मुख्य समाचार
मायावती ने फिर उठाया ये पुराना मुद्दा, कहा- भाजपा की साजिश में शामिल थे मुलायम आम उत्पादन के क्षेत्र को विस्तारित करने पर शोध करें : राज्यपाल RBI को फिर लगा बड़ा झटका, डिप्टी गवर्नर विरल आचार्य ने अचानक दिया इस्तीफा सबके विकास से ही देश का विकास होगा : राज्यपाल पूर्व सैनिकों के लिए मेरे घर के दरवाजे 24 घंटे खुले : महापौर संयुक्ता भाटिया करणी सेना को डायरेक्टर ने दिया जवाब, दोनों पक्षों में घमासान ससुरालियों को नशीला पदार्थ खिलाकर शादी के दूसरे दिन ही अपने प्रेमी संग फरार हुई दुल्हन बच्ची की दुष्कर्म के बाद हत्या करने वाला रिश्तेदार पुलिस के हत्थे चढ़ा विराट कोहली ने विश्व कप में किया ये कमाल और कर ली इस कप्तान की बराबरी BSP सांसद के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज, जा सकती है लोकसभा की सदस्यता ट्रिपल मर्डर से दहली दिल्ली, बुजुर्ग दंपति और नौकरानी की हत्या फिर वायरल हुई अनोखे अंदाज में प्रिया प्रकाश की फोटो, पहचानना हुआ मुश्किल कांग्रेस पार्टी को मिला नया राष्ट्रीय अध्यक्ष, राहुल गांधी का इस्तीफा मंजूर! सुहाना का पोल डांस सोशल मीडिया पर वायरल राजस्थान की जेल से भाग निकले दुष्कर्म और हत्या के तीन आरोपी शमी ने कहा, हमारी गेंदबाजी ने जीत अपनी झोली में डाल ली इंदौर में ऑनर किलिंग का मामला आया सामने, भाई ने गर्भवती बहन को मारी गोली ईरान पर हमले का खतरा टला नहीं, नए प्रतिबंध लगाने की तैयारी में अमेरिका सतर्कता अधिष्ठान ने शुरू की मायावती शासनकाल के 45 कर्मियों की भ्रष्टाचार व संपत्ति की जांच
 

#राजीव गांधी हत्याकांड: वो काली रात जब सोनिया गांधी की चीखों से थर्रा गया था 10 जनपथ


UMENDRA SINGH 21/05/2018 12:15 PM
6360 Views

New Delhi. मद्रास यानि चेन्नई से 40 किमी दूर श्रीपेरंबदूर में 21 मई 1991 का वो काला दिन जब राजीव गांधी को आत्मघाती हमलावर ने बम से उड़ा दिया था। देश ने राजनीति के उस सौम्य प्रधानमंत्री को खो दिया था जो हकीकत में देश का विकास करना चाहता था। उस दिन हादसे के बारे में रात में एक फोन 10 जनपथ में किया गया। जानें क्या हुआ था सोनिया के साथ जब उनको पता चला कि राजीव नहीं रहे।

rajeev gandhi and sonia gandhi news

जॉर्ज ने रिसीव किया था वो फोन

सोनिया की जीवनी लिखने वाले लेखक राशिद किदवई ने अपनी किताब में लिखा है कि मद्रास में हुए धमाके के बाद खुफिया विभाग के अफसर ने दिल्ली में 10 जनपथ में फोन किया था। फोन वहां मौजूद जॉर्ज ने उठाया था। फोन करने वाला सोनिया गांधी या राजीव गांधी के निजी सचिव से बात करना चाहता था। जब उसने बताया कि पेरंबदूर में धमाका हुआ है तो सन्नाटा छा गया।

rajeev gandhi and sonia gandhi news

सोनिया की चीख से गूंज उठा था पूरा 10 जनपथ

फोन करने वाले ने बताया कि यहां राजीव की रैली में रात 10.21 धमाका हुआ है। जॉर्ज ने पूछा राजीव कैसे हैं तो दूसरी ओर से जवाब नहीं आया। फिर अचानक से आवाज आई वो नहीं रहे। इतना सुनते ही जॉर्ज अंदर की ओर भागे और सोनिया को बताया। सोनिया ने घबराकर पूछा कि राजीव कैसे हैं तो जॉर्ज चुप हो गये। सोनिया को समझते देर न लगी और सोनिया गांधी इतनी जोर से रोकर चीखीं कि पूरा 10 जनपथ ही हिल उठा था।

rajeev gandhi and sonia gandhi news

चीख सुनकर इकट्ठा होने लगे कांग्रेसी

अपने 46 साल के पति को इतनी कम उम्र में खोने की खबर मिलते ही सोनिया गांधी के ऊपर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा। वो लगातार चीखें जा रही थीं। हमेशा शांत रहने वाली महिला अचानक इतनी शोक में डूब गई कि पूरे 10 जनपथ में सिर्फ उनकी ही चीखें गूंज रही थीं। उनके रोने का शोर सुनकर वहां डरे-सहमे कांग्रेसी भी इकट्ठा हो गये थे लेकिन सोनिया की चीख बंद नहीं हो रही थीं।

 

पड़ गया अस्थमा का अटैक, हो गईं थी बेहोश

राजीव गांधी की मौत की खबर से बेहाल सोनिया गांधी को इतना बड़ा सदमा लगा कि उनकी सांसें ही उखड़ने लग गईं। उनको अस्थमा का अटैक पड़ गया और वो वहीं फर्श पर बेहोश होकर तड़पने लगीं। इतने में प्रियंका गांधी ने उनको संभाला था और वो फौरन उनकी अस्थमा की दवा लेकर आई थीं ताकि मां की हालत ठीक की जा सके।

हमेशा गम में ही रही सोनिया गांधी

21 मई 1991 को राजीव की मौत के गम को तो धीरे-धीरे सोनिया ने पचा लिया और जिन्दगी में आगे बढ़ने लगीं लेकिन पति की मौत के गम को वो अपनी पूरी जिन्दगी भुला नहीं सकीं। वो आज भी राजीव गांधी को उतना ही प्यार करती हैं जितना उनके जिंदा रहने पर करती थीं।

rajeev gandhi and sonia gandhi news

Web Title: rajeev gandhi and sonia gandhi news ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया