मुख्य समाचार
हाईकोर्ट ने नगर आयुक्त को दिया आदेश, तीन दिन में शहर को साफ-सुथरा बनाने की पेश करें योजना वोट देना हमारा अधिकार ही नहीं, बल्कि नैतिक जिम्मेदारी भी : मुख्य निर्वाचन अधिकारी जानिये कौन हैं डोम राजा, जो पीएम मोदी के बनेंगे प्रस्तावक OMG: 30 साल छोटी डांसर को डेट कर रहा ये एक्टर सरकारी शिक्षा का हाल, प्रति विद्यालय 11 छात्रों का नामांकन कूड़े के ढेर में लगी आग, दुकान सहित रिक्शा हुआ जल कर राख़   जब डिंपल ने मायावती का पैर छूकर लिया आशीर्वाद जानिए, मौसमी चटर्जी से जुड़े अनसुने पहलू पुलिस की तत्परता से बची मासूम की जान यूपी बोर्ड: रिजल्ट को लेकर रास्ता साफ, सामने आ गई डेट महिला टी-20 चैलेंज : हरमनप्रीत कौर, स्मृति मंधाना और मिताली अलग- अलग टीमों की करेंगी अगुवाई सपा बसपा की संयुक्त रैली में सांड ने मचाया जमकर उत्पात कुशीनगर लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र से 4 प्रत्याशियों ने दाखिल किये नामांकन पत्र देश की 130 करोड़ जनता का बार-बार अपमान क्यों कर रही है बीजेपी : मायावती प्रधान जी प्रेस वार्ता से भागते हैं : अखिलेश भाजपा ने ईवीएम को हैंक कर लिया है- हार्दिक पटेल कांग्रेस ने यूपी की गोरखपुर व वाराणसी सीट के उम्मीदवारों के नाम का किया एलान PM मोदी ने कहा- पड़ोस में आतंकवाद की फैक्ट्री चल रही है और विरोधी बोलते हैं यह मुद्दा ही नहीं है सीएम ममता की बायोपिक पर रोक, दिया ये करारा जवाब कांग्रेस को यूपी में बड़ा झटका, इस प्रत्याशी का पर्चा हुआ खारिज, जानिए क्या रही वजह B.Ed डिस्टेंस अभ्यर्थियों का CET परीक्षा परिणाम जारी, यहां देखें रिजल्ट शिक्षक बनने का सुनहरा मौका, जल्द करें आवेदन दिव्यांका त्रिपाठी ने किया इस शो को छोडने का फैसला, जानें वजह पोलिंग बूथ पर पीठासीन अधिकारी से मारपीट करने वाला गिरफ्तार जन्मदिन पर सचिन को मिला नोटिस वाला तोहफा कैसरगंज के प्रेक्षकों ने चुनाव तैयारियों का लिया जायजा, कार्यवाही की चेतावनी मनचले ने तेल छिड़क कर युवती को जलाया, बेटी के साथ मां भी झुलसी हेलीकॉप्टर से गरमाया एमपी का सियासी माहौल  मोदी चौकीदार हैं या कोई शहंशाह : प्रियंका
 

मोदी सरकार के 4 साल, रिपोर्ट जानकर उड़ जाएंगे होश, मां बेटियो के साथ हुआ...


SHUBHENDU SHUKLA 17/05/2018 15:18:48
2422 Views

New delhi. महिलाओं को सुरक्षा दिलाने का वादा कर पीएम नरेन्द्र मोदी ने जनता का भरोसा जीता था। सरकार ने सुरक्षा को लेकर सख्त कानून भी बनाए, लेकिन हैरान कर देने वाली बात है कि महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों में बढ़ोतरी ही हुई है। बताते चलें कि दिल्ली में निर्भया कांड ने लोगों के पूरे देश को हिलाकर रख दिया था।

घटना के बाद कई समाजसेवी संगठन सड़कों पर उतरे। इसके बाद सरकार ने महिला सुरक्षा को लेकर कई बार कानूनों में बदलाव किया, लेकिन सरकर के दावे सख्त कानूनों के बाद जस के तस हैं। इससे भी अधिक शर्मनाक तो यह है कि खुद बीजेपी नेताओं के खिलाफ महिलओं पर शोषण और उत्पीड़न का आरोप लग रहा है। यह घटनाएं महिला सुरक्ष की ओर नई सोच की ओर दिशा देने या पहल करने की कौन सोचे राजनीति का भेंट चढ़ती जा रही है। 

Modi government completes 4 years Harassment of women not stopped

प्रतीकात्मक चित्र

यह भी पढ़ें...जानें क्यों बच्चों के साथ काम नहीं करना चाहते सलमान

  यूपी में हालत खराब

उत्तर प्रदेश में सीएम योगी आदित्यनाथ के सत्ता संभालने के बाद एक समय के लिए जनता को सुरक्षा का भारोसा हुआ था, लेकिन 1 साल भी नहीं बीता और क्राइम इस तरह बढ़ा कि लोगों के अंदर अपराधियों का खौफ है। यूपी में सड़क तो दूर अपने ही घरों में महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं। सरकार के लिए शर्म की बात यह है कि महिलाओं को सुरक्षा के लिए दावे करती रही, लेकिन पार्टी के नेता ही महिलाओं के दुश्मन बन गए। उन्नाव गैंगरेप में बीजेपी विधायक का ही नाम सामने आया।

इतना ही नहीं सरकार उनको बचाने की कोशिश में लगी रही। लेकिन जब मामला बढ़ा और प्रदेश सरकार जनता के सवालों से घिरने लगी तो सीबीआई ने गिरफ्तार किया। बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर गैंगरेप और हत्या जैसे जघन्य आरोप लगे हैं।

यह भी पढ़ें...अब सलमान इस एक्ट्रेस की किस्मत को लगाएंगे पंख

  सजा-ए-मौत भी फेल!

निर्भया कांड के बाद सरकार ने महिलाओं या नाबालिगों से रेप करने पर सख्त कानून का प्राविधान किया। यहां तक कि नाबालिग बच्चियों से रेप पर फांसी की सजा का कानून भी बना दिया गया। लेकिन यह कानून बनने के बाद भी रेप के मामलों में कमी नहीं आ रही है।

Modi government completes 4 years Harassment of women not stopped

प्रतीकात्मक चित्र

  चौंकाने वाले आंकड़े

महिलाओं के साथ 2016 में होने वाले अपराधों को लेकर जो आंकड़े नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो एनसीआरबी  से आए हैं, वह बेहद ही चौंकाने वाले हैं। 
आंकड़ों के मुताबिक साल 2016 में देशभर में महिलाओं के साथ रेप के कुल 38947 मामले सामने आए। यदि इस आंकड़े पर गौर करें तो औसतन 107 महिलायें शिकार हुईं। 
-साल 2015 की अपेक्षा 2016 में 12.4 फीसदी मामले बढ़े। 
-2013 में रेप के 33,707 मामले सामने आए थे।
-2012 में 24,923 थे। इस तरह रेप के मामले बढ़ते गए।
-2016 में महिलाओं के खिलाफ अपराध के कुल 3,38,954 मामले सामने आए। अर्थात देशभर में रोज औसतन 928 महिलाएं किसी न किसी अपराध का शिकार हुईं।

Modi government completes 4 years Harassment of women not stopped

प्रतीकात्मक चित्र

  शोषण में बच्चों का ग्राफ बढ़ा

अपराधों में वृद्धि को लेकर जो आंकड़े सामने आए हैं, उनमें बच्चा के साथ यौन शोषण की घटनाओं में बढ़ोत्तरी हुई है। रोजाना 290 बच्चे ट्रैफिकिंग, बाल विवाह, यौन शोषण के शिकार होते हैं। इनमें 12 वर्ष से कम उम्र के बच्चों की संख्या अधिक है। 

यह भी पढ़ें...अब सलमान इस एक्ट्रेस की किस्मत को लगाएंगे पंख

साल 2014 में बच्चों के साथ हुए अपराध के कुल 89,423 मामले दर्ज हुए थे।  2015 में यह संख्या 94,172 तक पहुंच गई। वहीं, 2016 में इन आंकड़ों ने 1 लाख की संख्या भी पार कर लिया। बच्चों के साथ होने वाले अपराधों में पॉक्सो कानून के तहत दर्ज होने वाले मामलों की संख्या 8904 से बढ़कर 35980 तक पहुंच गई थी।

  यौन हिंसा की शिकार

यूनिसेफ की रिपोर्ट पर गौर करें तो भारत में 15 साल से 19 साल के उम्र की 34 फीसदी विवाहित महिलाएं पति या साथी से शारीरिक हिंसा का शिकार हुई हैं। जबकि 15 से 19 साल तक उम्र की 77 फीसदी महिलाएं कम से कम एक बार पति या साथी से यौन संबंध या हिंसा का शिकार हुई हैं। 

यह भी पढ़ें...#My Identity : सरनेम को लेकर विद्या बालन ने कहा, मैं विद्या बालन कपूर नहीं बनूंगी

  नेताओं के अजीबोगरीब बयान

महिलाओं और नाबालिग बच्चियों के साथ अपराधों पर अंकुश लगाने की दिशा में कदम उठाने की बजाए कुछ नेताओं ने होश उड़ा देने वाले अजीबोगरीब बयान भी देने से नहीं चूके। जबकि सरकर बनने से पहले यही मंत्री और नेता महिलाओं के सुरक्षा का दावा करते हैं। 

- मध्य प्रदेश के गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह यादव ने बयान दिया था कि देश में पोर्न साइट्स अधिक देखने के कारण से रेप के मामले बढ़ रहे हैं, इसलिए उन्होंने 25 पोर्न साइट्स बंद करवा दिए हैं।
- जम्मू कश्मीर के उप मुख्यमंत्री कविंदर गुप्ता ने कहा था कि कठुआ रेप केस एक छोटी सी बात है। इसे ज्यादा तूल न दिया जाए।
- केंद्रीय श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने कहा था कि इतने बड़े देश में रेप की एक-दो घटनाएं हो जाए तो बात का बतंगड़ नहीं बनाना चाहिए।
- BJP विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा कि नाबालिक लड़के-लड़कियों का स्मार्ट फोन इस्तेमाल करना गलत है। लड़कियों को अकेले नहीं घूमना चाहिए। जबकि उन्नाव मामले पर कहा कि तीन-चार बच्चों की मां के साथ कोई गैंगरेप नहीं कर सकता है।

Modi government completes 4 years Harassment of women not stopped

प्रतीकात्मक चित्र

Web Title: Modi government completes 4 years Harassment of women not stopped ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया