मुख्य समाचार
UPTET : हाईकोर्ट के आदेश को सुप्रीम कोर्ट ने किया निरस्त, 1 लाख से ज्यादा शिक्षकों को मिली राहत अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर बोला करारा हमला, कहा- नौजवानों की जिन्दगी में ... फतेहपुर में प्रतिबंधित मांस मिलने पर बवाल, मदरसे पर पथराव साक्षी मामले पर मालिनी अवस्थी का बड़ा बयान, लड़कियां जीवन साथी चुनें लेकिन... यूपी पुलिस को मिली बड़ी सफलता, दो इनामी बदमाश किए ढेर वरिष्ठ पत्रकार बरखा दत्त ने कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल पर लगाए गम्भीर आरोप, मचा घमासान अंतिम संस्कार की चल रही थी तैयारी, अचानक युवक की खुली आंखे और फिर जो हुआ... सरकारी आवास के मोह पॉश में जकड़े दो पूर्व मंत्रियों को गहलोत सरकार ने दिया जुर्माने का झटका सलमान संग फिल्मों में डेब्यू कर सुपरस्टार बनीं कटरीना का नहीं है कोई क्राइम रिकॉर्ड 149 साल बाद बन रहा गुरू पूर्णिमा पर चंद्र दुर्लभ योग सपा नेता अखिलेश यादव की गोली मारकर हत्या, सियासत में भूचाल बच्चों में गुणवत्तापरक शिक्षा के साथ अच्छे संस्कार भी जरूरी : ब्रजेश पाठक  रवि किशन ने राहुल को दी नसीहत, सीरियस नहीं हुए तो राजनीति से करियर खत्म योगी सरकार शिक्षा के क्षेत्र में सरकारी नहीं असरदार कार्य कर रही है : उप मुख्यमंत्री जय श्रीराम न बोलने पर बागपत में मौलाना की पिटाई सावन की पूर्णिमा व अमावस्या पर होगी भव्य गंगा आरती पहले दूसरे जाति की लड़की से की शादी, फिर बेइज्जती के डर से पत्‍नी की करवा दी हत्या
 

सरकारी बंगले को लेकर मायावती का बड़ा खुलासा, सीएम योगी को लिखा पत्र


RAJNISH KUMAR 26/05/2018 09:45 AM
1055 Views

Lucknow. प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्रियों को आंवटित सरकारी आवास को खाली करने के सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद नेता कोई दिलचस्पी नहीं ले रहे हैं। हालांकि सत्ताधारी दल भाजपा के नेता राजनाथ सिंह, कल्याण सिंह ने आवास को खाली करना भी शुरू कर दिया है। वहीं, मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव ने प्रदेश सरकार से दो साल का समय मांगा है। एनडी तिवारी को भी नोटिस भेज दी गई है, लेकिन इस बीच मायावती ने सरकारी आवास को लेकर बड़ा खुलासा किया है।

Mayawati

दरअसल मायावती ने सरकारी आवास को खाली करने को लेकर योगी सरकार को एक पत्र लिखा है। पत्र में मायावती ने कहा कि 13—ए माल एवेन्यू उनका आवास है ही नहीं। यह जग​ह कांशीराम यादगार स्थल है। वह उसकी देखरेख के लिए वहां रहती हैं। सरकारी आवास मामले को लेकर बसपा के वरिष्ठ नेता व राज्यसभा सदस्य सतीश चंद्र मिश्रा और लालजी वर्मा ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिले। मायावती के प्रतिनिधि के रूप में एनेक्सी पहुंचे दोनों नेताओं ने योगी को पत्र सौंपकर बसपा शासनकाल में हुए कैबिनेट के फैसले की जानकारी दी।

Mayawati

बसपा के वरिष्ठ नेता व राज्यसभा सदस्य सतीश चंद्र मिश्रा और लालजी वर्मा मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री योगी से मुलाकात के बाद मीडिया से बातचीत की। उन्होंने मीडिया को बताया कि पूर्व मुख्यमंत्री के तौर पर मायावती को 6, लाल बहादुर शात्री मार्ग आवंटित हुआ था, जिसे छोड़ने को वह तैयार हैं। उन्होंने बताया कि बसपा के शासनकाल में 13 जनवरी, 2011 13—ए माल एवेन्यू कांशीराम यादगार स्थल घोषित किया जा चुका है, जिसके रखरखाव के लिए उसके कुछ भाग में उन्हें हने की अनुमति दी गई थी। उन्होंने बताया कि 23 दिसंबर, 2011 को राज्य संपत्ति विभाग ने उन्हें 6, लाल बहादुर शास्त्री मार्ग आवास के रूप में आवंटित किया था। इसलिए उसे खाली कर विभाग को सौंप दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें ... मोदी सरकार के चार साल पूरे: तो इन वजहों से 'नेबर डिप्लोमेसी' में फेल रहे पीएम मोदी!

यही नहीं, उन्होंने कहा कि कांशीराम यादगार स्थल के खरखाव के लिए जो प्राइवेट कर्मी रखे गए हैं वह वहीं रहते हैं। प्राइवेट कर्मचारियों के ठहरने की व्यवस्था करने तक मुझे समय दिया जाए। उन्होंने ये भी अनुरोध किया है कि कांशीराम यादगार विश्राम स्थल की देखरेख और सुरक्षा राज्य संपत्ति विभाग करे और अगर किसी तरह की दिक्कत विभाग को होती है तो पहले की तरह ही बसपा को इसके लिए अधिकृत करे।

Mayawati

  हर हाल में खाली करना होगा आवास

बता दें कि पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट ने पूर्व मुख्यमंत्रियों को आजीवन आवास देने के कानून को रद्द कर दिया था। इसके बाद राज्य संपत्ति विभाग ने प्रदेश के छह पूर्व मुख्यमंत्रियों को सरकारी बंगला 15 दिन में खाली करने के लिए नोटिस जारी किया था। इस पर बसपा प्रमुख मायावती ने अपने बंगले 13, माल एवेन्यू पर श्री कांशीराम जी यादगार विश्राम स्थलका बोर्ड लगाकर यह बताने का प्रयास किया है कि उनका बंगला कांशीराम के अनुयायियों की स्मृतियों से जुड़ा है। लेकिन, राज्य संपत्ति विभाग ने मामले पर सीधा जवाब देते हुए कहा कि सिर्फ बोर्ड लगा देने से शीर्ष अदालत के आदेश पर अमल कराने में कोई बाधा नहीं है। उन्हें हर हाल में सरकारी आवास खाली ही करना होगा।

यह भी पढ़ें ... मोदी सरकार के चार साल पूरे: अखिलेश यादव ने कुछ इस अंदाज दी बधाई, बोले - राजनीति में ...

Web Title: Mayawati's big disclosure on the government bungalow, letter written to CM Yogi ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया