मुख्य समाचार
विश्व कप में खिलाड़ियों के साथ जा सकेंगी पत्नियां पर BCCI ने लगाई तमाम बंदिशें साध्वी प्रज्ञा का मुंबई हमले में शहीद हेमंत करकरे को लेकर विवादित बयान अवैध कमाई के लिए डग्गामार वाहनों पर मेहरबान है पुलिस— प्रशासन मायावती ने मुलायम की मौजूदगी में मंच किया खुलासा - गेस्टहाउस कांड के बाद भी इसलिए हुआ गठबंधन इंस्टाग्राम को लेकर आई बड़ी खबर, यूजर्स का पासवर्ड असुरक्षित तरीके से स्टोर हाईकोर्ट से भाजपा विधायक को बड़ा झटका, सुनाई गयी आजीवन कारावास की सजा  प्रियंका ने राहुल गांधी को सौंपा अपना इस्तीफा #IPL2019 : दिल्ली कैपिटल्स को 40 रन से हराकर मुंबई पहुंची दूसरे स्थान पर जेट एयरवेज की हवाई सेवाएं बंद होने पर निराश हुए फिल्मी सितारे साध्वी प्रज्ञा के खिलाफ NIA कोर्ट में याचिका दायर, चुनाव लड़ने पर रोक की मांग बुधवार को जेट एयरवेज ने भरी आखिरी उड़ान कोई भी अपराजेय नहीं है, सबको हराया जा सकता है : आचार्य प्रमोद कृष्णम World Cup के लिए ईशांत, सैनी और अक्षर होंगे टीम इंडिया के स्टैंड बाई राज्यपाल को पीजीआई में लगाया गया पेसमेकर, पूरी तरह हैं स्वस्थ
 

लूट और हत्या की वारदात का खुलासा, एक गिरफ्तार


SMT. HARSHITA PATAIRIYA 23/05/2018 19:48:27
223 Views

Jhansi. झांसी के नवाबाद थाना क्षेत्र में सप्ताहभर पूर्व घटित हत्या व डकैती के मामले का पुलिस ने पर्दाफाश कर दिया है। पड़ोसी युवक ने ही अपने साथियों की मदद से लूट और हत्या की वारदात को अंजाम दिया है। बताया जा रहा है आरोपी ने पहचान न होने के डर से महिला की हत्या की थी। पुलिस ने आरोपी युवक को ​गिरफ्तार किया है। आरोपी के पास से मृतका का मंगलसूत्र बरामद हुआ है। वहीं, पुलिस अन्य आरोपियों की तलाश में जुटी हुई है।

Unveiling Asha Hatayakanad, neighbour turned killer

एसएसपी विनोद कुमार सिंह के मुताबिक, पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि मेडिकल तिराहे पर बदमाश भागने की जुगत में है। इस पर सक्रिय हुई स्वाॅट टीम और नवाबाद पुलिस ने चिरगांव निवासी रवि अहिरवार को कुम्हार के कुंआ के समीप से घेराबंदी करते हुए दबोच लिया। पूछताछ में रवि ने अपने साथियों के साथ लूट और लैब टैक्निीशियन वीरेन्द्र श्रीवास्तव की पत्नी आशा की हत्या को अंजाम देने की कुबूल की है। इस वारदात में गोलू, बंटी, मक्कड़ व बंटी की मौसी पुष्पा के भी शामिल होने की बात कही है। हालांकि सभी फरार बताए जा रहे हैं। रवि के पास से पुलिस ने मृतका का मंगलसूत्र, मोबाइल व 1110 रुपए भी बरामद किया है।

  पहचान लेने के भय से उतारा था आशा को मौत के घाट

दरअसल, बंटी आशा के सामने वाली काॅलोनी में पुष्पा के घर रहता था। उसका आना जाना अक्सर आशा के घर के सामने से होता था। इसके चलते आशा उसे जानती थी। जब उक्त सभी आशा के घर लूटपाट के उद्देश्य से घुसा तो आशा ने उसे देख लिया। पहचान लेने के भय से वहीं रखे सरिये से आशा को मौत के घाट उतारा गया था।

  स्वीपर पुष्पा का दत्तक पुत्र है बंटी

पुष्पा मेडिकल काॅलेज में स्वीपर के पद पर तैनात है। उसने अपनी बहन के बेटे बंटी को गोद लिया है। बंटी के साथ ही उसके अन्य साथियों का पुष्पा के घर आना जाना रहता था। इस पूरी घटना का खाका भी करीब सप्ताह भर में पुष्पा के ही घर खींचा गया था। हालांकि घटना के बाद से पुष्पा समेत सभी फरार हो गए थे।

  बेटी की सराहना की

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार सिंह ने बताया कि मृतका की बेटी ने ऐसी कई जानकारियां दीं जिससे पुलिस बदमाशों तक पहुंच गई। मसलन उसने हुलिया बताया। जब वह स्कूल से लौटी थी तो उसने बदमाशों को घर के अंदर देख लिया था। बदमाश कई बार पहले भी लूट का प्रयास कर चुके थे।

Web Title: Unveiling Asha Hatayakanad, neighbour turned killer ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया