मुख्य समाचार
राम मंदिर का जल्द से जल्द निर्माण है अयोध्या आने का मकसद: उद्धव ठाकरे सीतापुर में भीषण सड़क हादसा, ट्रक की चपेट में आकर बाइक सवार दो युवकों की मौत न्यूजीलैंड में आया 7.2 तीव्रता का शक्तिशाली भूकंप भारत ने दक्षिण अफ्रीका को 5-1 से हराकर FIH सीरीज़ का फाइनल जीता Air India में नौकरी का सुनहरा मौका, नहीं देनी होगी लिखित परीक्षा इस दिन जारी होंगे UP Polytechnic के परीक्षा परिणाम पति करता था परेशान, पत्नी ने प्रेमी संग मिलकर उठाया खौफनाक कदम पश्चिम बंगालः डॉक्टर्स की हड़ताल खत्म होने के आसार एक्सप्रेस वे पर भीषण सड़क हादसा, 6 लोगों की मौत पाकिस्तान ने दी पुलवामा में संभावित आतंकी हमले सूचना, घाटी में हाई अलर्ट भारत-पाक महामुकाबले पर बारिश का खतरा बरकरार मिस इंडिया 2019: सुमन राव ने जीता खिताब, शिवानी रहीं फर्स्ट रनर अप रेल यात्रियों को सफर में मसाज सेवा देने की योजना पर लगा ग्रहण, जानिए क्या रही वजह पीएम मोदी की अध्यक्षता में नीति आयोग की बैठक आज, ममता और केसीआर नहीं होंगे शामिल एनडी टीवी के खास प्रमोटरों पर सेबी ने लगाई रोक, लगा इतने साल का प्रतिबंध एयरपोर्ट पर चंद्रबाबू नायडू की ली गई तलाशी, टीडीपी ने बदले की राजनीति का लगाया आरोप यूपी को डिजिटल उत्तर प्रदेश बनाने के लिए व्यापक और मजबूत दूरसंचार नेटवर्क की आवश्यकता : उप मुख्यमंत्री बल्लेबाजी डॉट कॉम के ब्रांड एम्बेसडर बने युवराज राज्यपाल ने केन्द्रीय गृह मंत्री से भेंट की सड़क सुरक्षा समिति की बैठक : बसों में अग्निशमन यन्त्र लगाने के निर्देश बसपा सांसद के घर कुर्की का आदेश हुआ चस्पा दान के सिक्कों को लेकर परेशानी में साईं बाबा मंदिर ट्रस्ट, जानिए क्या है वजह मीसा भारती ने चुनाव में हार का लिया ऐसे बदला संभावित आतंकी हमले को लेकर अयोध्या में हाई अलर्ट स्कूल चलो अभियान में सभी बच्चों को नजदीकी स्कूलों में शत-प्रतिशत नामांकन कराये जाने के निर्देश पाकिस्तान से वीडियो कॉल कर युवक ने कहा- भाईजान बम कहां रखना है और फिर...
 

भ्रष्टाचार का खुलासा करना पड़ा भारी, RTIकार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या


SHUBHENDU SHUKLA 20/06/2018 16:04:06
695 Views

Patana. देश में लोगों को आरटीआई का अस्त्र तो दे दिया गया है। लेकिन इस अस्त्र का प्रयोग करना समाजसेवियों और आरटीआई कार्यकर्ताओं पर भारी पड़ रहा है। बिहार स्थित मोतिहारी में आरटीआई कार्यकर्ता राजेंद्र सिंह की गोली मारकर हत्या करने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि उन्होंने 6 महीने पहले मनरेगा के भ्रष्टाचारों का खुलासाा किया था। बिहार आरटीआई कार्यकर्ता के हत्या की यह तीसरी घटना है। बताते चलें कि आरटीआई कार्यकर्ताओं पर आए दिन हो रहे जानलेवा हमलों ओर हत्याओं को लेकर विरोध प्रदर्शन भी होते रहे हैं। साथ ही सुरक्षा की मांग भी उठाई जाती रही है। लेकिन सरकारें हाथ पर हाथ धरे बैठी है। 

RTI activist shot dead in Bihar

यह भी पढ़ें...अखिलेश के समर्थन में शिवपाल, कहां आने वाले लोकसभा चुनाव में...

  कार्यकर्ता पर अंधाधुंध फायरिंग

खबरों के मुताबिक मंगलवार को राजेंद्र सिंह मोटरसाइकिल से गांव संग्रामपुर लौट रहे थे। इसी बीच एक अन्य बाइक में सवार बदमाशों ने उनको ओवर टेक किया और आगे निकल गए। इसके बाद सामने से सिंह पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी। घटना से कार्यकर्ता की मौके पर ही मौत हो गई। बताया जा रहा है कि जिस स्थान पर घटना को अंजाम दिया गया वह वीरान इलाका है। घटना से आरटीआई कार्यकर्ताओं में आक्रोश है। 

यह भी पढ़ें...मॉम करीना देती रहीं पोज, स्कूटर चलाते हुए गिर पड़े तैमूर

  थाना प्रभारी पर कार्रवाई

मामले को लेकर नागरिक अधिकार मंच के शिवप्रकाश राय का कहना है कि हत्या का कारण सिंह का आरटीआई कार्यकर्ता होना है। हाल में ही राजेंन्द्र पर फजी मुकदमा भी दर्ज कराया गया था। जिस पर कोर्ट ने संज्ञान लेते हुए संग्रामपुर के तत्कालीन थाना प्रभारी पर कार्रवाई की थी।  

यह भी पढ़ें...मॉम करीना देती रहीं पोज, स्कूटर चलाते हुए गिर पड़े तैमूर

  कई घोटाले किए थे उजागर

राय ने कहा कि राजेन्द्र ने कई विभागों शिक्षा नियुक्ति, इंदिरा आवास, मनरेगा से जुड़े घोटालों को उजागर किया था। गत 12 जून को उनसे मुलाकात भी हुई थी। इस बीच वार्ता के दौरान ही उन्होंने जानलेवा हमले की आशंका जताई थी। पहले भी उन पर हमले हो चुके थे। 

 क्या कहती है पुलिस

वहीं, मामले को लेकर पुलिस का कहना है कि हर एंगल से घटना की जांच की जा रही है। चूंकि पुलिस में संपत्ति विवाद की शिकायत भी उनकी पत्नी ने कराई थी। बताते चलें कि आरटीआई कार्यकर्ताओं को सुरक्षा नहीं मिलने के कारण हत्या की वारदातों में वृद्धि हो रही है। इसके पहले वैशाली और सहरसा में  भी आरटीआई कार्यकर्ता की हत्या हो चुकी है। 

Web Title: RTI activist shot dead in Bihar ( Hindi News From Newstimes)


अब पाइए अपने शहर लखनऊ की खबरे (Lucknow News in Hindi) सबसे पहले Newstimes वेबसाइट पर और रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें न्यूजटाइम्स की हिंदी न्यूज़ ऐप एंड्राइड (Hindi News App)


कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया