मुख्य समाचार
नाम बदलने पर भड़के सपा नेता: कहा, योगी के बाप ने नहीं बसाया आजमगढ़ नाबालिग मासूम से दरिंदगी के बाद हत्या सलमान पर भड़कीं करणवीर की पत्नी टीजे सिंधु, लिखा ओपन लेटर धर्म निरपेक्ष है सबरीमाला मंदिर, सभी धर्मों के लिए खुला है : केरल सरकार छठ पर्व : एसएसपी ने घाटों पर पहुंचकर लिया जायजा, लगाई गईं तमाम टीमें कैबिनेट बैठक के बाद सीएम के निकलने से पहले महिला ने किया आत्मदाह का प्रयास  नेताजी से रिश्ते पर कुछ बोल न सके शिवपाल, भतीजे के बाद भाई ने भी तोड़ा नाता! दो माह में निचले स्तर पर पहुंचे डीजल के भाव, 26 दिन में 5 रुपये घटे पेट्रोल के दाम #Chhath puja: छठ का त्योहार क्यों मनाया जाता है , जानिए इस व्रत का क्या है महत्व सांसद जी के गाने पर चलती रहीं गोलियां भारत में oneplus 6T का थंडर पर्पल वेरिएंट लॉन्च, जानें क्या है कीमत व आॅफर्स जानिए, क्यों मनाया जाता है छठ महापर्व जन्मदिन विशेष: अश्लील गाने की शूटिंग के बाद फूट-फूट कर रोई थीं जूही चावला बदलते मौसम में खाएं ये चीजें, खिली-खिली रहेगी त्वचा शह और मात के खेल में बीजेपी की करारी शिकस्त, एक ही दिन में सैकड़ों नेता सपा में शामिल  रेसलर का गुस्सा राखी ने तनुश्री पर निकाला, कही ये होश उड़ाने वाली बात विशेष : फेक न्यूज़ डिटेक्शन पर हुई वर्कशॉप, सामने आईं कई महत्वपूर्ण बातें
 

कर्नाटक मतगणना से पहले यहां हुई भाजपा की बम्पर जीत, इस पार्टी को चटाई धूल


RAJNISH KUMAR 14/05/2018 16:54:42
920 Views

New Delhi. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) द्वारा समर्थित वकीलों के बीच कांटे की टक्कर में भगवा पार्टी समर्थित वकीलों ने पहली बार 15 सदस्यीय त्रिपुरा बार एसोसिएशन (टीबीए) में ज्यादातर सीटों पर जीत हासिल कर ली है।

karnatak matgadana se pahle bjp ki bumper jeet

टीबीए चुनाव के निर्वाचन अधिकारी संदीप दत्त चौधरी ने कहा कि 382 मतदाताओं में से 343 ने रविवार को 15 सदस्यीय त्रिपुरा बार एसोसिएशन चुनाव में मतदान किया। भाजपा समर्थित वकीलों ने अध्यक्ष पद सहित नौ सीटों पर जीत दर्ज की है। उन्होंने कहा कि माकपा समर्थित वकीलों ने सचिव के महत्वपूर्ण पद सहित छह पद हासिल किए हैं। वर्तमान में 109 साल पुराने त्रिपुरा बार एसोसिशन में 625 वकील सदस्य हैं।

यह भी पढ़ें ... अभी-अभी: वरिष्ठ कांग्रेस नेता व पूर्व सांसद का निधन, शोक में डूबे राहुल-सोनिया

संदीप दत्त चौधरी ने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय व इंडियन बार कांउसिल के दिशानिर्देशों के अनुसार जो वकील लगातार पांच सालों से पेशेवर रूप से कार्य कर रहे हैं, वे ही टीबीए चुनाव में मतदान करने के पात्र हैं। सत्तारूढ़ भाजपा व आरएसएस समर्थित वकीलों के पैनल ने पहली बार अप्रैल में त्रिपुरा बार काउंसिल के चुनाव में जीत दर्ज की है और 15 सदस्यीय काउंसिल में नौ सीटें हासिल की हैं।

Web Title: karnatak matgadana se pahle bjp ki bumper jeet ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया


loading...