पर भी प्रश्न उठाया। कहा, दवाओं के पैकेट पर उसके कंटेंट की जो प्रतिशतता लिखी होती है, उसमें कतई सत्यता नहीं होती। जितने प्रतिशत का दावा उस पैकेट पर किया जाता है, उससे काफी कम प्रतिशत में कंटेंट होते हैं। कृषि राज्यमंत्री यहीं नहीं रुके। किसानों से खचाखच भरे हॉल में उन्होंने कहा प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना का भी लाभ नहीं मिल रहा। कारण, इतनी अच्छी योजना का अब तक विधिवत प्रचार-प्रसार नहीं किया गया है।

  अधिकारी फील्ड में नहीं जाते 

कृषि व उससे जुड़े विभागों का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा, प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में तमाम ऐसे किसान हैं, जो कृषि और उससे जुड़े विभिन्न विभागों के अधिकारियों को जानते और पहचानते तक नहीं हैं। ऐसे में योजनाओं के बारे में वह क्या जानें। इसलिए फील्ड के अधिकारियों को हर किसान को सरकारी योजनाओं की जानकारी देने के लिए किसानों तक जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें... साइबर कैफे के कर्मचारी का कारनामा, फॉर्म भरने के बहाने किया रेप...

  गेहूं बीच बहुत महंगा 

सरकार द्वारा किसानों को बेचे जाने वाले बीजों का उल्लेख करते हुए कृषि राज्य मंत्री ने कहा कि गेहूं का बीज बहुत महंगा मिलता है। ऐसे में किसान निजी क्षेत्र से सस्ते में गेहूं बीज खरीद लेता है। दूसरी तरफ महंगा होने कारण सरकारी गोदामों में भारी मात्रा में बीज बच जाते हैं। नतीजा बचे हुए बीजों को सरकार औने-पौने दामों पर बेचने को विवश हो जाती है। उन्होंने कहा कि यदि हम 32 रुपया प्रति किलो की दर से बिकने वाले सरकारी बीज को 25 रुपया किलो के भाव से बेचें तो यह आसानी से बिक जाएगा और सरकार को नुकसान भी नहीं होगा। 

  मिलनी चाहिए छूट 

सोलर पंप योजना का उल्लेख करते हुए कृषि राज्य मंत्री ने कहा कि इसमें एक कंपनी के एकाधिकार के कारण भारी गड़बडिय़ां हो रही हैं। डीवीटी के तहत ही किसानों को कहीं से भी किसी विक्रेता या एजेंसी से सोलर पंप खरीदने की छूट मिलनी चाहिए। इसी प्रकार से प्रदेश में लागू फसल बीमा योजना का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि तमाम जिलों में फसल बीमा कंपनियों के अपने दफ्तर तक नहीं खुल पाए हैं।

 यह भी पढ़ें... CO हजतगंज को बड़ी कामयाबी, श्रीराम टावर में नकली मोबाइल सामग्री बेंचने का भांडाफोड़

खरीफ गोष्ठी में कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही, कृषि विपणन राज्यमंत्री स्वाति सिंह तथा कृषि उत्पादन आयुक्त आरपी सिंह समेत कई विभागों के प्रमुख सचिवों ने अपने-अपने विभागों की योजनाओं की जानकारी दी। कहा कि आय दोगुनी करने के लिए किसानों को और जागरूक होना होगा।

Web Title: Minister of State for Agriculture Shifting Targets Against Yogi Sarkar ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया