तम्बाकू मुक्त अभियान में पार्षदों की भूमिका को लेकर कार्यशाला का हुआ आयोजन 


GAURAV SHUKLA 06/06/2018 16:04:37
291 Views

Lucknow. राजधानी में बुधवार को तम्बाकू मुक्त अभियान के अंतर्गत एक दिवसीय उन्मुखीकरण कार्यशाला का आयोजन किया गया। तम्बाकू जनित महामारी की रोकथाम के लिए नगर निगम पार्षदों की भूमिका पर आधारित यह कार्यशाला नगर निगम लखनऊ के सभागार में आयोजित हुई। इस कार्यशाला में लखनऊ की महापौर संयुक्ता भाटिया, अपर नगर आयुक्त अनिल मिश्रा, डॉ. सूर्यकांत समेत राजधानी के पार्षद मौजूद रहे। इस दौरान मेयर संयुक्ता भाटिया ने अपील की कि सभी पार्षद अपने अपने वार्डों को तम्बाकू मुक्त बनाने के लिए विनोबा सेवा समिति की ओर से चलाये जा रहे अभियान में सहयोग प्रदान करें। 

VINOBA SEVA SAMITI ki or se tambacco mukht karyasala
कार्यशाला के दौरान अपर नगर आयुक्त अनिल मिश्रा ने पार्षदों से कहा कि वह एक साथ आकर तम्बाकू मुक्त अभियान में सहयोग प्रदान करें। भले ही नशा करने से कुछ देर की संतुष्टि मिलती हो, लेकिन इसके परिणाम भयावह होते हैं। लिहाजा इससे छुटकारा दिलाना चाहिए।

कार्यक्रम के दौरान बताया गया कि 9 जून से लेकर 19 जून तक समिति की 5 टीमें विभिन्न वार्डों में जाकर तम्बाकू से हो रही समस्याओं को लेकर लोगों को जागरुक करेंगी। इन टीमों के साथ ही पुलिस प्रशासन, नगर निगम के लोग और जिला प्रशासन के लोग भी मौजूद रहेंगे। इस तरह अगर सभी वार्डों में यह अभियान संचालित होगा तो वार्डों से लखनऊ से यूपी और यूपी से संपूर्ण भारत आगे चलकर तम्बाकू मुक्त हो जाएगा।

संस्था के साथ ही नगर निगम, जिला प्रशासन इस दिशा में काम करने की रूपरेखा तैयार की गयी जिससे आगामी 31 जुलाई तक तम्बाकू मुक्त लखनऊ के लक्षण साफ तौर पर दिखाई देने लगे। 

VINOBA SEVA SAMITI ki or se tambacco mukht karyasala

  21 जून को रवाना होगा तम्बाकू मुक्त रथ 

राजधानी को तम्बाकू मुक्त बनाने के लिए 21 जून से 27 जून तक चलने वाले व्यसन मुक्त सप्ताह की शुरुआत में 21 जून को तम्बाकू मुक्त रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया जाएगा। यह रथ सभी वार्डों में जाकर लोगों को जागरुक करने का काम करेगा। इसी के साथ जिलाधिकारी लखनऊ ने भी प्रत्येक दिन एक कार्यालय में जाकर विभाग को तम्बाकू मुक्त बनाने की योजना पर अमल करवाने में सहयोग देंगे। 

VINOBA SEVA SAMITI ki or se tambacco mukht karyasala

  क्या कारण जो जहांगीर से लेकर जेटली के समय तक नहीं बदलाव नहीं

कार्यक्रम में मौजूद डॉक्टर सूर्यकांत ने लोगों को जागरुक करने के साथ ही बताया कि तम्बाकू से 65 तरह की बीमारियां जन्म लेती हैं। जिनमें 40 तरह के कैंसर और 25 तरह की अन्य बीमारियां शामिल हैं। डॉ सूर्यकांत ने यह भी बताया कि लोगों को लगता है कि भारत और तम्बाकू का चोली दामन का साथ बहुत पहले से चला आ रहा है। जबकि ऐसा नहीं है यह साथ महज 500 वर्षों का है।

अकबर के समय से चलन में आई तम्बाकू पर जहांगीर के समय में प्रोडक्ट के तौर पर तैयार कर टैक्स लगाया गया। इसके बाद से अब तक न जाने आखिर क्यों सरकार तमाम आंकड़ों को देखकर भी तम्बाकू उत्पादों पर रोक नहीं लगा रही है। डॉ सूर्यकांत ने यह भी बताया कि तम्बाकू उत्पादों की सेवन की लत मुख्यतः 15 से 25 साल की उम्र में लगती है। वास्तव में कुछ लोग इसे आदत मानते हैं जबकि यह आदत नहीं लत है। इस लत से महज 5 फीसदी लोग ही स्वेच्छानुसार छुटकारा पाते हैं। जबकि शेष 95 फीसदी लोग भी अगर तम्बाकू उत्पादों से छुटकारा पाना चाहते हैं तो उसके लिए अस्पतालों में कई तरह के प्रयास जारी हैं।

आंकड़े पेश करते हुए बताया गया कि तम्बाकू उत्पादों के सेवन से रोजाना मरने वाले लोगों की संख्या तकरीबन 3300 है। 

VINOBA SEVA SAMITI ki or se tambacco mukht karyasala

  पार्षद करें सहयोग एक नहीं कई वार्ड हो सम्मानित 

मेयर संयुक्ता भाटिया ने अपने वक्तव्य के दौरान पार्षदों से कहा कि वह तम्बाकू मुक्त अभियान में विनोबा सेवा संस्थान की मदद करें। जिससे एक नहीं कई वार्ड को सम्मानित होने का अवसर प्राप्त हो। इसी के साथ लखनऊ तम्बाकू मुक्त हो सके। मेयर ने साफ तौर पर कहा कि यदि पार्षद एक्टिव होकर इस दिशा में कदम बढ़ाते हैं तो वह कई अवॉर्ड जीत सकते हैं। इसी के साथ उनका वार्ड एक पूर्ण तम्बाकू मुक्त वार्ड के तौर पर सभी के सामने आएगा। 

Web Title: VINOBA SEVA SAMITI ki or se tambacco mukht karyasala ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया